Wednesday, August 8, 2018

18 अगस्त का हरियाणा बंद होगा ऐतिहासिक, सरकार की हिल जाएंगी चूले- अभय चौटाला



कुरुक्षेत्र, 8 अगस्त: नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने कहा कि एस वाई एल का पानी हरियाणा में लाने की मांग को लेकर इनेलो-बसपा गठबंधन द्वारा 18 अगस्त को किया जाने वाला हरियाणा बंद ऐतिहासिक होगा और इससे सरकार की चूले हिल जांएगी। अभय चौटाला पिपली रोड़ पर स्थित एक निजी रिसोर्ट में गठबंधन की जिला स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक को इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, पिहोवा के विधायक जसविन्द्र सिंह संधु, बसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेन्द्र प्रजापत, लोकसभा प्रभारी नराता राम, बसपा जिला प्रधान मान सिंह, श्रीमती शशी सैनी, इनेलो जिला प्रधान कुलदीप सिंह मुलतानी, हलका थानेसर प्रधान रणबीर सिंह किरमच, शाहाबाद हलका प्रधान अमनदीप सिंह कम्बोज, लाडवा हलका प्रधान सुरेश सैनी, पिहोवा हलका प्रधान कर्ण सिंह इशहाक, विक्रम चक्रपाणी, रामकरण काला, बुटा सिंह लुक्खी बसपा नेत्री शकुंतला भट्टी, युवा इनेलो जिला प्रधान सुनील राणा,  चंद्रभान बाल्मिकी, शहरी प्रधान विवेक मेहता, पार्षद संदीप टेका, नितिन भारद्वाज लाली, तून खान, प्रवीन कश्यप, जसविन्द्र खेरा, मनोज कौशिक, तरसेम हरियापुर दीपक फौजी, सोहनलाल रामगढ़, दीपक बाल्मिकी, संदीप अजराना, अजय कुमार, सुनील कुमार, गुरबचन, नसीब सिंह कश्यप, सूरज भान, अमन सिंह रंगा, राजकुमार शर्मा काला, राकेश कुमार,सहित गठबंधन के अनेक नेताओं ने संबोधित किया और बंद को सफल बनाने का आश्वासन दिया। अभय चौटाला ने गठबंधन के कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे इस बंद को सफल बनाने के लिए व्यापारिक संगठनों से संपर्क करें और जी-जान से जुट जांए उन्होंने कहा कि बटवारे के समय हरियाणा से अन्याय हुआ था।
हरियाणा को दो नदियों का केवल 35 प्रतिशत पानी मिला। जो पानी हरियाणा के हिस्से में आया वह भी आज तक नही मिला। सुप्रीमकोर्ट की संवैधानिक पीठ ने हरियाणा के हक में 10 नवम्बर 2016 को फैसला दिया था। इस फैसले के अनुसार केंद्र सरकार को नहर का निर्माण करना है लेकिन आज तक प्रदेश सरकार ने केंद्र पर दबाव बनाकर पानी लाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया। जिस पर इनेलो - बसपा गठबंधन ने पानी लाने के लिए जेल भरो आंदोलन चलाया और अब 18 अगस्त को हरियाणा बंद का आहवान किया है। अभय चौटाला ने कांग्रेस और भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि दोनों पार्टियों को हरियाणा के हितों से कोई सरोकार नहीं है। भाजपा से लोगों को विश्वास उठ चुका है। कांग्रेस 6 गुटों में बंटी हुई है। आगामी चुनाव में 1987 का इतिहास दोहराया जाएगा। गठबंधन विधानसभा की सभी 90 सीटों और लोकसभा की सभी 10 सीटों पर विजय प्राप्त करेगा। देश की प्रधानमंत्री मायावती बनेगी और प्रदेश में चौधरी ओम प्रकाश चौटाला के नेतृत्व में गठबंधन की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि गठबंधन की सरकार बनने पर किसान, मजदूरों और छोटे व्यापारियों के सारे कर्जे माफ किए जाएंगे। गरीब कन्या की शादी पर 5 लाख रुपए कन्यादान दिया जाएगा, हर घर से एक व्यक्ति को रोजगार दिया जाएगा और जो युवा रोजगार से वंचित रह जाएगा, उसे 15 हजार रुपए महिना बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। बिजली का रेट 5 रुपए प्रति युनिट किया जाएगा और जो लोग ईमानदारी से बिल भरते हैं, उनके मीटर सरकार ने बाहर लगा रखे हैं। इन मीटरों को उखाडकर जोहड़ में डाल दिया जाएगा तथा बिजली चोरी करने वाले बड़े-बड़े व्यापारियों के मीटर बाहर लगाए जाएंगे।
बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि इनेलो ने एस वाई एल का पानी हरियाणा में लाने और दादुपुर नलवी नहर परियोजना को दौबारा से लागू करने तथा स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करवाने  के लिए लंबी लड़ाई लड़ी है और अब इन्हीं मुद्दों को लेकर 18 अगस्त को हरियाणा बंद का आहवान किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार से हर वर्ग दु:खी है। किसानों की फसल न्यूनतम समर्थन मूल्य पर भी नही खरीदी जा रही। अरोड़ा ने कहा कि चार वर्ष के भाजपा के राज में हालात बद से बदतर हो गए हैं। ठेका प्रथा लागू करके कर्मचारियों को शोषण किया जा रहा है। हरियाणा में 6 वर्ष की बच्चियों  से लेकर 60 वर्ष तक की महिलाओं के साथ बलात्कार हो रहे हैं। भाजपा ने आपस में लड़ाकर भाईचारा खत्म करने का काम किया। उन्होंने कहा कि सरकार का काम गिल्लीडंडा खेलना नही बल्की लोगों को सुविधाएं देना है। अरोड़ा ने कहा कि प्रदेश से भाजपा सरकार का जाना और गठबंधन की सरकार का चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में बनना निश्चित है। 
बसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेन्द्र प्रजापति ने अपने संबोधन में कहा कि भाजपा ने जात-पात व धर्म के नाम पर आपसी भाईचारा खराब किया है। 35 बिरादरी का नारा देकर लोगों को लड़वाया। उन्होंने कहा कि गठबंधन को पूरे प्रदेश में जनसमर्थन मिल रहा है। प्रजापत ने कहा कि चुनाव नजदीक आते देख भाजपा सरकार को अब ओ बी सी आयोग को संवैधानिक दर्जा देने व एस टी एस सी कानून को सख्त करने की बात याद आई है। उन्होंने कहा कि चौधर देवीलाल और ओमप्रकाश चौटाला ने दलित व पिछड़े वर्ग को सत्ता में भागीदारी दी। चौधरी ओमप्रकाश चौटाला और बहन मायावती ने कमेरे वर्ग का गठबंधन करके बड़ा ही अच्छा काम किया है। बहन मायावती देश की प्रधानमंत्री बनेगी और चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में प्रदेश में गठबंधन की सरकार बनेगी। प्रजापति ने बसपा कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे इनेलो कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर 18 अगस्त के बंद को सफल बनाए।  

No comments:

Post a Comment