Friday, April 27, 2018

भाजपा गाय, गंगा और गीता की राजनीति करने वाली पार्टी- दिग्विजय चौटाला 


ऐलनाबाद: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि भाजपा गाय, गंगा और गीता की राजनीति करती है मगर भाजपा के किसी भी शीर्ष नेता के घर गाय तक नहीं बंधी। इतिहास गवाह है कि गाय, गंगा और गीता का सम्मान सदैव कमेरे और किसान ने ही किया है। वे शुक्रवार को यहां की अग्रवाल धर्मशाला में अपने धन्यवादी दौरे के दौरान पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने संसदीय चुनावों के दौरान जहां किसानों से उनके हित के लिए स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने का वायदा किया था वहीं प्रत्येक भारतीय के खाते में 15-15 लाख रुपए देने का वायदा किया था मगर आज लंबा अरसा बीतने के बाद दोनों वायदे खोखले साबित हुए हैं। इतना ही नहीं देशवासियों के साथ किए गए अन्य आश्वासन भी महज आश्वासन ही बनकर रह गए हैं। उन्होंने कहा कि जिस व्यापारी वर्ग ने भाजपा को सर्वाधिक मत देकर उन्हें सत्ता पर बिठाया, आज भाजपा की गलत नीतियों के चलते व्यापारी ही सबसे अधिक पीडि़त है। आमजन के खिलाफ अपनाई जाने वाली नीतियों के कारण ही पूरे देश में सभी वर्गों में भाजपा के प्रति आक्रोश है और आने वाले समय में भाजपा को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि गलत नीतियों के कारण ही आज गरीब अधिक गरीब हुआ है और पूंजीपतियों को सहारा दिया गया है। पेट्रोल डीजल की कीमतों में वृद्धि होने के समय जो भाजपा के नेता हल्ला किया करते थे, वे आज मौन साधे हुए हैं मगर उसकी पीड़ा देश भुगत रहा है। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि कांग्रेस ने देश में करीब 45 वर्ष तक राज करके देश को बुरी तरह से लूटा है और वह अब एक बार फिर हरियाणा में शासन करने का ख्वाब संजो रही है जबकि हकीकत यह है कि कांग्रेस स्वयं 16 भागों में बंटी है। उनकी आपसी फूट ही उन्हें ले डूबेगी। ऐसे में कांग्रेस का शासन में आने का ख्वाब महज ख्वाब ही रहेगा। वहीं पूर्व मंत्री भागीराम ने कहा कि जब इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला और पार्टी के प्रधान महासचिव डॉ. अजय सिंह चौटाला को जेल की सजा सुनाई गई तो विरोधी दलों ने यह कहना आरंभ किया था कि अब इनेलो का अस्तित्व नहीं रहेगा मगर दुष्यंत सिंह चौटाला, दिग्विजय सिंह चौटाला, कर्ण सिंह चौटाला और अर्जुन चौटाला ने अपनी पढ़ाई छोड़कर राजनीतिक समर में कूदकर पार्टी को पहले से कहीं अधिक मजबूत बनाया जिसका लोहा विरोधियों ने भी माना। उन्होंने दिग्विजय सिंह चौटाला के संघर्ष की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने अपने संगठन के बूते प्रदेश सरकार को छात्र संघ के चुनाव कराने के लिए घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। इस अवसर पर इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, पूर्व मंत्री भागीराम, अभय सिंह खोड़, बसपा के हिसार जोन प्रभारी दयाराम जोइया, बसपा जिलाध्यक्ष रविंद्र बाल्याण, अजब ओला, अजय झोरड़, डॉ. विनोद गोदारा, संदीप नैन, अंजनी लढ़ा, संदीप नैन, पवन लढा, जयसिंह गोरा, सौरभ शर्मा, नरेंद्र श्योकंद, राजबीर जाखड़, अमन गिल, ईद खान, हरपाल ढूकड़ा, पुनीत सहित अनेक पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे। 

No comments:

Post a Comment