Wednesday, May 16, 2018

राजनीति नहीं, जनसेवा की है मैंने- दुष्यंत चौटाला

दुष्यंत ने जनता को दिया चार साल का हिसाब-किताब



हिसार : आज से ठीक चार साल पहले हिसार लोकसभा की जनता ने मुझे जो मान-सम्मान एवं प्यार देकर लोकसभा में भेजा था, उसी प्यार की बदौलत हिसार का नाम लोकसभा की चारदीवारी में हमेशा गूंजता रहा है। शायद ही ऐसा कोई दिन हो जब किसी न किसी मु्द्दे पर हिसार की आवाज लोकसभा में न गूंजी हो।  मैंने राजनीति से इतर जनता की सेवा करने को हमेशा मेरा परम कर्तव्य माना। मैंने राजनीति नहीं की बल्कि जनसेवा की है। यह कहना है हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला का। दुष्यंत चौटाला ने बतौर सांसद अपने चार साल का कार्यकाल पूरे होने पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जब हिसार की जनता ने मुझे चुनकर भेजा है तो मेरा भी फर्ज है कि मैं सांसद निधि कोष की पाई-पाई का हिसाब जनता के सामने रखूं । दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हिसार लोकसभा में उनका फोकस बिजली-पानी-स्वास्थ्य और युवाओं पर रहा है। हिसार लोकसभा का शायद ही ऐसा कोई सांसद रहा हो जिसने अपने सांसद निधि कोष का एक तिहाई हिस्सा लोगों की ढाणियों को रोशन करने में खर्च किया हो। दुष्यंत ने बताया कि उन्होंने सैंकड़ों ढाणियों को 4 करोड़ 59 लाख 30 हजार 873 रूपये से जगमग किया है। सांसद ने बताया कि वो काम करने में विश्वास रखते हैं न कि दिखावे में। उन्होंने बताया कि कुछ लोग तो गौमाता के नाम पर राजनीति करते हैं परन्तु उन्होंने तो अपने सांसद निधि कोष से हिसार लोकसभा की गौशालाओं एवं गौ-घाटों के निर्माण के लिए एक करोड़ 17 लाख 13 हजार 600 रूपये खर्च कर दिए हैं। सांसद दुष्यंत चौटाला ने बताया कि जननायक चौ. देवीलाल ने हरियाणा के गांवों में विभिन्न समुदायों के लिए चौपालों का निर्माण करवाया था लेकिन बाद की कुछ सरकारों ने इन चौपालों की ओर कोई ध्यान नहीं दिया और वे जीर्ण-शीर्ण अवस्था में पहुंच गई। सांसद ने बताया कि गांवों में चौपाल निर्माण, पंचायत भवन निर्माण व अन्य सार्वजनिक स्थलों के निर्माण कार्यों के लिए 7 करोड़ 79 लाख 65 हजार 608 रूपये दिए हैं। 

सांसद का चार साल का हिसाब-किताब - 

  • अब तक सांसद निधि कोष से प्राप्त कुल राशि 17 करोड़ 50 लाख रूपये
  • ढाणी कनेक्शन पर खर्च 45 करोड़ 93 लाख 873 रूपये
  • स्वास्थ्य पर खर्च 59 लाख 39 हजार 36 रूपये
  • सोलर लाइट पर खर्च 29 लाख 14 हजार 701 रूपये
  • सिंचाई व पेयजल पर खर्च दो करोड़ एक लाख 61 हजार रूपये
  • शिक्षा व खेल को बढ़ावा देने के लिए 64 लाख 2 हजार 200 रूपये
  • सफाई पर 15 लाख 71 हजार 401 रूपये
  • चौपाल, पंयायत भवन, शमशान घाट सहित अन्य निर्माण कार्यों पर खर्च 7 करोड़ 79 लाख 65 हजार 608 रूपये 


प्रमुख उपलब्धियां

  • हरियाणा के इतिहास में निजी क्षेत्र की कंपनियों को बुलवाकर रोजगार मेले का आयोजन करवाया जिसमें 12 हजार से अधिक युवाओं ने भाग लिया।  
  • गुजवि में सांसद निधि कोष से पांच ई-रिक्शा प्रदान की।
  • हिसार लोकसभा क्षेत्र के लोगों को अपने पासपोर्ट बनवाने के लिए अंबाला या चंढीगढ़ जाना पड़ता था, सांसद दुष्यंत चौटाला ने हिसार में पासपोर्ट सेवा केंद्र खुलवाया।
  • हिसार लोकसभा क्षेत्र के गांव वासियों के लिए फ्री वाई-फ़ाई की सुविधा शुरू हो गई है और जुगलान गांव देश का पहला वाई-फाई फ्री गांव बना।
  • नगर में आपराधिक घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए 15 लाख रूपये की लागत से 14 चौकों पर 41सीसीटीवी कैमरे लगवाए। 
  • महावीर स्टेडियम का सांसद निधि कोष से भव्य मुख्य द्वार का निर्माण
  • गुरूकुल डोभी की छह कन्याओं को अपने निजी कोष से शिक्षित करने का बीड़ा उठाया। इससे पहले धीरणवास व आर्यनगर गुरूकुल के विद्यार्थियों के शिक्षा, रहन-सहन आदि का खर्च दुष्यंत चौटाला अपने स्तर पर उठा चुके हैं। 
  • हांसी के माडल टाऊन क्षेत्र में सांसद ने अपने प्रयासों से सीसीटीवी कैमरे लगावाए। 
  • सूर्य नगर रेलवे क्रासिंग पर आरओबी बनाने सहित रेलवे से जुड़ी हर मांग को हर मोर्च पर रखा और केंद्रीय रेलमंत्री से कई बार मिलने के बाद आखिर रेलवे बजट में इसके लिए घोषणा हुई। 
  • आदमपुर मंडी में भादरा रोड पर बने फाटक पर आरओबी बनाने, हिसार के सेक्टर 1-4 रेलवे लाइन पर भी ओवरब्रिज, साऊथ बाइपास  सेक्टर 16-17 फाटक पर आरओबी व कैमरी रोड फाटक पर अंडरपास बनाने की घोषणा बजट में करवाई और वाशिंग यार्ड पर काम शुरू करवाया। सांसद दुष्यंत चौटाला के प्रसायों से यूनिसेफ की टीम रेलवे स्टेशन पर आई और हैंडवास व सफाई अभियान चलाया।
  • किसान एक्सप्रेस में डिब्बों की संख्या 11 से बढ़ कर 14 करवाई। रेलवे स्टेशन पर सांसद निधि कोष से साईकिल स्टेंड बनावाया।
  • सेक्टर 14 स्थित हाउसिंग बोर्ड कालोनी में आटो क्यू शैल्टर की मंजूरी दिलवाई। 
  • हिसार रेलवे स्टेशन, मुख्य बस अड्डा व सामान्य अस्पताल मे अपने निजी कोष से तीन वाटर कूलर लगवाए। 
  • हिसार को चंडीगढ़ से जोडऩे का मुद्दा बार-बार लोकसभा में उठाया, हांसी-जींद रेलवे लाइन तथा उकलाना-नरवाना रेल लाइन की मंजूरी दिलवाई। 
  • सुंदरनगर वासियों को बस अड्डा व मुख्य बाजार तक  आने जाने के लिए निजी कोष से ई-रिक्शा उपलब्ध करवाई। 
  • हिसार से मखंड तक स्पेशल बस सेवा तथा पिछले 20 वर्षों से गांव खासा महाजन में बंद बस सेवा पुन: शुरू करवाई।
  • गांव पनिहार चक प्रदेश का पहला ऐसा गांव बना जहां सोलर स्ट्रीट लाईटें सांसद निधि कोष से लगवाई गई। 
  • गांव सिसाय में किसानों के लिए किसान मेला लगाया गया जहां किसानों को निशुल्क बीज व पशुओं के लिए दवाईयां दी गई। 
  • हिसार का साई सेंटर बंद करने के मुद्दे को लोकसभा में उठा कर सरकार पर इसे बंद न करने के लिए दबाव बनाया। 
  • गांव टोकस, पातन, आर्यनगर व रावलवास के हजारों लोगों की समस्या को समझा। इन गांवों के बीच नहर पर सांसद निधि कोष से 15 लाख रूपये की लागत से पुल का निर्माण करवाया।  
  • बीएसएनएल अधिकारियों के साथ बार-बार बैठक कर उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाएं देने के लिए टावर व हिसार में बीएसएनएल की एक्सचेंज को एनजीएन तकनीक से लैस करने की मंजूरी दिलवाई। करीब 200 नए टावर मंजूर करवा कर हिसार एसएसए में लगवाए। 

No comments:

Post a Comment