Monday, March 5, 2018


नहर बनाने की हामी पर ही सत्र चलने देगी इनेलो - बलवान दौलतपुरिया


फतेहाबाद  : बेशक प्रदेश की भाजपा सरकार ने इनेलो द्वारा 7 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रस्तावित किसान महारैली को प्रभावित करने के लिए जानबूझकर बजट सत्र 5 मार्च को बुलाया हो, लेकिन इनेलो इस बजट सत्र को भी तभी चलने देगी जब सरकार प्रदेश की जीवनरेखा एसवाईएल व दादूपुर-नलवी जैसी नहर को बनाने की बनाने की हामी भरेगी। यह बात इनेलो विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया ने दिल्ली में इनेलो की महारैली का न्यौता देने के लिए जारी जनसंपर्क अभियान के दौरान गांव मेहुवाला में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही। गौरतलब है कि 7 मार्च की इस महारैली का नेतृत्व नेता प्रतिपक्ष अभय चाैटाला कर रहे हैं और जिला फतेहाबाद में पार्टी नेतागण लगातार ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी करवाने के िलिए जनसंपर्क छेड़े हुए है। 


इनेलो विधायक बलवान सिंह ने कहा कि इनेलो जननायक स्व. ताऊ देवीलाल के आदर्शों की ऐसी पार्टी है, जो कभी अपनी जनहितैषी जिम्मेवारियों से नहीं भागती। बेशक सरकार की सोच िहो कि इनेलो बजट सत्र में नहीं पहुंच पाएगी, लेकिन इनेलो अपने संवैधानिक दायित्व को निभाते हुए 5 और 6 मार्च को सत्र में भाग जरूर लेगी। साथ ही एसवाईएल के मुद्दे पर काम रोको प्रस्ताव भी रखेगी। किसान वर्ग भाजपा सरकार में पूरी तरह टूट चुका है। इसका प्रत्यक्ष प्रमाण गत दिन भी चरखी दादरी में एक किसान ने कृषि मंत्री को खराब हुई चने की फसल को दिखा कर दिया। मगर इसे प्रदेश का दुर्भाग्य ही कहेंगे कि यहां का कृषि मंत्री ऐसे किसान की तकलीफ समझने की बजाय कभी मंच पर नाचने की बातें करता है तो कभी समस्या लेकर मंच पर आने वाले किसान को पगड़ी पहना कर हास्यस्पद स्थिति पैदा करता है। इनेलो विधायक ने स्पष्ट किया कि पार्टी हरियाणा के हिस्से के पानी को राज्य में लाने के लिए हर संभव दबाव भी बनाएगी और तब तक चैन से नहीं बैठेगी जब तक प्रदेश के किसान को चैन की सांस नहीं मिलती। इस अवसर पर उनके साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता जगदीश झांझड़ा, हलकाध्यक्ष भरत सिंह परिहार, दरेश खान आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment