Thursday, August 30, 2018

इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने पेट्रोल- डीजल के बढ़ते दामों को लेकर भाजपा सरकार की कड़ी निंदा की
 

चंडीगढ़, 30 अगस्त: इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने फिर से पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाने को लेकर भाजपा सरकार की कड़ी निंदा की है। पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि पर चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने केंद्र और राज्य की भाजपा सरकारों से उत्पाद शुल्क और वैट में कटौती करने का आग्रह किया ताकि आम नागरिकों को महंगाई की मार से कुछ राहत मिल सके। इनलो प्रदेशाध्यक्ष ने याद दिलाया कि मई 2014 में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 106 डॉलर प्रति बैरल थी और तब पैट्रोल का दाम 71.41 और डीजल 55.49 रुपए प्रति लीटर था। लेकिन आज अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल 73.21 डॉलर प्रति बैरल के हिसाब से मिल रहा है बावजूद इसके, यह विडंबना है कि सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाकर 77.02 पेट्रोल और 68.89 डीजल प्रति लीटर कर दिया है। अशोक अरोड़ा ने यह भी आरोप लगाया कि राजस्व बढ़ाने के लिए केंद्र की सरकार ने मनमाने तरीकों से उत्पाद शुल्क में वृद्धि की है और केंद्र सरकार की नीतियों का अनुसरण करते हुए प्रदेश की भाजपा सरकार ने वैट की दरों में बढ़ोतरी की है। उन्होंने कहा कि आज सरकार द्वारा उत्पाद शुल्क बढ़ाकर पेट्रोल पर 19.48 और डीजल पर 15.33 रुपए प्रति लीटर की दर से वसूला जा रहा है। वहीं हरियाणा में पेट्रोल पर वैट के तौर पर 16.41 रुपए पेट्रोल व 10.05 रुपए डीजल के हिसाब से जनता से लिया जा रहा है। जबकि मई 2014 में जहां पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 9.48 और डीजल पर 3.56 रुपए प्रति लीटर था। वहीं पेट्रोल पर राज्य वैट 14.28 और डीजल पर 6.69 रुपए प्रति लीटर था। आज जनता को तेल की कीमतों पर टैक्स के तौर पर 50 प्रतिशत से भी अधिक देना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार भाजपा आए दिन दाम बढ़ा रही है उससे तो यह लगता है कि जनता को परेशान करने में भाजपा को विकृत सुख मिलता है।अशोक अरोड़ा ने सरकार को याद दिलाया कि सरकारों का काम जनता को लूटकर सरकारी खजाना भरना नहीं होता बल्कि सरकारी सहायता से जनता को राहत देना होता है। उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग की है कि वह लोगों को राहत देने के लिए उत्पाद शुल्क और वैट की दरों में कटौती करे।
अमेरिका में हरियाणा स्पोर्ट्स एंड कल्चर क्लब ने नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला को सम्मानित किया


चंडीगढ़, 30 अगस्त: अमेरिका में हरियाणा स्पोर्ट्स एंड कल्चर क्लब ने नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला को सम्मानित किया। इस कार्यक्रम का आयोजन अमेरिकी शहर सीटल में किया गया। इस कार्यक्रम में शहरी मेयर, काउंसिल के सभी सदस्यों सहित वाशिंगटन स्टेट के सेनेटरों ने भी भाग लिया। एसवाईएल निर्माण को लेकर नेता विपक्ष के प्रयासों की प्रसंशा करते हुए हरियाणा स्पोर्ट्स एंड कल्चर क्लब ने उन्हें एक शील्ड भी प्रदान की। इस अवसर पर अभय सिंह चौटाला ने प्रवासी हरियाणवियों की समस्याएं भी सुनी और उन्हें विश्वास दिलाया कि हरियाणा में इनेलो की सरकार बनने पर उनकी समस्याओं का समाधान करेंगे। नेता विपक्ष ने यह भी आश्वासन दिया कि आगामी विधानसभा चुनावों में इनेलो की सरकार बनने पर प्रवासियों के लिए व्यापार और निवेश के नियमों में पारदर्शिता और सरलता लाने उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने यह भी कहा कि प्रवासियों की हरियाणा में जमीन-जायदाद के विवादों को सुलझाने के लिए विशेष कमेटी का गठन करेंगे। उन्होंने याद दिलाया कि जब हरियाणा प्रदेश में चौधरी ओमप्रकाश चौटाला की सरकार थी तब उन्होंने विदेशों में बसे हरियाणा के लोगों के लिए व्यापार के नए अवसर पैदा किए थे।
नैना चौटाला की हरी चुनरी चौपाल में उमड़ी हजारों महिलाएं 

खास्ता हाल सड़कों को लेकर डबवाली की विधायक नैना चौटाला का तंज

...सीएम साहब हाइवे से उतर कर कभी गांवों की ओर भी आया करो


इंद्री, करनाल,30 अगस्त: करनाल क्षेत्र में सड़कों की बदहाली को लेकर डबवाली की विधायिका नैना सिंह चौटाला ने सीएम पर तंज कसा। नैना चौटाला ने कहा कि सीएम साहब कभी हाईवे से उतर कर गांव की ओर भी आया करो। आप तो दिल्ली चंडीगढ़ वाले हाइवे पर चलते हो, आपके राज में सीएम सीटी के गांवों को जोडऩे वाली सड़कों का क्या हाल है, इसकी खबर तक आपको नहीं है। असली तस्वीर देखनी है तो मुख्यमंत्री जी कभी गांव की ओर रूख करो। जर्जर सड़कें, जगह-जगह लगे गंदगी के ढेर, चिकित्सकों से वंचित सरकारी अस्पताल आपकी सरकार के विकास के दावों असली तस्वीर प्रस्तुत करते नजर आएंगे। डबवाली की विधायिका नैना सिंह चौटाला बजाज पैलेस में आयोजित हरी चुनरी की चौपाल कार्यकर्ता में उमड़ी महिलाओं को भारी भीड़ को संबोधित कर रही थी। इंद्री में पहुंचने पर विधायक नैना सिंह चौटाला और महिला प्रकोष्ठ की प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण का जोरदार स्वागत किया गया। महिलाएं पारम्परिक गीत गाती हुई नैना चौटाला को स्टेज तक ले गई। 
इस कार्यक्रम को लेकर महिलाओं में खासा जोश था और महिलाओं की भारी भीड़ के चलते आयेजन स्थल छोटा पड़ गया और महिलाओं को सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए बनाए गए स्टेज को खाली करवा कर बैठाया गया। डबवाली की विधायक नैना चौटाला ने सरकार के विकास के दावों को लेकर सरकार पर जमकर प्रहार किए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। कानून व्यवस्था के मामले में हरियाणा की भाजपा सरकार पूरी तरह से नकारा साबित हुई है और लगातार महिलाओं पर अत्याचार, बलात्कार, यौन उत्पीड़क और छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ रही हैं। प्रदेश ने बिगड़ी कानून व्यवस्था के मामले में बिहार को भी पीछे छोड़ दिया है। उन्होंने वायदा किया कि इनेलो की सरकार बनने पर प्रदेश में कानून व्यवस्था सुदृढ़ कर महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी। श्रीमती चौटाला ने महिलाओं को आश्वासन दिया कि इनेलो की सरकार बनने पर महिलाओं के हक के लिए वह स्वयं हर वक्त उनके साथ खड़ी मिलेंगी। नैना सिंह चौटाला ने महिलाओं की भारी भीड़ से गदगद कहा कि इनेलो की सरकार बनने पर हर गरीब की बेटी की शादी में पांच लाख रूपये कन्यादान के रूप में दिए जाएंगे। इतना ही नहीं किसानों के टयूबवैल का बिजली का पूरा बिल माफ होगा और घरेलू बिजली का बिल आधा माफ किया जाएगा। 

                                                                                 

उन्होंने कहा कि रोजगार देने का वायदा कर सत्ता में आई भाजपा अब रोजगार देना तो दूर की बात, सरकार युवाओं से रोजगार छीन रही है और हजारों युवाओं को नौकरी से हटा कर उन्हें घर भेज चुकी है। श्रीमती चौटाला ने कहा कि रोजगार न मिलने के कारण युवा पथभ्रष्ट होकर नशे की तरफ जा रहा है जिसके लिए सीधे तौर पर भाजपा सरकार जिम्मेवार है। उन्होंने उपस्थित महिलाओं से वायदा किया कि इनेलो की सरकार बनने पर हर घर में एक रोजगार दिया जाएगा। श्रीमती नैना चौटाला ने कहा कि जननायक चौ. देवीलाल ने बुजूर्गों को मान-सम्मान देते हुए बुढ़ापा पेंशन रूपी सम्मान पेंशन योजना शुरू की थी। लेकिन पहले कांग्रेस तथा अब भाजपा के राज में यह सम्मान पेंशन अपमान पेंशन बन कर रह गई है। बुजूर्ग महिलाएं एंव पुरूष अपनी पेंशन के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं और घंटों तक बैंकों की लाइन में लगने को मजबूर हैं। उन्होंने घोषणा की कि इनेलो की सरकार बनने पर हर बुजूर्ग के घर अढ़ाई हजार रूपये पेंशन पहुंचााई जाएगी। इनेलो विधायिका ने कहा कि भाजपा सरकार पर किसानों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने के लिए सड़कों पर अर्धनग्र होकर प्रदर्शन करने वाले भाजपाई आज चुप क्यों हैं। उन्होंने कहा कि इनेलो सरकार बनने पर पहली कलम से किसानों के कर्र्जे माफ किए जाएंगे एवं उनके टयूबवैल का बिल पूरा माफ किया जाएगा। 



INSO सहित अन्य छात्र संगठन 10 सितम्बर को करेंगे विधानसभा का घेराव


चंडीगढ़,29 अगस्त: प्रदेश में प्रत्यक्ष छात्र संघ चुनाव के मुद्दे पर इनसो सहित एनएसयूआई, एसएफआई और अन्य छात्र संगठन 10 सितम्बर को विधानसभा का घेराव करेंगे। यह जानकारी प्रैसवार्ता में इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने दी। उन्होंने कहा कि सरकार अगर प्रदेश के छात्रों की मांगो को नहीं मानती तो इनसो छात्रसंघ चुनावों का बहिष्कार करेगी साथ ही अन्य छात्र संगठनों से भी छात्र हित में इन चुनावों में भाग न लेने की अपील करेगी। दिग्विजय ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि छात्रसंघ चुनावों की निष्पक्षता को खत्म करने के लिए ही अप्रत्यक्ष चुनाव करवाना चाहती है लेकिन इनसो इन चुनावों को हार्स ट्रेडिंग का अड्डा नहीं बनने देगी। दिग्विजय चौटाला के आह्वान पर पिछले दिनों प्रदेश के सभी छात्र संगठनों एक मंच पर आकर प्रत्यक्ष छात्रसंघ चुनाव संघर्ष समिती का गठन किया था। इस बैठक में एबीवीपी को छोड़ प्रदेश के सभी छात्र संगठन शामिल हुए थे। उन्होंने यह भी कहा कि सभी छात्र संगठन संघर्ष समिती के बैनर के नीचे प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों मेंं प्रत्यक्ष चुनाव करवाने के लिए मुख्यमंत्री के नाम वीसी को ज्ञापन भी सौंपेंगे। इस अवसर पर दिग्विजय सिंह चौटाला ने पीयू कॉलेजों में इनसो चुनाव कार्यकारिणी की  घोषणा भी की। जिसमें सेक्टर-10 के डीएवी कॉलेज का अध्यक्ष आशीष नेहरा, पार्टी अध्यक्ष विशु चौधरी और चेयरमैन पद पर सुनील राहर को नियुक्त किया गया है। गवर्नमेंट कॉलेज सेक्टर-11 में सुभम मान को अध्यक्ष, आस्तिक लांबा को चेयरमैन और रूची को उपाध्यक्ष बनाया गया। इसी क्रम में उन्होंने जीसीजी गर्ल्स कॉलेज जिनमें सम्भावी दत्त को अध्यक्ष, दिव्यांशी चेयरमैन, भाव्या उपाध्यक्ष, एमसीएम गल्र्स कॉलेज सेक्टर-36, युक्ता मेहता को अध्यक्ष, प्रीत को चेयरमैन, खालसा कॉलेज सेक्टर-26 में आशीष को अध्यक्ष, अमन को चेयरमैन, रोहित वाइस प्रेजिडेंट और एसडी कॉलेज में विपुल ठाकुर को अध्यक्ष, सूर्यांश डागर को चेयरमैन, विकास को पार्टी प्रेजिडेंट बनाया गया है। यूटी टीम को घोषणा करते हुए उन्होंने अंकित सांगवान को प्रेजिडेंट, विवेक सांगा को सेक्रेटरी, अजय मलिक को जनरल सेक्रेटरी, अवीश कम्बोज को सभी कॉलेज का अध्यक्ष और सर्ब धालीवाल को सभी कॉलेज का चेयरमैन नियुक्त किया गया है।प्रैसवार्ता में इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर और जननायक चौधरी देवीलाल की विचारधारा को छात्रों तक पहुंचाने के लिए ‘रोड टू डेमोक्रेसी’ पुस्तक का विमोचन भी किया। उन्होंने कहा कि अब तक पीयू में क्षेत्रवाद छात्र संघ चुनावों पर हावी रहता था लेकिन इनसो ने सभी क्षेत्र व भिन्न-भिन्न प्रदेशों से आए छात्रों को भी चुनाव समीति में चुना है।
इनसो प्रदेशभर में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर करेंगी प्रदर्शन-दिग्विजय चौटाला


चंडीगढ़, 29 अगस्त: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर इनसो 30 अगस्त को जिलास्तर पर प्रदेशभर में विरोध प्रदर्शन करेगी। यह जानकारी इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने यहां पत्रकार वार्ता के दौरान दी। उन्होंने कहा कि इनसो बैनर तले प्रदेश के युवा इस विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेंगे और सरकार पर पेट्रोल-डीजल के दाम घटाने के लिए दबाव डालेंगे। इनसो नेता ने फिर से पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाने को लेकर भाजपा सरकार की कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा जिस प्रकार सरकार आए दिन दाम बढ़ा रही है उससे तो यह लगता है कि भाजपा को जनता को परेशान करने में विकृत सुख मिलता है। उन्होंने सरकार पर देश की जनता को धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि साल 2014 के आम चुनाव में भाजपा ने तेल के बढ़ते दामों को मुद्दा बनाकर जनता को विश्वास में लिया था लेकिन उसके पश्चात सत्ता हासिल करने पर अब तक दस बार पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि कर चुकी है। यह जनता के साथ विश्वासघात है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा ने सत्ता में आने के लिए झूठ का सहारा लिया, नहीं तो आज जब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम कम होने के बावजूद भी इसका लाभ जनता को नहीं मिल रहा।
दिग्विजय ने याद दिलाया कि मई 2014 में कच्चे तेल की कीमत 106 डॉलर प्रति बैरल थी और तब पैट्रोल का दाम 71.41 और डीजल 55.49 रुपए प्रति लीटर था। उस वक्त पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 9.48 और डीजल पर 3.56 रुपए प्रति लिटर था। वहीं पेट्रोल पर वेट 20 प्रतिशत और डीजल पर 12.07 प्रतिशत था। उन्होंने कहा कि अब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम घटे हैं। आज कच्चा तेल 76.64 डॉलर प्रति बैरल के हिसाब से मिल रहा है लेकिन उस पर जो उत्पाद शुल्क है सरकार द्वारा बढ़ाकर पेट्रोल पर 19.48 और डीजल पर 15.33 रुपए प्रति लीटर कर दिया है। वहीं हरियाणा में पेट्रोल पर वैट 26.25 प्रतिशत और डीजल पर 17.22 प्रतिशत के हिसाब से जनता से वसूला जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस बात से साफ जाहिर होता है कि केंद्र व प्रदेश की सरकार जनता को राहत नहीं देना चाहती वो केवल चुनावी वादे के तौर पर इस बात को मुद्दा तो बना सकती है लेकिन अपनी कही बात पर अमल नहीं कर सकती। 
इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने  इनसो चुनाव कमेटी की घोषणा की


पंजाब यूनिवर्सिटी में होने वाले छात्र संघ चुनाव में ताल ठोकते हुए इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने आज इनसो चुनाव कमेटी की घोषणा की। पीयू में 6 सितम्बर को छात्र संघ चुनाव होने हैं। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इनसो पंजाब यूनिवर्सिटी की तर्ज पर ही हरियाणा में भी प्रत्यक्ष चुनाव चाहती है।इस अवसर पर दिग्विजय सिंह चौटाला ने पीयू इनसो चुनाव समीति की घोषणा भी की। जिसके छात्र विंग में विनीत सेहरावत प्रेजिडेंट, गौरव दुहन को पार्टी प्रेजिडेंट, रजत नैन चेयरमैन, पुनीत शेरा पार्टी इंचार्ज, रिजुल छाबड़ा सीनियर कैम्पस पे्रजिडेंट, मोहित जागलान वाइस प्रेजिडेंट, अंकित धनखड़ जनरल सेक्रेटरी, अजय बिसला सेक्रेटरी, सुशील जॉइंट सेक्रेटरी, अंकित जैन इलेक्शन इंचार्ज, प्रवीण ढिल्लो साउथ कैम्पस प्रेजिडेंट, विकास ढांडा साउथ कैम्पस चेयरमैन, सुनील ढुल मुख्य संरक्षक, युद्धवीर सिंह को को-आर्डिनेटर और अंकित खंडेलवाल को साउथ कैम्पस इंचार्ज बनाया गया है।छात्रा विंग में हिमांशी को प्रेजिडेंट, हिमानी गिल को छात्रा विंग इंचार्ज, श्रेया सांगवान को वाइस प्रेजिडेंट, स्वाति टिवाणा और अंकिता चौधरी को-ऑर्डिनेटर बनाया गया है। पीयू में हुई इस बैठक में इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर और जननायक चौधरी देवीलाल की विचारधारा को छात्रों तक पहुंचाने के लिए 'रोड टू डेमोक्रेसी' पुस्तक का विमोचन भी किया। उन्होंने कहा कि अब तक पीयू में क्षेत्रवाद छात्र संघ चुनावों पर हावी रहता था लेकिन इनसो ने सभी क्षेत्र व भिन्न-भिन्न प्रदेशों से आए छात्रों को भी चुनाव समीति में चुना है। दिग्विजय सिंह चौटाला ने यह भी कहा कि विश्वविद्यालयों में संवैधानिक ढांचा खड़ा करने के लिए छात्र संघ चुनावों की अहम् भूमिका होती है और इन चुनावों में इनसो लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों के अनुसार निष्पक्ष व शांतिप्रिय चुनाव करवाने में सहयोगी भूमिका निभाएगी। इस मौके पर इनसो उपाध्यक्ष जसविंद्र खैहरा, अनिल ढुल, संजय सांगवान, प्रदीप पंघाल, रमन ढाका, सचिन चंदोली, मनोज जोरासी, अमन काजल, कश्मीर राणा आदि भी उपस्थित थे।

Monday, August 27, 2018

डबवाली व सिरसा में अगर नहर बनेगी तो चौटाला साहब के राज में ही बनेगी- दिग्विजय चौटाला


डबवाली, 27 अगस्त: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कहा है कि काम तो वोही करवा सके है जिका न काम करवाण की आदत होवे, इयां झूठ की राजनीति करण आला न सारा जान चुका है। आ झूठा लोगां ना हलका का लोग आन आला टेम में सबक सिखावगा। डबवाली व सिरसा में जे नहर बनगी तो चौटाला साहब के राज म ही बनेगी, पहलां भी बनी है अर आग भी बनेगी। दिग्विजय चौटाला ने जारी एक बयान में कहा कि पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक चौ. देवीलाल का नाम इस्तेमाल करने वाले लोग झूठ व गुमराह करके लोगों को नहर बनाने का झांसा देकर डबवाली जनसभा में लेकर आए जहां पर सी.एम. मनोहर लाल खटटर ने नहर की कोई घोषणा नहीं की। जिससे साबित होता है कि सी.एम. मनोहर लाल खटटर व भाजपा नेताओं ने डबवाली हलका के लोगों के गुमराह करके हलका के किसानों के साथ छल किया है। जिससे किसानों का भारी अपमान हुआ है। इसके लिए सी.एम. व भाजपा नेताओं को किसानों से सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह आन रिकार्ड बात है कि डबवाली ही नहीं पूरे सिरसा जिला में नहरों की बंदी ही रहती है। महीने में पूरा हफता भर ही नहरों में पानी नहीं मिलता। किसानों को महंगा डीजल खर्च करके फसलों को पानी देना पड़ रहा है। और उसी भाजपा के नेता नई नहर का राग अलाप रहे है जिसका कोई वजूद नहीं है ना ही खटटर सरकार की नीयत नहर बनाने की है। उन्होंने कहा कि जो सरकार मौजूदा नहरों में पानी नहीं दे पा रही वह नई नहरों का निर्माण कैसे करेंगे। उन्होंने कहा कि डबवाली हलका व सिरसा जिला के किसानों के खेतों तक अगर पूरा पानी किसी की सरकार में मिला है तो वह पूर्व मुख्यमंत्री चौ. ओमप्रकाश चौटाला के समय मिला है। नई नहरे व माइनर बने तो इनैलो की सरकार में बने है व आगे आने वाले समय में भी डबवाली हलका में नई नहर बनेगी तो वह इनैलो की सरकार में चौटाला साहब ही बनाएंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेताओं ने सदा झूठ की राजनीति की है। उन्होंने कहा कि जननायक चौ. देवीलाल की नीतियों पर चलते हुए हमने कभी झूठ की राजनीति नहीं है लेकिन वर्तमान समय में भाजपा नेता जननायक का नाम इस्तेमाल करके झूठ व गुमराह करने की राजनीति करते हुए किसानों के साथ दगा कर रहे है जोकि बेहद निंदनीय है। उन्होंने कहा कि डबवाली के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि झूठ बोलकर हलका के किसानों को बुलाकर अपमानित किया गया हो यह डबवाली हलका के किसानों के साथ बड़ा छल है। जिसका हिसाब किताब किसान समय आने पर लेंगे। उन्होंने कहा कि चिंताजनक बात यह है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री इस झूठ में शामिल है, जोकि मुख्यमंत्री के पद की गरिमा को कम करने वाला काम है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि बड़े दुख की बात है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री के पद पर बिराजमान मनोहर लाल खटटर ने चौ. देवीलाल परिवार पर निम्नस्तर पर जाकर निजी टिप्पणी की जोकि प्रदेश के मुखिया को शोभा नहीं देता। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि मुख्यमंत्री खटटर डबवाली में एक बार फिर घोषणामंत्री ही साबित हुए है। मुख्यमंत्री ने डबवाली या सिरसा जिले के लिए कोई भी बड़ी योजना का उद्धघाटन या शिलान्यास नहीं किया। 17 दिसंबर 2016 में की रैली में जो घोषणाएं की गई वह आज तक पुरी नहीं की गई और अब नई घोषणाएं कर दी गई है। जोकि मात्र चुनावी स्टंट है मुख्यमंत्री की घोषणाएं मात्र घोषणाएं बनकर ही रह जाएंगी व जमीनी स्तर पर कोई काम नहीं होगा।
डबवाली जनसभा को लेकर सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग करके हलका के गांवों के सरपंचों पर अनावश्यक दबाब डालने के प्रयास की निंदा करते हुए दिग्विजय चौटाला ने जिनका चेहरे व बात सुनने को जनता नहीं आती उन्हें ऐसे हथकंडे अपनाने पड़ रहे है। उन्होंने प्रशासनिक स्तर पर अगर किसी को बेवजह परेशान किया गया तो इनैलो की सरकार बनने पर उन अधिकारियों के कारनामों की जांच की जाएगी। स्थानीय नेताओं ने अपनी फजीहत से बचने का प्रयास करते हुए पड़ोसी राज्य राजस्थान व पंजाब से भी लोगों को बुलाया गया। इसके अलावा पूरे सिरसा जिला के सभी हलको से लोगों को बुलाकर खुद श्रेय लेने की कोशिश की। यह जनसभा भाजपा नेताओं में आपसी नुराकुस्ती को दिखाते हुए अपने वर्चस्व को बढाने व एक दूसरे को नीचा दिखाने तक सीमित रही। जिससे लोगों को एकबार फिर केवल निराशा ही हाथ लगी।
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि किसानों के अलावा डबवाली शहर के आमजन को भी मुख्यमंत्री से निराशा हाथ लगी। शहर में ठप्प पड़े विकास कार्यो बारे कोई बात जनसभा में नहीं की गई। ना ही कोई बड़ी परियोजना हलका व शहर को नहीं दी गई। डबवाली हलका में कमजोर स्वास्थ्य व शिक्षा सेवाएं, खराब कानून व्यवस्था, चरमराई सफाई व्यवस्था, नगर परिषद की मनमानी, रेलवे के बंद पड़े कार्य, डबवाली को पुलिस जिला बनाने, युवाओं को पक्का रोजगार देने जैसे विषयों पर सी.एम. खटटर ने कोई ध्यान नहीं दिया।
हर गरीब की बेटी की शादी में पांच लाख देंगे कन्यादान- नैना चौटाला 


फतेहाबाद 27 अगस्त: डबवाली की विधायक नैना सिंह चौटाला ने ऐलान किया कि इनेलो की सरकार बनने पर हर गरीब की बेटी की शादी में पांच लाख रूपये कन्यादान के रूप में दिए जाएंगे। इतना ही नहीं किसानों के टयूबवैल का बिजली का पूरा बिल माफ होगा और घरेलू बिजली का बिल आधा माफ किया जाएगा। रतिया हलके के साथ साथ पूरे प्रदेश में हर घर में एक व्यक्ति को नौकरी दी जाएगी। श्रीमती चौटाला सोमवार को रतिया हलके के गांव अयाल्की गांव में आयोजित हरी चुनरी की चौपाल में उमड़ी हजारों महिलाओं को संबोधित कर रही थी। 
अयाल्की गांव में पहुंचने पर नैना चौटाला का महिलाओं ने पारम्परिक ढंग से स्वागत किया। महिलाएं गीत गाती हुई नैना चौटाला को स्टेज तक ले गई। इस कार्यक्रम में दौलतपुर की न्यू सेंचुरी सीनियर सेकंडरी स्कूल छात्राओं ने कन्या भू्रण हत्या व नशाखोरी पर नाटक का मंचन कर महिलाओं को कन्या भू्रण हत्या और नशा रोकने के लिए जागरूक किया। 
महिलाओं की भारी भीड़ से गदगद इनेलो विधायिका नैना चौटाला ने कहा कि आज प्रदेश में जंगलराज कायम है। हर रोज महिलाओं पर अत्याचार हो रहे हैं लेकिन सरकार के कानों तक जूं तक नहीं रेंगती। भाजपा सरकार में महिलाओं के उत्पीडऩ के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इनेलो विधायिका ने कहा कि अब समय आ गया है कि प्रदेश की महिलाएं एकत्रित होकर भाजपा सरकार की ईंट से ईंट बजाएं। श्रीमती चौटाला ने महिलाओं को आश्वासन दिया कि इनेलो की सरकार बनने पर महिलाओं के हक के लिए वह स्वयं हर वक्त उनके साथ खड़ी मिलेंगी। 
डबवाली की विधायिका ने कहा कि जिस तरह से भाजपा राज में महिलाओं के साथ छलावा हुआ है उसी तरह प्रदेश का युवा वर्ग भी बेहद हताश है। रोजगार देने का वायदा कर सत्ता में आई भाजपा अब रोजगार देना तो दूर की बात, सरकार युवाओं से रोजगार छीन रही है और हजारों युवाओं को नौकरी से हटा कर उन्हें घर भेज चुकी है। श्रीमती चौटाला ने कहा कि रोजगार न मिलने के कारण युवा पथभ्रष्ट होकर नशे की तरफ जा रहा है जिसके लिए सीधे तौर पर भाजपा सरकार जिम्मेवार है। उन्होंने उपस्थित महिलाओं से वायदा किया कि इनेलो की सरकार बनने पर हर घर में एक रोजगार दिया जाएगा। 
श्रीमती नैना चौटाला ने कहा कि जननायक चौ. देवीलाल ने बुजुर्गों को मान-सम्मान देते हुए बुढ़ापा पेंशन रूपी सम्मान पेंशन योजना शुरू की थी। लेकिन पहले कांग्रेस तथा अब भाजपा के राज में यह सम्मान पेंशन अपमान पेंशन बन कर रह गई है। बुजुर्ग महिलाएं एंव पुरूष अपनी पेंशन के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं और घंटों तक बैंकों की लाइन में लगने को मजबूर हैं। उन्होंने घोषणा की कि इनेलो की सरकार बनने पर हर बुजुर्ग के घर अढ़ाई हजार रूपये पेंशन पहुंचाई जाएगी। 
इनेलो विधायिका ने कहा कि भाजपा सरकार पर किसानों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने के लिए सड़कों पर अर्धनग्न होकर प्रदर्शन करने वाले भाजपाई आज चुप क्यों हैं। उन्होंने कहा कि इनेलो सरकार बनने पर पहली कलम से किसानों के कर्जे माफ किए जाएंगे एवं उनके टयूबवैल का बिल पूरा माफ किया जाएगा। 
इस अवसर पर महिला प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण, महिला जिला अध्यक्ष सरोज सांगा, बसपा की जिला प्रभारी डा. मीरा नंदा, बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ की प्रदेश महासचिव विद्यारति, परमेशवरी गोदारा, सुशीला सर्राफ, पूर्व जिला प्रधान सुमन लता सिवाच, दर्शन कौर, शकुंततला खूबंर, राजेंद्र कौर हड़ौली,कृष्णा सिवाच, राज अमरपाल तामसपुरा, परमेशवरी देवी, बिरेंद्र कौर, समुन आहुजा, देवेंद्र कौर संधू, सोनम विकास मेहता, नताशा लाली, स्नेहा संजना, सिरसा से सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी, सरदार निशान सिंह, रतिया के विधायक रविंद्र सिंह बलियाला, फतेहाबाद के विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, हलका प्रधान बिकर सिंह हड़ौली, सुरेंद्र लेगा, युवा जिला प्रधान अजय संधू व युवा हलका प्रधान जसपाल संधू, विकास मेहता, पंकज झाजड़ा सहित पार्टी के कई पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

Friday, August 24, 2018

भाजपा राज में नारों से आगे नहीं बढ़ी महिलाओं की सुरक्षा- शीला भ्याण

नैना चौटाला की हरी चुनरी चौपाल 27 अगस्त को अयाल्की में
 
न्यौता देने गांव-गांव पहुंची इनेलो महिला विंग प्रदेशाध्यक्ष


फतेहाबाद: इनेलो की वरिष्ठ नेत्री एवं डबवाली से विधायक नैना चौटाला 27 अगस्त को गांव अयाल्की में हरी चुनरी चौपाल कार्यक्रम को संबोधित करेंगी। इस महिला चौपाल को सफल बनाने के उद्देश्य से इनेलो महिला विंग प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण के नेतृत्व में पार्टी पदाधिकारियों की टीम ने गांव-गांव पहुंच अधिक से अधिक महिलाओं को अयाल्की पहुंचने का न्यौता दिया। शीला भ्याण ने क्षेत्र के गांव भोडि़याखेड़ा, मानावाली, खैरातीखेड़ा, भूथन, कुकड़ांवाली, शहीदांवाली, दरियापुर आदि में जनसंपर्क किया। इस दौरान उनके साथ वरिष्ठ नेत्री विद्या रत्ति, महिला विंग जिला प्रधान सरोज सांगा, सुशीला सर्राफ, एडवोकेट सुमनलता सिवाच, बलजिन्द्र कौर हड़ोली, बिमला नैन टोहाना, रतिया हलकाध्यक्ष बिकर सिंह हड़ोली व जिला प्रवक्ता प्रमोद बजाज सहित पार्टी के कई अन्य पदाधिकारी व नेतागण भी उपस्थित रहे। ग्रामीण जनसंपर्क अभियान के दौरान इनेलो महिला विंग प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण ने महिलाओं को हरी चुनरी चौपाल आयोजित करने के उद्देश्यों व इससे महिलाओं को होने वाले लाभ से अवगत करवाया।
शीला भ्याण ने कहा कि चुनरी महिलाओं के सम्मान का प्रतीक है और हरा रंग खुशहाली का। इनेलो विधायक नैना चौटाला हर क्षेत्र में महिलाओं के सम्मान को बढ़ा, उन्हें नई खुशहाली देने के लिए हरी चुनरी चौपाल अभियान चलाए हुए है। इस कड़ी में वे 27 अगस्त को जिला के गांव अयाल्की में हरी चुनरी चौपाल आयोजित करेंगी। उन्होंने कहा कि महिला ही परिवार रूपी छोटी से छोटी इकाई से लेकर समाज रूपी बड़ी इकाई के विकास की मुख्य धूरी है। यदि महिलाओं को उनके पूरे अधिकार पूरी स्वतंत्रता के साथ न दिए जाएं तो न परिवार, न समाज सही स्वरूप में विकास कर पाता है। पूर्व की कांग्रेस राज में महिलाओं पर अत्याचार सारी हदें पार कर गए तो अच्छे दिनों की चाह में हर वर्ग की भांती महिला वर्ग ने भी भाजपा को सत्ता में आने का अवसर प्रदान किया। लेकिन भाजपा सरकार ने चुनाव पूर्व किए अपने तमाम वायदों में से एक भी वायदा पूरा न करके अपना जनविरोधी चेहरा दिखा दिया है। भाजपा की इस वायदा खिलाफी की मार सबसे अधिक महिलाओं को झेलनी पड़ी है। मंहगाई की वजह से महिलाओं की रसोई का बजट बिगड़ गया है। लचर कानून व्यवस्था के कारण महिलाओं के साथ बलात्कार, छेड़-छाड़, चेन स्नेचिंग, लूटपाट जैसी घटनाएं आम हो गई है। आलम यह है कि घर की दहलीज से बाहर चंद कदम चलते हुए भी महिलाएं भयभीत रहती हैं कि कहीं उनके साथ कोई अप्रिय वारदात न हो जाए। उन्होंने कहा कि इनेलो विधायक महिलाओं की इस तरह की समस्याओं का निदान करने के लिए ही हरी चुनरी चौपाल अभियान छेड़े हुए है। उन्होंने दावा किया कि हरी चुनरी चौपाल की भागीदार बनने वाली महिलाओं में एक नयी आत्मशक्ति का संचार होगा और वे राजनीतिक व सामाजिक रूप में स्वयं को पहले से अधिक ताकतवर महसूस करके आगे बढ़ेंगी। उन्होंने ग्रामीण आंचल की महिलाओं के साथ-साथ उनके परिवारों का भी आह्वान किया कि वे इस नेक मुहिम में अपना योगदान देने के लिए अधिक से अधिक संख्या में 27 अगस्त को अयाल्की पहुंचें।
सांसद दुष्यंत ने भाजपा नेता मनदीप मलिक की दादी के निधन पर शोक जताया 


हांसी, इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने पूर्व कर्मचारी नेता किताब सिंह मलिक की माता एवं भाजपा नेता मनदीप मलिक की दादी  के निधन पर गहरा शोक जताया है। वे शोक जताने किताब सिंह मलिक के उमरा स्थित उनके आवास पर गए और अपनी शोक संवेदनाएं व्यक्त की। सांसद दुष्यंत ने बताया कि भुल्ला देवी एक धार्मिक विचारों की महिला थी और उनके सानिध्य में बचपन का काफी समय व्यतीत करने का मौका मिला था। उन्होंने कहा कि भुल्ला देवी हमारी पारिवारिक सदस्या थी और उनका निधन उनके लिए निजी क्षति है। सांसद दुष्यंत चौटाला इसके बाद ढंढेरी गांव में अशोक मलिक के सुपुत्र के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करने उनके आवास गए और शोक संतप्त परिजनों को ढांढस बंधाया। 
दुष्यंत चौटाला पहुंचे सेक्टर 27-28

खस्ताहाल सड़क देख दुष्यंत ने हुडा के अधिकारियों को मौके पर बुला कर लगाई लताड़

 लीपापोती से नहीं सड़क तो बनानी ही पड़ेगी


हिसार, 24 अगस्त: दिल्ली रोड स्थित इंडस्ट्रीयल एरिया सेक्टर 27-28 की सड़कों और सिवरेज की खस्ताहालत देखकर सांसद दुष्यंत चौटाला दंग रह गए। उन्होंने मौके पर ही हुडा विभाग के आला अधिकारियों को बुलाया और गड्ढों में लुप्त हुई सड़क दिखाई। सांसद दुष्यंत चौटाला ने विभाग के अधिकारियों को जमकर लताड़ लगाई। इतना ही नहीं दुष्यंत ने इस सारी स्थिति के बारे में हुडा मुख्यालय के आला अधिकारियों से मौके पर ही बात की और इस समस्या का तुरंत समाधान करने के निर्देश दिए। दरअसल पिछले दिनों सांसद दुष्यंत चौटाला को व्यापारियों ने बताया कि इंडस्ट्रीयल एरिया की सड़कें बहुत खराब हैं और बारिश के समय तो सड़कें यहां तालाब का रूप ले लेती हैं। उद्यमियों को सांसद ने आश्वस्त किया था कि वह मौके पर आकर ही उनकी समस्याएं जानेंगे। इसी कड़ी में दुष्यंत चौटाला इंडस्ट्रीयल एरिया सेक्टर 27-28 में व्यापारियों के पास पहुंच गए। व्यापारियों ने सांसद को बताया कि पिछले कई सालों से यहां की सड़कों की हालत जर्जर है और शासन एवं प्रशासन स्तर पर कोई सुनवाई नहीं हो रही। इसके बाद व्यापारियों ने सांसद दुष्यंत चौटाला को इंडस्ट्रीयल एरिया की सड़कें और जर्जर सीवरेज व्यवस्था दिखाई। वहां के हालात को देख सांसद ने हुडा विभाग के कार्यकारी अभियंता, उपमंडल अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को मौके पर ही तलब कर लिया। हुडा विभाग के कार्यकारी अधिकारी फाइलें लेकर मौके पर पहुंचे और मामले की लीपापोती करने की कोशिश की। सांसद ने कहा कि लीपापोती से काम नहीं चलेगा सड़क तो हर हाल में बना कर ही देनी पड़ेगी। सांसद ने इसके बाद कार्यकारी अभियंता से उच्च अधिकारियों का नंबर मांगा और मौके पर ही उच्च अधिकारियों से बात कर हर हाल में सड़क बनाने के निर्देश दिए। हुडा विभाग के कार्यकारी अधिकारी ने सांसद के समक्ष उद्योगपतियों को बताया कि विभाग दो माह में टेंडर प्रक्रिया पूरी कर हर हाल में काम शुरू कर देगा। सीवरेज व्यवस्था को लेकर सांसद ने जब अधिकारी को लताड़ लगाई तो अधिकारी ने कहा कि 10 दिन के अंदर-अंदर इंडस्ट्रीयल एरिया की सीवरेज व्यवस्था दुरूस्त कर दी जाएगी। इस अवसर पर आनंद गोयल, संजय मित्तल, पवन सिंगला, दूनी गोयल, पप्पू ग्रोवर, सुनील सिंगला, अशोक मित्तल, विनोद बाबा, दिनेश गोयल, सुभाष मित्तल, दीपक कुकड़ेजा, देवेंद्र चौधरी, संजय गोयल, रणधीर गुप्ता, पीके पपनेजा, धर्मपाल, रोहित सिंगला, विजय ऐरन, विकास खर्ब, कपिल गोयल, तरूण जैन, विपिन गोयल सहित दर्जनों उद्यमी उपस्थित थे। 

Thursday, August 23, 2018

दुष्यंत चौटाला का अल्टीमेटम

पुलिस एक सप्ताह में चोरों को करे गिरफ्तार, नहीं तो व्यापारियों के साथ सीटी थाने के सामने धरने पर बैठूंगा

नागोरी गेट पर व्यापारियों से मिलने पहुंचे दुष्यंत चौटाला


हिसार, 23 अगस्त: नगर में लगातार चोरी की घटनाएं बढ़ रही हैं, चोर बेखौफ होकर दुकानों- मकानों से लाखों का माल उड़ा रहे हैं और अपराधी हत्या और अपहरण की घाटनाओं को दिन-दहाड़े अंजाम दे रहे हैं, पुलिस मुकदर्शक बनी हुई है। मनोहर लाल खट्टर कानून व्यवस्था के मामले में पूरी तरह से विफल है। यह बात इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने कही। वे वीरवार को यहां नागौरी गेट पर व्यापारियों से मिलने पहुंच गए थे। दुष्यंत चौटाला ने व्यापारियों से चोरी की घटनाओं की जानकारी ली और पीड़ित दुकानदारों से मिले। वे चोरी की शिकार हुए मदर मेडिकल पर भी गए। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यदि एक सप्ताह में पुलिस ने चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले चोरों को गिफ्तार नहीं किया तो वह व्यापारियों के साथ सड़कों पर उतरने को मजबूर हो जाएंगे और सिटी थाने के समक्ष धरना देंगे। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश में आम आदमी तो दूर की बात सरकारी कर्मचारी भी अपनी डयूटी पर सुरक्षित नहीं है। उन्होंने हाल ही में दो सरकारी कर्मचारियों की हत्या का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का गृह विभाग मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पास है और वह पूरी तरह से प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था के लिए जिम्मेवार हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा बदहाल कानून व्यवस्था के मामले में देश में पांचवें स्थान पर आ गया है और बिहार को भी पीछे छोड़ दिया है। इससे पहले दुष्यंत चौटाला डा. इंद्रजीत की माता के निधन पर व छत्रपाल सोनी की माता के निधन पर शोक व्यक्त करने उनके आवास पर गए। व्यापारियों से मुलाकात के दौरान जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक रणबीर गंगवा, विधायक अनूप धानक, विधायक वेद नांरग, हलका प्रधान तरूण जैन, विपिन जैन, पार्षद प्रतिनिधि पंकज दीवान, गुलजार काहलो,आशीष कुंडू, अशोक मगु, रवि आहुजा, तिलक जैन, अक्षय मलिक, ज्ञानचंद, सुभाष किरयाणा, कर्मचंद गांधी, नवीन जिंदल, मनोहर लाल बिंदल डा. सुभाष शर्मा, अमित जैन, हरिहर शर्मा, तिलक जैन, अशोक असीजा, प्रदीप शर्मा, मंगल ढालिया सहित अन्य व्यापारी व दुकानदार उपस्थित थे। 
भर्ती आयोग बना वसूली आायोग- दुष्यंत चौटाला 


आदमपुर, 23 अगस्त: हरियाणा की भाजपा सरकार बेरोजगार युवकों को नौकरी के नाम पर उनका आर्थिक शोषण कर रही है और सरकारी नौकरियों को ठेकेदारी प्रथा पर नियुक्त कर रही है, हरियाणा  पब्लिक सर्विस कमीशन और हरियाण स्टाफ सर्विस कमीशन भर्ती आयोग न रह कर कर अब बेरोजगारों के लिए वसूली आयोग बन चुके हैं। यह बात इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने कही। वे वीरवार को यहां इनेलो के वरिष्ठ कार्यकर्ता रणपत रामनूनियां के आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। वे यहां जल-पान कार्यक्रम में शरीक होने आए थे। 
युवा सांसद ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि एक आर.टी.आई. सूचना के द्वारा पता चला है कि हरियाणा राज्य कर्मचारी आयोग ने 612 अलग-अलग विभागों की नौकरियां निकाली थी लेकिन पता चला कि लाखों युवाओं ने नौकरियों हेतू आवेदन आमंत्रित किए जिससे एचसीसीसी ने 13 करोड़ 17 लाख रूपये और एचपीएसई ने 7 करोड़ 25 लाख रूपये एकत्रित कर लिये लेकिन 398 विभिन्न विभागों की नौकरियां रद्द कर दी।
इनेलो सांसद ने कहा कि सरकार का एकमात्र उद्देश्य बेरोजगार युवाओं से फार्म के नाम पर पैसा इकठ्ठा करना है। उन्होंने कहा कि उन्होंने कहा कि युवाओं की उन्नति और भविष्य को बनाने हेतू भाजपा सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया है जिसके कारण युवाओं में आक्रोश पाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इनेलो युवा को रोजगार का अधिकार दिलवाने के लिए रोजगार मेरा अधिकार अभियान चलाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार शिक्षा व्यवस्था को बर्बाद करना चाहती है और डाईट जैसी संस्थाओं को बंद कर रही है और सरकार की नीति के चलते प्रदेश में सैंकड़ों इंजीनियरिंग कालेज बंद हो चुके हैं। कालेजों और स्कूलों में शिक्षकों की भारी कमी है। बाद में सांसद दुष्यंत चौटाला ने गांव बालसंमद में पूर्व सरपंच बलबीर लौरा के दामाद के निधन पर शोक व्यक्त करने उनके आवास पर गए। उन्होंने वरिष्ठ समाजसेवी व उद्योगपति ज्ञानदेव तायल के निधन पर शोक व्यक्त करने उनके आवास पर गए। 
आज इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक रणबीर सिंह गंगवा, विधायक वेद नारंग, विधायक अनूप धानक राजेश गोदारा, रमेश गोदारा, शहरी हलका प्रधान अशोक यादव, हिसार हलका प्रधान तरूण जैन, तरसेम गोयल, पूर्व हलका प्रधान भागीरथ नंबरदार, अभिषेक बिश् नोई, देसराज टाडा, सिद्धार्थ गोदारा, साहबुद्दीन कुरैशी, श्याम सुंदर रेवड़ी, संजय कल्याणा सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। 
इनसो की मांग पर कॉलेज में छात्राओं के लिए खुली अलग कैंटीन, प्राचार्य का जताया आभार

.....इनसो ने 31 मई को दिया था ज्ञापन, इनसो ने भी जताई खुशी


चरखी दादरी, 23 अगस्त: स्थानीय पीजी कॉलेज में लड़कियों के लिए अलग से कैंटीन सुविधा उपलब्ध कराने पर बृहस्पतिवार को इनसो ने कॉलेज प्रशासन का आभार जताया है। छात्राओं के लिए अलग से कैंटीन सुविधा की मांग को लेकर इनसो ने 31 मई को ज्ञापन दिया था। जिस पर अमल करते हुए प्रशासन से इनसो की यह मांग स्वीकार करते हुए आज इसे पूरा किया है। अलग से कैंटीन सुविधा मिलने पर छात्राओं ने भी खुशी जाहिर की और इनसो व कॉलेज प्रशासन का आभार जताया है। इनसो पदाधिकारियों व छात्राओं ने कॉलेज प्राचार्य डा. यशवीर से मिलकर मांग पूरी करने पर उनका धन्यवाद किया। इनसो के राष्ट्रीय महासचिव सूरज बेनीवाल ने कहा कि इनसो की ओर से दिए ज्ञापन में कालेज प्रशासन से मांग की थी कि लड़कियों के लिए अलग से कैंटीन सुविधा होनी चाहिए। कॉलेज में केवल एक ही कैंटीन थी। जहां छात्राएं जाने में दिक्कत महसूस करती थी। कैंटीन में सभी लड़के और स्टाफ सदस्य उपस्थित रहते थे। ऐसे में छात्राएं यहां जाने में झिझक महसूस करती थी। अब अलग से कैंटीन होने पर छात्राओं को यहां आने-जाने और बैठने में आसानी होगी। इनसो जिलाध्यक्ष बबलू चौधरी व जिला चेयरमैन संजीत धवन ने कहा कि कालेज में सैकड़ों छात्राएं शिक्षा ग्रहण करने के लिए आती है। लड़के-लड़कियों का एक कालेज और एक ही कैंटीन की व्यवस्था होने से छात्राओं को दिक्कतें होती थी। छात्राओं की समस्या को देखते हुए कालेज प्रबंधन को मांग पत्र दिया गया था। अलग से कैंटीन की मांग को पूरा करने पर इनसो कॉलेज प्रशासन का आभार प्रकट करती है। इस अवसर पर जिला महासचिव अरविंद सांगवान, सोनू साहू रानीला, अनूप शर्मा माई, कालेज  प्रधान गुरु मोठसरा, अंकित रंगा, मोहित मलिक, जतिन वर्मा, रितेश श्योराण, जतिन गर्ग, प्रमोद बुमरा, निकिता शर्मा, भूमिका शर्मा, कोमल, अर्चना, योगिता, निधि, संगीता जांगड़ा, साक्षी, सविता शर्मा, रचना, साक्षी वर्मा, कविता, सविता सोनी, पूजा इत्यादि सहित इनसो से जुड़े कई छात्र-छात्राएं मौजूद थे। 

Wednesday, August 22, 2018

संविधान जल रहा है सरकार देख रही है

भिवानी 22, अगस्त: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने 9 अगस्त को दिल्ली के जंतर-मंतर पर छोटी सोच के लोगों के द्वारा संविधान की प्रतियां जलाने के मामले पर सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि संविधान जल रहा है और सरकार मूक दर्शक बनकर देख रही है। उन्होंने कहा कि किसी भी देश का संविधान उसके निवासियों के लिए महत्वपूर्ण होता है। उस संविधान को सर्व श्रेष्ठ संविधान कहा जाता है, लेकिन जब से भाजपा की सरकार देश व प्रदेश के अंदर बनी है तब से अजारकता का माहौल बना हुआ है। जहां पहले गीता, गाय, संस्कृत भाषा और नदियों के नाम पर आए दिन सरकार ढक ोसले करते हुए नजर आती थी वहीं धर्म मजहब जात-पात के मामले बड़ी संख्या मेंं सामने आने लगे थे।
इनेलो नेता ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि जब से भाजपा की सरकार केंद्र में बनी है ऐसा क्या हो गया कि आए दिन मुददों पर माहौल खराब होता नजर आता है। कभी तो किसी समाज के उपर फिल्म के माध्यम से गलत सीन डाले जाते हैं तो कभी प्रदेश की उच्च स्तरीय परीक्षा में अन्य समाज के खिलाफ गलत प्रश्र पूछा जाता है तो कभी आरक्षण की आड़ में गलत तरीके से देश का माहौल खराब करवाया जाता है तो कभी दलितों के उपर अत्याचार करवाए जाते हैं। यही नहीं विडम्बना तो तब नजर आती है जब देश के संविधान के उपर ही कुछ शरारती तत्वों द्वारा अंगुली उठाई जाती है और जंतर-मंतर जैसी जगह पर संविधान की प्रतियां जलाई जाती हैं। दिग्विजय ने हैरानी जताते हुए कहा कि प्रतियां जलाने वाले लोगों के खिलाफ ठोस कार्रवाई ना होना इस बात का प्रमाण है कि यह सरकार मूक दर्शक बनकर देखना पसंद करती है।
उन्होंने कहा कि भारत देश कृषि  प्रधान, दलित, पिछड़ो के साथ-साथ उन महान वीरों का देश है जिन्होंने देश की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी आज भाजपा सरकार उन वीर शहीदों के उपर फोकस ना डालकर आरएसएस के संस्थापक और आरएसएस की नीतियों का गुणगान करती हुई नजर आती है। भाजपा विशेष के लोगों के नाम पर सडक़ों का बदल दिया जाता है। यह सब अशोभनीय है। जननायक चौ. देवीलाल संविधान के अनुयायी थी और उन्हीं से प्रेरणा लेकर डा. भीम राव अम्बेडक़र के द्वारा लिखा संविधान को ही सर्व श्रेष्ठ संविधान मानते हैं। इंडियन नेशनल स्टूडेंटस आर्गेनाईजेशन तो बकायदा बाबा साहेब के बिना और चौधरी देवीलाल के बिना कुछ भी नजर नहीं आती। इसलिए इनसो इन महापुरूषों के दिखाए गए मार्ग पर चलती है। उन्होंने सरकार को चेतावनी भरे लहजे में चेताते हुए कहा कि देश के संविधान की प्रतियां जलाना सरकार के मुंह पर तमाचा है। 
 भाजपा सरकार बेरोजगार युवओं का नौकरी के नाम पर कर रही है आर्थिक शोषण- दुष्यंत चौटाला
  

सिरसा, 22 अगस्त: हिसार लोकसभा से सांसद दुष्यन्त चौटाला ने अपने आवास चौटाला हाऊस में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार बेरोजगार युवकों को नौकरी के नाम पर आर्थिक शोषण कर रही है और सरकारी नौकरियों को ठेकेदारी प्रथा पर नियुक्त कर रही है। युवा सांसद ने खुलासा करते हुए कहा कि एक आर.टी.आई. सूचना के द्वारा पता चला है कि हरियाणा राज्य कर्मचारी आयोग ने 612 अलग-अलग विभागों की नौकरियां निकाली थी लेकिन पता चला कि लाखों युवाओं ने नौकरियों हेतू फार्म भरे जिससे सरकार ने 13 करोड़ 17 लाख रूपये एकत्रित कर लिये लेकिन 398 विभिन्न विभागों की नौकरियां रद्द कर दी।
इनेलो सांसद ने कहा कि सरकार का एकमात्र उद्देश्य बेरोजगार युवाओं से फार्म के नाम पर पैसा इकठ्ठा करना है। भाजपा पिछले दरवाजे से अपने चहेतों को सरकारी नौकरियों पर लगाना चाहती है उन्होंने कहा कि सरकार से सवाल किया कि जब सरकार ने भर्ती के लिए एक अलग आयोग का गठन किया हुआ है तो फिर ठेकेदारी आधार पर नौकरियां क्यूं दी जा रही हैं जबकि भाजपा ने चुनावी घोषणा पत्र में ठेकेदारी प्रथा को समाप्त करने का वादा किया था। इनेलो नेता ने कहा कि राज्य सरकार से मांग की कि वह विधानसभा सत्र के दौरान नौकरियों पर एक श्वेत पत्र जारी करे ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके जबकि 80 हजार बैकलाग नौकरियां देना बाकी है जिसमें अधिकतर एस.सी./बी.सी. कोटे की सीटें खाली हैं।
उन्होंने कहा कि युवाओं की उन्नति और भविष्य को बनाने हेतू भाजपा सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया है जिसके कारण युवाओं में आक्रोश पाया जा रहा है। 24 घंटे बिजली देने की बात करने वाले भाजपा सरकार के शासन में शहरों में 10 तो गांवों में 5 घंटे बिजली मिल रही है। जनवरी में सरकार ने गांवों में 24 घंटे बिजली देने का वादा किया था लेकिन यह योजना अगस्त में शुरू हुई है उन्होंने आंकड़े देकर खुलासा किया है कि विभिन्न बिजली दरों में उत्पादित बिजली का खर्च सरकार को 3 रूपये 25 पैसे पड़ता है लेकिन उपभोक्ताओं को बिजली 6 से 7 रूपये प्रति यूनिट दी जा रही है जोकि आम जनता की जेबों पर डाका है। युवा नेता ने कहा कि एस.वाई.एल. मुद्दे पर इनेलो ने अकाली दल से राजनीतिक संबंध तोड़ लिए हैं लेकिन हमारा पारिवारिक संबंध कायम है। 
इनेलो नेता ने कहा कि भाजपा सरकार ने लोगों को झूठे सपने दिखाकर सत्ता हथिया ली लेकिन एक भी अपना चुनावी वादा पूरा नहीं किया एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अपने दौरे के दौरान शिक्षा, स्वास्थ्य व उद्योग स्तर पर पिछले जिले में मैडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा करे ताकि आम जनता का भला हो सके। हम विधानसभा व लोकसभा चुनाव एक साथ करवाने के पक्ष में हैं बशर्ते यह चुनाव बैलेट पेपर वी.वी.पेट विधि से हो। इस अवसर पर इनैलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, सांसद सिरसा स. चरण सिंह रोड़ी, सिरसा विधायक मक्खन लाल सिंगला, रानियां विधायक राम चन्द्र कम्बोज, प्रैस प्रवक्ता तरसेम मिढ़ा व सह-प्रवक्ता महावीर शर्मा, विनोद दड़बी, योगेश शर्मा, भगवान कोटली आदि गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
बहन कुमारी मायावती ने अभय चौटाला जो बाँधी राखी 


चंडीगढ़, 22 अगस्त: बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा बहन मायावती जननायक चौधरी देवीलाल के जन्मदिवस के अवसर  पर 25 सितम्बर को गोहाना में होने वाले ‘सम्मान दिवस’ समारोह में शामिल होंगी। नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने बताया कि बहन मायावती ने सहर्ष ‘सम्मान दिवस’ का न्यौता स्वीकार किया और वह इस अवसर पर लोगों को सम्बोधित भी करेंगी। इनेलो-बसपा का हरियाणा में कुछ समय पहले ही गठबंधन हुआ था। गठबंधन के बाद से ही दोनों दलों ने आगामी लोकसभा व विधानसभा चुनाव इक्कट्ठे लड़ने का फैसला लिया था।
अभय सिंह चौटाला ने बसपा सुप्रीमो से दिल्ली में उनके आवास पर मुलाकात की और इस मौके पर बहन मायावती ने उनको राखी भी बांधी क्योंकि रक्षाबंधन के दिन अभय सिंह चौटाला उपस्थित नहीं होंगे। महत्वपूर्ण बात यह है कि गठबंधन के बाद यह पहला मौका होगा जब दोनों दलों के नेता एक मंच से जनता को सम्बोधित करेंगे।
इस गठबंधन द्वारा हरियाणा की सभी बिरादरियों और समुदाय के बीच पारंपरिक एकता और सम्मान की भावना पुन: स्थापना होगी जिसमें पिछले कुछ समय से दरार डालने  के प्रयास किए जा रहे हैं।
इनसो की सोशल मीडिया के दम पर इनेलो को किया जायेगा और मजबूत - दिग्विजय चौटाला



रोहतक: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष युवा तेज तर्रार नेता दिग्विजय चौटाला ने आज शहर के नूर गार्डन में एक महत्वपूर्ण बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज सोशल मीडिया अपनी बात को जनता का पहुंचाने का सबसे बड़ा साधन है इसीलिए प्रत्येक इनसो साथी को अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए पार्टी के एजेण्डे और चौधरी देवीलाल की नीतियों को जनता तक पहुंचाए। दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि आज भाजपा जिस तरह से सोशल मीडिया पर गाय, गीता, संस्कृत और नदियों पर राजनीति करती है उसका जवाब देने के लिए इनसो के साथी अपनी सोच के अनुसार युवाओं को रोजगार, छात्र को पढऩे का उचित प्रबन्ध, देश को आगे बढ़ाने की उम्मीदों पर सोशल मीडिया में पोस्ट करनी चाहिए। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि चौधरी देवी लाल की सोच क्या है, यह बताना आम आदमी को जरूरी है। गरीब किसान, दलित पिछड़े के मुद्दों को इनसो के साथी जब सोशल मीडिया पर शेयर करेंगे इनेलों के साथ जुड़ना लाजमी होगा। आर. एस. एस. के लोग जहां भडक़ाऊ और गलत पोस्ट के माध्यम से जहां और देश का माहौल खराब करने पर तुले है उसका जवाब देने के लिए सामाजिक ताने-बाने की पोस्ट की जा सकती है। उन्होंने कार्यकर्ताओं को सख्त निर्देश देते हुए इनसो मीडिया संगठन से जुडऩे वाले प्रत्येक साथी को जिम्मेदारी के साथ अपनी भूमिका को अंजाम देना होगा। सोशल मीडिया पर जानना आवश्यक है कि उन्होंने दुष्यंत चौटाला का उदाहरण देते हुए कि जिस तरह दुष्यंत चौटाला देश की राजनीति पर छाए है उसका सबसे बड़ा कारण यह है कि वे उक्त मामलों की तह पर जाते है और मौजूदा मुद्दों पर गहनता से बोलते है। छात्र संघ चुनाव पर बोलते हुए दिग्विजय ने कहा कि हमें अप्रत्यक्ष संघ चुनाव मौजूद नहीं है। इसीलिए सरकार को नींद से जगाने के लिए और प्रत्यक्ष रूप से चुनाव करवाने के लिए ज्यादा से ज्यादा पोस्ट सोशल मीडिया में सरकार के खिलाफ करें। उन्होंने कहा कि देश के 6700 गांवों में इनसो प्रत्येक गांव में एक सोशल मीडिया प्रभारी नियुक्त करेगा जिससे विरोधियों के मुंह पर ताला जड़ा जा सके और इनेलो संगठन को मजबूती प्रदान की जा सके। वहीं उन्होंने कहा कि यही सोशल मीडिया भी इनेलो पार्टी के खिलाफ दुष्प्रचार करने वाले विरोधियों को करारा जवाब देगी। दिग्विजय ने समाजवादी विचारधारा पर जोर देते हुए कहा कि हम लोग किसान कमेरे, दलित पिछड़े व छात्र के हितों की बात करने वाले लोग है। इसीलिए प्रत्येक इनसो छात्र को अपनी जिम्मेदारी के साथ न्याय करते अधिक से अधिक साथियों को इनसो सोशल मीडिया टीम से जोडऩा जरूरी है। वहीं दिग्विजय ने कहा कि आज लड़कियां देश की शान है, लड़कियों को इनसो से सोशल मीडिया पर जोड़ा जाना अति आवश्यक है। इसके साथ-साथ सभी इनसो साथियों को अपनी फेसबुक, व्हाट्सएप पर अपने नाम के साथ इनसो लिखना जरूरी है। उपस्थित सभी इनसों साथियों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि जनता की आवाज परमात्मा की आवाज होती है। इसीलिए सभी युवा साथी अपने भविष्य के लिए निश्चित हो सके क्योंकि 2019 में हरियाणा प्रदेश की सरकार में युवाओं की भूमिका निर्णायक और अहम होगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक संघर्षशील साथी के सहयोग को वो स्वयं दुष्यंत चौटाला सूत समेत वापिस करेगें।  
इनसो मीटिंग में दिग्विजय चौटाला को जब दैनिक भास्कर की पत्रकार अभिक्षु भारद्वाज के आकस्मिक निधन का पता चला तो गहरा दुख: प्रकट किया और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए बैठक में उपस्थित सभी इनसो साथियों के साथ 2 मिनट का मौन रखा। उन्होंने कहा कि अभिक्षु भारद्वाज जैसी होनहार पत्रकार देश और प्रदेश के मुद्दों को प्रमुखता से अहम भूमिका अदा करती थी। उनका इस तरह से चला जाना पत्रकार जगत ही नहीं हमारे लिए भी क्षति है। बैठक को मुख्य रूप से इनसो के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप देशवाल, इनसो जिला अध्यक्ष अमित माजरा, अजू धनखड़, अश्विनी वर्मा, प्रदेश प्रवक्ता दलबीर धनखड़, प्रोफेसर विरेनद्र सिंह, रणदीप नान्दल, अनिल सिंह, गुरमीत हुन्डल, मोंटू दलाल, दिग्विजय के निजी प्रवक्ता राजू मेहरा, अभिषेक, मोहित, रामबीर, अनिल, दीपक, मोहित, अरविन्द, शुभम, अमन, जयदेव नोल्था, संदीप नैन, गौतम नैन सहित अनेकों व्यक्ति मौजूद रहे। 

Monday, August 20, 2018



18 अगस्त को होने वाला प्रदेशव्यापी हरियाणा बंद अब 8 सितंबर को होगा 


चंडीगढ़, 20 अगस्त: प्रदेश सरकार द्वारा एसवाईएल, दादूपुर-नलवी व मेवात कैनाल के निर्माण न करवाने के विरोध में इनेलो का प्रदेशव्यापी बंद जो 18 अगस्त को होना था, वह अब 8 सितंबर को होगा। यह जानकारी नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला प्रैसवार्ता के दौरान दी। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन उपरांत उनके सम्मान के तौर पर 18 अगस्त के बंद को स्थगित किया गया था। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि जब तक एसवाईएल का निर्माण नहीं होता और दादुपूर-नलवी नहर के डी-नोटिफिकेशन को रद्द नहीं किया जाता तब तक इनेलो पार्टी न तो चैन से बैठेगी और न ही सरकार को बैठने देगी।
नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि हर साल ‘सम्मान दिवस’ के रूप में मनाए जाने वाला जननायक चौधरी देवीलाल का जन्मदिवस समारोह इस साल 25 सितम्बर को गोहाना मेंं मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बंद के अलावा प्रदेशवासियों को सम्मान दिवस के लिए भी घर-घर जाकर इनेलो नेता निमंत्रण देंगे। सम्मान दिवस के दिन ही सरकार द्वारा छात्र संघ चुनाव कराने की प्रस्तावित योजना को नेता विपक्ष ने इनसो को इन चुनावों से दूर रखने की साजिश बताया।
बाढ़ प्रभावित केरल को केंद्र की ओर से दिए गए मुआवजा को नेता विपक्ष ने पीड़ितों के साथ भद्दा मजाक बताते हुए केंद्र सरकार पर राहत के नाम पर लीपा-पोती करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने बाढ़ पीडि़तों की सहायता के लिए पार्टी की तरफ से एक राहत कोष बनाने की घोषणा करते हुए यह भी कहा कि इनेलो पार्टी के सभी सांसद और विधायक एक महीने का वेतन और राहत सामग्री केरल भेजेंगे। इनेलो की ओर से प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय दल केरल भेजा जाएगा।
इससे पूर्व अशोक अरोड़ा की अध्यक्षता में इनेलो-बसपा की संयुक्त कार्यकारिणी की बैठक भी हुई जिसमें नेता विपक्ष की उपस्थिति में प्रस्ताव पारित कर सरकार से मांग की गई कि उच्च न्यायालय के फैैसले से प्रभावित कर्मचारियों को नियमित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में जाने की बजाए सरकार विधानसभा में बिल पास करके कर्मचारियों को राहत दे। उन्होंने यह भी कहा कि एसपीएल के मामले पर सरकार इनेलो के खिलाफ दुष्प्रचार कर रही है। इनेलो इस तरह के किसी भी निर्णय का समर्थन नहीं करती तो कर्मचारियों के हित में न हो।
इसके अतिरिक्त बैठक में दो और प्रस्ताव पारित किए गए जिनमें व्यापारियों की समस्या से जुड़े मुद्दों को रखा गया। संयुक्त दलों ने सरकार से मांग की कि ई-ट्रेडिंग व डायरेक्ट पेमेंट प्रणाली को तुरंत प्रभाव से समाप्त करने के साथ-साथ जीएसटी के दो ही स्लैब हों और अधिकतम कर की दर को घटा कर 18 प्रतिशत रखा जाए। अशोक अरोड़ा ने कहा कि सरकार व्यापारियों की अनदेखी कर उन्हें जीएसटी और नए-नए कानून बनाकर परेशान करने का काम कर रही है।
प्रदेश में बिगडती कानून-व्यवस्था पर चिंता व्यक्त करते हुए संयुक्त कार्यकारिणी सरकार से मांग की कि प्रदेश में बढ़ते अपराधों को रोकने एवं कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने के लिए तुरंत उचित कदम उठाए और सरकार दलितों, महिलाओं, व्यापारियों व आम आदमी की जानमाल की सुरक्षा सुनिश्चित करे।
मीटिंग में प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, बसपा जिलाध्यक्ष नरेंद्र प्रजापति, रामपाल माजरा, पूर्व स्पीकर सतबीर सिंह कादियान, गोपीचंद गहलोत, राष्ट्रीय प्रवक्ता केसी बांगड़, सांसद चरणजीत रोडी व रामकुमार कश्यप, आरएस चौधरी,  दिग्विजय सिंह चौटाला, विधायक परमेंद्र ढुल, हरिचंद मिड्ढा, पिरथी नम्बरदार सहित सभी इनेलो विधायक, एमएस मलिक, बीडी ढालिया, शीला भ्यान सहित अनेक गठबंधन नेता मौजूद थे।
इनसो ने सीटीएम को सौंपा ज्ञापन, शिक्षण संस्थाओं में वोट बनाने के लिए स्पेशल शिविर लगाने की मांग
 

चरखी दादरी, 20 अगस्त: जिले की विभिन्न शिक्षण संस्थाओं में आने वाले नए छात्र-छात्राएं जिनकी आयु 18 साल या इससे अधिक है, उनके वोट बनाने के लिए स्पेशल शिविर लगाने की मांग को लेकर सोमवार को इनसो ने दादरी के सीटीएम को ज्ञापन सौंपा। सीटीएम मनीष फौगाट ने जल्द से जल्द एक नोडल अधिकारी नियुक्त कर संस्थाओं में शिविर लगाने का भरोसा दिया। इनसो कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय महासचिव सूरज बेनीवाल, जिलाध्यक्ष बबलू चौधरी, जिला चेयरमैन संजीत धवन के नेतृत्व में आज सीटीएम दादरी से मुलाकात की और ज्ञापन सौंप कर शिक्षण संस्थाओं में वोट बनाने के लिए जल्द से जल्द स्पेशल शिविर लगवाने की मांग की। सूरज बेनीवाल व बबलू चौधरी ने कहा कि 
ग्रामीण व शहरी आंचल में समय-समय पर वोट बनवाने के लिए कैंप लगाए जाते हैं। इस दौरान काफी संख्या में युवा शिक्षण संस्थाओं में जाने के कारण इन शिविरों का फायदा उठाने से वंचित रह जाते हैं। ऐसे वयस्क नागरिकों के लिए शिक्षण संस्थाओं में प्रशासन की ओर से वोट बनाने के लिए शिविर लगाए जाएंगे तो उनको काफी फायदा हो सकता है। देश, प्रदेश के लोकतंत्र में युवा वर्ग की अहम भूमिका होती है। कॉलेजों में स्पेशल शिविर लगाए जाने से 
छात्र-छात्राओं के वोट आसानी से बन सकेंगे और वे राष्ट्र निर्माण में अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते हैं। शिविर में वोट बनाने संबंधी सभी जरूरी हिदायतें, जानकारियां देकर युवाओं को प्रेरित किया जाए। सूरज बेनीवाल व जिला चेयरमैन संजीत धवन ने कहा कि शिविर आयोजन से छात्र-छात्राओं को अपने वोट बनाने के लिए कहीं और भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी। सीटीएम मनीष फौगाट ने इनसो कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया कि जल्द ही इस बारे में सकारात्मक कदम उठाते हुए शिविर लगाने का कार्य शिक्षण संस्थाओं में किया जाएगा। इस अवसर पर प्रदीप गिल, आशीष ढाणी, मोनू छिल्लर, अजय मलिक, प्रदीप खेड़ी, जतिन गर्ग, नितेश श्योराण, हरिश, योगेश झोझू, प्रवेश रावलधी इत्यादि भी मौजूद थे। 
दुष्यंत चौटाला ने निजी कोष से गऊशाला में ट्रैक्टर देने की घोषणा


महम, रोहतक: गांव मोखरावासियों ने युवा सांसद दुष्यंत चौटाला को गांव में पहुंचने पर सिर आंखों पर बैठाया। स्वयं ट्रैक्टर चला कर गांव मोखरा में पहुंचे सांसद दुष्यंत चौटाला का जोरदार स्वागत किया गया। गांव में युवाओं ने जहां सांसद दुष्यंत चौटाला का फूल बरसाकर स्वागत किया वहीं महिलाओं ने जगह-जगह दूध पिला कर अपना हाथ दुष्यंत के सिर पर रखा। 
सांसद दुष्यंत चौटाला यहां रविवार को गांव मोखरा में श्री कृष्ण गौशाला में आयाजित अभिनंदन समारोह में शिकरत करने आए थे। उन्होंने आज यहां अपने निजी कोष से श्रीकृष्ण गौशाला को ट्रैक्टर भेट किया। दुष्यंत चौटाला को के प्रति गांव वासियों में खासा क्रेज था और बुजूर्ग, युवा, महिलाएं और बच्चे दुष्यंत की राह पलक पांवड़े बिछाए खड़े थे। जहां-जहां से सांसद दुष्यंत चौटाला ट्रैक्ट्रर से गुजरते, गांववासियों ने पुष्प वर्षा कर उनका अभिनंदन किया। गांव की गलियों में महिलाओं ने जगह-जगह ट्रैक्टर को रूकवाया और दूध का गिलास पिला कर दुष्यंत के सिर पुचकारा। कुछ जगह महिलाएं मंगलगीत गाती हुई खड़ी थी। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने अपने संबोधन में कहा कि युवा व किसान की आस पूरी तरह से भाजपा सरकार से टूट चुकी है और भाजपा ने अपना एक वायदा भी पूरा नहीं किया, जिसके चलते प्रदेश की खुशहाली और समृद्धि का सपना चकना चूर हो गया है। उन्होंने कहा कि रोजगार के नाम पर भाजपा द्वारा प्रदेश के युवाओं को ठगा गया और उनसे झूठे वायदे किया गए। 
उन्होंने कहा कि  भाजपा की किसान विरोधी नीतियों ने किसानों को खून के आंसू रूला दिए हैं और उस पर कर्ज का मर्ज लगातार बढ़ता जा रहा है। इनेलो सांसद ने कहा कि फसलों के लाभकारी मूल्य देने के नाम पर किसानों से झूठ बोला रहा है और हरियाणा व केंद्र की भाजपा सरकार कोरा झूठा प्रचार करने में जुटी है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भाजपा प्रदेश को एसवाईएल नहर का पानी लाने के लिए न केवल माननीय सुप्रीम कोर्ट के फैसले की अवमानना कर रही है बल्कि हरियाणा के जनता के हितों को गिरवी रख रही है। उन्हेांने कहा कि इनेलो एसवाईएल नहर का पानी लाने के लिए कटिबद्ध है और हर कुर्बानी देने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता भाजपा को करारा जवाब देने के लिए चुनावों का इंतजार कर रही है। 
आज समारोह में मंहत सतीश दास,  हलका अध्यक्ष संजय बल्हारा, युवा प्रदेशाध्यक्ष रविंद्र सांगवान,  सौरव फरमाणा, हरज्ञान ठेकेदार, अमित बाली पहलवान, अजय मलिक, रमेश मलिक ठेकेदार, कुल्फी पहलवान, रामकिशन मलिक मोखरा,वेद भराण, धीरेंद्र खटकड़, अमित मलिक, पूर्व जीएम कुलदीप अहलावत, काला मुडिया, नरेश बड़ा भैण, अजय मलिक मनजीत भराण, प्रताप सरपंच, अमरजीत मदीना, मोनू मल्होत्रा, सुरेंद्र बल्हारा, संदीप नेहरा निंदाना, सुरेश जांगड़ा, रमेश मोखरा, अनिल मास्टर, रामदीया राठी, परता मदीना सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित थे। 

Friday, August 17, 2018

इनेलो पार्टी सरकार के कर्मचारियों को नियमित करने वाली याचिका के दावे का खण्डन करती है

चंडीगढ़, 17 अगस्त: इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने भाजपा सरकार के उस दावे की कड़ी निंदा कि जिसमें हवाला दिया गया है कि सरकार ने कर्मचारियों को नियमित करने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में अन्य राजनीतिक दलों के एकमत से दायर की है। उन्होंने कहा कि इनेलो प्रतिनिधि ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने पर असहमति जताई थी इसलिए इनेलो पार्टी सरकार के उपरोक्त दावे का खण्डन करती है।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने यह भी कहा कि सरकार द्वारा बलदेव राज महाजन की अध्यक्षता में बुलाई गई विशेष दलों की बैठक में इनेलो प्रतिनिधि ने इस प्रकार के किसी भी सुझाव पर सहमति नहीं जताई जो कर्मचारियों के हित में न हो। बावजूद इसके इनेलो यह समझने में असमर्थ है कि सरकार द्वारा कर्मचारियों को विधानसभा में बिल लाकर नियमित करने का फैसला कब और किस प्रभाव में बदला गया?
इनेलो नेता ने स्पष्ट किया कि इनेलो सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने के फैसले से इतेफाक नहीं रखती और न ही इसका समर्थन करती है। उन्होंने मांग की कि हरियाणा सरकार विधानसभा में बिल पारित कर उच्च न्यायालय द्वारा के निर्णय से प्रभावित कर्मचारियों को नियमित करे ताकि स्थाई नौकरी से उनके भविष्य को सुरक्षित किया जा सके।
अरोड़ा ने यह भी कहा कि सरकार द्वारा आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से गैर-जिम्मेदाराना टिप्पणी की गई है जिसमें तथ्यों को तोड़ मरोडक़र पेश किया गया है। उन्होंने सरकार के इस कदम को इनेलो की छवि खराब करने के साजिश बताते हुए इस फर्जी दावे को तुरंत प्रभाव से वापस लेने के लिए भी कहा।
दिग्विजय चौटाला ने पूर्व प्रधानमंत्री जी को दी श्रद्धांजलि 


सूरज कभी अस्त नहीं होता, सिर्फ वो आंखों से ओझल हो जाता है
आपने कविता में कहा था अटल जी, कि मैं लौटकर आउंगा।

इस जीवनकाल में उस दिन का इंतजार रहेगा ।। 
‘आपको भावभीनी श्रधांजलि’ जीते जी यह महानशख्सियत जिस सम्मान की हकदार थी उन्हें वो सम्मान न मिलना कहीं न कहीं मन को कुरेदता है। इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने उक्त पंक्तियों के साथ देश की राजनीति को स्वच्छता प्रदान करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के निधन पर गहरा दुख प्रकट करते हुए कहे। उन्होंने कहा की चौधरी देवीलाल के साथ देश को नई दिशा देने वाले वाजपेयी जी की कमी हमेशा खलेगी। उन्होंने कहा की वाजपेयी जी ने हमेशा उच्च सोच के साथ सबको साथ लेकर चलने की पहल की थी।
इनसो नेता ने बताया कि मेरे पडदादा चौधरी देवीलाल और वाजपेयी जी की सोच एक जैसी थी। मेरे दादा चौधरी ओमप्रकाश चौटाला की अनुपस्थिति में मुझे हर वर्ष आपके जन्मदिवस पर मिलने का सौभाग्य प्राप्त होता था तथा उस समय वे मेरे सिर हाथ रख आशीर्वाद देते थे। वहीं मेरे पिता डा. अजय सिंह चौटाला का वाजपेयी जी से विशेष स्नेह रहा है। उनके व चौधरी देवीलाल जी के आशीर्वाद व एक सोच के कारण मेरे पिता ने कई बार राजनीतिक ऊंचाइयों को छुआ। डा. अजय चौटाला को आदरणीय वाजपेयी जी ने हमेशा अपना समझा। हमारे परिवार की तीन पीढिय़ों को आपके साथ राष्ट्रवाद के हितों को बचाने के लिए काम करने का मौका मिला। आपका इस तरह हम सब के बीच से चले जाना अत्यंत दुखदायी है, आदरणीय वाजपेयी जी की महत्ता को भर पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। प्रधानमंत्री पद पर जब वे विराजमान हुए तो उन्होंने हमेशा अपनी जिम्मेदारियों को समझा। यही नहीं आज की राजनीति से बिल्कुल उलट वाजेपयी जी सबके भले की सोचते थे। उस समय का विपक्ष तक वाजपेयी जी की प्रशंसा करता नहीं थकता था।
दिग्विजय ने कहा की पत्रकारिता से अपने सफर की शुरुआत करने वाले वाजपेयी जी जब भारत की राजनीति में आए तो किसी ने ये नहीं सोचा था की वो देश के सर्वोच्च पद पर जाएंगे। यही नहीं आज उन्हें भारत के सर्वोच्च प्रधानमंत्री की ख्याति भी प्राप्त है। वहीं दिग्विजय चौटाला ने कहा की जिस सम्मान के वाजपेयी जी जीते समय हकदार थे उन्हें वो सम्मान नहीं मिला। इस बात का उन्हें हमेशा मलाल भी रहेगा। आदरणीय वाजपेयी जी आप हमेशा हमारे मार्गदर्शक रहेंगे।
जगदीश सिंह झींडा ने एचएसजीपीसी के मुद्दे पर नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला से मुलाकात कर मांगा समर्थन 

चंडीगढ़: हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान सरदार जगदीश सिंह झींडा ने एचएसजीपीसी के मुद्दे पर नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला से मुलाकात कर समर्थन मांगा। झींडा ने कहा कि इनेलो हमेशा हरियाणा के हितों के लिए संघर्ष करती रही है चाहे वह एसवाईएल का मुद्दा हो या चंडीगढ़ पर हरियाणा के हक का। चूंकि इनेलो प्रदेश हितों की हितैषी है और हरियाणा गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की हमारी मांग का शुरू से ही समर्थन करती रही है इसलिए एचएसजीपीसी हरियाणा के हकों के हर मुद्दे पर इनेलो के साथ है। 
झींडा ने शिरोमणि अकाली दल और इनेलो के रिश्तों पर कहा कि अभय सिंह चौटाला ने अपनी कार्यशैली से यह साबित किया है कि उनके लिए परिवारिक संबंधों से अधिक प्रदेश और उसकी जनता महत्वपूर्ण है। इसी लिए एचएसजीपीसी ने इनेलो के साथ मिलकर प्रदेश के हकों की लड़ाई लडऩे का फैसला किया है।
नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने एचएसजीपीसी पर झींडा की बात का समर्थन करते हुए कहा कि पंजाब से अलग हरियाणा गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी प्रदेश के सिखों का अधिकार है और वह इसकी अनदेखी नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के गुरुद्वारों और उसके अंतर्गत आने वाली सभी परिसंपतियों पर हरियाणा के सिखों का हक है और वह उनको मिलना चाहिए। प्रदेश का पैसा प्रदेश के गुरुद्वारों पर ही खर्च हो, ताकि सिख समाज के लोगों का विकास हो सके।
नेता विपक्ष ने शिरोमणि अकाली दल पर निशाना साधते हुए कहा कि 19 अगस्त को पिपली में रैली करने से पहले अकाली दल एसवाईएल मुद्दे पर अपनी स्थिति स्पष्ट करे। वह प्रदेश की जनता को बताए कि एसवाईएल का पानी दिलाने में वह हरियाणा की मांग का समर्थन करता है या नहीं। उन्होंने यह भी कहा कि अगर अकाली दल हरियाणा के हितों की अनदेखी करता है तो इनेलो उसका विरोध करेगी।
वाजपेयी जी ने देवीलाल जी का मरणोपरांत भी किया सम्मान- अभय चौटाला
 
चंडीगढ़: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने 18 अगस्त का प्रस्तावित प्रदेशव्यापी बंद स्थगित कर दिया है। इनेलो परिवार की ओर से यह कदम देश के महानतम नेताओं में से एक अटल बिहारी वाजपेयी जी के सम्मान में उठाया गया है। 
इनेलो नेता ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि अटल बिहारी जी के निधन से भारतीय राजनीति में जो स्थान रिक्त हुआ है उसको चिरकाल तक भरा नहीं जा सकता।  वह भारत के महान सपूत थे। उनकी सोच हमेशा सैकुलर थी और उन्होंने हमेशा हर पार्टी के व्यक्ति का सम्मान किया। उन्होंने याद दिलाया कि अटल जी ने देश का नेतृत्व ऐसे मौके पर किया जब देश की राजनैतिक विचारधारा अस्थिरता के दौर से गुजर रही थी। उनके मेधावी नेतृत्व में न केवल देश को एक दिशा दी बल्कि भारत के विकास में एक अभूतपूर्व भूमिका भी अदा की। उनके नेतृत्व में ही वैश्विक स्तर पर भारत के दूसरे देशों से संंबंधों में सुधार आया और उन्होंने हमेशा इन संबंधों में भारत के हितों को सर्वोपरि रखा। उनके द्वारा उठाए गए साहसिक कदमों में से एक पाकिस्तान के साथ सामान्य संबंध स्थापित करने का था जिसको इतिहास हमेशा याद रखेगा। किन्तु पाकिस्तान के विश्वासघात के कारण यह मैत्री सिरे नहीं चढ़ पाई।
नेता विपक्ष ने कहा कि हरियाणा के लिए उनके हृदय में एक विशेष स्थान था। वाजपेयी जी पहले नेता थे जिन्होंने 1987 में चौधरी देवीलाल के गुरुग्राम के विकास को आधुनिक हरियाणा का विकास कहते हुए उनकी प्रशंसा की थी। वर्ष 1999-2004 के दौरान उनके उदारवादी सहयोग से ही हरियाणा विकास के प्रयासों को बल मिला। चौधरी देवीलाल के साथ उनके राजनैतिक संबंध जितने मधुर थे उससे भी प्रगाढ़ उनके व्यक्तिगत संबंध थे। वाजपेयी जी ने देवीलाल जी का मरणोपरांत भी सम्मान किया और पार्लियामेंट हाउस में उनकी प्रतिमा लगवाई। अटल जी की मृत्यु से हर वर्ग को प्रत्यक्ष रूप से हानि हुई है।

Thursday, August 16, 2018

दुष्यंत चौटाला ने कन्या गुरूकुल की 11 छात्राओं को लिया गोद


उचाना, 16 अगस्त: बेटियों को शिक्षित करने की दिशा मेंं गंभीरता दिखाते हुए सांसद दुष्यंत चौटाला ने 11 कन्याओं को अपने खर्च पर शिक्षित करने को गोद लिया है। कन्याओं को गोद लेने की घोषणा सांसद दुष्यंत चौटाला ने गैंडाखेड़ा के कन्या गुरूकुल में की। वे यहां पर स्वतंत्रता दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शिकरत करने आए थे। दुष्यंत चौटाला ने ध्वज फहराने के बाद घोषणा की कि वह गुरूकुल की 11 कन्याओं को गोद लेते हैं और एक वर्ष तक उनकी पढ़ाई-रहन-सहन वर्दी-किताबों का सारा खर्च वह निजी कोष से देंगे। 
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि बेटियों को शिक्षित करना उनकी पहली प्राथमिकता है और उनकी शिक्षा के लिए हमेशा उनकी मदद के लिए तत्पर रहते हैं। सांसद दुष्यंत चौटाला ने गुरूकुल में 5 कमरे व एक हाल कमरा अपने सांसद निधि कोष से बनवाने की भी घोषणा की इसके अलावा यहां पर उन्होंने दो टेबल टेनिस की कीट भी कन्या गुरूकुल में देने की घोषणा की। दुष्यंत यहां पढ़ाने वाले शिक्षकों और छात्राओं से भी मिले और गुरूकुल की परम्परा को आगे बढ़ाने के लिए प्रबंधन समिति की सराहना की। उन्होंने देश की आजादी की 72 वीं वर्षगांठ पर लोगों को बधाई देते हुए कहा कि आजादी पाने के लिए देश के शूरवीरों ने अपना सबकुछ न्यौछावर कर दिया और हमें उनकी कुर्बानी को याद करते हुए देश को आगे बढ़ाने के लिए काम करना चाहिए। 

सांसद दुष्यंत चौटाला ने उचाना खंड के 11 गांवों को पीने के पानी के टैंकर भी वितरित किए -

उचाना ब्लाक के 11 गांवों में भी दुष्यंत चौटाला ने वाटर टैंकर वितरित किए। जिन गांवों में वाटर टैंकर दिए गए हैं, उनमें भगवानपुरा, नचार खेड़ा, रोजखेड़ा, सेढ़ा माजरा, दरौली खेड़ा, गैंडा खेड़ा, घसौं खुर्द, खेड़ी सफा, मोहनगढ़, दुर्जनपुर व धनकड़ी हैं। 
भाजपा ने व्यापार और व्यापारी को किया बर्बाद- बलवान दौलतपुरिया



फतेहाबाद: इनेलो-बसपा गठबंधन ने एसवाईएल नहर निर्माण करवाने, गलत जीएसटी प्रणाली, ई-ट्रेडिंग, नोटबंदी, बेरोजगारी, बिजली-पानी समस्या और मंहगाई जैसे मुद्दों को लेकर 18 अगस्त को हरियाणा बंद का आह्वान किया है। इस बंद को सफल बनाने के उद्देश्य से गठबंधन पदाधिकारियों व नेताओं ने विधायक बलवान दौलतपुरिया के नेतृत्व में लाल बत्ती चौक, पालिका बाजार, थाना रोड़, जवाहर चौक, शिव चौक, जीटी रोड़ आदि मुख्य बाजारों में डोर-टू-डोर अभियान चलाया। गठबंधन नेताओं व पदाधिकारियों ने दुकानदारों, व्यापारियों व रेहड़ी चालकों से संपर्क साधते हुए उनसे इस बंद में पूर्ण सहयोग की अपील भी की। डोर-टू-डोर जनसंपर्क में प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य कुलजीत कुलडि़या, जिलाध्यक्ष बलविन्द्र कैरों, बसपा जिलाध्यक्ष बलवान फानर, इनेलो जिला उपाध्यक्ष सुरेन्द्र लेगा, युवा जिलाध्यक्ष अजय संधू, युवा प्रदेश उपाध्यक्ष राणा जोहल, हलकाध्यक्ष भरत सिंह परिहार, शहरी प्रधान पवन चुघ, युवा शहरी प्रधान विकास मेहता, बसपा जिला प्रभारी बलवान भाखर, वरिष्ठ नेता केएस बिट्टा, हरपाल बैनीवाल, कानूनी प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष एडवोकेट राजेश शर्मा, पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ जिला संयोजक रमेश कंबोज, बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष देवीलाल गोदारा ने मुख्य रूप से अपने विचार व्यक्त किए।
विधायक दौलतपुरिया ने कहा कि गठबंधन का 18 अगस्त हरियाणा बंद दलगत राजनीति से उपर उठकर जनहित मुद्दों को ध्यान में रखकर ही किया जा रहा है। बंद जिन प्रमुख मुद्दों को लेकर किया जा रहा है उनमें सुप्रीम कोर्ट निर्णयनुसार एसवाईएल नहर निर्माण करवाना मुख्य रूप से शामिल है, जो जनहित में जलसंकट निदान से जुड़ा है। जीएसटी में अनाप-शनाप गलत नियम से व्यापारी वर्ग का शोषण बंद करना, ई-ट्रेडिंग से मंडी व्यावारी को बर्बाद करके किसान व आढ़ती वर्ग के बरसों पुराने भाईचारों को खत्म करने के खिलाफ आवाज बुलंद करना भी बंद के मुद्दों में शामिल है। नोटबंदी और इस प्रकार के कई अन्य गलत निर्णयों से भाजपा सरकार ने देश-प्रदेश में बेरोजगारी व मंदी का माहौल बनाने का काम किया है, जिसकी मार से छोटे-बड़े दुकानदार का काम पूरी तरह से ठप हो चुका है और उसकी आर्थिक स्थिति पूरी तरह से तहस-नहस हो गई है। रसोई गैस, पेट्रोल-डिजल, बिजली-पानी व आम आमदमी की मूलभूत जरूरतें पूरी करने वाली अन्य चीजों के दाम भाजपा सरकार में सातवें आसमान पर आ गए हैं। इसी भाजपा ने चुनाव से पूर्व जनता को इन सब समस्याओं से निजात दिलवाने के लिए अच्छे दिनों के सब्जबाग दिखालाए थे, लेकिन भाजपा सरकार के 4 साल सत्ताकाल में ही हालात बद् से बद्तर हो गए है। भाजपा ने छोट से छोटे व्यापार और व्यापारी दोनों को अपनी गलत नीतियों से बर्बाद करने का काम किया है। ऐसे में ईमानदार विपक्ष की जिम्मेदारी को समझते हुए नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला के नेतृत्व में इनेलो-बसपा गठबंधन 18 अगस्त को हरियाणा बंद से सरकार को जगाने के काम करेगा। यदि सरकार ने फिर भी अपने जनविरोधी निर्णयों को वापस नहीं लिया तो जनहित में गठबंधन इससे भी बड़े आंदोलन से पीछे नहीं हटेगा। उन्होंने क्षेत्र के सभी दुकानदारों, व्यापारियों व रेहड़ी चालकों से 18 अगस्त के दिन अपनी समस्याओं के निदान के लिए स्वेच्छा से हरियाणा बंद में सहयोग की अपील की। इस अवसर पर बजरंग तरड़, हरपाल बैनीवाल, सतेन्द्र श्योराण, बंटी बरसीन, पंकज शर्मा, रजत खांडा, राजू सोनी, धीरज शर्मा सहित गठबंधन के अनेक पदाधिकारी व कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे। 
गठबंधन नेताओं ने 18 अगस्त को हरियाणा बंद में दुकानदारों से माँगा सहयोग


सिरसा: इनेलो बसपा गठबंधन की ओर से एसवाईएल, महंगाई, भ्रष्टाचार, अपराध आदि अनेक मुद्दों को लेकर आगामी 18 अगस्त को प्रस्तावित हरियाणा बंद को लेकर बुधवार को गठबंधन नेताओं ने सांगवान चौक से वाल्मीकि चौक तक दुकानदारों से संपर्क साधा और उन्हें 18 अगस्त को हरियाणा बंद में अपना सहयोग देने का आह्वान किया। 
इस जनसंपर्क अभियान के दौरान इनेलो नेता प्रदीप मेहता एडवोकेट, इनेलो के सहप्रवक्ता महावीर शर्मा व बसपा नेता भूषण बरोड़ ने इस दौरान सभी दुकानदारों से 18 अगस्त को प्रस्तावित हरियाणा बंद में अपनी दुकानें व प्रतिष्ठान बंद रखकर अपना सहयोग देने की अपील की। गठबंधन नेताओं ने इस दौरान कहा कि शहरों में आ रहे बिजली के भारी भरकम बिल, पेट्रो पदार्थों के दामों में अप्रत्याशित बढ़ौतरी, गैस सिलेंडर के दाम 800 रुपए तक होने, बिगड़ी कानून व्यवस्था के चलते नित्य हो रही हत्याएं, बलात्कार, छीना झपटी, चोरी, डकैती आदि से प्रदेशवासी सहमे हुए हैं। इसके साथ-साथ एसवाईएल का पानी हरियाणा में अभी तक न आने के कारण प्रदेश के किसान आर्थिक नुकसान से जूझ रहे हैं। इन सारे मुद्दों को लेकर इनेलो बसपा गठबंधन 18 अगस्त को हरियाणा बंद कर उसमें दुकानदारों से अपेक्षित सहयोग की अपेक्षा करते हैं। इन सारे मुद्दों से सहमति जताते हुए दुकानदार काफी उत्साहित नजर आए और उन्होंने गठबंधन को अपना पूर्ण समर्थन देने का आश्वासन दिया। इस जनसंपर्क अभियान के दौरान डॉ. वीके नाहर, रामसिंह हांडीखेड़ा, हरीश बाबा, प्रमोद भाटी, रामकिशन, रितेश सरदाना, अर्जुन, संजीव कुक्कू, मुकेश व प्रवीण आदि कार्यकर्ता भी मौजूद थे।
दुष्यंत ने दिए 23 गांवों को पानी के टैंकर


हांसी: पीने की पानी की समस्या मिटाने की दिशा की उठाए गए कदमों को बढ़ाते हुए इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने आज हांसी व नारनौंद हलके के 23 गांवों को 24 पानी के टैंकर वितरित किए। मंगलवार को यहां रेस्ट हाउस में इन गांवों की पंचायतों को दुष्यंत चौटाला ने हरी झंडी दिखा कर इन टैंकरों को सौंपा। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यदि प्रदेश सरकार गांव वासियों की पीने के पानी की समस्या का हल नहीं करती है तो उनका प्रयास है कि गांवों में पीने के पानी को लेकर लोगों की समस्या को हलक किया जाए और इसी उद्देश्य से गांव में सामूहिक रूप से एक पानी के टैंकर सांसद निधि कोष से उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। 
इन गांवों में दिए पानी के टैंकर-भकलाना, बुढाना, कापड़ो, माडा, मिलकपुर, मोठ करनैल, पाली, राखी खास, सुलचानी, खेड़ा रागड़ान, खेड़ी श्योराण, प्रेम नगर, अन्नीपुरा, बाड़ा जग्गा, बास अकबरपुर, ढाणा कलां, ढाणी पूरिया, खरबला, पटवाड़, रामायण, उमरा, जमवाड़ी, कंवारी। 
इनेलो सांसद ने कहा कि सरकार का कर्तव्य है कि लोगों को कम से कम से पानी की समस्या से न जूझना पड़ा, इस की प्रकार की मूलभूत समस्याओं के निपटारे के लिए हरियाणा सरकार को हर विधायक को सांसद निधि कोष की तर्ज पर धनराशि उपलब्ध करवानी चाहिए। 
एक देश एक चुनाव के सवाल के जवाब में सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इनेलो ने इस प्रणाली का सबसे पहले समर्थन किया था और चुनाव आयोग को अपना समर्थन पत्र दिया था। उन्होंने दोहराया कि चुनाव प्रणाली को अधिक पारदर्शी और विश्वसनीय बनाने के लिए बैलट पेपर के माध्यम से अथवा वीवीपेट ईवीएम मशीन से लोकसभा और विधानसभाओं के चुनाव करवाए, जिससे कि लोगों को यह पता चल सके कि उन्होंने किसे अपना वोट दिया है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा उनका प्रयास है कि सांसद निधि को एक-एक पैसा जनता के हित में खर्च हो। उन्होंने कहा कि वह अपने सांसद निधि कोष से अब तक हिसार लोकसभा में 17 करोड़ 50 लाख रूपये जारी कर चुके हैं। आज इस अवसर पर पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, विधायक रणबीर सिंह गंगवा, विधायक अनूप धानक, विधायक वेद नारंग, हलका प्रधान कर्ण सिंह दैप्पल, सतबीर सिसाय, राज  सिंह मोर, पार्षद जस्सी पेटवाड़, सुशील खर्ब, राजीव शर्मा, राहुल मक्कड़, शिव कुलाना, राजेश बिल्लू, बाली भाटोल, इंद्र फौजी, आशीष कुंडू, राजेंद्र सरपंच सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।