Tuesday, November 13, 2018

17 नवम्बर की बैठक को असंवैधानिक बताने वालों का कार्यकर्ताओं ने किया विरोध


भिवानी: 17 नवम्बर को जींद में इनेलो प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक को लेकर कुछ लोग व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए अनाप शनाप ब्याजी कर रहे हैं। ऐसे लोग इनेलो के बारे में पता ही नहीं है। ये लोग केवल मात्र मोकापरस्त लोग होते हैं जो समय आने पर पलटी मारने में देर नहीं लगाते हैं। यह आरोप दिग्विजय चौटाला के प्रवक्ता राजू मेहरा ने प्रवीण अत्रे पर लगाए वहीं पूर्व चेयरमैन प्रेम धनाना, वरिष्ठ इनेलो नेता डीएसपी होश्यार सिंह, प्रदीप खरकिया, शहरी अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा धारेडू ने आज संयुक्त रूप से कहा कि डा. अजय सिंह चौटाला जैसी लोकप्रियता लेना हर किसी के बस की बात नहीं है। जन लोकप्रियता के लिए लोगों के दिलों में जगह बनानी पड़ती है। 
इनेलो नेताओं ने आज देवीलाल सदन में एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया। जिसमें मुख्य एजेंडा प्रदेश प्रवक्ता कहे जाने वाले प्रवीण अत्रे द्वारा 17 नवम्बर को जींद में होने वाली बैठक को असंवैधानिक करार देने के विरोध में रहा। चेयरमैन प्रेम धनाना व जितेंद्र शर्मा ने कहा कि ऐसे लोगोंं केा पार्टी की नीतियों के बारे में नहीं नहीं पता ये लोग चंद रोज पहले पार्टी में आए थे और अब केवल मात्र अपने व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए अनाप शनाप ब्यानबाजी कर रहे हैं। डीएसपी होश्यार सिंह व प्रदीप खरकिया ने कहा कि पिछले दिनों अपने आपको पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव कहने वाले आरएस चौधरी को तो यह भी नहीं पता कि उनके वार्ड से पार्टी को मात्र 3 वोट मिले थे।  इनेलो नेताओं ने कहा कि जो लोग संविधानिक बैठक की बात करते हैं उन्हें शायद इस बात पता नहीं है कि किसी भी पार्टी या संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बाद पार्टी के प्रधान महासचिव बैठक को बुला सकते हैं। 17 नवम्बर को जींद में होने वाली बैठक संविधानिक रूप से बिल्कुल सही है। वहीं इनेलो नेताओं ने एक महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित करते हुए कहा कि आज कार्यकर्ता डा. अजय सिंह चौटाला के साथ हैं और इसके लिए अब ग्रामीण स्तर पर इनेलो के विधायकों, प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्यों से लेकर वरिष्ठ नेताओं को पार्टी कार्यकर्ता दुष्यंत का साथ देने के  लिए कहेंगे क्योंकि कार्यकर्ता के दम पर ही ये लोग विधायक बने हैं और कार्यकर्ताओं के दम पर ही ये लोग प्रदेश कार्यकारिणी से लेकर जिला प्रधान के पदों तक पहुंचे हैं। बैठक में सभी इनेलो नेताओं ने एक सुर में दुष्यंत चौटाला का समर्थन किया और डा. अजय सिंह चौटाला के द्वारा जींद मेें आयोजित बैठक में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुंचने की बात कही। इस अवसर पर बिटटू शर्मा, कर्मबीर धनाना, अशोक सिहाग, प्रदीप गोयल, विरेंद्र बापोड़ा, बबलू कोंट, संदीप वर्मा, अनिल गुजरानी, धर्मपाल मित्ताथल, भौम सिंह, सतबीर फौजी, ब्रह बापोड़ा, ओमी बपोड़ा, जितेंद्र बापोड़ा, रामफल जाखड़ मैनेजर, अनिल मोटू, सूरज मलिक सहित अनेक लोग उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment