Monday, April 30, 2018

जेल भरो आंदोलन में दोनों दलों की सक्रिय रहेगी भागीदारी- अभय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़, 30 अप्रैल: इनेलो-बसपा गठबंधन के बाद अब दोनों दलों की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक संयुक्त तौर पर होगी। इस बात की जानकारी देते हुए नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि एसवाईएल को लेकर कल होने वाले ‘जेल भरो आंदोलन’ में दोनों दलों की सक्रिय भागीदारी रहेगी और दोनों दल आर्थिक और सामाजिक न्याय के लिए हर एजेंडे पर मिलकर काम करेंगे। नेता विपक्ष ने कहा कि 2 मई को कुरुक्षेत्र में बुलाई गई राज्य कार्यकारिणी की बैठक में बसपा प्रदेश कार्यकारिणी भी शामिल रहेगी। उन्होंने कहा कि इस बैठक में गठबंधन के प्रारूप के अलावा खट्टर सरकार के कुशासन में राज्य के सामने जो चुनौतियां उभरकर सामने आई हैं उनपर भी गहन विमर्श होगा। उन्होंने एक बार फिर दोनों दलों के गठबंधन को ऐतिहासिक और प्रदेश की राजनीति में होने वाले बदलाव के लिए निर्णायक बताया।
 इसके अतिरिक्त इनेलो वरिष्ठ नेता ने कहा कि गेहूं के इस सीजन में आग लगने के कारण किसानों का जो करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है उसके लिए सरकार पर्याप्त मुआवजा दे, इसको लेकर भी दोनों दल बैठक में चर्चा करेंगे। प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था और बाल यौन उत्पीड़न के मामलों में हो रही वृद्धि पर चिंता जताते हुए नेता विपक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार इस कद्र असंवेदनशील हो चुकी है कि बाल अपराध को भी रोकने में अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए हैं। बैठक में बाल-अपराधों की रोकथाम के लिए सरकार पर दबाव बनाने की रणनीति भी तैयार की जाएगी। अभय सिंह चौटाला ने यह भी कहा कि कमेरे और किसान वर्ग की विचारधारा हमेशा से एक रही है जो शोषक, भ्रष्टाचारियों और सांप्रदायिक ताकतों के विरोध की है इसलिए इस प्राकृतिक गठबंधन के कारण भाजपा और कांग्रेस जैसे दलों का प्रदेश से जनाधार खिसकता नजर आ रहा है। जनता की आवाज बदलाव की है जिसको ये दोनों दल पचा नहीं पा रहे। इनेलो-बसपा गठबंधन को लेकर की जाने वाली अनाप-शनाप बयानबाजी को उन्होंने बौखलाहट बताया।

Sunday, April 29, 2018

विधायिका नैना चौटाला ने जरूरतमंदों को वितरित किए चैक 


डबवाली: डबवाली की विधायिका नैना चौटाला ने हलका डबवाली में कई कार्यक्रमों में शिरकत की व लोगों की समस्याएं सुनी। इस दौरान नैना चौटाला ने गरीब व जरूरतमंद परिवारों को आर्थिक सहायता के चैक वितरित किए। चैक वितरित करते हुए उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर व पिछड़े वर्ग के परिवारों की मदद करना उनकी सोच है व समाज सेवा के कार्यो में योगदान देने का उनका प्रयास रहता है। उन्होंने कहा कि समाज सेवा के क्षेत्र में अभी भी बहुत मेहनत से प्रयास कर काम किए जाने की जरूरत है जिसके लिए सभी को मिलकर काम करना होगा। तभी सभी वर्गो तक पहुंच हो पाएगी। विधायिका ने ओमप्रकाश पुत्र रामेशर निवासी गांव चौटाला को 20 हजार, विजय कुमार पुत्र हंसराज निवासी वार्ड न. 13 डबवाली शहर को 10 हजार, बलविंदर कौर निवासी डबवाली शहर को 5100, जंगीर सिंह निवासी डबवाली शहर हर्ष नगर को 3200 रूपए का, जगतार सिंह पुत्र चानन सिंह गांव मसीतां को 5100 रूपए का, साहब राम को 5100 रूपए का, सोनी बाई पुत्री बलवीर नाथ निवासी गांव ओढां को 5100 रूपए का, मोनिका पुत्री सतपाल निवासी रिसालियाखेड़ा को 10 हजार रूपए का आदि को चैक जारी किए गए। चैक प्राप्त करने वाले ग्रामीणों ने विधायिका का आभार जताया। इससे पहले  नैना चौटाला ने डबवाली शहर में नागपाल परिवार के दिल्ली में रह रहे परिवार के सदस्यों के आग की चपेट में आ जाने से हुई त्रासदी में जान गंवा देने वाले सदस्यों के निधन पर डबवाली उनके घर जाकर शोक व्यक्त किया। इसके अलावा गांव कालूआना, गोरीवाला गांवों में कई घरों में जाकर शोक भी व्यक्त किया। इस मौके पर विधायिका नैना चौटाला ने लोगों की समस्याएं सुनी व मौके पर ही उनका निपटारा किया। इस मौके महिला विंग की जिलाध्यक्षा कृष्णा फौगाट, हलका प्रधान सर्वजीत मसीतां, पूर्व सरपंच गोदिकां गिरधारी बिस्सू, पूर्व चेयरमैन रणवीर राणा, नपा के पूर्व चेयरमैन टेकचंद छाबड़ा,  पार्षद प्रतिनिधि राकेश शर्मा, ब्लाक समिति मैम्बर रणदीप सिंह मटदादू, युवा शहरी प्रधान विपिन मोंगा, रेखा शर्मा पार्षद, शहरी महिला प्रधान ममता मिढा, मनजीत सिंह सरपंच पन्नीवाला रूलदू, सरपंच हरसिमरण बबू नीलियांवाली, सुखबिन्द्र सुर्या, धेलाराम सुथार पूर्व सरपंच गोरीवाला, अमित गोरीवाला, भीम मुंदलिया गोदिकां, बिटू मौजगढ, गुरलाल दीवानखेड़ा, हैप्पी गिल, विक्की वर्मा, सुखबिन्द्र सरां पूर्व पार्षद, प्रेम कांता आहुलिया आदि मौजूद रहे।

Saturday, April 28, 2018

एससी-एसटी एक्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करना भाजपा सरकार का ढोंग- अशोक अरोड़ा


चंडीगढ़, 28 अप्रैल: एससी-एसटी एक्ट मामले में भाजपा सरकार द्वारा सुप्रीम कार्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करने को इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने ढोंग बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा अगर इतनी ही दलित हितैषी है तो उसने 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान एससी-एसटी पर दर्ज मामले अब तक वापस क्यों नहीं लिए ? उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश में गिरते जनाधार के चलते भाजपा अब जातिगत वोट बैंक की राजनीति को बढ़ावा देने की कोशिश कर रही है।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने भाजपा को याद दिलाया कि इस विषय में सच यह है कि केंद्र सरकार पहले ही पुनर्विचार याचिका सुप्रीम कोर्ट में डाल चुकी है इसलिए प्रदेश सरकार की इस याचिका का कोई औचित्य ही नहीं बनता। यह याचिका केवल मात्र दलित भाईयों को धोखा देने और भ्रमित करने का प्रयास है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा राज में दलितों के हक सुरक्षित नहीं हैं। रोहतक में बाबा साहब की मूर्ति को एक साजिश के तहत खंडित किया गया था। यह प्रदेश में संप्रादायिकता का बीज बोने की कोशिश थी ताकि 36 बिरादरी के भाईचारे को तोड़कर भाजपा अपनी राजनैतिक रोटियां सेंक सके।
अशोक अरोड़ा ने कहा कि भाजपा ने खिलाड़ियों के साथ भी भेदभाव की नीति अपना रही है। उन्होंने कहा कि जब सभी खिलाड़ी हरियाणा में पैदा हुए यहीं खेलना सीखा तो उनके साथ परायों जैसा व्यवहार करना भाजपा की छोटी मानसिकता को दर्शाता है। सरकार द्वारा खिलाड़ियों के सम्मान में आयोजित समारोह को स्थगित करना खिलाड़ियों का अपमान है।

Friday, April 27, 2018

भाजपा गाय, गंगा और गीता की राजनीति करने वाली पार्टी- दिग्विजय चौटाला 


ऐलनाबाद: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि भाजपा गाय, गंगा और गीता की राजनीति करती है मगर भाजपा के किसी भी शीर्ष नेता के घर गाय तक नहीं बंधी। इतिहास गवाह है कि गाय, गंगा और गीता का सम्मान सदैव कमेरे और किसान ने ही किया है। वे शुक्रवार को यहां की अग्रवाल धर्मशाला में अपने धन्यवादी दौरे के दौरान पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने संसदीय चुनावों के दौरान जहां किसानों से उनके हित के लिए स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने का वायदा किया था वहीं प्रत्येक भारतीय के खाते में 15-15 लाख रुपए देने का वायदा किया था मगर आज लंबा अरसा बीतने के बाद दोनों वायदे खोखले साबित हुए हैं। इतना ही नहीं देशवासियों के साथ किए गए अन्य आश्वासन भी महज आश्वासन ही बनकर रह गए हैं। उन्होंने कहा कि जिस व्यापारी वर्ग ने भाजपा को सर्वाधिक मत देकर उन्हें सत्ता पर बिठाया, आज भाजपा की गलत नीतियों के चलते व्यापारी ही सबसे अधिक पीडि़त है। आमजन के खिलाफ अपनाई जाने वाली नीतियों के कारण ही पूरे देश में सभी वर्गों में भाजपा के प्रति आक्रोश है और आने वाले समय में भाजपा को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि गलत नीतियों के कारण ही आज गरीब अधिक गरीब हुआ है और पूंजीपतियों को सहारा दिया गया है। पेट्रोल डीजल की कीमतों में वृद्धि होने के समय जो भाजपा के नेता हल्ला किया करते थे, वे आज मौन साधे हुए हैं मगर उसकी पीड़ा देश भुगत रहा है। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि कांग्रेस ने देश में करीब 45 वर्ष तक राज करके देश को बुरी तरह से लूटा है और वह अब एक बार फिर हरियाणा में शासन करने का ख्वाब संजो रही है जबकि हकीकत यह है कि कांग्रेस स्वयं 16 भागों में बंटी है। उनकी आपसी फूट ही उन्हें ले डूबेगी। ऐसे में कांग्रेस का शासन में आने का ख्वाब महज ख्वाब ही रहेगा। वहीं पूर्व मंत्री भागीराम ने कहा कि जब इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला और पार्टी के प्रधान महासचिव डॉ. अजय सिंह चौटाला को जेल की सजा सुनाई गई तो विरोधी दलों ने यह कहना आरंभ किया था कि अब इनेलो का अस्तित्व नहीं रहेगा मगर दुष्यंत सिंह चौटाला, दिग्विजय सिंह चौटाला, कर्ण सिंह चौटाला और अर्जुन चौटाला ने अपनी पढ़ाई छोड़कर राजनीतिक समर में कूदकर पार्टी को पहले से कहीं अधिक मजबूत बनाया जिसका लोहा विरोधियों ने भी माना। उन्होंने दिग्विजय सिंह चौटाला के संघर्ष की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने अपने संगठन के बूते प्रदेश सरकार को छात्र संघ के चुनाव कराने के लिए घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। इस अवसर पर इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, पूर्व मंत्री भागीराम, अभय सिंह खोड़, बसपा के हिसार जोन प्रभारी दयाराम जोइया, बसपा जिलाध्यक्ष रविंद्र बाल्याण, अजब ओला, अजय झोरड़, डॉ. विनोद गोदारा, संदीप नैन, अंजनी लढ़ा, संदीप नैन, पवन लढा, जयसिंह गोरा, सौरभ शर्मा, नरेंद्र श्योकंद, राजबीर जाखड़, अमन गिल, ईद खान, हरपाल ढूकड़ा, पुनीत सहित अनेक पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे। 
इनसो संघर्ष न करता तो छात्रसंघ मुद्दे पर न झुकती सरकार- दिग्विजय चौटाला


फतेहाबाद: इनेलो समर्थित छात्र संगठन इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला वीरवार देर शाम इनसो कार्यकर्ता सम्मेलन में बतौर मुख्यतिथि भाग लेने जाट धर्मशाला पहुंचे। यहां पहुंचने पर इनसो जिला प्रधान जतिन खिलेरी व युवा इनेलो जिलाध्यक्ष अजय संधू ने अपनी टीम के साथ इनसो अध्यक्ष का अभिनंदन किया। कार्यक्रम को इनेलो किसान प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह, विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, प्रो रविन्द्र बलियाला, इनेलो जिला प्रधान बलविन्द्र कैरों, बसपा जिला प्रभारी डाॅ. मीरा नंदा, बसपा जिलाध्यक्ष एडवोकेट पीएस फानर, जिला प्रभारी बलवान मनखड़, पूर्व युवा इनेलो जिलाध्यक्ष राकेश सिहाग ने मुख्य रूप से संबोधित किया। इस दौरान दिग्विजय चैटाला ने पिछले दिनों इनसो द्वारा जीजेयू विश्वविद्यालय हिसार में किए गए अनशन उपरांत बहाल हुए छात्रसंघ चुनाव पर कार्यकर्ताओं को बधाई दी और संघर्ष में सहयोग देने पर उनका धन्यवाद भी प्रकट किया।


दिग्विजय चौटाला ने कहा कि छात्रसंघ चुनाव मात्र छात्र वर्ग के लिए एक चुनाव भर न होकर, उनके अधिकारों की आवाज को बुलंद करने का सबसे मजबूत मंच रहा है, जिसे पूर्व की स्व. बंसीलाल सरकार ने बंद कर दिया था। हरियाणा में छात्र संघ चुनाव रद्द होने के बाद विश्वविद्यालयों, काॅलेज जैसे शिक्षण संस्थानों में छात्र वर्ग अपनी समस्याओं को उस स्वतंत्रता के साथ नहीं उठा पा रहे थे, कि उनकी आवाज को सरकार या प्रशासन जल्द सुनके हल करे। छात्रों की इस दबती आवाज को जब किसी संगठन ने सहारा देने का काम नहीं किया तो जननायक स्व. देवीलाल के आदर्शों पर चलने वाले संगठन इनसो ने प्रदेश में छात्र संघ चुनाव बहाल करने का जिम्मा संभाला। इसके लिए संगठन ने बरसों लंबा संघर्ष किया, हर सरकार ने इनसो द्वारा छात्रसंघ चुनाव बहाल करने की मांग को हल्के में लिया और उनके आंदोलन को कमजोर करने के लिए हर तरह के हथकंडे भी अपनाए। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि इसी साल फरवरी माह में इनसो राष्ट्रीय इकाई ने इस मुद्दे पर अनशन करने का निर्णय लिया और उन्होंने जीजेयू में लगातार 109 घंटे तक भूख हड़ताल की। जब भाजपा सरकार को इनसो का यह अनशन आंदोलन सफल होता दिखने लगा, प्रदेश का हर छात्र इनसो के साथ जुड़ता दिखा तो मजबूर होकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने छात्र संघ चुनाव बहाल करने का एलान किया। सरकार ने इनसो को आश्वसत किया था कि इसी साल के सितंबर माह में प्रदेश में छात्र संघ चुनाव करवा दिए जाएंगे, यदि सरकार ऐसा करवा पाती है तो इसके लिए इनसो कार्यकर्ताओं को तैयार रहना चाहिए। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में इनसो छात्र संघ चुनाव में शानदार जीत दर्ज करेगी और इसका प्रभाव आगामी लोकसभा व विधानसभा चुनावों पर भी पड़ेगा। इस अवसर पर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मोलूराम रूहलानिया, वरिष्ठ नेता आत्म प्रकाश बत्तरा, हलका प्रधान भरत सिंह परिहार, हरिसिंह डांगरा, एडवोकेट सुमनलता सिवाच, इनसो पूर्व जिला प्रधान जसपाल संधू, युवा इनेलो शहरी अध्यक्ष विकास मेहता, रमन ढाका, अनिल डागर, संदीप सनीवाल, रजत खांडा, मनोज धारसूल, दीपा धारसूल, पंकज झांझड़ा, बंटी बरसीन, हरबंस खन्ना, गुलाब सूंडा, रमेश लाली, एडवोकेट राजेश शर्मा, जिला पार्षद अवतार सिंह, गुरचरण सिंह अमानी, शहरी प्रधान पवन चुघ व इनेलो प्रवक्ता प्रमोद बजाज सहित बसपा-इनेलो के अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे। 
दिग्विजय सिंह चौटाला का सरकार को अल्टीमेटम


सिरसा:  इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने छात्र संघ चुनाव को लेकर भाजपा को चेतावनी दी है कि यदि आगामी एक सप्ताह में सरकार ने पूरे हरियाणा में छात्र संघ के चुनावों को लेकर बजट व कलेंडर जारी नहीं किया तो इनसो पुन: प्रदेश में एक बड़े आंदोलन का आगाज करेगा। वे शुक्रवार को चौटाला हाउस में पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने प्रदेश भाजपा सरकार की मंशा पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने बीती 20 फरवरी को जो लिखित रूप में पत्र उन्हें दिया था उस पत्र में भी अब पूरी तरह से खोट नजर आ रहा है। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि यदि सरकार ने एक सप्ताह के भीतर छात्र संघ चुनाव को लेकर श्वेत पत्र जारी नहीं किया तो इनसो एक बार फिर से बड़ा आंदोलन करने पर विवश होगी और इस बार सरकार का तख्ता पलटकर ही दम लेगी। उन्होंने कहा कि वे अपने संघर्ष को तब तक पूरा नहीं मानेंगे जब तक छात्र संघ के चुनाव संपन्न नहीं हो जाते। यदि सरकार अपने वायदे पर खरी नहीं उतरती तो वे पुन: प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों व कॉलेजों में छात्रों के बीच जाकर आगामी संघर्ष की रूपरेखा को अंतिम रूप देंगे। इस दौरान उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल के विधायक पुत्र कुलदीप बिश्नोई को निशाने पर लेते हुए कहा कि उनके पिता की राजनीतिक पारी का अंत करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से मिलकर वे उन्हें हलवा खिला रहे हैं। ऐसे में समझा जा सकता है कि जिस व्यक्ति के दिल में अपने पिता का सम्मान न हो, उसके लिए प्रदेश की जनता का सम्मान क्या होगा? कॉमनवेल्थ खेलों में प्रदेश के खिलाड़ियों द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन करने और पदक हासिल करने के बावजूद सरकार की नीति पर कटाक्ष करते हुए दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि सभी खिलाड़ी सरकार की उदासीन नीति से आहत हैं और वे इनेलो से उनके संघर्ष में भागीदार बनने का आह्वान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इनेलो ही सबसे पहले वह राजनीतिक दल है जिसने सिडनी ओलंपिक में कर्णम मल्लेश्वरी को रजत पदक हासिल करने पर 25 लाख रुपए का पुरस्कार देकर सम्मानित किया था। उस वक्त की खेल नीति का मौजूदा सरकार ने बंटाधार कर दिया है जिससे प्रदेश भर के खिलाड़ी व्यथित हैं। उन्होंने कहा कि इनसो आगामी 5 अगस्त को इनसो के स्थापना दिवस पर सभी कॉमनवेल्थ गेम्स के पदक विजेता हरियाणा के खिलाडिय़ों को सम्मानित करेगी। इसके लिए हिसार के सांसद दुष्यंत सिंह चौटाला से भी चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा के खिलाडिय़ों के सम्मान के लिए जो कुछ भी किया जाना चाहिए, किया जाएगा। प्रदेश में जगह-जगह किसानों द्वारा टमाटर की फसल की बिक्री न होने पर उन्हें फेंकने के मुद्दे पर दिग्विजय ने कहा कि ये सब सरकार के नकली बीज के कारण हो रहा है। ऐसे में सरकार को मामले की जांच करवानी चाहिए और गिरदावरी कर पीङि़त किसानों को मुआवजा देना चाहिए। इनेलो बसपा गठबंधन पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि जब कमेरे और किसान एक साथ संघर्ष करेंगे तो निश्चित ही सफलता मिलेगी। इसी कड़ी में इनेलो बसपा गठबंधन को लेकर अन्य राजनीतिक दलों को काफी दिक्कतें हो रही हैं क्योंकि वे अब समझ चुके हैं कि प्रदेश की कमान अब इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला संभालेंगे और देश के प्रधानमंत्री पद पर दलित की बेटी और बसपा सुप्रीमो मायावती बैठेंगी। उन्होंने गठबंधन की सीटों के बंटवारे के सवाल पर कहा कि  इसके लिए मायावती और इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ही तय करेंगे। इस अवसर पर उनके साथ इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, प्रदीप मेहता एडवोकेट, युवा इनेलो के जिलाध्यक्ष अजब ओला, सहप्रवक्ता महावीर शर्मा, राकेश सिहाग व इनसो के अनेक पदाधिकारी मौजूद थे। 

Thursday, April 26, 2018

 छात्र संघ चुनाव को लेकर सरकार एक सप्ताह में बजट व कलैंडर जारी करे- दिग्विजय चौटाला


भिवानी, 26 अप्रैल : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने छात्र संघ चुनाव को लेकर भाजपा सरकार की मंशा पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार ने 20  फरवरी को जो लिखित रूप में पत्र दिया था उस पत्र में भी अब खोट नजर आ रहा है। यदि सरकार ने एक सप्ताह के भीतर छात्र संघ चुनाव को लेकर सरकार के द्वारा बजट व कलेंडर जारी नहीं किया तो इनसो एक बार फिर से बड़े आंदोलन करने पर विवश हो जाएगी और इस बार सरकार का तख्ता पलट कर ही दम लेगी। वहीं इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने 5 अगस्त के इनसो स्थापना दिवस को कोमन वैल्थ खेलों में पदक विजेता खिलाड़ियों को समर्पित करते हुए उनका सम्मान समारोह करने की बात कही है। दिग्विजय ने कहा कि सम्मान समारोह में इनलो संसदीय दल नेता दुष्यंत चौटाला स्वयं खिलाड़ियों को सम्मानित करेंगे। उन्होंने आज भिवानी के देवीलाल सदन में पत्रकार वार्ता को सम्बोधित कर रहे थे। इनेलो बसपा गठबंधन को पवित्र गठबंधन करार देते हुए दिग्विजय ने स्पष्ट रूप से हिदायत भी दे डाली और कहा कि दलाल बहुत होंगें, पर गठबंधन की टिकटें ओमप्रकाश चौटाला व मायावती ही तय करेंगी। भिवानी को डॉ. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि बताते हुए कहा कि पहले भी यहां से 17 हजार युवाओं को नौकरी दी गई थी और आगे भी युवा व छात्र के हकों को बुलंद किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गठबंधन युवा छात्र, किसान कमेरे व दलित के दम पर बाबा साहेब डा. भीम राव अम्बेडकर व जननायक चौ.देवीलाल के सपनों को साकार करेगा तथा 2019 में देश की प्रधानमंत्री बहन कुमारी मायावती होंगी वहीँ हरियाणा प्रदेश की कमान चौधरी ओम प्रकाश चौटाला के हाथ में होगी। दिग्विजय ने कहा कि इनसो ने लंबे संघर्ष के बाद चुनावों के लिए सरकार को झुकाया था और 20 फरवरी को सरकार ने सभी मांगें मानते हुए चार सप्ताह में छात्र संघ चुनावों के लिए सभी तैयारियां पूरी कर रिपोर्ट जारी करने का वादा किया था। उन्होने कहा कि दो महिने से भी ज्यादा वक्त बित जाने के बाद भी सरकार ने अपने वादे मुताबिक कुछ नहीं किया। मई माह से फिर से इनसो संघर्ष का रास्ता अपना कर आंदोलन शुरु कर देगी। साथ ही उन्होंने कहा कि इनसो वादे के मुताबिक पहले साल चुनाव नहीं लड़ेगी लेकिन अपनी विचारधार वाले उम्मीदवारों का समर्थन करेगी।



दिग्विजय चौटाला ने कहा कि छात्र संघ चुनाव को खुद ओमप्रकाश चौटाला ने हरियाणा के आम चुनावों के लिए सेमिफिनल बताया है। उन्होंने कहा कि इनसो 5 अगस्त को अपना स्थापना दिवस इस बार कॉमनवेल्थ के विजेता खिलाड़ियों के सम्मान में समर्पित करेगी। वहीं जगह-जगह किसानों द्वारा टमाटर की फसल की बिक्री ना होने पर उन्हे फेकने पर दिग्विजय ने कहा कि ये सब नकली सरकार के नकली बीज के कारण हो रहा है। ऐसे में सरकार को जांच करवानी चाहिए और गिरदावरी कर पीङित किसानों को मुआवजा देना चाहिए। नहीं उन्होने गठबंधन की सीटों के बटवारे के सवाल पर कहा कि दलाल बहुत होंगें, लेकिन ओमप्रकाश चौटाला व मायावती ही टिकट तय करेंगी कि किस पार्टी के कार्यकर्ता को कहां से टिकट दी जाए। इसके बाद इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अनाजमण्डी जाकर सरसों और गेंहू की उठान पर भारी निराशा जताते हुए उपस्थित किसानों का समर्थन किया। इस अवसर पर उनके साथ मुख्य रूप से जिला प्रधान सुनील लाम्बा, विधायक राजदीप फोगाट, दादरी जिला प्रधान नरेश द्वारका सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे। 
इनेलो प्रदेश कार्यकारिणी की मीटिंग 2 मई को कुरुक्षेत्र मेंं


चंडीगढ़, 26 अप्रैल: इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि इनेलो प्रदेश कार्यकारिणी की मीटिंग 2 मई को कुरुक्षेत्र में बुलाई गई है। कुरुक्षेत्र में होने वाली इस मीटिंग में सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, जिला व हलका प्रधान और जिला सेल संयोजक भाग लेंगे। इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि मीटिंग में प्रदेश स्तरीय मुद्दों पर चर्चा होगी जिसमें एसवाईएल निर्माण के लिए होने वाले जेल भरो आंदोलन और 2 अप्रैल को हुए भारत बंद के दौरान दलित भाइयों पर दर्ज केसों को सरकार द्वारा वापिस लेने के लिए दबाव की रणनीति पर विस्तृत चर्चा की जाएगी।  
अशोक अरोड़ा ने यह भी कहा कि प्रदेश में धान के सीजन में अभी तक लगभग 2000 हजार एकड़ फसल आग लगने के कारण जल चुकी है जिससे किसानों को करोड़ों का नुकसान हुआ है। इनेलो किसानों के हुए नुकसान की भरपाई के लिए सरकार से बातचीत की रूपरेखा भी तैयार करेगी ताकि किसानों को जायज मुआवजा दिलवाया जा सके।
इनेलो वरिष्ठ नेता ने यह भी कहा कि सतारूढ़ भाजपा सरकार प्रदेश में जहां भ्रष्टाचार की पोषक बनी हुई है। वहीं बच्चों के यौन शोषण के मामलों की भी बढ़ोतरी हुई है जिसके आंकड़ों में महीने दर महीने वृद्धि हो रही है। प्रदेश राज्य स्तरीय बैठक में प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर भी विस्तृत चर्चा की जाएगी।

Wednesday, April 25, 2018

दलित भाइयों का उत्पीड़न बंद करे सरकार- अशोक अरोड़ा 


चंडीगढ़, 25 अप्रैल: 2 अप्रैल, 2018 को ‘भारत बंद’ के संदर्भ में दलित भाइयों के विरुद्ध सरकार द्वारा दायर की गई शिकायतों की इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कड़ी निंदा की है।
इनेलो नेता ने कहा कि उस बंद के दौरान आम तौर पर प्रदेश में शांति बनी थी जिसका श्रेय बंद के आयोजकों को दिया जाना चाहिए। वहीं उस बंद के दौरान सरकार का यह दायित्व था कि असामाजिक तत्व उसका लाभ उठाते हुए किसी प्रकार की हिंसा न करें। किन्तु जाहिर है कि अपने इस दायित्व को निभाने में सरकार पूरी तरह से असफल रही है और अपनी खिसियाहट मिटाने के लिए वह सारा दोष दलित भाइयों पर मढ़ रही है। हिंसा को लेकर शिकायतों का यही उद्देश्य है जो निंदनीय है।
अशोक अरोड़ा ने यह भी कहा कि वह सरकार से आग्रह करते हैं कि वह अपने हठधर्मिता को त्याग दे और दलित भाइयों के उत्पीड़न को बंद करते हुए उनके विरुद्ध दायर की गई सभी शिकायतों को तुरंत प्रभाव से वापिस ले लें। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा के शासनकाल के दौरान दलित समाज विशेष रूप से उत्पीड़ित हुआ है और विशेषकर दलित महिलाएं अन्य अपराधों के अतिरिक्त यौन शोषण का भी शिकार हुई हैं। सरकार को चाहिए कि वह अपना पूरा ध्यान राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखते हुए राज्य के सभी नागरिकों के लिए सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए विशेष रूप से दलितों एवं कमजोर वर्गों का ध्यान रखे।
छात्र संघ चुनावों में परचम लहरायेगी इनसो- दिग्विजय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़: इनसो के राष्ट्र्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने आज छात्रसंघ चुनाव बहाल होने पर प्रदेश में धन्यवादी दौरे के तहत रेवाड़ी के गांव लिसाना के पॉलिटेक्निकल कॉलेज के पास पार्क में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 22 वर्षों  के बाद इनसो का कड़ा संघर्ष रंग लाया और सरकार को मजबूर होकर छात्र संघ चुनाव बहाल करने पड़े। इसके लिए रेवाड़ी की इनसो टीम बधाई की पात्र है। बीजेपी सरकार नहीं चाहती थी कि हरियाणा में छात्रसंघ चुनाव हों क्योंकि उसको अपनी हार निश्चित लग रही थी। अब जब भी छात्र संघ चुनाव होंगे उसमें इनसो छात्र इकाई पूरे हरियाणा में अपना परचम लहराएगा और एबीवीपी और एनएसयूआई का पूरी तरह से सफाया कर दिया जाएगा!     
दिग्विजय चौटाला ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंद्रह पंद्रह लाख रुपए का हर व्यक्ति के खाते में डलवाने की बात कहकर जनता की वोट बटोरने का काम किया। वही बेरोजगारों को देश मे हर साल दो करोड़ रोजगार व हरियाणा प्रदेश में हर साल 3 लाख युवाओं को रोजगार देने के नाम पर बीजेपी सत्ता में तो आ गई लेकिन न तो देश में दो करोड़ रोजगार दिए गए और न ही प्रदेश में युवाओं को रोजगार दिया गया। यही नहीं बेरोजगार युवाओं को 9,000 बेरोजगारी भत्ता देने के नाम पर भी उनके साथ छल किया गया।



इनसो नेता ने कहा कि महिलाओं व बच्चियों के साथ हो रहे बलात्कार से प्रदेश में भय का माहौल बना हुआ है। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस आज कई धड़ो में बट चुकी है और उसके नेता एक-दूसरे से ऊपर आने की होड़ में लगे हुए हैं, उनको जनता की परेशानियों से कोई लेना देना नहीं। जनता कि हितों की आवाज को उठाने वाला केवलमात्र इनेलो-बसपा गठबंधन है जो दलितों, पिछड़ों व मजदूर-कमेरे वर्ग के हितों के लिये संघर्षरत रहेगा। उन्होंने कहा जननायक ताऊ देवीलाल ने सदैव बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के पदचिह्नों पर चलते हुए हमेशा ही दलितों, पिछड़ों व कमेरे वर्ग के हितों के लिए संघर्ष किया और इस गठबंधन की चर्चा पूरे देश में हो रही और पूरे देश में ओर भी राजनीतिक दल इस गठबंधन में शामिल होंगे और बहन मायावती महागठबंधन के तहत देश की प्रधानमंत्री बनेगी व चौधरी ओम प्रकाश चौटाला हरियाणा के मुख्यमंत्री की कमान संभालेंगे। कार्यक्रम का आयोजन इनसो के प्रदेश संयुक्त सचिव ज्योति सांगवान ने किया।
एसवाईएल के लिए इनेलो जेल भरो आन्दोलन करेगी - अशोक अरोड़ा 


चंडीगढ़: एसवाईएल नहर के निर्माण को लेकर इनेलो ने जेल भरो आंदोलन की रूपरेखा तैयार कर ली है। इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि इनेलो के पास अब संघर्ष के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचा। सरकारों को पत्र लिखे गए, प्रधानमंत्री और प्रदेश के मुख्यमंत्री से मिलने के लिए समय मांगा गया। इसके बाद भी भाजपा सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंगी। एसवाईएल का पानी हरियाणा का अधिकार है और इस अधिकार के लिए इनेलो पहली मई से ‘जेल भरो आंदोलन’ की शुरुआत करेगी। इस आंदोलन में सहयोग के लिए नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने निजी तौर पर सभी सरपंचों, पंचों, व्यापारी संगठनों और किसान संगठनों को पत्र लिखकर सहयोग की अपील भी की है।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि इस संघर्ष की शुरुआत भिवानी से की जाएगी। इसके अलावा आठ अन्य जिलों में क्रमवार राज्यस्तरीय गिरफ्तारियां दी जाएंगी। इस क्रम में 4 मई को यमुनानगर, 8 मई को नूंह, 11 मई को सिरसा, 15 मई को  नारनौल, 18 मई को कुरुक्षेत्र, 22 मई को फतेहाबाद व 25 मई को पलवल और कैथल में 29 मई को डीसी कार्यालय का घेराव करेगी और गिरफ्तारियां देगी। उन्होंने कहा कि इनेलो एसवाईएल के निर्माण और प्रदेश के हक के पानी को प्रदेश की जनता तक पहुंचाने के लिए वचनबद्ध है और वह इसके लिए कोई भी कीमत चुकाने से नहीं डरते। अशोक अरोड़ा ने सरकार को घेरते हुए कहा कि इनेलो ने 7 मार्च की ‘किसान अधिकार रैली’ में जेल भरो आंदोलन की घोषणा की थी। सरकार ने इसके बाद भी इस मामले पर कोई संज्ञान नहीं लिया और न ही नहर निर्माण की बहाली के लिए कोईकदम उठाए हैं। मुख्य विपक्षी दल होने के नाते यह इनेलो की जिम्मेवारी है कि वह गूंगी-बहरी सरकार को प्रदेश की जनता की आवाज सुनाएँ ताकि जनता का दुख दर्द सत्तारूढ़ भाजपा मुख्यमंत्री के कानों तक पहुंचे। उन्होंने यह भी कहा कि इनेलो इस आंदोलन को शांतिपूर्वक ढंग से गिरफ्तारियां देगी और यह संघर्ष अधूरे पड़े नहर निर्माण का कार्य शुरू होने तक जारी रहेगा। लेकिन अगर इस आंदोलन के दौरान कोई भी अप्रिय घटना होती है या प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ती है तो इसके लिए प्रत्यक्ष तौर पर सरकार जिम्मेवार होगी।
इनेलो-बसपा गठबंधन है कमेरे वर्ग का गठबंधन- अशोक अरोड़ा



कुरुक्षेत्र: इनेलो और बसपा गठबंधन की पंजाबी धर्मशाला में आयोजित पहली जिला स्तरीय बैठक में दोनों दलों के नेताओं ने इस गठबंधन को जनता की आवाज बताते हुए एक सामाजिक गठबंधन बताया। बैठक में दोनों दलों के कार्यकर्ता काफी उत्साहित दिखे। इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने इस बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि यह कमेरे वर्ग का गठबंधन है और कमेरे वर्ग की कोई जाति नहीं होती। उन्होंने कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला और मायावती ने यह गठबंधन करके जनता की आवाज को अमलीजामा पहनाया है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे गठबंधन धर्म को निभाते हुए मिल-जुलकर काम करें। 
अरोड़ा ने कहा कि यह गठबंधन देश की 95 प्रतिशत जनता का गठबंधन है। गठबंधन से केवल पांच-सात प्रतिशत पूंजीपतियों को तकलीफ है जो देश की संपत्ति पर कब्जा किए हुए बैठे हैं। उन्होंने कहा कि सभी 90 विधानसभा सीटों पर ओम प्रकाश चौटाला और मायावती चुनाव लड़ेंगे। प्रत्याशी तो केवल सिंबोलिक होंगे। अरोड़ा ने कांग्रेस और भाजपा पर मिलीभगत से चुनाव लड़ने का आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले चुनाव में जहां क्षेत्रीय दल मजबूत नहीं थे वहां कांग्रेस और भाजपा के समर्थकों ने एक दूसरे को वोट डाले। उन्होंने दोनों दलों के कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे गठबंधन को मजबूत करने में जुट जाएं।
सांसद रामकुमार कश्यप ने अपने संबोधन में कहा कि दोनों दलों के कार्यकर्ता इस गठबंधन से खुश है। गठबंधन जिसे भी चुनाव मैदान में उतारे कार्यकर्ता उसे विजयी बनाने के लिए जुट जाएं। बसपा के प्रदेश प्रभारी डाॅ बलदेव, रोहताश रंगा, जिला प्रधान मानसिंह, शशि सैनी ने संबोधित करते हुए कहा कि यह गठबंधन केवल राजनीतिक नहीं एक सामाजिक गठबंधन है। प्रदेश के दोनों दलों के कार्यकर्ताओं की मांग थी कि यह गठबंधन होना चाहिए। किसान और मजदूर के इस गठबंधन से पूंजीपति परेशान हैं। भाजपा और कांग्रेस दोनों ने आज तक दलित वर्ग का शोषण किया और दोनों दल झूठ बोलते हैं। बसपा नेताओं ने उम्मीद जताई कि यह गठबंधन लोकसभा की चंडीगढ़ सहित सभी 11 सीटों पर और हरियाणा विधानसभा की सभी 90 सीटों पर विजय प्राप्त करेगा। बैठक को बसपा के जिला प्रधान मानसिंह, जोगीराम घराड़सी, नसीब सिंह, हरफूल सिंह ढांडा, सुनीता पांचाल, शशि सैनी, हरकेश कुमार, अमर सिंह रंगा, अजय कुमार, सुनील सभ्रवाल, सूरजभान नरवाल, नराता राम, डाॅ. जगराम, रणधीर सिंह, बलबीर सिंह, इनेलो के जिला प्रधान कुलदीप मुल्तानी, रामकरण काला, योगेश शर्मा, नलिन गोयल, नितिन गोयल, सतबीर शर्मा, नितिन भारद्वाज लाली, संदीप टेका, सुल्तान ब्राह्मण माजरा, सरपंच संदीप बाल्मीकि, चंद्रभान बाल्मीकि, कर्ण सिंह ईश्हाक, नक्षत्र, डाॅ बाबूराम गुप्ता, कलावती सैन, हिमांशु अरोड़ा, सुरेंद्र सैनी, मोहित सैनी, दीपक फौजी, अमनदीप कांबोज, पवन शर्मा पहलवान सहित अनेक इनेलो नेताओं ने संबोधित करते हुए गठबंधन को और अधिक बनाने पर बल दिया। 
दिग्विजय सिंह चौटाला की 27 अप्रैल को ऐलनाबाद में बैठक


सिरसा: छात्र संघ के चुनावों पर राज्य सरकार को झुकाने के लिए बाध्य करने पर छात्र संगठन इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला 27 अप्रेल को सुबह 10 बजे ऐलनाबाद की अग्रवाल धर्मशाला में इनसो पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का आभार प्रकट करने के लिए विशाल बैठक को संबोधित करेंगे। 
इस बैठक की सफलता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से मंगलवार को युवा इनेलो, छात्र संगठन इनसो व बसपा के युंवा टीम के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने संयुक्त रूप से बैठक की। युवा इनेलो के जिलाध्यक्ष अजब ओला की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में मुख्य रूप से इनसो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संदीप नैन शामिल हुए। उनके अलावा बसपा के जिलाध्यक्ष रविंद्र बाल्याण व प्रो. विनोद कुमार भी बैठक में विशिष्ट रूप से मौजूद थे। इस अवसर पर इनसो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संदीप नैन ने कहा कि इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला के मार्गदर्शन में पूरे छात्र संगठन ने जिस प्रकार छात्र संघ के चुनाव कराने के लिए संघर्ष किया वह काबिलेतारीफ है। इस एकजुट संघर्ष से ही सफलता मिली है और राज्य सरकार छात्र हित से जुड़े छात्र संघ के चुनाव कराने के लिए बाध्य हुई है। उन्होंने कहा कि छात्र संगठन इनसो छात्र हितों के लिए पूरी तरह समर्पित संगठन है और वह सदैव उनके हितों को प्राथमिकता देते हुए संघर्षरत रहेंगे। युवा इनेलो के जिलाध्यक्ष अजब ओला ने कहा कि भाजपा कुशासन को जड़ से उखाडऩे का अब समय अब निकट आ गया है और सभी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को समर्पित भाव से घर-घर जाकर इनेलो बसपा गठबंधन की कल्याणकारी नीतियों के बारे में जागृति फैलानी होगी और भाजपा के कुशासन की गाथा बतानी होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आगामी सरकार गठबंधन की होगी और हरियाणा को सही तरीके से विकास की डगर पर चलाया जाएगा। मजदूर और किसान के हितों में फैसले लेकर उन्हें अमलीजामा पहनाया जाएगा। बसपा के जिलाध्यक्ष रविंद्र बाल्याण ने कहा कि इनेलो बसपा का गठबंधन दो दलों का नहीं दो दिलों का गठबंधन है। बसपा की युवा इकाई भी अपनी पूरी ताकत और ऊर्जा से प्रदेश से भाजपा को उखाड़ फैंकने के लिए कृतसंकल्प रहेगी। इस दिशा में जो भी दोनों दलों के नेताओं के आदेश मिलेंगे, उसे पूरी तरह से अमल में लाया जाएगा। इस अवसर पर कुलदीप करीवाला, जगजीत रानियां, कर्मवीर सिंह ओढ़ां, नरेश सहारण, भगवान कोटली, अंजनी लढ़ा, विजय कुमार कालांवाली, अमनदीप गिल, राजीव जाखड़, अशोक मोंगा व सौरभ शर्मा आदि अनेक पदाधिकारी मौजूद थे। 
प्रदेश में भाईचारा बहाल करने का लिया संकल्प, गले मिले इनेलो-बसपा कार्यकर्ता 


फतेहाबाद: इनेलो और बसपा ने गठबंधन के बाद जारी कार्यकर्ता मिलन समारोहों की कड़ी में सोमवार को स्थानीय जाट धर्मशाला में जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया। इस कार्यक्रम के जरीये दोनों दलों के बड़े नेताओं, पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे को गले मिलकर गठबंधन की बधाई दी और आगामी लोकसभा व विधानसभा चुनावों में एकजुटता के साथ एकतरफा जीत दर्ज करने का संकल्प भी लिया। कार्यकर्त्ता सम्मेलन को इनेलो किसान प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह, बसपा प्रदेश उपाध्यक्ष नरेन्द्र प्रजापति, सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी, विधायक बलवान दौलतपुरिया, रविन्द्र बलियाला, बसपा प्रदेश महासचिव कृष्ण जमालपुर, पूर्व विधायक रणसिंह बैनीवाल, इनेलो राष्ट्रीय सचिव युद्धवीर आर्य, बसपा जिला प्रभारी डॉ मीरा नंदा, मांगेराम कश्यप, इनेलो जिलाध्यक्ष बलविन्द्र कैरों, बसपा जिलाध्यक्ष एडवोकेट पीएस फानर, इनेलो वरिष्ठ नेता कुलजीत कुलडिया, मोलूराम रूहलानियां, महिला नेत्री विद्या रत्ति आदि ने मुख्य रूप से संबोधित किया।
दोनों दलों के नेताओं ने दावा किया है कि अगले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में कमेरा और किसान मिलकर लुटेरों को सत्ता से बेदखल करेंगे। इसके लिए दोनों दलों के नेता और कार्यकर्ता मिलकर जनता के बीच जाएंगे और सरकार की जनविरोधी नीतियों से अवगत करवाने का अभियान चलाएंगे। वक्ताओं ने इनेलो-बसपा गठबंधन को हरियाणा प्रदेश की राजनीतिक बदलाव की अहम कड़ी बताते हुए दावा किया कि गठबंधन आगामी चुनावों में बड़ी जीत दर्ज करके हरियाणा प्रदेश को विकास की पटरी पर लाने का काम करेगा और देश में बसपा प्रमुख मायावती के नेतृत्व में तीसरे मोर्चे को मजबूत करके मोर्चे की सरकार बनाएगा। इनेलो नेताओं ने कहा कि इनेलो और बसपा के बीच हुए गठबंधन से भाजपा-कांग्रेस की नींद उड़ गई है। अब इस गठबंधन का उदेश्य बहन मायावती और इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला की राजनीतिक सोच पर काम करते हुए किसान और कमेरे वर्ग का भला करना है। इसीलिए दोनों पार्टियां बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर के विचारों को आत्मसात करके प्रदेश की राजनीति को नई दिशा देंगे। इनेलो नेताओं ने कार्यकर्त्ताओं के उत्साह से गदगद होते हुए कहा कि यह गठबंधन देश-प्रदेश में अच्छे दिनों का सब्जबाग दिखाकर जनता को ठगने वालों से आमजन को इंसाफ दिलाने की नींव है और आगामी चुनावों में इसके अच्छे परिणाम देश-प्रदेश हित में मिलेंगे। बसपा नेताओं ने कहा कि आज हालात बद् से बद्तर हो चुके है। महिलाएं घरों में भी सुरक्षित नहीं रही। व्यापारी मंदी की मार झेल रहा और बदमाशों के कारनामों से दहशत में हैं। कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर सरकार को कोस रहा है। किसान को भाजपा सरकार ने बर्बाद कर दिया है। बसपा प्रमुख मायावती व इनेलो सुप्रीमो औमप्रकाश चौटाला के मार्गदर्शन में अब इनेलो और बसपा मिलकर देश व प्रदेश की जनता को सुशासन प्रदान करेंगे। बसपा नेताओं ने कहा कि भाजपा ने हर वर्ग के साथ जो धोखा किया है उसका बदला जनता की ओर से बसपा इनेलो का गठबंधन लेगा। इस अवसर पर बसपा जिला प्रभारी बलवान सिंह भनखड़, उपाध्यक्ष शकुंतला महमी, जिला महासचिव ईश्वर बागड़ी, इनेलो वरिष्ठ नेत्री सत्या विद्यार्थी, सुमनलता सिवाच, इनेलो हलकाध्यक्ष भरत सिंह परिहार, शहरी प्रधान पवन चुघ, पूर्ण नारंग, बिकर सिंह हड़ोली, हरि सिंह मेहरिया, हरबंस खन्ना, राकेश सिहाग, बलदेव चौधरी, नितिन खिलेरी, खैराती लाल छौक्करा, अनिल नहला, बसपा जिला कोषाध्यक्ष शमशेर भुक्कल, जितेन्द्र एडवोकेट, अमरजीत कौर, बनवारी लाल खोबड़ा, कारु अजमेर सिंह, रमेश लाली, सुभाष गुर्ज्जर, यश तनेजा, सतेन्द्र श्योराण, राजेश ठाकुर सहित इनेलो-बसपा के अनेक कार्यकर्त्ता व पदाधिकारी उपस्थित रहे।
सरकारी खरीद एजेंसी द्वारा गेहूँ की पेमेंट ना मिलने से व्यापारी व किसान परेशान- भगवान दास 


नरवाना: इंडियन नेशनल लोकदल के व्यापार सेल के प्रदेश उपाध्यक्ष भगवान दास ने आज नरवाना की अनाज मण्डी का दौरा किया व किसानों तथा व्यापारियों का हाल जाना। किसानों ने बताया कि हमने अपना खून पशीना एक करके जो गेहूँ की फसल उगाई थी उसे सरकार को बेचे हुए आज दस से बारह दिन हो चुके हैं लेकिन आज तक एक भी पैसा सरकार की तरफ से नहीं आया है। जब इस बारे आढतियो से बातचीत की ग ई तो उन्होंने बताया कि नरवाना मण्डी में दो एजेंसी गेहूँ की खरीद कर रही हैं यह खरीद दस अप्रैल से शुरू हुई थी। जिसमें फूड एण्ड सप्लाई ने तकरीबन पांच लाख बैग तथा हैफड ने 8.53 लाख बैग की खरीद की है। तथा फूड एंड सप्लाई की तरफ करीब 41 करोड रूपये तथा हैफेड की तरफ 50 करोड़ रुपये की पेमेंट बकाया है। जिस वजह से किसान का पैसा देने में परेशानी हो रही है। भगवान दास ने कहा कि ये सरकार की गलत नीतियों कि वजह से हो रहा है क्योंकि ये सरकार नहीं चाहती कि किसान खुशहाल हो आज जब फसल अच्छी है तो किसान को पैसा नहीं मिल रहा जब तक पैसा नहीं मिलेगा किसान अगली फसल की तैयारी कैसे करेगा।उन्होने कहा कि यह सरकार जुमला सरकार बन कर रह गई है । सरकार के नुमांइदे अपना उल्लू सीधा करने में लगे हुए हैं। इन्हें जनता से कुछ नहीं लेना
इनका तो यही कहना है- "भाड़ में जाये जनता,जब अपना काम है चलता"
भगवान दास ने कहा कि जब चौ. औम प्रकाश चौटाला जी मुख्यमंत्री थे तब 72 घण्टे में किसान को उसकी फसल का पैसा मिल जाता था। उन्होंने कहा कि सरकार या तो एक सप्ताह के अन्दर किसान के पैसे की अदायगी करदे नहीं तो इण्डियन नेशनल लोकदल धरना व प्रदर्शन करने पर मजबूर होगी। इस मौके पर उनके साथ चौ. छोटू राम बेलरखा, कृष्ण चहल, राजबीर सहारण,नरेन्द्र चहल, बलवान नैन धमतान, राममेहर जांगडा, रमेश मौण, बालकिशन शर्मा, हिम्मत सिंह, तरसेम बंसल, राजेन्द्र गर्ग, कृष्ण गोयल, पंकज सिंगला व पूर्व प्रैस प्रवक्ता नन्दलाल शर्मा आदि मौजूद थे।


मुख्यमंत्री के निजी स्टाफ का वेतन वृद्धि सरकारी पैसे का दुरूपयोग- अभय सिंह चौटाला 


सरकार द्वारा मुख्यमंत्री के निजी स्टाफ के वेतन वृद्धि की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए नेता विपक्ष श्री अभय सिंह चौटाला ने कहा कि यह सरकारी पैसे का दुरुपयोग है। जब प्रदेश कर्ज के बोझ में दबा पड़ा है ऐसे समय में अपने चहेतों में जनता की खून पसीने की कमाई की बंदरबांट अशोभनीय है। उन्होंने कहा कि  प्रदेश की जनता से माफी मांगते हुए मुख्यमंत्री को नैतिकता के आधार पर यह फैसला तुरंत प्रभाव से वापिस लेना चाहिए।
अभय सिंह चौटाला ने कहा कि जिन लोगों का वेतन बढ़ाया गया है उनकी नियुक्तियों का कोई आधार नहीं है। सरकार ने इन्हें पिक एंड चूज़ की पॉलिसी के तहत नियुक्त किया है। इनकी नियुक्तियां किसी भी संवैधानिक प्रक्रिया से नहीं हुई हैं और न इन नियुक्तियों का आधार योग्यता है तो वेतन वृद्धि का फैसला सरासर गलत है। यह केवल मुख्यमंत्री के खास लोगों को आर्थिक लाभ देने का मामला है। नेता विपक्ष ने आगे यह भी कहा कि भाजपा सरकार की जयंतियों, महोत्सवों और समागमों पर की गई फिजूलखर्ची की वजह से ही प्रदेश कर्जदार हुआ है। आज प्रदेश पर लगभग 1 लाख 62 हज़ार करोड़ का कर्ज है जिसमे 90226 करोड़ केवल साढ़े तीन साल के भाजपा राज में लिया गया है। उन्होंने कहा कि जब प्रदेश में विकास कार्य ठप पड़े हैं तो सरकार ने इतना कर्ज क्यों लिया और वो पैसा कहां खर्च हुआ यह जांच का विषय है। सरकार को इस मामले पर श्वेत पत्र पेश करना चाहिए।
नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि भाजपा राज में युवा बेरोजगार है, अनुबंधित आधार पर काम कर रहे कर्मचारी वेतन वृद्धि की मांगों को लेकर सड़कों पर है और किसान को सरकार की गलत नीतियों के चलते फसलों के पूरे दाम नहीं मिल रहे हैं। ऐसे हालात में करदाताओं के पैसे का इतने बड़े पैमाने पर दुरुपयोग और फिजूलखर्ची निंदनीय है।

Saturday, April 21, 2018

खेल की भावना से बढ़ता है भाईचारा- पदम सिंह दहिया 


सोनीपत, 21 अप्रैल : इण्डियन नैशनल लोकदल पार्टी के जिलाध्यक्ष रोहट हल्का से पूर्व विधायक पदम सिंह दहिया ने साउथ प्वाईंट स्कूल में नैशनल स्कूल स्पोर्टस रैकिंग रोलर स्केटिंग चैम्पियनशीप का उद्घाटन किया। इनैलो के युवा जिलाध्यक्ष कुणाल गहलावत, प्रोफेसर बंसीलाल कुण्डू, फुलकुवार चौहान, विकास मलिक, आशीष सुहाग, सोनू कुण्डू, मोंटी मंडल ने विशिष्ठ अतिथि के रूप में शिरकित की। चैम्पियनशीप में देश के विभिन्न 16 राज्यों से 300 खिलाडिय़ो ने भाग लिया। इस मौके पर दहिया ने कहा खेल की भावना से आपसी भाईचारा बढ़ता है। ईमानदारी से मेहनत करने से हम पढ़ाई के साथ-साथ खेल में भी अपना कैरियर बना सकते हैं। दहिया ने कहा आज इनेलो पार्टी ने जो खेल नीति बनाई थी उसके कारण हरियाणा के खिलाड़ी विश्व में प्रदेश का सम्मान बड़ा रहे है। दहिया ने कहा 2019 में इनेलो की सरकार बनते ही खिलाड़ियों के लिए खजाने के मुहं खोल दिए जाएगें। 
इस मौके पर स्कूल के चैयरमेन दिलबाग सिंह खत्री, सीईओ भावना कालरा, प्रिंसिपल विजय छाबड़ा, योगेश शर्मा, आकाश, योगेन्द्र खत्री, सुनील भठ, कोच मनीष नैन खिलाड़ियों का हौंसला बढ़ाया।  
भाजपा ने जातीय भेदभाव का जहर घोल समाज को बांटा- गोपीचंद गहलोत


गुड़गांव 21 अप्रैल: इंडियन नैशनल लोकदल व बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं की साझाा बैठक आज गुड़गांव के सैक्टर 12 स्थित इनेलो जिला कार्यालय पर आयोजित की गई। बैठक में इनेलो व बसपा के सभी वरिष्ठ नेताओं सहित पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे। प्रदेश में इनेलो व बसपा के गठबंधन के बाद जिला गुड़गांव में प्रथम बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में बसपा पदाधिकारियों का पंहुचने पर इनेलो नेताओं व कार्यकर्ताओं द्वारा फूल माला पहनाकर उनका जोरदार स्वागत किया तथा गठबंधन को ओर अधिक मजबूत बनाने पर जोर दिया। इस अवसर पर इनेलो के वरिष्ठ नेता व पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत ने आये हुए कार्यकर्ता व पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब से हरियाणा में इनेलो-बसपा गठबंधन हुआ है,,तब से सत्तासीन भाजपा व अन्य विरोधी दलों के नेताओं की बेचौनी चरम पर है। आलम यह है कि भाईचारा तोड राजनीतिक हित साधने की इच्छा रखने वाली इन पार्टियों के नेता अब अभय-माया रूपी भाई-बहन के मजबूत गठबंधन पर अनाप-शनाप बयानबाजी करने लगे हैं, जो स्पष्ट करता है कि ये दल किसी भी सूरत में प्रदेश को जात-पात के जहर से निजात नहीं दिलाना चाहते। श्री गहलोत ने कहा कि हरियाणा 14 बरस से गरीबी, बेरोजगारी, किसानो की दुर्दशा, कमेरा-मजदूर वर्ग का शोषण व जातीय हिंसा जैसे अनगिनत मुद्दों की वजह से अराजकता व अशांति के दौर से गुजर रहा है। प्रदेश को अराजकता व अशांति भरे माहौल से निजात दिलाने में इनेलो बसपा गठबंधन संजीवनी बूटी जैसा काम करेगा। भाजपा ने वोट बैंक की राजनीति करते हुए तीन बार प्रदेश को आग के हवाले किया। कमजोर वर्ग के लोगों को एससी व एसटी एक्ट के नाम पर लड़ाई में खड़ा कर दिया। 



भाजपा व कांग्रेस की एक ही मंशा है कि किस प्रकार देश व प्रदेश के कमेरा वर्ग का कमजोर किया जा सके। कांग्रेस की तरह भाजपा राज में भी लुटेरे हावी हो रहे हैं। उन्होने कहा कि लुटेरों से छुटकारा पाने के लिए कमेरे वर्ग के लोगों को अब एकजुट होना होगा। लोगों को आपस में बांटने के लिए सरकार लगातार षडयंत्र रच रही है ताकि आम जन का ध्यान गंभीर मुद्दों से हटे और भाजपा आगामी चुनाव मे अपना राजनीतिक स्वार्थ  पूरा कर सके। वहीं आज की बैठक की अध्यक्षता कर रहे बसपा के प्रदेश प्रभारी नेतराम एडवोकेट ने कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन भाजपा व अन्य दलों के एसे घिनौने मंसूबों पर पानी फेरने की सार्थक पहल है और इसका हर उस व्यक्ति को समर्थन करना चाहिए जो प्रदेश व समाज का भला चाहता है। उन्होंने दावा किया कि गठबंधन जननायक ताऊ देवीलाल व दलितों की आवाज बुलंद करने वाले स्व काशीराम के आर्दशों पर चलते हुए हरियाणा को अमन-चैन व भाईचारा कायम करने वाली सरकार देगा। इस अवसर पर इनेलो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनन्तराम तंवर, प्रताप सिंह कदम प्रभारी लोकसभा, किशोर यादव जिलाध्यक्ष, गंगाराम पूर्व विधायक, धर्मपाल राठी पहलवान, महेन्द्र सिंह जाजरिया, रमेश गोठवाल, सुशील कुमार, महेन्द्र सैन, रविन्द्र तंवर, रमेश दहिया, महेन्द्र सिंह लहकारा, शैलेश खटाणा चेयरमैन, रिषीराज राणा, जितेन्द्र सैनी, योगेश शर्मा, राधेश्याम, डॉ. तेजपाल, सतेन्द्र भगत, सन्तलाल जोतरीवाल, कांसीराम सरपंच, धन प्रकाश, रामे प्रधान, मोहन दास, विरेन्द्र राज यादव पार्षद, नरेश चौहान, महेश पूर्व पार्षद, शशी धारीवाल, रमेश कुमार, राजेन्द्र धनखड़, अटलबीर कटारिया, मनोज बन्धवाड़ी, रामबीर सिंह, अतर सिंह रूहिल, मुकेश खरेश, सुखबीर तवंर, अशोक जांगड़ा, कीर्ति प्रसाद, कृष्ण गाड़ौली, सुरेन्द्र ठाकराण, मनोज तंवर, ईश्वर सिंह, सतीश राघव, राकेश बिलासपुर, मांगेराम चौहान, कोकी ठाकराण, धूपसिंह फूले, अशोक सरपंच, रोशन लाल, मूलचन्द नम्बरदार, बिशम्बर दयाल, चेतराम, रामबीर, राजकुमार सहरावत, पपली सरपंच, साहब सिंह सोलंकी, दीपक गौड़, सुरेन्द्र तंवर, गौरधन सिंह, शकील अहमद, नरेश घनघस, बेगराज गुर्जर एडवोकेट, विजय डागर, सतबीर तंवर एडवोकेट, कमल एडवोकेट, विरेन्द्र यादव, भूपेन्द्र सुखराली, कपिल त्यागी, बबीता करहाना, ममता सचदेवा, राजेश डागर, गौरव छौक्कर, तेजू राव, जितेन्द्र पंवार, विक्की कटारिया, विक्रम छौक्कर, रविन्द्र सिंगरोहा, पवन पंडित, विकास किराड़ सहित सैंकड़ों इंडियन नैशनल लोकदल व बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ता व पदाधिकारी उपस्थित थे।
सिरसा में इनलो, बसपा पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की हुई संयुक्त बैठक 



सिरसा: इनेलो और बसपा के राजनीतिक गठबंधन के बाद से जिला सिरसा में शनिवार को दोनों राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की एक संयुक्त बैठक डबवाली रोड स्थित इनेलो कार्यालय में हुई जिसकी अध्यक्षता दोनों राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों ने की। कार्यक्रम के आरंभ में दोनों राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का एक दूसरे से परिचय हुआ और दोनों दलों के नेताओं ने इस बात का दावा किया कि प्रदेश में अगली सरकार इनेलो बसपा गठबंधन की बनेगी क्योंकि आज प्रदेशवासी राजनीतिक, सामाजिक व आर्थिक तौर पर भाजपा शासन की गलत नीतियों का शिकार हो चुके हैं। बसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेंद्र प्रजापति ने कहा कि प्रदेश की जनता भाजपा शासन से इस कदर तंग आ चुकी है कि वह जल्द से जल्द इससे छुटकारा चाहती है। उन्होंने कहा कि इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल की भूमिका निभाते हुए विपक्षी दलों को एक मंच पर एकत्रित किया है। सिरसा के सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी ने कहा कि प्रदेश की जनता इनेलो बसपा गठबंधन की सरकार को सत्तासीन होने देखना चाहती है। उन्होंने कहा कि देश में बनने वाले तीसने मोर्चे की अध्यक्ष बसपा सुप्रीमो मायावती होंगी और वे भविष्य में देश की प्रधानमंत्री भी होंगी। पूर्व मंत्री भागीराम ने कहा कि इनेलो और बसपा का गठबंधन प्रदेश के 85 फीसदी लोगों का गठबंधन है जिसे सत्ता से हमेशा वंचित रखा गया। उन्होंने दोनों दलों के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे पूरी ताकत और ऊर्जा के साथ गठबंधन की कल्याणकारी नीतियों का जन-जन में प्रचार करें और संगठन को मजबूत बनाएं। उन्होंने कहा कि डॉ. भीमराव अंबेडकर व चौधरी देवीलाल ने देश के किसानों और कमेरे वर्ग के कल्याण के लिए जीवनभर संघर्ष किया और उनके कल्याण के लिए ही अनेक योजनाएं बनाकर उन्हें अमलीजामा पहनाया। भागीराम ने कहा कि भाजपा आज देश में लोगों को जाति और धर्म के नाम पर एक दूसरे को लड़वा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा आज सबका साथ सबका विकास के अपने नारे से भटक गई है। रानियां के विधायक रामचंद्र कंबोज ने कहा कि दोनों दलों का गठबंधन एक मजबूत व पवित्र गठबंधन है जो आगामी समय में प्रदेश और प्रदेशवासियों के लिए खुशहाली लेकर आएगा। उन्होंने कहा कि इस गठबंधन से सत्तापक्ष व कांग्रेस में भारी घबराहट है। बसपा के राज्य महासचिव कृष्ण जमालपुर ने कहा कि लोकतंत्र को बचाने के लिए दोनों दलों के नेताओं ने सही समय पर सही फैसला लिया है। आज प्रदेश में भाजपा असहिष्णुता, अराजकता व धर्म के नाम पर दंगे फैलाकर प्रदेश को बांटने की साजिश कर रही है। 
इस बैठक में सिरसा के विधायक मक्खनलाल सिंगला, जसवीर सिंह जस्सा, डॉ. सीताराम, वीरभान मेहता, प्रदीप मेहता, डॉ. हरिसिंह भारी, अजब ओला, कृष्णा फौगाट, महावीर शर्मा, अशोक वर्मा, कश्मीर सिंह करीवाला, मीनुद्दीन पहलवान, धर्मवीर नैन, केएल लूथरा, विनोद दड़बी, अशोक बामनिया, सुरेश कुक्कू, लक्की चौधरी, नरेश कुसुंबी, डॉ. वीके नाहर, रामसिंह सैनी, गोपी सैनी, धर्मपाल कायत, बसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेंद्र प्रजापति, प्रदेश महासचिव कृष्ण जमालपुर, जोन प्रभारी सुरेंद्र पंघाल, गुरदीप सिंह कंबोज, दयाराम चौटाला व जिला प्रभारी भूषण बरोड़ सहित अनेक पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

Friday, April 20, 2018

दलित, पिछड़ों , किसान व कमरे का रक्षा कवच बनेगा गठबंधन - राजेंद्र लितानी


हिसार, 20 अप्रैल :  आज जिस प्रकार से मौजूदा भाजपा सरकार में दलितों और पिछड़ों को पग पग पर अपमानित कर रही है और किसान व कमेरे के सामने रोटी के लाले पड़े हुए है, उसी को देखते हुए इनेलो व बसपा के शीर्ष नेतृत्व ने प्रदेश की जनता के हित मे गठबंधन किया है। यह गठबंधन आने वाले समय मे प्रदेश ही नही, बल्कि देश मे एक नया इतिहास रचेगा और जनता को भाजपा के कुशासन से मुक्ति दिलाएगा। यह बात इनेलो व बसपा के जिला प्रतिनिधीयों ने देवी लाल सदन में शुक्रवार को एक सयुंक्त प्रेस वार्ता में कही।
इस से पूर्व दोनो दलों के कार्यकर्ताओं की एक मीटिंग देवीलाल सदन में हुई, जिसे इनेलो जिलाध्यक्ष राजेन्द्र लितानी, विधायक रणवीर गंगवा, वेद नारंग, बसपा के प्रदेश महासचिव कृष्ण जमालपुर ने संबोधित किया और कार्यकर्ताओं को आने वाले समय के लिये अभी से जुट जाने का आह्वान किया। पत्रकार वार्ता में इनेलो जिला अध्यक्ष राजेंद्र लितानी ने कहा कि पिछले साढ़े तीन साल से प्रदेश की भाजपा सरकार ने हर वर्ग को अपने कुशासन से तंग व परेशान कर रखा है, यह गठबंधन सभी वर्गों के लिये विशेषकर दलित, पिछडो, किसान व कमेरे के लिए न केवल रक्षा कवच का काम करेगा बल्कि सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ चलाये जा रहे आंदोलन में भी कारगर साबित होगा।
इनेलो नेता लितानी ने कहा कि जननायक चौधरी देवीलाल हमेशा कमेरे वर्ग के हितों के लिये संघर्षरत रहे और उन्हीं की नीतियों पर चलते हुए इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला, डॉ. अजय सिंह चौटाला, नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला व युवा सांसद दुष्यंत चौटाला भी कमेरे की लड़ाई को आगे बढ़ा रहे है। कांग्रेस ने अपने राजनैतिक फायदे के लिये दलित व पिछडो का इस्तेमाल किया, जबकि दलित पिछडो के सच्चे हितेषी डॉ. भीमराव अंबेडकर को भारत रत्न से वंचित रखा। जब 1989 में चौधरी देवीलाल इस देश के उपप्रधानमंत्री बने तो बाबा साहब को उनका सम्मान भारत रत्न के रुप में दिलवाकर दलित व पिछडो का मान सम्मान बढ़ाया। आज जिस प्रकार से प्रदेश का भाईचारा भाजपा व कांग्रेस ने बिगाड़ कर रख दिया है, नए गठबंधन से समाज मे भाईचारा भी बढ़ेगा। गठबंधन की घोषणा मात्र से भाजपा व कांग्रेस में जो छटपटाहट है। उसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि वो इस गठबंधन से कितना घबराए हुए है। इनेलो विधायक रणवीर गंगवा व वेद नारंग ने इस गठबंधन को भाई बहन का पवित्र गठबंधन बताते हुए कहा कि भाई बहन का यह रिश्ता आने वाले समय मे प्रदेश की राजनीति में एक नया बदलाव लाएगा।


बसपा के प्रदेश महासचिव कृष्ण जमालपुर, जिला प्रभारी बलराज सातरोडिया व प्रवक्ता बजरंग इंदल ने कहा कि बहन मायावती व नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने यह गठबंधन प्रदेश की जनता के हितों को ध्यान में रखते हुये किया है। जिसका इनेलो व बसपा का कार्यकर्ता ही नही बल्कि प्रदेश का आमजन भी इसकी सराहना कर रहा है। इनेलो के संस्थापक चौधरी देवीलाल व बसपा के संस्थापक दिंवगत कांसी राम जी समान विचारधारा के व्यक्ति थे और दोनों में आपसी सामंजस्य था। ये गठबंधन समान विचारधाराओं का मिलन है क्यों कि इनेलो व बसपा दोनो ही कमेरों के लिए लड़ाई लड़ रही है अब इस लड़ाई को और ताकत मिलेगी। ये गठबंधन न केवल प्रेदश बल्कि देश को भी भाजपा व कांग्रेस मुक्त बनाएगा। इस अवसर पर पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, पूर्व विधायक पूर्ण सिंह डाबड़ा, शीला भ्याण, सतबीर वर्मा, बसपा के वरिष्ठ नेता शमशेर डाबड़ा, बसपा के हिसार जोन प्रभारी  सुरेंद्र पंघाल हरि सिंह बगला, डॉ प्रदीप अम्बेडकर,  महेंद्र सिंह धानिया, सतबीर छिम्पा, इनेलो हल्का अध्यक्ष सजन लावट, बहादुर सिंह नायक, राजीव शर्मा, इंद्र फौजी, भगीरथ नम्बरदार, सतपाल सरपंच, डॉ राज कुमार दिनोंदिया, कर्ण सिंह देपल, डॉ सत्यनारायण मंगाली, बसपा नेता मनोज प्रभाकर, पृथ्वी सिंह कत्याल, बहादुर सिंह बौद्ध, रामफल बौद्ध, बुधराम शिल्ला, सज्जन शिल्ला, मेवा सिंह घोड़ेला, रविन्द्र चौहान सहित बहुत से इनेलो व बसपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।
इनेलो-बसपा गठबंधन से बौखला गईं है भाईचारा तोड़ने वाली पार्टियाँ- बलवान सिंह दौलतपुरिया 


फतेहाबाद : इनेलो विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया ने कहा कि जब से हरियाणा में इनेलो-बसपा गठबंधन हुआ है, तब से सत्तासीन भाजपा व अन्य विरोधी दलों के नेताओं की बेचैनी चरम पर है। आलम यह है कि भाईचारा तोड़ राजनीतिक हित साधने की इच्छा रखने वाली इन पार्टियों के नेता अब अभय-माया रूपी भाई-बहन के मजबूत गठबंधन पर अनाप-शनाप बयानबाजी करने लगे हैं। जो स्पष्ट करता है कि ये दल किसी भी सूरत में प्रदेश को जात-पात के जहर से निजात नहीं दिलाना चाहते। एमएलए दौलतपुरिया आज अपने अनाज मंडी स्थित कार्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओ से गठबंधन व अन्य मुद्दों पर चर्चा कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि हरियाणा 14 बरस से गरीबी, बेरोजगारी, किसानों की दुर्दशा, कमेरा-मजदूर वर्ग का शोषण व जातीय हिंसा जैसे अनगिनत मुद्दों की वजह से अराजकता व अशांति के दौर से गुजर रहा है। प्रदेश को अराजकता व अशांति भरे माहौल से निजात दिलाने में इनेलो बसपा गठबंधन संजीवनी बूटी जैसा काम करेगा। भाजपा ने वोट बैंक की राजनीति करते हुए तीन बार प्रदेश को आग के हवाले किया। कमजोर वर्ग के लोगों को एससी व एसटी एक्ट के नाम पर लड़ाई में खड़ा कर दिया। भाजपा व कांग्रेस की एक ही मंशा है कि किस प्रकार देश व प्रदेश के कमेरा वर्ग का कमजोर किया जा सके। कांग्रेस की तरह भाजपा राज में भी लुटेरे हावी हो रहे हैं।उन्होने कहा कि लुटेरों से छुटकारा पाने के लिए कमेरे वर्ग के लोगों को अब एकजुट होना होगा। लोगों को आपस में बांटने के लिए सरकार लगातार षडयंत्र रच रही है ताकि आम जन का ध्यान गंभीर मुद्दों से हटे और भाजपा आगामी चुनाव मे अपना राजनीतिक स्वार्थ  पूरा कर सके। इनेलो-बसपा गठबंधन भाजपा व अन्य दलों के एसे घिनौने मंसूबों पर पानी फेरने की सार्थक पहल है और इसका हर उस व्यक्ति को समर्थन करना चाहिए जो प्रदेश व समाज का भला चाहता है। दौलतपुरिया ने दावा किया कि गठबंधन जननायक ताऊ देवीलाल व दलितों की आवाज बुलंद करने वाले स्व. काशीराम के आर्दशों पर चलते हुए हरियाणा को अमन-चैन व भाईचारा कायम करने वाली सरकार देगा। इस अवसर पर उनके साथ जिला प्रधान बलविन्द्र कैरों, वरिष्ठ नेता मोलू राम रूहलानियां, हलकाध्यक्ष भरत सिंह परिहार, शहरी प्रधान पवन चुघ, युवा नेता सतेन्द्र श्योराण, विकास मेहता आदि उपस्थित थे।

Thursday, April 19, 2018

इनेलो-बसपा गठबंधन से दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर- भगवान दास नरवाना


इनेलो-बसपा गठबंधन की ख़ुशी में इनेलो कार्यकर्तओं की बैठक भगवान दास के कार्यालय मे सम्पन्न हुई। मीटिंग की अध्यक्षता हल्का अध्यक्ष सुदेश चोपड़ा ने की। मीटिंग में इनेलो की राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्य बलदेव बाल्मिकी ने कहा कि आज हरियाणा प्रदेश की मांग है कि कमेरे-दलित-मजदूर-किसान व आम आदमी की सरकार बने और इनेलो सभी जातियों को मान-सम्मान देती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आने वाली सरकार गठबंधन की सरकार होगी इसके लिए इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओम प्रकाश चौटाला, नेता प्रतिपक्ष चौ. अभय सिंह चौटाला व बसपा सुप्रीमो बहन मायावती बधाई के पात्र हैं जिन्होंने समय की मांग और जनता की भलाई के लिए यह समझौता किया। इस अवसर पर भगवान दास ने कहा कि प्रदेश में बीजेपी सरकार पूर्णतः असफल साबित हुई है और जनता इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की तलाश में थी, यह गठबंधन जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेगा। आज दोनो पार्टियो के कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है और कार्यकर्ताओं के उत्साह में इजाफा हुआ है। यह गठबंधन प्रदेश में नया रिकॉर्ड कायम करेगा और प्रदेश की 90 की 90 सीटों पर जीत हासिल करेगा। भगवान दास ने कहा कि इस गठबंधन के लिए नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला व चौटाला साहिब की सेना के हनुमान रूपी सिपाही श्री रामपाल माजरा जी पूर्व मन्त्री हरियाणा विशेष रूप बधाई के हकदार हैं। वास्तव में यह गठबंधन जनता का गठबंधन है और जनता इसको स्वीकार करेगी।  
उन्होंने कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन का सभी इनेलो कार्यकर्ता स्वागत करते हैं। इनेलो के व्यापार सैल के प्रदेश उपाध्यक्ष भगवान दास के कार्यालय में  बसपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों ने इस ख़ुशी मे हिस्सा लिया इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने भगवान दास,बलदेव वाल्मीकि, हल्का प्रधान सुदेश चोपड़ा, राममेहर दनौदा, बीरभान ग्रोवर,बलबीर माथुर,सुशील संरपच, दिनेश शर्मा, सतीश चौहान,सत्यवान वाल्मीकि, मंगत राम,प्रमोद राठी,बलबीर माथुर व पूर्व प्रैस प्रवक्ता नन्दलाल शर्मा को लड्डू खिलाकर बधाई दी।इस अवसर पर सभी कार्यकर्ता मौजूद थे।

Wednesday, April 18, 2018


अभय सिंह चौटाला ने इनेलो-बसपा गठबंधन पर लगाई मुहर 
                                                                                       



                                                                         


चंडीगढ़, 18 अप्रैल:  कई महीनों से चल रही अटकलों को विराम देते हुए नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने बसपा के साथ गठबंधन पर मुहर लगा दी। आज चंडीगढ़ में इनेलो और बसपा की संयुक्त प्रेसवार्ता में यह घोषणा की गई। हरियाणा में आगामी लोकसभा व विधानसभा के चुनाव इनेलो और बहुजन समाजवादी पार्टी गठबंधन में साथ लड़ेंगे। बसपा की और से हरियाणा प्रदेश प्रभारी डॉ. मेघराज सिंह और प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती में नेता विपक्ष के साथ मंच सांझा किया। दोनों दलों के नेताओं ने सांझे मंच से भाजपा की और इशारा करते हुए आह्वान किया कि अब ‘लुटेरे जाएंगे और कमेरे आएंगे’।

नेता विपक्ष ने कहा कि बसपा के साथ उनका गठबंधन राजनैतिक और सामाजिक दोनों तरह से है यह एक भाई और बहन का गठबंधन है जो देश और प्रदेश को कांग्रेस और भाजपा मुक्त बनाने के लिए हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि देशहित में यह गठबंधन तीसरे मोर्चे की भूमिका निभाएगा जिसकी अगुवाई बहन मायावती करेंगी। तीसरे मोर्चे को मुजबूत करने के लिए दोनों दल अपने राजनैतिक सहयोगी और समान विचारधारा वाले दलों से बातचीत करेंगे।
अभय सिंह चौटाला ने याद दिलाया कि हरियाणा अतीत में भी बदलाव का कर्णधार रहा है। वर्ष 1987 में भी देश को कांग्रेसमुक्त बनाने की मुहिम इसी राज्य से चौधरी देवीलाल की अगुवाई में की गई थी। तब उन्होंने यह भी घोषणा की थी कि देश में 1989 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए वे विश्वनाथ प्रताप सिंह की अगुवाई में सभी विपक्षी दलों को एकजुट करेंगे। उसी इतिहास को दोहराते हुए एक बार फिर हरियाणा में इस बदलाव की नींव रखी गई है और निश्चित रूप से अगले लोकसभा चुनाव में मायावती जी के नेतृत्व में गैर-कांग्रेसी और गैर-भाजपा सरकार बनेगी।
इनेलो वरिष्ठ नेता ने इस गठबंधन की जरूरत को समझाते हुए कहा कि भाजपा ने प्रदेश को जात, धर्म और वर्गों में बांटने का काम किया है जिसकी वजह से प्रदेश तीन बार जल चुका है लेकिन अब बदलाव का वक्त है। अब दलित, पिछड़ा और किसान हरियाणा प्रदेश की नई पहचान बनाने का काम करेंगे।
बसपा प्रदेश प्रभारी ने कहा कि एसवाईएल के पानी को लेकर बसपा पहली मई को होने वाले ‘जेल भरो आंदोलन’ में इनेलो का साथ देगी। हर जिले में बूथ स्तर पर दोनों पार्टियों के कार्यकर्ता एक साथ काम करेंगे। भाजपा ने प्रदेश में जिस भाईचारे को तोड़ने की कोशिश की है अब इनेलो और बसपा फिर से उसे मजबूती प्रदान करने का काम करेंगे। इस दौरान संयुक्त प्रेसवार्ता में इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा, आरएस चौधरी, एमएस मलिक, बीडी ढालिया व प्रवीण आत्रेय, बसपा के वरिष्ठ नेता नरेश सारन, बसपा पूर्व विधायक अकरम खान, डॉ. बलदेव, रामेश्वर और नेत राम सहित अनेक इनेलो-बसपा नेता भी उपस्थित थे।

Tuesday, April 17, 2018

इनेलो ने नियुक्त किए विभिन्न प्रकोष्ठों के जिला संयोजक 

सिरसा : इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन ने नेता प्रतिपक्ष चौ. अभय सिंह चौटाला, प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, सांसद दुष्यंत चौटाला, पिछड़ा वर्ग के प्रदेश संयोजक तेलुराम जोगी, अनुसूचित जाति के प्रदेश संयोजक अशोक शेरवाल व प्रदेश प्रैस प्रवक्ता निशान सिंह, सिरसा विधायक मक्खन लाल सिंगला से विचार विमर्श करने के बाद विभिन्न प्रकोष्ठों के जिला संयोजक नियुक्त किए गए है। जिलाध्यक्ष ने आज सूची जारी करते हुए बताया कि गुरविन्द्र सिंह कंगनपुर को सिरसा का हलका अध्यक्ष व अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ हेतु जिला संयोजक अशोक बामनियां व पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ हेतु जिला संजोयक मलिक साहब, पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के शहरी अध्यक्ष बृज लाल सैनी, ऐलनाबाद हलका के लिए हलका प्रैस प्रवक्ता प्रवीण फुटेला को नियुक्त किया गया है। इस मौके पर जिलाध्यक्ष पदम जैन ने कहा कि इन पदाधिकारियों की नियुक्ति से जिला संगठन मजबूत होगा। जैन ने नवनियुक्त पदाधिकारियों को बधाई देते हुए आशा व्यक्त की कि सभी पदाधिकारी पार्टी संगठन को मजबूत करेंगे और पार्टी की नीतियों को घर-घर पहुँचाने का काम करेगेंं।

Monday, April 16, 2018

दिग्विजय सिंह चौटाला 17 और 22 अप्रैल को गन्नौर व गोहाना में युवाओं से मिलेंगे- पदम सिंह दहिया 


सोनीपत 16 अप्रैल : इनसो के नवनियुक्त हल्का प्रधान शुभम सरोहा का बैयापुर में इनेलो कार्यालय में स्वागत हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता युवा नेता मोंटी मंडल ने की। इस मौके पर इनेलो जिला प्रधान पदम सिंह दहिया ने सरोहा को बधाई देते हुए कहा कि आने वाला समय युवाओं का है। इनेलो और इनसो में मेहनती युवाओं को संगठन में पद दिया जाता है। दहिया ने कहा इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला 17 अप्रैल को गन्नौर और 22 अप्रैल को गोहाना में युवाओ से रूबरू होंगे। दहिया ने कहा बीजेपी सरकार में युवा वर्ग सबसे दुखी व परेशान है न युवाओं के पास नौकरी है न सरकार ने बेरोजगारी भत्ता देने का काम किया और ना 1500000 रुपए किसी युवा के खाते में आए। हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की नौकरियों की खुली बोली सरकार लगाने का काम कर रही है और जो भ्रष्टाचार बीजेपी सरकार में नौकरियों के नाम पर है इतना भ्रष्टाचार पहले कभी नहीं हुआ। इस मौके पर युवा जिला प्रधान कुणाल गहलावत ने कहा युवा वर्ग जिस पार्टी के साथ होगा उसकी सरकार बनेगी । युवाओं को इनेलो का शासन काल याद आ रहा है।
इस मौके पर युवा जिला अध्यक्ष कुणाल गहलावत, इनसो के प्रदेश सचिव आशीष सुहाग, प्रोफेसर बंसीलाल कुंडू, विकास मलिक, रविंद्र मंडोरा, मोनू शर्मा, मोहित मोर, मोंटी मंडल, जयदीप सरोहा, भूमित हुड्डा, हिमांशु सरोहा, सचिन शर्मा, विपिन दुहरान आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे
बाबा साहेब के सपनों को भाजपा-कांग्रेस मिटाने में लगी, हम साकार करने में- दिग्विजय चौटाला 


इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने लघु सचिवालय पहुंचकर संविधान निर्माता डा. भीम राव अम्बेडकर की प्रतीमा पर पुष्पार्पित कर 127वें जन्मोत्सव पर केक भी काटा। उन्होंने कहा कि शिक्षा का अधिकार व वोट का अधिकार देने वाले संविधान निर्माता के सपनों को आज भाजपा व कांग्रेस मिलकर मिटाने में लगी हुई है। लेकिन पिछले दिनों छात्र संघ चुनाव बहाल करवाकर इनसो बाबा साहेब के सपनों को साकार करने में लगी हुई है। दिग्विजय ने कहा कि आज जिस तरह से जाति धर्म, मजहब के नाम पर दंगे करवाए जाते हैं वह भाजपा की सोची समझी राजनीति है। भाजपा नहीं चाहती है कि सुशासन को सही ढंग से चलाया जाए इसलिए भाजपा आए दिन संविधान के उपर हमला बोलती है, भाजपा के कें द्रीय मंत्री संविधान को बदलने की ओछि सोच का भाषण देते नजर आते हैं वहीं दलितों के हितों से खिलवाड़ किया जाता है। इनसो इस ज्यादाती को सहन नहीं करेगी वह पूर्ण रूप से संविधान में विश्वास व्यक्त करती है वहीं इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने लघु सचिवालय के बाहर बैठे दिव्यांगों को पूर्ण समर्थन दिया और कहा कि दिव्यांगों की समस्याओं को इनसो संसदीय दल के नेता दुष्यंत चौटाला के द्वारा देश की पंचायत में उठाया जाएगा। 
इस अवसर पर जिला प्रधान सुनील लाम्बा, नरेश द्वारका,जिला प्रवक्ता राजू मेहरा आदि मौजूद थे। 
भिवानी अजय सिंह चौटाला की है प्रत्येक कार्यकर्ता का सपना करूंगा पूरा- दिग्विजय चौटाला




भिवानी :  इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश के छात्रों को 22 साल बाद छात्र संघ चुनाव का तोहफा देने वाले दिग्विजय चौटाला ने आज भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि सुशासन का दम भरने वाली भाजपा सरकार की पोल मैडिकल घोटाले, एचटेट व एचएसएससी घोटाला ने खोल दी है भाजपा पर तीखा प्रहार करते हुए इनसो अध्यक्ष ने कहा कि  कांग्रेस राज में इंदिरा गांधी के रूप में एक तानाशाह थी लेकिन मौजूदा सरकार में अमित शाह, नरेंद्र मोदी के साथ-साथ एक ओर केंद्रीय मंत्री के रूप में तीन-तीन तानाशाह मौजूद है। देवीलाल सदन में आयोजित युवा व इनसो की संयुक्त बैठक को सम्बोधित करते हुए इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि भिवानी डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि है यहाँ के प्रत्येक कार्यकर्ता को सूद समेत वापिस देना उनका पहला कर्तव्य है। वहीं इनसो अध्यक्ष ने कहा कि हरियाणा निर्माता जननायक चौधरी देवीलाल ने हरियाणा की खुशहाली का सपना देखा था और उसी कड़ी में विकास पुरूष बंसीलाल ने कदम बढ़ाया था, लेकिन पिछली कांग्रेस के दौरान किरण चौधरी ने बंसीलाल के उन सपनों पर पानी फेर दिया लिहाजा समय पर आने पर चौ. बंंसीलाल के सपनों को इनलो ही पूरा करेगी। भ्रष्टाचार से घिरी भाजपा सरकार को घेरते हुए दिग्विजय ने कहा कि जिस तरह से स्वास्थ्य विभाग के अंदर घेाटाला हुआ है और उससे बोखलाकर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज अनाप शनाप ब्यान दे रहे हैं यह बयान दुष्यंत के प्रति न होकर सिरसा, हिसार, भिवानी के युवाओं पर निशाना साधना है जिसे 2019 में भाजपा को सत्ता से बाहर कर युवा बदला लेंगे। दिग्विजय ने इनसो के द्वारा किए गए आंदोलन की सफलता के लिए समस्त युवा इनसो कार्यकर्ताओं को बधाई दी वहीं उन्होंने मीडिया को विशेष तौर पर धन्यवाद देते हुए कहा कि देश का चौथा स्तम्भ देश की तानाशाह सरकार को बाहर करने में उनका साथ दे। दिग्विजय ने कहा कि नीरव मोदी भाग गया, माल्या भाग गया एचटेट व एचएसएससी घोटाला हो गया, सीबीएससी का पेपर लीक हो गया वहीं मैडिकल घोटाला हो गया। भाजपा के जो नेता पाक साफ होने की बात करते थे वो दुष्कर्म के आरोपों में घिरे हैं। ऐसे में भाजपा नेताओं के चेहरे उनके झुके हुए हैं। दिग्विजय ने चुटकी लेते हुए कहा कि हम भूल गए, लेकिन देवीलाल कहते थे कि कांग्रेस माड़ी है, पर ये निकर वाले कांग्रेस से भी माडे हैं। उन्होने कहा कि आज राष्ट्रहित में भाजपा व कांग्रेस विरोधी दलों को एक होने की जरूरत है।
दिग्विजय चौटाला ने प्रदेशवासियों को अम्बेडकर जयंती की बधाइयाँ दी 


चंडीगढ़ : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला अपने धन्यवादी दौरे पर भिवानी पहुंचे। उन्होंने लघु सचिवालय स्थित बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। उसके बाद उन्होंने युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि भिवानी से डॉ. अजय सिंह चौटाला और इनेलो परिवार का गहरा और पुराना नाता है व यह शहर अजय चौटाला की कर्मभूमि भी है। भिवानी और सिरसा से डॉ. अजय सिंह चौटाला का एकसमान नाता रहा है। इनसो अध्यक्ष ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सांसद दुष्यंत चौटाला पर जो आपत्तिजनक टिप्पणी की है वह टिप्पणी भिवानी, हिसार और सिरसा के युवाओं पर की है। इसका परिणाम आने वाले लोकसभा व विधानसभा चुनाव में भाजपा को भुगतना पड़ेगा। लघु सचिवालय में अम्बेडकर जी की जयंती पर केक काटते हुए उन्होंने प्रदेशवासियों को संविधान निर्माता के जन्मदिन की बधाई दी। इस अवसर पर सचिवालय में धरने पर बैठे दिव्यांगों से भी मुलाकात की। इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिव्यांगों से वायदा किया कि प्रदेश में इनेलो की सरकार बनते ही पहली कलम से दिव्यांगों की सारी मांगों को पूरा किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि सांसद दुष्यंत चौटाला उनकी मांगों को संसद में भी उठाएंगे।
दिग्विजय चौटाला ने उपस्थित सभी युवाओं को प्रदेश में छात्र चुनाव बहाली की बधाई दी और उन्हें इस साल होने वाले छात्र चुनावों की पुरजोर तैयारी का आह्वान किया। उन्होंने युवाओं से कहा कि यह सत्ता परिवर्तन का दौर है और इनेलो मुख्यधारा की राजनीति और छात्र संघ चुनाव दोनों में परचम लहराएगी।

Saturday, April 14, 2018

भारतीय टेबल टेनिस की टीम की नजरें ओलम्पिक में पदक लाने पर- दुष्यंत चौटाला



हिसार, 14 अप्रैल : भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ियों ने कॉमनवेल्थ गेम्स में तीन गोल्ड मेडल जीत कर इतिहास रच दिया है, इसके लिए विजेता खिलाड़ी, अभिभावक व उनके कोच बधाई के पात्र हैं। शनिवार को टेबल खिलाड़ी टेनिस मनिका बत्रा ने फाइनल में सिंगापुर की खिलाड़ी को हरा कर भारत की झोली में तीसरा स्वर्ण पदक डाला। भारतीय टेबल टेनिस संघ के अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कॉमनवेल्थ गेम्स के बाद टेटे खिलाड़ियों का अगला टारगेट ओलम्पिक गेम्स में देश के मेडल लाना है। उन्होंने कहा कि सिंगल्स में महिला वर्ग में टेबल टेनिस में मनिक बत्रा गोल्ड जीत कर इतिहास रच दिया है। कॉमनवेल्थ में सिंगल्स में गोल्ड जीतने वाली मनिका पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनी हैं। 
भारतीय टेबल टेनिस के अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला ने कहा कि संघ खिलाड़ियों को प्रशिक्षण सहित हर प्रकार की सुविधाएँ प्रदान करने के लिए कृत संकल्प है ताकि आने वाले ओलम्पिक खेलों में टेबल टेनिस खिलाड़ी देश के लिए पदक लेकर आएं। उन्होंने उम्मीद जताई कि ओलम्पिक खेलों में टेबल टेनिस खिलाड़ी दुष्यंत चौटाला ने कहा कि टेबल-टेनिस खिलाड़ियों ने देश के लिए कड़ी मेहनत की और गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में इनकी मेहनत का फल देखने को मिला है।