Wednesday, July 4, 2018

पानीपत में इनेलो-बसपा का SYL के पानी को लेकर  जेल भरो आंदोलन


पानीपत 26 जून : एसवाईएल, दादुपूर-नलवी व मेवात कैनाल के निर्माण व प्रदेश के हिस्से के पानी के लिए हो रहे ‘जेल भरो आंदोलन’ में 43,200 आंदोलनकारियों ने गिरफ्तारियां दी। गिरफ्तारी से पूर्व नेता विपक्ष अभय सिंह ने आंदोलनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हजारों की संख्या में लोगों का इस जलयुद्ध में शामिल होना इस बात का संकेत है कि जनता सत्ता परिवर्तन चाहती है। प्रदेश के लोगों ने मन बना लिया है कि देश में बहन मायावती की और प्रदेश में इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बने। उन्होंने यह भी कहा कि किसानों की जिस लड़ाई को आज तक इनेलो अकेले लड़ती आई है, उस लड़ाई में आज कमेरा वर्ग के प्रतिनिधि बहुजन समाज पार्टी भी कंधे से कंधा मिलाकर साथ खड़ी है।
इससे पूर्व एसवाईएल के मुद्दे पर राज्य सरकार पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कहा कि खट्टर सरकार ने चुनावी घोषणा पत्र में नहर निर्माण की बात कही थी लेकिन सत्ता हासिल करने के बाद केवल इस नहर निर्माण को कैसे रोका जाए, इस बात को लेकर साजिश रचने का काम किया। उन्होंने कहा कि एसवाईएल निर्माण पर कांग्रेस और भाजपा, दोनों सरकारों ने राजनीति की है।
नेता विपक्ष ने प्रधानमंत्री पर भी वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी ने सत्ता हासिल करने के लिए जनता को कभी 15 लाख देने की बात कही तो कभी युवाओं के दो करोड़ रोजगार की। लेकिन आज तक एक भी वादा ऐसा नहीं है जो केंद्र सरकार ने पूरा किया हो। भाजपा ने हर वर्ग को धोखा दिया है। लोकसभा चुनाव से पहले मोदी जी किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करने की बात किया करते थे आज उनकी बातें केवल जुमला बनकर रह गई है।
                                                                                   


इनेलो नेता ने प्रदेश की जनता को आश्वस्त करते हुए कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बनने पर किसानों व छोटे दुकानदारों का ऋण माफ किया जाएगा। किसानों को फसल का सही मूल्य मिले उसके लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करेंगे। साथ ही हर परिवार में से एक युवा को सरकारी नौकरी, गरीब की बेटी की शादी में 5 लाख रुपए की कन्यादान राशि दी जाएगी। वहीं बुजुर्गों को एकमुश्त 2500 रुपए पैंशन मिला करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि गठबंधन की सरकार बनने पर प्रदेश में बिजली बिल आधे किए जाएंगे। 
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि देश और प्रदेश की भाजपा की सरकार से लोग अब बुरी तरह से तंग आ चुके हैं और मन बना चुके हैं कि देश और प्रदेश में परिवर्तन लाना है। उन्होंने कहा कि आज जो राजनीतिक माहौल बना हुआ है, उसे देखकर ये कहना गलत नही होगा कि देश में अगली सरकार बहन मायावती के नेतृत्व में तीसरे मोर्चे की बनेगी और हरियाणा में 1987 का इतिहास दोहराने का काम इनेलो ही करेगी।
                                                                                    
                                                                                     

                                                                   
एसवाईएल, मेवात कैनाल व दादूपुर नलवी के निर्माण के लिए हो रहे इस जलयुद्ध संघर्ष में गिरफ्तारी देने वालों में मुख्यत: अभय सिंह चौटाला, अशोक अरोड़ा, एमपी रामकुमार कश्यप, पूर्व विधायक कलीराम पटवारी व रामफल कुंडू, अशोक सेरवाल, बलवान वाल्मीकि, प्रवीण अत्रे, फूलवती, ओपी माटा, सुरेश मितल, सुरेश काला, वीरेन्द्र कादियान, शेर सिंह खरब, निशाल मलिक, कुलदीप राठी, ऋषिपाल रावल, बसपा जिला पानीपत के प्रभारी डा. रफल सिंह कश्यप, बसपा जिलाध्यक्ष सत्यवीर पाचाल, सरदार सुमेर, बसपा जिला पानीपत प्रभारी सुनीता सभवाल, सुनील भारिया, बसपा जिला उपाध्यक्ष गिन्नाराम, राजबीर मलिक प ओमप्रकाश गुर्जर सहित हजारों की संख्या में गठबंधन नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment