Monday, March 5, 2018

SSC को लेकर दुष्यंत ने लोकसभा में रखा काम रोको प्रस्ताव

नई दिल्ली : स्टाफ सलेक्शन कमीशन (एसएससी) की परीक्षाओं में हुई गड़बडिय़ों की जांच को लेकर इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने लोकसभा में काम रोको प्रस्ताव रखा। 5 मार्च से शुरू हुए बजट सत्र के दूसरे भाग के पहले दिन इनेलो सांसद ने एसएससी को लेकर काम रोको प्रस्ताव का नोटिस दिया। उन्होंने नोटिस में कहा कि यह देश के लाखों युवाओं से जुड़ा हुआ अति महत्वपूर्ण मामला है। उन्होंने कहा कि सदन में अन्य सभी मामले स्थगित कर एसएससी के मुद्दे पर लोकसभा में चर्चा की जाए।
एसएससी की परीक्षाओं में हुई गड़बडिय़ों की जांच को लेकर हजारों युवा प्रदर्शन कर रहे हैं और सरकार का रवैया अभी भी मामले की निष्पक्ष जांच को लेकर उदासीन बना हुआ है। उन्होंने कहा कि एसएससी में धांधली का कोई एक मामला नहीं है बल्कि कई मामले हैं और वर्ष 2012 में भी परीक्षा में हुई गड़बड़ी का मामला सुप्रीम कोर्ट में गया था। उन्होंने कहा कि यह बड़ा घोटाला है और इन धांधलियों के लिए चाहे कोई सचिव स्तर का अधिकारी या मंत्री से संतरी तक कोई जिम्मेवार है तो सच्चाई जांच के माध्यम से ही सामने आएगी।  प्रदर्शनकारी युवा पिछली 28 फरवरी से दिल्ली में धरने पर बैठे हैं परन्तु सरकार उनकी सुनवाई नहीं कर रही है। युवा सांसद ने कहा कि युवाओं में एसएससी की विश्वसनीयता को बनाए रखने के लिए पेपर लीक सहित तमाम गड़बडिय़ों की सीबीआई जांच होनी चाहिए। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यूपीएससी के बाद एसएससी देश की दूसरी बड़ी संस्था है जो युवाओं को रोजगार के परीक्षओं का आयोजन करती है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार इस पर लोकसभा में चर्चा और सीबीआई जांच करवाने के लिए तैयार नहीं हुई तो जिस दिन भी लोकसभा का सत्र चलेगा, उसी दिन एसएससी की परीक्षाओं में धांधली के मुद्दे को वह उठाएंगे और सीबीआई जांच की मांग करेंगे। 

No comments:

Post a Comment