Monday, November 12, 2018

चुनावों में भाजपा-कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर देंगे साजिशों का मुंहतोड़ जवाब- अभय चौटाला 


गुड़गांव: जब-जब भी इनेलो प्रदेश में पूर्ण बहुमत की ओर अग्रसर हुई है तब-तब विरोधी दलों ने उसके खिलाफ षड्यंत्र करने की कोशिश की है। इनेलो बसपा के कर्मठ कार्यकर्ता विरोधियों की चालों को भलीभांति जानते हैं और आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनावों में भाजपा और कांग्रेस को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाकर उनकी साजिशों का मुंहतोड़ जवाब देंगे। उक्त शब्द इनेलो के वरिष्ठ नेता, जलयुद्ध नायक व नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने आज गुड़गांव में बसई कम्यूनिटी सैन्टर में आयोजित इनेलो बसपा कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहे। नेता प्रतिपक्ष का गुड़गांव में पंहुचने पर मोटर साईकलों के काफिले तथा ढोल नगाड़ों के साथ फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया तथा गांव बसई की ओर से सम्मान सूचक पगड़ी बांधकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कांग्रेस व भाजपा पर इनेलो को तोडऩे के लिए साजिश रचने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन इस बार 1987 विधानसभा चुनाव को दोहराने जा रही है और प्रदेश में पूर्ण बहुमत से गठबंधन की सरकार बनेगी। नेता विपक्ष ने दोहराया कि इनेलो व बसपा प्रदेश के हितों की लड़ाई लडऩे के लिए वचनबद्ध है। किसान के खेत को पानी मिले उसके लिए एसवाईएल नहर के निर्माण के लिए फिर से आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला हरियाणा के हक में आए दो साल का वक्त हो चला है लेकिन ये खेदजनक है कि भाजपा भी कांग्रेस की भांति नहर निर्माण के मुद्दे पर राजनीति कर रही है। प्रदेश सरकार ने दादूपुर नलवी और मेवात कैनाल के निर्माण के लिए भी कोई पहल नहीं की जो दर्शाती है कि इस सरकार का जनता व किसानों की समस्याओं से कोई वास्ता नहीं है। श्री चौटाला ने सरकार की किसान विरोधी मानसिकता की निंदा करते हुए कहा कि प्रदेश का किसान पहले ही कर्जे की मार झेल रहा था, उस पर भाजपा सरकार की किसान विरोधी नीतियों ने उसकी कमर तोडऩे का काम किया है। उन्होंने कहा कि चार साल से किसानों को फसल बीमा योजना के नाम पर लूटने वाली भाजपा ने बे-मौसमी बारिश से बर्बाद फसलों का मुआवजा अभी तक नहीं दिया। वहीं मुनाफाखोरों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार ने धान की फसल को नमी के नाम पर निर्धारित मूल्य से 250 से 300 रुपए प्रति किं्वटल कम दामों पर खरीदा। नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि भाजपा ने चुनाव से पूर्व झूठे वादे कर हर वर्ग को गुमराह करने का काम किया है। उन्होंने ओम प्रकाश चौटाला द्वारा प्रदेश की जनता से किए गए वादों को दोहराते हुए कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बनने पर किसान, गरीब व छोटे दुकानदारों के ऋण माफ किए जाएंगे साथ ही किसानों के ट्यूबवैल के बिजली बिल समाप्त और घरों में बिजली के बिल आधे कर दिए जाएंगे। गरीब परिवार की बेटियों की शादी के लिए 5 लाख रुपए कन्यादान की राशि दी जाएगी। नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि प्रदेश के हर एक घर में एक शिक्षित युवा को सरकारी नौकरी दी जाएगी वहीं अगर कोई रोजगार से चूक गया तो उन युवाओं को 15 हजार बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। 
इस अवसर पर इनेलो के वरिष्ठ नेता एंव प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा, पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत, पूर्व विधायक नफे सिंह राठी, पूर्व विधायक गंगाराम, पूर्व विधायक रामबीर, नेतराम एडवोकेट, जिलाध्यक्ष किशोर यादव, रमेश दहिया, जसबीर ढिल्लो, युवा प्रदेश अध्यक्ष जस्सी पेटवाड़, अटलबीर कटारिया, शमशेर कटारिया, कृष्ण यादव, बेगराज गुर्जर, सतबीर तंवर, मानसिंह चेयरमैन, सुखबीर तंवर, सतीश राघव, प्रताप कदम, रविन्द्र तंवर, महेन्द्र लहकड़ा, धर्मबीर बाघोरिया, धर्मपाल राठी, कपिल त्यागी, राजेन्द्र धनखड़, अतर सिंह रूहिल, शशी धारीवाल, अशोक जांगड़ा, नरेश घनघस, शकील अहमद, रमेश सेठी, रतीराम शर्मा, रोहताश खटाणा, राकेश गर्ग, रवि सिंगला, विजय डागर, कांसीराम सरपंच सहित हजारो इनेलो बसपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment