Wednesday, November 14, 2018

अजय चौटाला के खिलाफ षडयंत्र और फर्जी हस्ताक्षरों को लेकर कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन


भिवानी: इनेलो के राष्ट्रीय महासचिव पूर्व सांसद डा. अजय सिंह चौटाला और प्रदेश के जनलोकप्रिय सांसद दुष्यंत चौटाला व दिग्विजय चौटाला के निष्कासन को लेकर आज भिवानी में पार्टी कार्यकर्ताओं ने भारी विरोध जताया । पार्टी कार्यकर्ताओं ने स्थानीय देवीलाल सदन में एकत्रित होकर डा. अजय सिंह चौटाला, दुष्यंत चौटाला व दिग्विजय चौटाला के फोटो उठाकर समर्थन दिया और कहा कि जन लोकप्रिय नेता के परिवार के साथ वो लोग षडयंत्र रच रहे हैं जिन्होंने हमेशा पार्टी की पीठ में छुर्रा घोपने का काम किया है। कार्यकर्ताओं ने कहा कि जहां डा. अजय सिंह चौटाला को निष्कासन करने का आदेश सही नहीं बनता वहीं षडयंत्रकारी झूठे हस्ताक्षर कर दुष्यंत व दिग्विजय के निष्कासन का पत्र लिए फिरते हैं। कार्यकर्ताओं ने डा. अजय सिंह चौटाला जिंदाबाद, दुष्यंत चौटाला आगे बढ़ो और दिग्विजय सिंह चौटाला जिंदाबाद के नारे लगाते हुए  पूर्ण रूप से समर्थन दिया। वहीं स्थानीय कार्यकर्ताओं ने कहा कि उन्हें डा. अजय सिंह चौटाला के द्वारा दिए गए आमंत्रण पत्र मिल चुके हैं। 17 को जींद में भारी संख्या में पदाधिकारी पहुंचेंगे और अजय सिंह चौटाला को समर्थन देंगे। कार्यकर्ताओं ने कहा कि 17 नवम्बर को जींद में असली लोकदली शामिल होंगे। वहीं षडयंत्र रचने वालों को पार्टी से बाहर कियाजाएगा। कार्यकर्ताओं ने अजय सिंह,दुष्यंत, दिग्विजय के निष्कासन को असंवेधानिक बताया। प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से नरेश द्वारका, हलका अध्यक्ष जगदीश धनाना, व्यापार प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष प्रदीप गोयल, चेयरमैन प्रेम धनाना, डीएसपी होश्यार सिंह, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, युवा शहरी अध्यक्ष आसू वाल्मीकि, बीसी अध्यक्ष बृजलाल जोगी, बीसी शहरी अध्यक्ष मदन जूसवाला, युवा ग्रामीण जिला अध्यक्ष रमन राजपूत, इनेसो चेयरमैन मंदीप सुई, एससी सैल जिला अध्यक्ष मनमोहन भुरटाना, प्रदेश महासचिव विरेंद्र वाल्मीकि, महिला महासचिव वीना सारसर, लीगल सैल कोर्डिनेटर मेहर चंद सांगवान, पूर्व युवा हलका अध्यक्ष देवेंद्र नकीपुर, शहरी अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, प्रदीप खरकिया, जितेंद्र शर्मा रिवाड़ीखेड़ा, हलका प्रवक्ता संजय कारखल, सैनिक प्रकोष्ठ सतपाल फौजी, सेक्रेटरी अशोक सिहाग, रमेश भौरिया, माईराम खटीक, अजमेर कितलाना, इनसो सचिव मनीष छिल्लर, हंसराज सांई, बलजीत गौरीपुर, दीवान टाक,  शकुंतला गौरीपुर, आनंद प्रकाश, राजबीर सैन, बल्लू बामला, प्रदीप मित्ताथल, जितेंद्र तंवर, ईकबाल सहरावत, अशोक बाली शर्मा, सुशील ढिल्लो, सुशील बामल, मोहित इनसो, संदीप बलौदा, पवन फौजी तिगड़ाना, माईराम खटीक, शंकर आहूजा, सूरज मलिक, योगेश तालू, बलबीर सैन, राजबीर भाटी, मनोज खानक, सुभाष धानक, भौम सिंह, धीरा शर्मा मुण्ढाल, रूपेश धानक, ब्रह्मा बापोड़ा सहित अनेक लोगों ने फैसले का विरोध किया। 

No comments:

Post a Comment