Tuesday, August 7, 2018

एस वाई एल को लेकर प्रदेश के हजारों वकील प्रधानमंत्री को सौंपेंगे ज्ञापन

हिसार से भी बड़ी संख्या में वकील होंगे शामिल


हिसार, 7 अगस्त: प्रदेश में एसवाईएल को लेकर इनेलो द्वारा चलाये जा रहे आंदोलन में अब प्रदेश के वकील भी सक्रिय हो गए है। इसी कड़ी में वीरवार को इनेलो कानूनी प्रकोष्ठ के हजारों सदस्य एसवाईएल मामले में माननीय सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मुताबिक नहर निर्माण करवाने को लेकर प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेंगे। प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपने को लेकर इनेलो कानूनी प्रकोष्ठ की जिला सदस्यों की एक बैठक जिला बार एसोसिएशन के कॉन्फ्रेंस रूम में प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष एडवोकेट मनदीप बिश्नोई की अध्यक्षता में हुई। इसमे जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रदीप बाजिया व उपप्रधान अनिल श्योराण विशेष तौर पर उपस्थित थे। बैठक में चर्चा करते हुए एडवोकेट मनदीप बिश्नोई ने कहा कि नवम्बर 2017 के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी प्रदेश व केंद्र की भाजपा सरकार आंखे मूंदे बैठी है। जो कि प्रदेश की जनता  विशेषकर किसानों के साथ सरासर अन्याय है। इनेलो पिछले लगभग डेढ़ साल से ज्यादा समय से एस वाई एल को लेकर नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला के नेतृत्व में आंदोलन रत है। परन्तु प्रदेश भाजपा इसको लेकर एक बार भी प्रधानमंत्री से नही मिली। अब इस लड़ाई को और ज्यादा मजबूती से लड़ते हुए इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला के निर्देशानुसार नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला व इनेलो कानूनी प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष एडवोकेट जसबीर ढिल्लों के नेतृत्व में प्रदेश के वकील दिल्ली में पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी ओम प्रकाश चौटाला के निवास स्थान 11 मीना बाग पर वीरवार को दिन में 11 बजे इकठ्ठा होकर प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौपते हुए प्रदेश के किसानों की जीवन रेखा मानी जाने वाली नहर का निर्माण जल्द जल्द करवाकर प्रदेश को उसके हक का पानी दिलवाने की मांग करेंगे।  जिला बार के अध्यक्ष एडवोकेट प्रदीप बाजिया ने कहा कि प्रदेश के किसानों के हित मे चलाये जा रहे जल आन्दोलन में हिसार के वकील बढ़चढ़कर भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि अगर जल्द ही एस वाइ एल का पानी प्रदेश को नही मिला तो प्रदेश में जलसंकट आ सकता है।
इस अवसर पर पूर्व जिला न्यायवादी राजेन्द्र गर्ग , धर्मबीर आर्य, अजीत काजला , अनूप जाखड़, ईश्वर कोवासरा, सम्मत यादव, राजेन्द्र जाखड़, बलवंत सहारण, राजबीर पायल, सुरेंद्र जांगड़ा, मानव गोदारा, कर्ण सिंह, एस के मेहता, सुरेंद्र सैनी, राज सिंह चाहर, महेश पारीक, नरेंद्र पंघाल सहित काफी संख्या में अधिवक्ता उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment