Friday, November 2, 2018



जल्द किसानों को मुआवजा नहीं दने पर विधानसभा का आगामी सत्र नहीं चलने देंगे- अभय चौटाला   


अम्बाला, 2 नवम्बर: नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने इनेलो-बसपा कार्यकर्ता सम्मेलन अम्बाला में सरकार को चेताते हुए कहा कि अगर सरकार जल्द ही बे-मौसमी बारिश से बर्बाद फसलों मुआवजा नहीं देती तो इनेलो आगामी विधानसभा सत्र नहीं चलने देंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने मौसम की मार से हुए किसानों के नुकसान की आज तक न तो गिरदावरी करवाई है और न ही खराबे का अनुमान जारी किया है। नेता विपक्ष ने मांग की कि किसान को कम से कम 25 हजार रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से खराबा मिलना चाहिए। यदि सरकार ऐसा नहीं करती तो इनेलो सरकार द्वारा बुलाए जाने वाले एक दिन के विधानसभा सत्र को नहीं चलने देगी। नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि प्रदेश की जनता कांग्रेस भ्रष्टाचार सरकार से तंग आ चुकी थी और तीसरा मोर्चों ने होने के कारण लोगों को मजूबरी में भाजपा को वोट देना पड़ा। लेकिन अब देश में बहन मायावती के नेतृत्व में तीसरे मोर्चाे का गठन हो चुका है। देश व प्रदेश की जनता भ्रष्टाचारियों और झूठे वायदे कर वोट लेने वालों को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि देश में आने वाली सरकार तीसरे मोर्चों की होगी और बहन जी देश की प्रधानमंत्री होंगी। वहीं प्रदेश में इनेलो-बसपा गठबंधन इस बार 1987 विधानसभा को दोहराएगा और पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगा।
नेता विपक्ष ने कांग्रेस व भाजपा पर इनेलो को तोड़ने के लिए साजिश रचने का आरोप लगाते हुए दोहराया कि इनेलो प्रदेश के हितों की लड़ाई लडऩे के लिए वचनबद्ध है। किसान के खेत को पानी मिले उसके लिए एसवाईएल नहर के निर्माण के लिए फिर से आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला हरियाणा के हक में आए दो साल का वक्त हो चला है लेकिन ये खेदजनक है कि भाजपा भी कांग्रेस की भांति नहर निर्माण के मुद्दे पर राजनीति कर रही हैं। प्रदेश सरकार ने दादूपुर नलवी और मेवात कैनाल के निर्माण के लिए भी कोई पहल नहीं की जो दर्शाती है कि इस सरकार का जनता व किसानों की समस्याओं से कोई वास्ता नहीं है। भाजपा ने चुनाव से पूर्व झूठे वादे कर हर वर्ग को गुमराह करने का काम किया है। उन्होंने ओम प्रकाश चौटाला द्वारा प्रदेश की जनता से किए गए वादों को दोहराते हुए कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बनने पर किसान, गरीब व छोटे दुकानदारों के ऋण माफ किए जाऐगे साथ ही किसानों के ट्यूवल के बिजली बिल समाप्त और घरों में बिजली के बिल आधे कर दिए जाएगे। गरीब परिवार की बेटियों की शादी के लिए 5 लाख रुपए कन्यादान की राशि दी जाएगी और बुढ़ापा पैंशन 3000 हजार प्रति माह की जाएगी। नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि प्रदेश के हर एक घर में एक शिक्षित युवा को सरकारी नौकरी दी जाएगी वहीं अगर को रोजगार से चुक गया तो उन युवाओं को 15 हजार बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।
बसपा प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती ने कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन अटूट है। उन्होंने कांग्रेस द्वारा फैलाई जा रही अफवाहों को भ्रामक और राजनीति से प्ररित बताया। भारती ने यह भी कहा कि बसपा सुप्रीमो बहन मायावती ने पिछले दिनों प्रैसवार्ता में स्पष्ट कर चुकी है कि कांग्रेस से किसी भी तरह का गठबंधन नहीं होगा। बसपा पार्टी तीसरे मोर्चे को मजबूत करने के लिए केवल क्षेत्रीय दलों से ही समझौता करेगी। हरियाणा में इनेलो-बसपा गठबंधन को तोड़ा नहीं जा सकता और यह राजनैतिक समझौता न होकर बहन-भाई का बंधन है। इस दौरान बसपा प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती, पूर्व विधायक राजबीर बराड़ा, इनेलो जिलाध्यक्ष शीशपाल जंधेड़ी, जगमाल रौलां, मक्खन सिंह लबाणा व पार्टी प्रवक्ता प्रवीण आत्रेय सहित सैकड़ों गठबंधन कार्यकर्ता मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment