Tuesday, June 12, 2018

भाजपा के राज में किसान बर्बादी की कगार पर- अशोक अरोड़ा 

कुरुक्षेत्र: इनेलो के कार्यवाह प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने आरोप लगाया कि भाजपा के राज में किसानों को मक्की की फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं मिल रहा, जिस कारण किसान औने-पौने भाव अपनी मक्की की फसल बेचने को मजबूर है। उन्होंने कहा कि सरकार ने मक्की की फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1425 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया हुआ है, जबकि किसानों की मक्की की फसल 1100 रुपये प्रति क्विंटल खरीदी जा रही है। अरोड़ा ने सरकार से मांग की कि मक्की की फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य किसानों को दिया जाए, ताकि किसान बर्बाद होने से बच सके। जब से भाजपा की सरकार आई है तब से ही किसानों को लूटा जा रहा है। धान की फसल में भी नमी के नाम पर किसानों को लगभग 300 रुपये प्रति क्विंटल की राशि कम दी गई, जबकि जे फार्म निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य के रेट से काटे गए लेकिन किसानों को 250 से 300 रुपये प्रति क्विंटल कम रकम का भुगतान किया गया। इसी प्रकार फसल बीमा योजना के नाम पर किसानों को लूटा गया। किसानों की बिना सहमति के फसल बीमा के प्रीमियम की राशि बैंकों द्वारा काट ली जाती है, जबकि फसल का नुकसान होने के बाद क्लेम के नाम पर किसानों को कुछ नहीं मिलता। भाजपा सरकार की नीतियों के कारण किसान बर्बादी की कगार पर खड़ा है। देश के इतिहास में यह पहला अवसर है जब किसानों को अपनी मांगों को लेकर 10 दिन तक हड़ताल करनी पड़ी। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने का वायदा किया था लेकिन सत्ता मिलते ही भाजपा सरकार अपने चुनावी वायदों को भूल गई। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश का हर वर्ग भाजपा सरकार की नीतियों से दुखी है। प्रत्येक विभाग के कर्मचारी आंदोलन की राह पर हैं। कानून व्यवस्था का दिवाला पिट चुका है। किसी की भी जान-माल सुरक्षित नहीं है। भाजपा सरकार की नीतियों के कारण छोटे और मंझले व्यापारियों का काम धंधा ठप होकर रह गया है, युवा बेरोजगार घूम रहे हैं। मजदूर वर्ग को रोटी के लाले पड़े हुए हैं, लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर इन सब से बेखबर उत्सव मनाने और गिली डंडा खेलने में लगे रहते हैं। उन्हें जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं है। अरोड़ा ने कहा कि आगामी चुनाव में भाजपा का सूपड़ा साफ होगा और प्रदेश में इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में बनेगी। 

No comments:

Post a Comment