Saturday, September 8, 2018

गुड़गांव में शांतिपूर्ण तरीके से रहा बाजार बंद 


इनेलो गुड़गांव, 8 सितंबर: इंडियन नैशनल लोकदल व बहुजन समाज पार्टी द्वारा बीजेपी सरकार की व्यापारी विरोधी नीतियों, एस.वाई.एल. नहर व अन्य ज्वलन्त मुद्दों को लेकर हरियाणा प्रदेश बन्द के आव्हान पर सभी बाजारों को बन्द किया गया। इसी कड़ी में गुड़गांव, सोहना, पटौदी, फरूखनगर, बादशाहपुर, हेलीमण्डी के बाजारों को बन्द किया गया। इनेलो के वरिष्ठ नेता, जलयुद्ध नायक व नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला के आव्हान पर इनेलो बसपा के हजारों कार्यकर्ता शान्तिपूर्ण तरीके से बाजारों का दौरा किया तथा जनविरोधी बीजेपी सरकार के खिलाफ नारें लगाये। सभी कार्यकर्ता सुबह सुबह नई सब्जी मण्डी का दौरा कर खाण्डसा रोड़, गुरूद्वारा रोड़, सब्जी मण्डी होते हुए सदर बाजार पंहुचे तथा सभी छोटी बड़ी मार्केटों का दौरा कर बन्द को सफल बनाने की अपील की। इस मौके पर पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत ने कहा कि भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के कारण समाज के सभी वर्ग दुःखी व परेशान है। विशेषकर व्यापारी वर्ग पर पिछले दिनों नोटबंदी व जीएसटी की पड़ी मार से व्यापारी अभी तक उभर नहीं पाया था वहीं सरकार के तुगलकी फरमान पर नगर निगम गुड़गांव द्वारा अतिक्रमण की आड़ में सैंकड़ों दुकानों को सील करना व्यापारी विरोधी नीति का जीता जागता सबूत है। उन्होंने कहा कि गुड़गांव बाजार के इतिहास में इस प्रकार दुकानों को सील किया जाना तथा 25000 रूपये व हल्फनामा लेना पहली बार हुआ है। इस कार्यवाही से व्यापारी पूरी तरह से भयभीत है। श्री गहलोत ने ज्वलन्त मुद्दों पर बोलते हुए कहा कि आज देश व प्रदेश में डीजल, पट्रोल व गैस के दामों में दिन प्रतिदिन बेतहाशा बढोतरी ने आम आदमी की कमर तोड़ कर रख दी है। बिजली के घोर अभाव के बावजूद बिल में अनाप शनाप वृद्धि की जा रही है। विकास कार्य ठप्प पड़े है वहीं पीने के पानी की उचित व्यवस्था ना होना, प्रोपर्टी टैक्स तथा शहर की सीवरेज व्यवस्था का बुरा हाल है, शहर में चारों तरफ गन्दगी का साम्राज्य है जो इनके स्वच्छ भारत के दावों की पोल खोलते हुए नजर आ रहा है। गत दिनों दो घण्टें की बारीश से हुए जलभराव व मीलों तक घण्टों लगे जाम विकास के दावों की पोल खोलते हुए नजर आ रहा है। श्री गहलोत ने कहा कि हरियाणा की जीवन रेखा एस. वाई. एल. को लेकर माननीय सर्वोच्च न्यायालय के हरियाणा के पक्ष में फैसला सुनाये जाने के बावजूद सरकार इस फैसले को लागू कराने में नाकाम रही जो इनके निकम्मेपन को दर्शाता है। यदि प्रदेश की जनता को एस.वाई.एल. का पानी नहीं मिलता है तो सिंचाई तो दूर आने वाले दिनों में पीने के पानी के लाले पड़ जायेंगे। उन्होंने कहा कि समाज का कोई भी वर्ग आज अपने आप को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है। प्रदेश में कानून व्यवस्था का दिवाला निकल चुका है, व्यापारी दुकान पर सुरक्षित नहीं, लडकियां स्कूलों व कॉलेजों में सुरक्षित नहीं और आम आदमी घर में सुरक्षित नहीं है। कोई दिन ऐसा नहीं होता जब चोरी, डकैती, लूटपाट, हत्या, बलात्कार, जबरन वसूली व फिरौती की घटना घटित ना होती हो। श्री गहलोत ने आज के अभूतपूर्व बन्द में सभी व्यापारियों के सहयोग देने पर धन्यवाद व्यक्त किया। इस अवसर पर जिला प्रधान महासचिव रमेश दहिया, बसपा नेता नेतराम एडवोकेट, शमशेर कटारिया, रिशीराज राणा, प्रताप कदम, सतबीर तंवर एडवोकेट, अटलबीर कटारिया, राहुल भारद्वाज एडवोकेट, कपिल त्यागी, धर्मबीर बाघोरिया, महेन्द्र सेन, अतर सिंह रूहिल, शकील अहमद, रामे प्रधान, शशी धारीवाल, मोहन लाल वर्मा, रविन्द्र तंवर, भूपेन्द्र सुखराली, रणधीर सिंह, कांसीराम सरपंच, श्रवण धनखड़, नारायण सरपंच, रिषीपाल धनखड़, हरिकिशन सरपंच, साहब सिंह सोलंकी, राजू बोहरा, कंवर सिंह यादव, बलवा ठाकराण, किरणपाल गुर्जर, रामसिंह कोच, नरेश गोयल, हेमराज भाटी, भूदेव शर्मा, अनिल दहिया ठेकेदार, राजबीर ठाकराण सरपंच, जोगेन्द्र शोकीन, सतबीर यादव, जयभगवान कटारिया एडवोकेट, अमरीक राठी, मुकेश पहलवान, सतपाल गाड़ौली, ब्रहम डागर, सतीश यादव, राजेश डागर, कृष्ण गाड़ौली, तेजू राव, संजय यादव, विकास किराड़ सहित सैंकड़ों इनेलो बसपा कार्यकर्ता एंव पदाधिकरी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment