Wednesday, January 31, 2018

प्रदेश में अगली सरकार इनेलो की - अभय चौटाला


सिरसा, 31 जनवरी: हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष व ऐलनाबाद के विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि प्रदेश में अगली सरकार इनेलो की बनेगी क्योंकि प्रदेश में कांग्रेस कई धड़ों में बटी है और भाजपा से प्रदेश का हर वर्ग परेशान है और इससे छुटकारा चाहता है। ऐसे में प्रदेशवासी केवल इनेलो को ही अपना सबसे मजबूत विकल्प के तौर पर देख रहे हैं। 
नेता प्रतिपक्ष बुधवार को अपने विधानसभा क्षेत्र के गांव कर्मशाना में विशाल ग्रामीण जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा कभी आत्मचिंतन के नाम पर, कभी गीता महोत्सव के नाम पर तो कभी बाइक रैली के नाम पर प्रदेश की जनता की गाढ़े खून-पसीने की कमाई को पानी की तरह बहा रही है मगर धरातल पर कोई भी जनहितैषी कार्य नहीं किया जा रहा। उन्होंने कहा कि भाजपा को किसानों के दुख दर्द से कोई लेना देना नहीं है और इसी वजह से एसवाईएल जैसे संवेदनशील मुद्दे पर वह पूरी तरह से उदासीन है जबकि इनेलो इस मुद्दे पर चौधरी देवीलाल के मुख्यमंत्री काल से ही गंभीर है। इनेलो ने हरियाणा के हक का पानी हरियाणा को दिलाने के लिए राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपने से लेकर अंबाला में गिरफ्तारियां देने एवं संसद पर प्रदर्शन आदि किए हैं और अब इस मामले में आरपार की लड़ाई के लिए इनेलो आगामी 7 मार्च को नई दिल्ली के रामलीला मैदान में विशाल रैली करेगी जिसमें केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार पर पूरा दबाव बनाकर हरियाणा के हितों की रक्षा के लिए उन्हें बाध्य किया जाएगा।


इनेलो नेता ने कहा कि बेरोजगारों को पारदर्शिता से रोजगार दिलाने के नाम पर छलने वाली भाजपा के शासन में अब बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता भी मिलना दूभर हो गया है जिससे वे अपराध की ओर कदमताल करने लगे हैं। आज प्रदेश में कर्मचारी, बेरोजगार युवा, किसान, मजदूर, गरीब, पिछड़े, व्यापारी आदि सभी वर्गों में भाजपा के प्रति असंतोष है और वे इससे छुटकारा पाना चाहते हैं। नौकरियों में पारदर्शिता का ढकोसला करने के नाम पर अपने चहेतों को पीछे के दरवाजे से नौकरियां दी जा रही हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं का हौंसला बढ़ाते हुए कहा कि उन्हें थोड़े समय का धैर्य और रखना है और आगामी विधानसभा चुनावों में इनेलो के सत्तासीन होते ही प्रदेश को पुन: विकास की पहली सीढ़ी पर ले जाया जाएगा और सभी वर्गों के उत्थान के लिए कार्यों को प्राथमिकता दी जाएगी। उन्होंने भाजपा को हर मोर्चे पर फेल करार देते हुए कहा कि सभी वर्गों के हित केवल इनेलो में ही सुरक्षित हैं। इससे पूर्व उन्होंने गांव मिर्जापुर, थोबरिया, तलवाड़ा, नीमला, काशी का बास, ढाणी शेरा, बेहरवाला, ढाणी मौजू आदि में भी ग्रामीणों से संपर्क साधा और उन्हें 7 मार्च को दिल्ली रामलीला मैदान में होने वाली रैली के लिए आमंत्रित किया।

Tuesday, January 30, 2018


एसवाईएल के निर्माण के लिए सकारात्मक रुख नहीं दिखा रही है सरकार - अभय सिंह चौटाला 



सिरसा : हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कहा कि पिछले 13 माह से सर्वोच्च न्यायालय की ओर से हरियाणा के हक में सतलुज यमुना लिंक नहर का फैसला दिए जाने के बावजूद भाजपा इसे लागू करवा पाने में नाकाम रही है, इससे साफ तौर पर भाजपा का कथित तौर पर किसान हितैषी चेहरा उजागर हुआ है। वे मंगलवार को गांव जमाल में विशाल ग्रामीण जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वे निरंतर पिछले 16 महीनों से एसवाईएल नहर के निर्माण एवं हरियाणा के हक का पानी दिलाने के लिए संघर्षरत हैं और इस कड़ी में अभी तक राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपने से लेकर अंबाला में गिरफ्तारियां देने एवं संसद पर प्रदर्शन आदि किया जा चुका है। अब हरियाणा के लिहाज से अत्यंत महत्वपूर्ण इस मामले में आरपार की लड़ाई के लिए इनेलो आगामी 7 मार्च को नई दिल्ली के रामलीला मैदान में विशाल रैली करेगी जिसमें केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार पर पूरा दबाव बनाकर हरियाणा के हितों की रक्षा के लिए उन्हें बाध्य किया जाएगा। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि आगामी 15 फरवरी को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सम्मान में मोटरसाइकिल रैली निकाले जाने का कार्यक्रम है मगर इनेलो हरियाणा के हितों को प्राथमिकता देते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से भी यह पूछेगी कि क्या वे एसवाईएल का फैसला केंद्र से बातचीत कर लागू करवाएंगे? यदि उन्होंने सकारात्मक संदेश दिया तो उनकी बाइक रैली होने दी जाएगी अन्यथा इनेलो उन्हें काले झंडे दिखाकर उनका पुरजोर विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा के हितों से खिलवाड़ किसी भी सूरत में नहीं होने दिया जाएगा। यदि शाह का इस संवेदनशील और महत्वपूर्ण मुद्दे पर सकारात्मक रूख नहीं रहा तो बहादुरगढ़ से जींद तक सड़क मार्ग पर उनकी बाइक रैली को चलने नहीं दिया जाएगा। 


नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने कहा कि रामलीला मैदान में दादूपुर नलवी नहर के पुन: निर्माण संबंधी प्रदेश के हितों से संबंधित अनेक मुद्दों को प्रमुखता से उठाया जाएगा। चौटाला ने सभी राजनीतिक दलों के नेताओं से आह्वान किया कि वे दलगत राजनीति से ऊपर उठकर इस मुद्दे पर एकजुटता दिखाएं ताकि हरियाणा के हक का पानी किसानों के खेतों तक पहुंचाया जा सके। इससे किसानों का फसल उत्पादन भी बढ़ेगा और उनकी आर्थिक दिक्कतें भी दूर होंगी। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों व स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू न करवा पाने के चलते किसानों की आर्थिक समस्या बहुत गहरी है और उनके समाधान के लिए इनेलो किसी भी संघर्ष तक जा सकती है। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि एक ओर मुख्यमंत्री सबका साथ सबका विकास की बातें कहकर प्रदेशवासियों को गुमराह करने पर तुले हैं वहीं धरातल पर विकास की एक नई ईंट तक नहीं लगाई गई है। अभय चौटाला ने कहा कि मुख्यमत्री खुद उनके विधानसभा क्षेत्र ऐलनाबाद में विकास के नाम पर करीब साढ़े 600 करोड़ रुपए की घोषणाएं कर चुके हैं मगर कहीं भी विकास नजर नहीं आता। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा सत्र में मुख्यमंत्री से साढ़े 600 करोड़ रुपए की राशि का हिसाब लेंगे। इससे पूर्व उन्होंने गांव बकरियांवाली, निर्बाण, रूपावास, रायपुरिया, कुताना सहित करीब दो दर्जन गांवों में भी जनसंपर्क किया और ग्रामीणों को 7 मार्च के लिए नई दिल्ली स्थित रामलीला मैदान की रैली के लिए आमंत्रित किया। इस अवसर पर इनेलो जिलाध्यक्ष पदम जैन, विधायक मक्खनलाल सिंगला, रामचंद कंबोज, बलवान सिंह दौलतपुरिया, पूर्व मंत्री भागीराम, नंदलाल बेनीवाल, विनोद बेनीवाल, कृष्णा फौगाट, तरसेम मिढा, कमलेश सिद्धु, धर्मवीर नैन, अजय झोरड़, विनोद दड़बी, महेंद्र बाना, अजब ओला, दिनेश बेनीवाल, कश्मीर सिंह करीवाला व महावीर शर्मा सहित अनेक पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे। 

Monday, January 29, 2018

7 मार्च को दिल्ली में आयोजित किसान रैली में उमड़ेगा जनसैलाब - अभय सिंह चौटाला 



कुरुक्षेत्र : हरियाणा के नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने इनेलो कार्यकर्ताओं को सात मार्च को भारी संख्या में पार्टी द्वारा दिल्ली में आयोजित किसान रैली में पहुंचने का आह्वान करते हुए कहा कि इस रैली में एसवाईएल नहर के निर्माण सहित हरियाणा के हितों के अन्य मुद्दों को लेकर भावी संघर्ष की रूपरेखा बनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि दिल्ली में आयोजित रैली में शामिल होने के लिए इनेलो ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल सहित सभी दलों के विधायकों और सांसदों को भी पत्र लिखकर आमंत्रित किया है, ताकि राजनीति से ऊपर उठकर हरियाणा के हितों की रक्षा के लिए सामूहिक संघर्ष किया जा सके।
इनेलो नेता अभय चौटाला स्थानीय पंजाबी धर्मशाला में हलका थानेसर के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस कार्यकर्ता सम्मेलन को इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, सांसद रामकुमार कश्यप, प्रदेश महासचिव बूटा सिंह लुखी, प्रदेश कार्यकार्यरिणी सदस्य मायाराम चंद्रभानपुरा, जिला प्रधान कुलदीप सिंह मुलतानी, हलका प्रधान रणबीर सिंह किरमिच, डा संतोष दहिया, कलावती सैन, महिला प्रकोष्ठ की जिला प्रधान सुरजीत कौर, रामस्वरूप चोपड़ा, सतबीर शर्मा, नगर पार्षद संदीप टेका, पूर्व पार्षद नरेंद्र शर्मा, विवेक मेहता विक्की, पार्षद नितिन भारद्वाज लाली, कृष्ण गुप्ता, जोगेंद्र सिंह, पंकज चोचड़ा, नलिन गोयल, नितिन गोयल, सोहन लाल रामगढ़, संदीप बाल्मीकि सरपंच अजराना, हलका प्रवक्ता सुरेंद्र सैनी, मोहित सैनी, युवा इनेलो जिला प्रधान सुनील राणा, बलजिंद्र सिंह बब्बू सहित अनेक पार्टी नेताओं ने संबोधित किया। कार्यक्रम में हलका प्रवक्ता सुरेंद्र सैनी, लीगल सैल के जिला प्रधान राहुल पूनिया सहित अनेक संस्थाओं की ओर से अभय चौटाला को स्मृति चिन्ह व शॉल भेंट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में कार्यकर्ता सम्मेलन में सर्व शक्तिमहिला मंडल की प्रधान श्रीमती पी चोपड़ा, अमीन के पूर्व पंच रविंद्र कुमार, दविंद्र सिंह, पवन कुमार, मांगे राम, अमन, राहुल, अंकुर, रिंकू, अमित ने भाजपा छोड़कर इनेलो में शामिल होने की घोषणा की। इन सभी का पार्टी में शामिल होने पर अभय चौटाला और अशोक अरोड़ा ने स्वागत किया।  


अभय चौटाला तथा अशोक अरोड़ा ने इस विशाल कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि इनेलो आगामी विधानसभा सत्र में एसवाईएल, दादुपुर नलवी नहर तथा मेवात कैनाल के मुद्दे उठाएगी और विधानसभा को ठप्प कर दिया जाएगा, उसी सूरत में विधानसभा सत्र चलने दिया जाएगा, जब सरकार एसवाईएल नहर बनाने, दादुपुर नहर योजना शुरू करने जैसे मामलों पर कोई ठोस आश्वासन देगी। दोनों नेताओं ने कहा कि भाजपा सरकार को हरियाणा के हितोंं से कोई वास्ता नहीं है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा एसवाईएल के निर्माण को लेकर हरियाणा के पक्ष में फैसला दिए जाने के बाद भी एसवाईएल नहर का निर्माण कार्य शुरू नहीं किया गया। पिछले वर्ष सर्वदलीय बैठक में मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रधानमंत्री से मिलने का फैसला लिया गया था, लेकिन हरियाणा के कमजोर मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रधानमंत्री से मिलने का समय भी नहीं ले पाए। दोनों इनेलो नेताओं ने कहा कि भाजपा सरकार केवल महोत्सव मनाने में लगी हुई है। गाय, गीता और सरस्वती के नाम पर राजनीति कर रही है। प्रदेश में कानून व्यवस्था का दिवाला पिट चुका है। हरियाणा का हर वर्ग सरकार से नाराज है। कोई भी चुनावी वायदा सरकार ने पूरा नहीं किया। 
इसी प्रकार कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए इनेलो नेताओंं ने कहा कि  संयुक्त पंजाब के तत्कालीन मंत्री रणबीर सिंह हुड्डा ने हरियाणा के गठन का विरोध किया था और आज उन्हीं के वंशज एसवाईएल का विरोध कर रहे हैं। 1966 से 1977 तक हरियाणा केंद्र तथा पंजाब में कांग्रेस की सरकारें थी, लेकिन एसवाईएल का पानी लाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया गया। 1977 में चौधरी देवीलाल ने मुख्यमंत्री बनते ही पंजाब में एसवाईएल  के लिए जमीन अधिग्रहण करने हेतु एक करोड़ रुपया दिया और उसके बाद फिर दो करोड़ रुपये की राशि भी इनेलो के शासनकाल में दी गई। कांग्रेस ने हरियाणा विरोधी राजीव लागौेवाल समझौते का समर्थन किया था, जबकि चौधरी देवीलाल ने हरियाणा विरोधी इस समझौते का डटकर विरोध किया और चौधरी देवीलाल के विरोध के कारण ही यह समझौता रद्द हुआ। इनेलो नेताओं ने भाजपा के राज में हो रहे भ्रष्टाचार पर टिप्पणी करते हुए कहा कि गीता महोत्सव के नाम पर बहुत बड़ा घोटाला हुआ है। इसी प्रकार जनता के खून पसीने की कमाई पर महोत्सव के आयोजन पर खर्च किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने स्वयं गीता महोत्सव में भ्रष्टाचार होने की बात स्वीकार करते हुए कहा कि उनकी सरकार आगे भी इस प्रकार का खर्च करेगी। इनेलो नेताओं ने कहा कि गीता महोत्सव में लगभग 4 लाख रुपये की गीता की 10 प्रतियां खरीदकर मेहमानों को दी गई ,जबकि गीता मात्र 200 रुपये में भी मिल जाती है। अभय चौटाला ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार आरएसएस के एजेंडे पर चल रही है। इस सरकार को प्रदेश की जनता के हितों से कोई लेना-देना नहीं है। 
इनेलो ने हलका थानेसर कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया था, लेकिन इस सम्मेलन में उमड़े जनसैलाब से अभय चौटाला और अशोक अरोड़ा काफी गदगद नजर आए, क्योंकि सम्मेलन रैली में तब्दील हो गया। सम्मेलन में उमड़े जनसैलाब से अभय चौटाला ने अपील की कि वे इतनी भारी संख्या में ही दिल्ली की रैली में पहुंचें।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने हरियाणा में बेटियों की दुर्दशा पर चिंता प्रकट करते हुए कहा कि आज बेटी बचाओ का नारा लाने वाली सरकार के राज में मत आइयो लाडो हरियाणा में जैसे हालात बन गए हैं। झांसा में 9 जनवरी को दलित वर्ग की नाबालिग लड़की की दरिंदगी के पश्चात हत्या कर दी गई। हत्या के आरोपियों का पुलिस आज तक पता नहीं लगा पाई। मुख्यमंत्री के पास इतना भी समय नहीं कि वे पीडि़त परिवार के साथ सहानुभूति प्रकट करने आ सकें। मुख्यमंत्री तो सरस्वती और गीता महोत्सव में लगे रहते हैं।
सांसद रामकुमार कश्यप ने इनेलो को गरीब, पिछड़े व दलित वर्ग की हितैषी पार्टी बताते हुए कहा कि मुझ जैसा सामान्य व्यक्ति कभी सांसद बनने की सोच भी नहीं सकता था। चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने मेरे जैसे पिछड़े वर्ग के व्यक्ति को राज्यसभा में भेजा, जबकि इससे पहले पिछड़े वर्ग से संबंधित रणबीर गंगवा और दलित वर्ग के फकीर चंद को राज्यसभा सदस्य बनाया। कश्यप ने कहा कि चौ. देवीलाल ने वृद्धावस्था सम्मान पैंशन योजना लागू की थी। उन्होंने कहा कि इनेलो की सरकार आने पर वृद्धावस्था पैंशन 2500 रुपये महीना कर दी जाएगी।
अभय सिंह चौटाला का तीन दिवसीय कार्यक्रम 29 से

सिरसा : इनेलो के जिलाध्यक्ष पदम जैन ने कहा कि हरियाणा की जीवनरेखा समझे जाने वाली सतलुज यमुना लिंक नहर का पानी हरियाणा में लाने के लिए इनेलो का संघर्ष सफलता पाए जाने तक थमेगा नहीं। इसके लिए नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला पूरे हरियाणा में लोगों से जनसंपर्क कर रहे हैं। इसी कड़ी में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला आगामी 29 से 31 जनवरी तक उपमंडल ऐलनाबाद के विभिन्न गांवों में जनसंपर्क कर लोगों को अधिक से अधिक संख्या में आगामी 7 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में होने वाली विशाल रैली के लिए न्यौता देंगे। इनेलो जिलाध्यक्ष ने कहा कि इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला 29 जनवरी को अपना जनसंपर्क अभियान गांव अरनियांवाली से प्रात: 9 बजे आरंभ करेंगे।  

 किसानों के हालात सुधारने की बजाए उनका शोषण कर रही है बीजेपी सरकार - अभय सिंह चौटाला
 



गुड़गांव : नेता विपक्ष व जलनायक चौ. अभय सिंह चौटाला भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों को जनता के सामने लाने के लिए प्रदेशव्यापी जनजागरण अभियान के अंतर्गत बादशाहपुर विधानसभा क्षेत्र के गाँव डूंडाहेड़ा, बजघेड़ा, धनकोट, माकडोला, फरूखनगर में पहुंचे। गांवों में पंहुचने पर श्री चौटाला का ढोल नगाड़ों व फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया तथा सम्मान सूचक पगड़ी बांधकर सम्मानित किया। गांव बजघेड़ा में श्री चौटाला खुद ट्रेक्टर चलाकर पंहुचे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि चौ0 ओम प्रकाश चौटाला जी ने प्रदेश के युवाओ को नौकरी दी, रोजगार दिया किन्तु आज मारुती जैसी कंपनी हरियाणा से जा रही है हजारो युवा बेरोजगार होंगे राज्य को मिलने वाला करोङो रुपये का राजस्व राज्य के हाथ से चला जायेगा। केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने युवाओ से नौकरी का वादा किया किन्तु पिछले 4 साल में सिर्फ नोकरी छीनने का काम किया है। वही किसानों के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है उनसे स्वमिनाथन आयोग की योजना लागू करने का कहा किन्तु नहीं की गई। ट्रेक्टर पर टैक्स लगा उनकी कमर तोड़ने का प्रयास किया। आज किसान को लागत को मूल्य भी नहीं मिल पा रहा है। किसानों की जमीनों को बड़े लोगो के हाथ बेचा जा रहा है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार किसानों के हालात सुधारने के स्थान पर उनका शोषण कर रही है नही तो सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी आज तक एस वाई एल का पानी प्रदेश के  किसानों तक नही पहुंचा। और न ही खट्टर सरकार की नीयत है कि वो किसान, गरीब, मजदूर का भला करे। उन्होंने कहा कि भाजपा राज में बहु बेटियां सुरक्षित नही हैं। कानून व्यवस्था का स्तर दिन ब दिन गिरता जा रहा है। और सरकार तमाशबीन बनी हुई है। प्रदेश में अराजकता का माहौल है अपराधी बेखौफ घटनाक्रम को अंजाम देकर खुले आम घूम रहे हैं। नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि अगर भाजपा सरकार प्रदेश को नही सम्भाल सकती तो उसको सरकार चलाने का भी हक नही है। बच्चियों पर हो रहे अत्याचार और रेप की घटनाओं के बाद मुख्यमंत्री को अपने नेतृत्व की चूक के चलते अपने पद से त्यागपत्र दे देना चाहिए। 



श्री चौटाला ने कहा कि इनेलो पार्टी का हर एक कार्यकर्ता सरकार की किसान व गरीब विरोधी मानसिकता को भी जनता के सामने लाने का काम करे। साथ ही उन्होंने लोगों को  एसवाईएल के मुद्दे को लेकर जनता को किसान रैली में आने का न्यौता भी दिया। इस अवसर पर पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तंवर, गंगाराम पूर्व विधायक, किशोर यादव, रमेश दहिया, रिशिराज राणा, शैलेश खटाना, शमशेर कटारिया, महेश चौहान, राजेन्द्र धनखड़, विजय डागर, अत्तर सिंह रूहिल, शकील अहमद, अशोक जांगड़ा, मनोज बँधवाड़ी, अटलबीर कटारिया, क्रषन प्रधान, बिटू चौहान, सुखबीर तंवर, विरेंद्र यादव पार्षद, सतीष यादव, राजेश सरपंच, नवल राणा, वीरेन राणा, अशोक यादव सरपंच, राजेश यादव, राव मानसिंह, सुरेंद्र तंवर, ममता सचदेवा, बल्ले चेयरमेन, रविंद्र काले, रवि खुराना, भूपेन्द्र सुखराली, बलवान सिंह, ऋषिपाल धनखड़, रामपत सैनी, कर्मबीर गुर्जर, संजय सरपंच, धर्मबीर बागोरिया, राजबीर ठाकरण सरपंच, गौरव छोकर, राजेश डागर, तेजू यादव, अनूप कटारिया, जगमोहन यादव, चेतन मल्होत्रा, सज्जन दौलताबाद, पाली, रामे प्रधान, नागेन्द्र डागर, दीपक डागर, लीलू खांडसा, कांसीराम सरपंच, एस एस बजाज, फिरोज खान, प्रमोद त्यागी, राजेश त्यागी, सतपाल हंस, कुलदीप वकील, पवन पंडित धनकोट सहित सभी कार्यकर्ता मौजूद थे।
इबकै जोटा मार दयो, थारी सरकार बणी तो 3 लाख 20 हजार रोजगार देंगे - सांसद चौटाला


भिवानी : इनेलो संसदीय दल के नेता दुष्यंत चौटाला ने हल्का लोहारू में युवा चौपाल कार्यक्रम के अंतर्गत गांव गोठड़ा, नकीपुर, पाजु, गोकलपुरा, पातवान व गुढ़ा में युवा व किसानों से सीधे रूबरू हुए। किसान के साधन टै्रक्टर पर सवार दुष्यंत चौटाला ने भारी भीड़ को देखकर युवाओं में जोश भरते हुए 2019 में इनेलो सरकार बनने का दावा किया। सांसद दुष्यंत ने कहा कि आज प्रदेश सरकार के उदासीन रवैये के कारण 70 प्रतिशत युवा सडक़ों पर हैं। 6 हजार रोजगार देकर सरकार ने 17 हजार रोजगार छीनने का काम किया। दिन की शुरूआत धरने-प्रदर्शनों से होती है, जो सरकार की नाकामी को साफ दर्शाता है। इससे पहले सांसद दुष्यंत चौटाला को सैंकड़ों युवाओं के जत्थे ने सैंकड़ों टै्रक्टर के साथ सांसद का स्वागत किया। सांसद ने स्वयं ट्रैक्टर चलाकर किसान व युवा की आवाज को बुलंद किया। सांसद दुष्यंत चौटाला को मनोहर लाल खट्टर को अनुभवहीन मुख्यमंत्री करार देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की अनुभवहीनता का दंश पूरा हरियाणा झेल रहा है। मनोहर सरकार कार्यकाल में प्रदेश को तीन बार आग के हवाले किया गया। सांसद दुष्यंत ने कहा कि आज सबसे ज्यादा नुकसान किसान व युवा वर्ग का हुआ है। किसान को खेती करने के लिए दो बार सोचना पड़ रहा है। खाद जहां थानों में बंटी, वही भाजपा सरकार ने ट्रैक्टर पर टोल लगाकर किसानों को दबाने का प्रयास किया गया था, जिसे इनेलो ने नस्ते नाबूत कर दिया। दुष्यंत ने कहा कि जननायक चौ. देवीलाल ने हमेशा कमेरे वर्ग की बात की थी, वही इनेलो सुप्रीमो चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने किसानों व युवाओं के लिए कल्याणकारी योजनाएं लागू कर उनके भविष्य को सुनिश्चित किया था। दुष्यंत ने कहा कि आज प्रदेश के हालात इस कदर खराब हो चुके है कि भाजपा कार्यकाल के दौरान दुष्कर्म की घटनाएं लगातार बढ़ रही है। पिछले दो माह में 56 महिलाओं के साथ अपराधिक घटनाएं घटी है, जिसके बाद भी सरकार मौन है। वही बलात्कार की घटनाओं से पूरे हरियाणा प्रदेश की किरकिरी हुई, लेकिन मुख्यमंत्री व उनके वजीर फीता कटाई में लगे हुए हैं। सुरक्षा के नाम पर लीपापोती की जा रही है। सरेआम बदमाशों द्वारा हरियाणा प्रदेश की आंतरिक शांति को भंग किया जा रहा है, जबकि गृह मंत्रालय स्वयं मुख्यमंत्री के पासा है। 


सांसद दुष्यंत ने सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि आज जिस संख्या में युवा व किसान इनेलो युवा चौपाल में पहुंच रहा है, उससे साफ पता लगता है कि भाजपा सरकार के दिन लद चुके है। दुष्यंत चौटाला ने आगामी चुनाव के बाद हरियाणा प्रदेश में इनेलो सरकार होगी और पहली कलम से खेती व किसान से जुड़ी समस्याओं को दूर किया जाएगा। वही युवाओं को 3 लाख 20 हजार रोजगार उपलब्ध करवाएं जाएंगे। वही निजी क्षेत्र में हरियाणा के युवाओं के लिए स्पेशल कानून बनाकर 50 प्रतिशत नौकरियां आरक्षित की जाएंगी। दुष्यंत चौटाला ने लोहारू हलके के उपस्थित सभी युवाओं व किसानों को प्रदेश सरकार के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया। वही उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि जब मुख्यमंत्री महोदय लोहारू हलके में पहुंचते है तो पंपों द्वारा मुख्यमंत्री के सलाहकार नालियों में पानी छोड़ देते है और टेल तक पानी पहुंचाने का झूठा दावा करते हैं। उन्होंने कहा कि एसवाईएल की लड़ाई केवल इनेलो लड़ रही है, जिसे जीतकर हरियाणा प्रदेश के किसानों के साथ न्याय किया जाएगा। उन्होंने इनेलो नेता महेंद्र गोकलपुरा के यहां जलपान किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से विधायक ओमप्रकाश बड़वा, पूर्व विधायक धर्मपाल ओबरा, राजसिंह गागड़वास, गजेंद्र मंढ़ोली, युवा जिला अध्यक्ष मनोज यादव, पार्षद नरेंद्र गागड़वास, बनिता बिसलवास, वेदपाल ढि़ल्लो, डा. दिलबाग सिंह, वजीर मान, देवेंद्र नकीपुर, सुरेंद्र राठी, गौरव चौधरी, राजेश भारद्वाज, बबलू डुडी, राजेश आर्य, मुन्ना हरियावास, दिनेश सिहाग, संदीप चैहड़, मनदीप सुई, दीपक सिवाड़ा, अजय बरालु, अशोक सिहाग, अमित सिधनवा, सतपाल तलवानी, राकेश मोटी, कुलदीप फरटिया, सतबीर ईशरवाल सहित अनेक लोग उपस्थित थे। 
इनेलो जिले के हर हल्के में मनाएगी रविदास जयंती- दुष्यंत चौटाला



हिसार : संत और गुरु प्रत्येक समाज के पथप्रदर्शक होते है और इनेलो सन्तों और गुरुओ का विशेष आदर करती है। 31 जनवरी को गुरु रविदास जयंती को भी पार्टी की तरफ से धूमधाम से मनाई जाएगी। इनेलो संसदीय दल के नेता और हिसार युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने शुक्रवार को देवीलाल सदन में आयोजित अनुसूचित प्रकोष्ठ की बैठक को सम्बोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि आगामी बुधवार को इनेलो जिले के सातों हलकों में रविदास जयंती मनाएगी । इन कार्यक्रमों में इनेलो अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक अशोक शेरवाल मुख्यातिथि के तौर पर उपस्थित होंगे और जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सहित विधायक रणवीर गंगवा, वेद नारंग, अनूप धानक और अन्य पार्टी पदाधिकारी भी हाजिर रहेंगे।  सांसद चौटाला ने इनेलो पिछ?ा वर्ग, अनुसूचित जाति , कानूनी, पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ, कर्मचारी प्रकोष्ठ, लेबर प्रकोष्ठ, किसान प्रकोष्ठ, इनसो व युवा विंग के पदाधिकारियों की अलग अलग तय समयनुसार बैठक ली और उन्हें संगठन को मजबूत बनाने को लेकर विचार विमर्श किया। इस मौके पर पिछ?ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष डॉ राजकुमार दिनोंदिया ने पूर्व में रणवीर गंगवा और बाद में राम कुमार कश्यप को राज्य सभा मे भेजे जाने पर पार्टी का धन्यवाद करते हुए कहा कि पिछ?ा वर्ग का जितना मानसम्मान इनेलो में मिलता है उतना किसी अन्य संगठन में नही मिलता। 


अनुसूचित प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष डॉ सत्यनारायण मंगाली ने इनेलो ने जिस प्रकार बाबा साहब डॉ भीम राव अम्बेडकर का जन्मदिवस पूरे प्रदेश में सदभावना दिवस के रुप में मनाया उससे अनुसूचित वर्ग में पार्टी के प्रति आस्था ब?ी है। इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज के मौजूदा माहौल में जो राजनैतिक पार्टी सामाजिक कार्यो में ब?च?कर भाग लेती है उसे ही जनता पसन्द करती है। इसलिए पार्टी कार्यकर्ताओं को हर सामाजिक कार्य मे ब?च?कर कर भाग लेना चाहिए और समाज सेवा के लिये अपने आप को तैयार रखना चाहिए। सांसद ने कानूनी प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि पार्टी से जु?े वकीलों को आमजनता को उनके कानूनी अधिकारों के प्रति जागरूक करना चाहिए। वकील समाज का आईना होता है और लोगो को भी वकील की बात जल्दी समझ मे आ जाती है। इस मौके पर इनेलो जिलाध्यक्ष राजेन्द लितानी, विधायक रणवीर गंगवा, वेद नारंग, अनूप धानक, अशोक शेरवाल, तेलु राम जोगी, विद्यानन्द लाम्बा, पूर्व विधायक निशान सिंह,  एडवोकेट जसवीर ढिलो, पूर्व विधायक कर्नल रघुबीर छिलर, धारा सिंह,पूर्व आई ए एस अधिकारी ओ पी इंदौरा, डॉ अनन्त राम बरवाला, एडवोकेट कलम सिंह, एडवोकेट मनदीप बिश्नोई, रविन्द्र सैनी, सतवीर वर्मा, सजन लावट, मुकेश डुलगच, डॉ उमेद खन्ना, सतबीर मुंगेरिया, एडवोकेट मोहमद सोहैल अख्तर, ललिता टांक, विक्रांत बाग?ी, एडवोकेट पंकज मेहता, संदीप बिश्नोई, कुलबीर बिश्नोई, तरूण जैन, अमित खरे, सुभाष धानिया, वेद बशीर, शंकर गहलोत, जोगेंद्र शेरवाल, जय भगवान इंदौरा, कृष्ण सैन, मांगे राम जांग?ा, नन्द लाल वर्मा, पोटू राम बाल्मिकी, राजू वर्मा, राजेन्द्र सैन, सतीश मास्टर, रामफल सहित काफी  संख्या में पार्टी पदाधिकारी उपस्थित थे।
दुष्यंत पहुंचे किसानों के धरना स्थल पर, मांगों का किया समर्थन



हिसार : नहरी पानी के लिए लघु सचिवालय में धरना दे रहे किसानों की मांगों का समर्थन करने के लिए इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला शुक्रवार को धरना सथल पर पहुंचे। दुष्यंत चौटाला ने किसानों की मांगों का समर्थन करते हुए कहा कि सरकार तुरंत किसानों की मांगे और नलवा व आदमपुर क्षेत्र में दो सप्ताह नहरों में पानी की आपूर्ति सुनिश्चित करे। सांसद दुष्यंत चौटाला ने धरना स्थल पर मौजूद किसानों की मांगों के समाधान के लिए विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से बातचीत की। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यदि नहरी पानी की मात्रा और आवंटन में कोई समस्या है, उसके लिए संघर्ष कमेटी तिथि निर्धारित कर लें, वह नहरी विभाग के उच्च अधिकारियों से तय तिथि को लेकर कमेटी के साथ अधिकारियों के समक्ष किसानों की पैरवरी करेंगे। इसके लिए उन्होंने किसानों को चंडीगढ़ आमंत्रित किया। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जहां तक राजस्थान सरकार की ओर से खन्नौरी हेड पर काम रूकवाने का मामला है, इसके लिए भी उन्होंने संघर्ष कमेटी के प्रतिनिधियों के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मिलेंगे और समस्या के समाधान की मांग करेंगे। सांसद ने संघर्ष समिति को केंद्रीय मंत्री से मिलने के लिए 4 से 9 फरवरी के बीच कोई दिन निर्धारित कर दिल्ली आने का न्यौता दिया। इनेलो सांसद ने कहा कि यदि फिर भी किसानों की समस्या हल नहीं हुुई तो वह किसानों के लिए आगे होकर संघर्ष करने को तैयार है, किसान संघर्ष कमेटी जो आदेश देगी, उसका वह पालन करेंगे और किसानों के साथ सड़कों पर उतरेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों के पानी की समस्या को लेकर उन्होंने दिशा की बैठक में भी अधिकारियों से बातचीत की थी और अधिकारियों ने बताया था कि पिछले 25 वर्षों से हिसार जिले को आपूर्ति होने वाले सिंचाई के पानी में कोई बढ़ौतरी नहीं हुई है, इसके लिए अधिकारियों राजस्थान सरकार पंजाब सरकार को पत्र भेजर कर द्वारा खनौरी हेड पर काम रूकवाने का मामला उनके सामने आया था। 
उन्होंने कहा कि तीन वर्ष पूर्व भी किसानों के संघर्ष के आगे बीजेपी सरकार को झुकना पड़ा था और उनकी मांगे मानी गई थी परन्तु सरकार अपने वायदे पर कायम नहीं रही और इस क्षेत्र की नहर में 12 दिन पानी नहीं चलाया। दुष्यंत के साथ धरना स्थल पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, किसान प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह, विधायक रणबीर गंगवा, विधायक वेद नारंग,, सतबीर सिसाय, सतपाल सरपंच, भागीरथ नंबरदार, सत्यवान बिचपड़ी, अमित बूरा सहित अन्य पदाधिकारी भी दुष्यंत के साथ पहुंचे।

Thursday, January 25, 2018

इनेलो महिला प्रकोष्ठ ने राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन 



चंडीगढ़, 25 जनवरी: प्रदेश में महिलाओं व बच्चियों के प्रति बढ़ते उत्पीडऩ, अपहरण एवं बलात्कार के मामलों में सरकार के लगातार विफल होने पर इनेलो महिला प्रकोष्ठ ने श्रीमती नैना चौटाला के नेतृत्व में राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा। श्रीमती चौटाला के साथ महिला प्रकोष्ठ अध्यक्षा शीला भ्यान सहित 39 महिलाओं का शिष्टमण्डल राज्यपाल महोदय से मिला। उन्होंने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था में दिन प्रतिदिन गिरावट आई है और चूंकि गृह मंत्रालय मुख्यमंत्री के पास है तो प्रदेश में महिलाओं पर बढ़ते अपराध के लिए उनका नेतृत्व ही दोषी है। ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ का नारा देने वाली भाजपा सरकार उनकी सुरक्षा के मामले में नकारा सिद्ध हुई है। आज प्रदेश में ‘बेटी बचाओ’ की चेतावनी नकारात्मकता का पर्याय बन चुकी है। 
श्रीमती चौटाला ने कहा कि नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के आंकड़े सिद्ध करते है कि पिछले दिनों जो रेप और महिला उत्पीडऩ की घटनाएं प्रदेश में हुई है वो कोई अपवाद नहीं हैं। इन आंकड़ों के अनुसार भाजपा के पिछले तीन वर्षों (2014-16) के शासनकाल के दौरान राज्य में महिला उत्पीडऩ के 28369 मामले दर्ज हुए हैं। वर्ष 2016 में 1189 महिलाओं के साथ बलात्कार के मामले दर्ज हुए। नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के अनुसार पूरे भारतवर्ष में गैंगरेप के अपराधों में हरियाणा चौथे स्थान पर है। इसी प्रकार वर्ष 2016 में 10862 महिलाएं उत्पीडऩ का शिकार हुई और 3641 महिलाएं लापता हुई। 
पिछले वर्ष 2017 के मई से लेकर नवम्बर तक के आंकड़ों के अनुसार 769 बलात्कार, 98 बलात्कार के प्रयास, 1442 महिला उत्पीडऩ, 431 बच्चियों को हवस का शिकार बनाने के मामले दर्ज हुए। इस प्रकार की घटनाओं में निरंतर वृद्धि हो रही है जिस कारण औसतन राज्य में प्रतिदिन 4 बलात्कार की घटनाएं घटती हैं। इस वर्ष 2018 के जनवरी माह में ही अभी तक केवल एक सप्ताह में प्रदेश के 17 शहरों में से 56 महिलाएं एवं बच्चियां लापता हो चुकी हैं। उन्होंंने यह भी कहा कि भाजपा राज में महिलाएं न तो घरों में सुरक्षित है और न ही बाहर। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि महिलाओं को परिजनों के साथ होन पर भी वारदात को अंजाम देने से नहीं घबराते। इस प्रकार की घटना का शिकार गुरुग्राम की एक ऐसी महिला थी जिसके साथ पति और देवर भी था।
मान्यवर राज्यपाल ने ज्ञापन के बाद शिष्टमण्डल को भले ही कानून व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने का आश्वासन दिया हो लेकिन श्रीमती नैना चौटाला ने महिलाओं को सशक्त और जागरुक बनाने के लिए  प्रदेश स्तर पर ‘हरी चुनरी की चौपाल’ कार्यक्रम की भी शुरुआत की है जिसमें औरतों और बहू-बेटियों की समस्याओं को सरकार और प्रशासन के समक्ष लाया जा रहा है और उनके निदान के लिए महिला शक्ति को एकजुट होकर संघर्ष करने के लिए प्रेरित किया जाता है। 
इनेलो नेत्री ने यह भी कहा कि भाजपा सरकार ने महिला थाने खोलकर अपनी पीठ तो थपथपाई लेकिन इन थानों की हकीकत सिर्फ इतनी है कि उन थानों में पर्याप्त संख्या में महिला पुलिस कर्मचारी नहीं है। प्रदेश में कुल पुलिस कर्मचारियों का मात्र सात प्रतिशत हिस्सा महिला कर्मचारी हैं। यह गम्भीर चिंता का विषय है। इसके साथ महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों को अंजाम देने वाले अधिकतर पुरुष होते हैं जिनसे पूछताछ के लिए महिला थानों में पुरुष कर्मचारियों की नियुक्ति भी होनी चाहिए। प्रदेश में बढ़ते अपराध के लिए युवाओं में बेरोजगारी के साथ-साथ प्रदेश में पांव पसार चुका नशा भी है। भाजपा सरकार इन समस्याओं पर ध्यान न देकर युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ कर रही है जिसके चलते जान या अनजाने में युवा अपराध की ओर अग्रसर हो रहा है।
दुष्यंत चौटाला ने हाईवे नेस्ट मिनी का किया उद्घाटन 

हाईवे अथॉरिटी पर देश की पहली टी-कॉफ़ी शॉप


हिसार, 25 जनवरी: हाईवे पर वाहन चालकों और यात्रियों के  खाने-पीने और आराम की सुविधा देने के उद्देश्य से खोले गए टी-काफी शॉप का आज इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने उद्घाटन किया। एनएचएआई ने इसे हाईवे नेस्ट मिनी का नाम दिया है। हिसार-बरवाला रोड पर बाडो पट्टी टोल के समीप हाइवे अथॉरिटी द्वारा संचालित यह देश की यह पहली टी-शॉप है जो 24 घंटे खुली रहेगी।
एनएचएआई ने देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर हर 50 किलोमीटर की दूरी पर एक हाईवे नेस्ट व हाइवे विलेज खोलने की योजना बनाई है जहां वाहन चालक व यात्रियों के ठहरने, चाय-काफी, खाने-पीने की सुविधाएं होंगी। इसके अलावा यात्रियों के आराम करने और ठहराव स्थल भी विकसित किए जाएंगे जहां महिलाओं और विकलांगों के लिए अलग से टॉयलेट की सुविधा होगी। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हाईवे पर चलने वाले यात्रियों को खान-पान की सुविधाओं की जरूरत होती है और कहीं कहीं तो कई घंटों के सफर के बाद भी यह सुविधा नहीं मिलती। हाईवे अथॉरिटी ने यह सुविधा शुरू की है जो कि स्वागत योग्य है। उन्होंने कहा कि हाईवे पर यात्रियों की सुविधा के लिए मूलभूत सुविधाएं होनी चाहिए जिनके लिए यात्रियों को किसी रेस्टोरेंट या ढाबे पर न रूकना पड़ा। 
इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक वेद नारंग, हलका प्रधान सजन लावट, सतपाल पालू, हाइवे अथारिटी के अधिकारी आरके राठी,योगेश गौतम सहित अन्य उपस्थित थे। 
कैमरी रोड पर जाम से बचने के लिए दुष्यंत ने दिए पुल के लिए सर्वे के निर्देश 

हिसार, 25 जनवरी : सांसद दुष्यंत चौटाला ने कैमरी रोड स्थित रेलवे क्रासिंग पर लगने वाले जाम से निजात पाने के लिए अधिकारियों को नहर पर एक पुल बनाने की दिशा में काम करने के निर्देश दिए हैं। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि रेलवे ओवरब्रिज बनने से नहर पर पुल निर्माण कर लें जिससे कि इस रोड पर ट्रैफिक का लोड कम जाएगा। कल देर रात चली दिशा की बैठक में सांसद दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को कैमरी रोड पर जाकर मौके का मुआवना कर सर्वे की की रिपोर्ट एक सप्ताह में सौंपने के आदेश दिए। यदि बालसंमद नहर पर पुल बनने का रास्ता क्लीयर हो जाता है तो सांसद दुष्यंत चौटाला अपने सांसद निधि कोष से भी इस पुल का निर्माण करवाने को तैयार है ताकि कैमरी रोड पर आवागम करने वाले वाहन चालक जाम से राहत की सांस ले सकें। 
सांसद दुष्यंत चौटाला दिशा की बैठक में रेलवे विभाग द्वारा मंजूर हुए ओवरब्रिज बारे में अधिकारियों से जानकारी ले रहे थे। दुष्यंत ने कहा कि क्यों न बालसंमद नहर पर एक पुल का निर्माण कर दिया जाए जिससे कि फाटक से पहले ही बने कालोनी के साथ वाले रोड पर डाइवर्ट हो जाएं और बिना रेलवे फाटक क्रास किए ही पुल के माध्यम से सीधे साऊथ बाइपास की सड़क पर चढ़ जाएं। अधिकारियों ने भी सांसद के इस प्रस्ताव पर सहमति जताई। दुष्यंत ने इससे पहले भी एक बार नहर पर पुल के प्रस्ताव दिया था
सांसद दुष्यंत चौटाला ने पुल बनाने के लिए नगर निगम के आयुक्त अशोक बंसल, पीडब्ल्यूडी और नहर विभाग के अधिकारियों को जल्द से जल्द कैमरी रोड पर संबंधित साइट को विटिज कर, इसकी रिपोर्ट एक सप्ताह में सौंपने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पैसे की कोई दिक्कत नहीं होगी। इनेलो सांसद ने कहा कि कोई तकनीकी अड़चन है तो उसे दूर कर , पुल का निर्माण तीन माह में कर दो, ताकि फाटक बंद होने पर जाम न लगे और लोग सेक्टर 16-17 रोड पर बिना फाटक क्रॉस किए ही चढ़ जाएं। 
यहां बता दें कि कैमरी से आते समय फाटक से पहले एक सड़क नहर की ओर जाती है। अधिकारियों को यह देखना है कि क्या यह सड़क को दुरूस्त करने के बाद वाहनों के आवागमन योग्य है? नहरी विभाग इस नहर पर पुल के निर्माण की अनुमति दे देता है तो तोशाम और सेक्टर 16-17 की ओर से कैमारी रोड़ की ओर आने-जाने वाले वाहनों को दो फाटक क्रॉस नहीं करने पड़ेगे और वे अपनी मंजिल की ओर बढ़ जाएंगे। 

Wednesday, January 24, 2018

फसल बीमा कंपनी किसानों को 15 दिन में दे क्लेम, अन्यथा एफआईआर के लिए रहें अधिकारी तैयार - दुष्यंत 



हिसार : जानबूझ कर एमपी फंड पर दबा कर बैठने वाले अधिकारियों की अब खैर नहीं है। अब उन्हें न केवल विभागीय कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा बल्कि उनके खिलाफ हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव को सस्पेंड की अनुशंसा भी की जाएगी। यह निर्देश आज सांसद दुष्यंत चौटाला ने डिस्ट्रीक्ट डेवलेपमेंट कॉर्डिनेशन एंड मानिटरिंग कमेटी  (दिशा ) की बैठक में दिए। इतना ही नहीं सांसद दुष्यंत चौटाला ने फसल बीमा योजना के तहत पीडि़त किसानों को एक वर्ष बाद भी मुआवजा न देने के लिए बैंक व बीमा कंपनी के अधिकारियों की जम कर खिंचाई की। उन्होंने कहा कि बीमा व बैंक की गलती की सजा पीडि़त किसान क्यों भुगतें। उन्होंने पीडि़त किसानों को 15 दिनों के भीतर मुआवजा देने के निर्देश दिए अन्यथा अधिकारियों के खिलाफ पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। दुष्यंत ने ऐसे अधिकारियों से भी जवाब तलबी करने को कहा जो लंबे समय से एमपी फंड के विकास कार्य पूरे नहीं कर रहे हैं। सांसद दुष्यंत चौटाला ने बैठक में विभिन्न सरकारी योजनाओं की समीक्षा की। 
बैठक की अध्यक्षता करते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कुछ अधिकारी विकास कार्यों का अस्टीमेट बना कर, एमपी फंड से राशि जारी करवा लेते हैं। राशि जारी होने के लंबे समय तक वे इस पर कुंडली मारे बैठे रहते हैं और बाद में यह कहते हुए राशि लौटा देते हैं संबंधित विकास कार्य पूरा करना उनके अधिकारी क्षेत्र में नहीं हैं। दुष्यंत ने कहा कि कुछ अधिकारी जानबूझ कर ऐसी हरकतें कर रहें, ऐसे अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा और उनकी पहचान कर मुख्य सचिव को उनके निलंबन के लिखा जाएगा। दुष्यंत के निर्देश सुनते ही हाल में खामोशी छा गई। 
दुष्यंत चौटाला ने वर्ष 2016 की खरीफ की बर्बाद हुई फसलों के मुआवजा न देने के लिए अधिकारियों को आड़े हाथों लिया। उन्होंने अधिकारियों से पूछा कि अब तक किसानों को क्लेम क्यों नहीं मिला तो अधिकारी बगलें झांकने लगे और फसल बीमा कंपनी और बैंक अधिकारी एक दूसरे पर जिम्मेवारी डालते नजर आए तो। दुष्यंत ने कहा कि आपकी आपसी लड़ाई का खामियाजा किसान क्यों भुगत, पीडि़त किसानों का क्या कसूर है। उन्होंने कड़ी फटकार लगाते हुए कहा  किसानों को 15 दिन में मुआवजा मिलना चाहिए अन्यथा इसके लिए जिम्मेवार अधिकारी पुलिस कार्रवाई का सामना करने के लिए तैयार रहें। बैठक में गांव कैमरी में भी गंदे पानी की वजह से खराब हुइ फसलों के लिए भी मुआवजा भी 15 दिन में किसानों को दें।

---एमपी फंड से विकास कार्य न करने वाले अधिकारियों के लिए जांच कमेटी गठित-दुष्यंत चौटाला ने दिशा की बैठक में एडीसी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने के निर्देश दिए। यह कमेटी भिवानी व जींद जिलों में जाकर जांच करेगी कि संसदीय निधि कोष से राशि जारी होने के बाद भी विकास कार्य क्यों नहीं पूरे हुए और कौन अधिकारी इस राशि को दबाए बैठे हैं। यह कमेटी अपनी रिपोर्ट सांसद दुष्यंत चौटाला को सौंपेगी।

---तीन माह में कैमरी रोड नहर पर पुल बना दो-कैमरी रोड पर रेलवे फाटक पर लगने वाले जाम से बचने के लिए दुष्यंत चौटाला ने फाटक से पहले नहर तक जा रही सड़क को मुख्य सड़क से जोडऩे के लिए बालसंमद नहर पर पुल निर्माण करने के निर्देश दिए। इसके लिए उन्होंने नगर निगम आयुक्त अशोक बंसल व नहरी विभाग और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दो दिन के भीतर साईट विजिट करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस पर पुल का निर्माण  तीन माह में कर दो ताकि फाटक बंद होने पर जाम न लगे और लोग सेक्टर 16-17 रोड पर बिना फाटक क्रॉस किए ही चढ़ जाएं।

---आबादी बढ़ती गई और पानी की आपूर्ति नहीं बढ़ी-सांसद दुष्यंत चौटाला ने नहरों में कम पानी आने के मुद्दे पर संज्ञान लेते हुए नहरी विभाग के एसई से पूछा कि पिछले 25 वर्षों से पानी की मांग बढ़ रही है तो आपूर्ति क्यों नहीं बढ़ी। इस पर अधीक्षक अभियंता ने बताया कि तीन दशक से हिसार जिले में 1150 से 1250 क्यूसिक पानी ही मिल रहा है। उन्होंने बताया कि जल आपूर्ति बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार ने कार्रवाई शुरू करते हुए पंजाब में खनौरी में निर्माण कार्य के लिए राशि भी जमा करवा दी थी परन्तु इस पर राजस्थान ने अडंगा डाल दिया। उन्होंने कहा कि किसान पानी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। दुष्यंत चौटाला ने इस संबंध में नहरी विभाग के अधिकारी को सारे पत्राचार और राजस्थान की आपत्ति की प्रति मांगी जिससे कि वह इस मामले में केंद्र सरकार से बात कर सकें।

रामनगर के लोगों को आवासीय सुविधा देने के निर्देश-बैठक महावीर कालोनी स्थित रामनगर के लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना से बाहर रखने पर कड़ा संज्ञान लिया और कहा कि अधिकारी उस जगह को विजिट करें और रामनगर की स्लम बस्ती के लोगों को आवास योजना के तहत लाने के लिए सर्वे करें।

28 तक बरवाला-हिसार रेलवे लाइन का पुल क्यों नहीं तैयार हुआ- दुष्यंत चौटाला ने बैठक में हिसार-बरवाला रोड पर बरवाला रेलवे क्रासिंग पुल का काम 28 जनवरी तक पूरा न होन के लिए नेशनल हाइवे आथरिटी आफ इंडिया के अधिकारियों से जवाब तलबी की। अधिकारी ने बताया कि रेलवे विभाग की तकनीकी अड़चन के कारण रूक गया था अब इस पर काम शुरू हो जाएगा और 28 फरवरी तक चालू हो जाएगा। उन्होंने बाईपास पर बालसंमद, आर्यनगर, बगला, हांसी व जींद रोड पर सर्विस लेने का स्टेटस भी जाना। अधिकारी ने बताया कि इसमें पांच की मंजूरी आ चुकी है और जल्द ही काम शुरू हो जाएगा।

---सरकार की आरटीआई और फोगिंग मशीन के आंकड़ों में अंतर क्यों-दुष्यंत ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से फोगिंग मशीन की उपलब्धता के आंकड़े पूछे तो वे हतप्रभ रह गए। उन्होने कहा कि आपके पास मशीने ज्यादा हैं और आंकड़ें कुछ ओर ही बता रहे हैं। दुष्यंत ने आरटीआई का हवाला दिया तो स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कोई जवाब नहीं दे पाए कि यह अंतर क्यों हैं। दुष्यंत ने स्वास्थ्य विभाग को फोगिंग मशीन का डाटा दुरूस्त करने को कहा। उन्होंने गांवों में काले पीलिया के बचाव के टीके लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को गांवों में शिविर लगाने के निर्देश दिए।

---लघु सचिवालयों में शौचालयों की खस्ता हालत पर कसा तंज

....अपने घर को स्वस्छ नहीं रख सकते तो, बात करते हो पूरे जिले की
हिसार, लघु सचिवालय के शौचालयों की दयनीय स्थिति और उनकी साफ सफाई का मामला भी आज दिशा की बैठक में छाया रहा। इनके साफ-सफाई और मरम्मत की बात आई तो अधिकारी इसकी जिम्मेवारी एक दूसरे विभागों पर डालते रहे। निगम के अधिकारी कहते रहे कि लघु सचिवालय के शौचालयों की परिसर की सफाई उनके दायरे से बाहर है जबकि पीडब्ल्यूडी के अधिकारी अपना पल्ला झाड़ते रहे कि मरम्मत का उनके पास कोई इनका कोई समाधान नहीं है। दोनों विभागों की इस रवैये को देख एडीसी बोले तो कोई बात नहीं, लघु सचिवालयों के शौचालयों को निगम अपने अंडर में मान ले लेकिन निगम के एक्सईएन रामजीलाल इस पर भी राजी नहीं हुए और उन्होंने असमर्थता जता दी। 
अधिकारियों के इस रवैये को सांसद दुष्यंत चौटाला बोले, कम से कम अपने घर को तो साफ कर लो, जो अपने घर की साफ सफाई नहीं रख सकते , वो भला पूरे जिले को कैसे स्वच्छ बनाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार तो स्वच्छता को एक मिशन मान कर काम कर रही है और यहां के अधिकारी अपने टॉयलेट और बाथरूम की सफाई करवाने में असमर्थता जता रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह पिछली बार दिशा की बैठक में आए थे तो उन्होंने यहां के शौचालयों की खस्ता हालत देखी थी, आज भी वैसी ही है। यहां अग्रिशमन यंत्रों को भी एक फ्लैक्टस बोर्ड के पीछे छिपे थे और आज भी वैसे ही पड़े हैं। उन्होंने निगम के अधिकारियों से कहा कि लघु सचिवालय भी एक सार्वजनिक स्थल हैं और आम लोग यहां अपने कार्य के लिए आते हैं। 

---साइकिलों का करोड़ों का बजट लैप्स हो जाएगा-आज दिशा की बैठक में दुष्यंत ने शिक्षा विभाग से स्कूलों के एससी विद्यार्थियों को साइकिलें वितरित की रिपोर्ट मांगी तो शिक्षा विभाग के अधिकारी बगलें झांकने लगे।  दुष्यंत ने कहा कि साईकिलों के लिए शिक्षा विभाग ने प्रदेश भर में करोड़ों रूपये का बजट आवंटित कर रखा है। उन्होंने कहा कि नौंवी व ग्याहरवीं के विद्यार्थियों को साइकिल की राशि आवंटित नहीं की गई तो यह बजट लैप्स हो जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि पहले साइकिलें सीधी खरीद कर दी जाती थी परन्तु अब साइकिल पहले से खरीद कर इसकी रसीद विभाग में जमा करवानी होती है, जिसके कारण यह दिक्क्त आ रही है। सांसद ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे विद्यार्थियों को इस इस योजना के बारे में बताएं और उन्हें प्रेरित करें। विभाग का नियम है कि जो एसएस विद्यार्थी स्कूल में दो किलोमीटर से अधिक दूरी आते हैं, उनके साइकिल खरीदने के लिए 2575 व 2775 रूपये देती है। 




देश के विकास की गाड़ी गांव की गलियों से होकर गुजरती है - दुष्यंत चौटाला 



हिसार, 24 जनवरी : आंकड़ों के खेल में माहिर मोदी सरकार चाहे जितने विकास के आंकड़े प्रस्तुत कर वाहवाही लूट ले, पर असलियत यह है कि देश में पिछले सालों में खेती ने रफ्तार नहीं पकड़ी है और कृषि क्षेत्र की विकास दर पिछले वर्ष के मुकाबले घटी है। ऐसे में मोदी सरकार का किसानों की आय 2022 तक दोगुने करने का वायदा एक बार फिर जुमला साबित होने जा रहा है। जब भाजपा सरकार किसानों के लिए धरातल पर काम नहीं करेगी तब तक न तो कृषि में सुधार होगा और न ही किसान की आर्थिक हालात सुधर पाएंगे। देश के विकास की गाड़ी गांव की गलियों से होकर गुजरती है यह बात इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला ने बुधवार को गुराना में आयोजित किसान-नौजवान सभा में बतौर मुख्य वक्ता बोल रहे थे। इससे पहले सांसद दुष्यंत चौटाला को कंबाईन पर बैठाकर सैंकड़ों ट्रैक्टर-ट्रालियों के साथ सभा स्थल पर लाया गया। किसान-नौजवान सभा के आयोजक व युवा इनेलो के जिला अध्यक्ष अमित बूरा ने सांसद दुष्यंत चौटाला, जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक अनूप धानक, विधायक वेद नारंग, शीला भ्याण सहित अन्य इनेलो नेताओं का स्वागत किया। किसानों ने ट्रैक्टर को कार्मशियल वाहन की श्रेणी से मुक्त करवाने के लिए दुष्यंत चौटाला ट्रैक्टर का मॉडल का स्मृति चिन्ह देकर आभार जताया किया।  इनेलो सांसद ने यहां उमड़ी हजारों किसान-नौजवानों की भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि  भाजपा सरकार एसी दफ्तरों में बैठकर किसान विरोधी फैसले लेती है और सार्जजनिक मंचों पर भाजपा के मंत्री किसानों की आय दोगुनी करने की बात करते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार यह तो बताए कि ऐसे में कैसे किसानों की आय दोगुनी होगी, या सरकार के पास कोई जादू की छड़ी है तो वह बताए। उन्होंने कहा कि सरकारी आंकड़े गवाह हैं कि पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष कृषि क्षेत्र की वृद्धि दर घट कर 2.1 रह गई है जबकि पिछले वर्ष 4.9 प्रतिशत थी। 


युवा सांसद ने कहा कि जब तक किसानों की आमदनी नहीं बढ़ेगी, कर्ज की मर्ज से किसान नहीं निकलेंगे,फसलों के लाभकारी मूल्य, समय पर सिंचाई के लिए पानी, बिजली और सस्ता डीजल नहीं मिलेगा तब तक न तो देश का किसान-मजदूर समृद्ध होगा और न ही देश प्रगति कर पाएगा। उन्होंने कहा कि बेशक आंकड़ों में सरकार शहरीकरण और औद्योगिकीकरण के लाख दावे कर ले असल में आज भी देश की 70 प्रतिशत आबादी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से कृषि क्षेत्र से जुड़ी है। विडंबना है यह कि किसानी से जुड़ी देश की इस बड़ी आबादी की समृद्धि के लिए सरकार ठोस व कड़े कदम नहीं उठा रही है। उन्होंने कहा कि आज डीजल 62 रूपये प्रति लीटर तक पहुंच गया है और किसानों को अपना ट्रैक्टर चलाना और टयूबवेल से सिंचाई करना मुश्किल हो रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को तेल बेचने वाले कंपनियों के आमदनी बढ़ाने की चिंता तो है, जिसके लिए हर दिन डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ाने के प्रावधान किए परन्तु फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य केवल कुछ ही पैसे प्रति किलोग्राम की दर से वर्ष में केवल एक बार बढ़ाती है जबकि किसानों को आर्थिक तंगी से निकालने के लिए स्वामीनाथन आयोग की सिफारियों को भाजपा सरकार कूड़े में फैंक चुकी है। 
उन्होंने कहा कि हरियाणा में उद्योग धंधे पलायन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दशकों से स्थापित मारूति अब हरियाणा में स्विफ्ट का बोरिया बिस्तर बांध कर गुजरात जाने वाली है। उन्होंने कहा कि उद्योगों के पलायन के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जिम्मेवार है। प्रदेश में रोजगार समाप्त हो रहे हैं, दुकानदार-व्यापारी परेशान हैं। पहले से नौकरी कर रहे युवाओं को खट्टर सरकार घर का रास्ता दिखा रही है, नए रोजगार है नहीं। उन्होंने आह्वान कियुवा-किसान विरोधी इस सरकार के खिलाफ एकजुट हो जाएं और आज से ही भाजपा सरकार को उखाड़ फैंकने का संकल्प लें। सांसद दुष्यंत ने सभा में उमड़ी भीड़ के लिए युवा जिला प्रधान अमित बूरा की पीठ थपथपाई और कहा कि इसी प्रकार घर-घर जाकर पार्टी को मजबूती प्रदान करते रहो। इस अवसर पर हलका प्रधान सतबीर सिसाय, बहादुर सिंह नायक, बिजेंद्र लोहान, राजपाल डेविड, जयवीर डाटा, रमेश दलाल, इंद्र फौजीहा, भागीरथ नंबरदार, सतपाल पालू सहित अन्य नेता उपस्थित थे। 

Monday, January 22, 2018

सांसद दुष्यंत 24 को देवीलाल सदन में लेंगे हिसार हल्के की मीटिंग

हिसार : युवा सांसद दुष्यंत चौटाला पार्टी संगठन की मजबूती को लेकर पूरे प्रदेश में युवा किसान कार्यक्रम आयोजित कर रहे है। इसी कड़ी में 24 जनवरी को शाम 6 बजे हिसार विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं के साथ सांसद चौटाला देवीलाल सदन में बैठक करेंगे जिसमे पार्टी संगठन को मजबूत बनाने को लेकर विस्तार से विचार विमर्श किया जाएगा। इस मौके पर सांसद क्षेत्र के लोगो की समस्या भी सुनेंगे। इसी मीटिंग को लेकर इनेलो हलकाध्यक्ष सजन लावट ने सोमवार को हल्के की विभिन्न कॉलोनियों का दौरा करके लोगो को मीटिंग में आने का निमंत्रण दिया। सोमवार को लावट ने महावीर कॉलोनी सूर्य नगर, शिव कॉलोनी, बाल्मीकि मोहल्ला सहित कई क्षेत्रों का दौरा किया। इस मौके पर उनके साथ पूर्व पार्षद ईश्वर पुनिया अमित ग्रोवर, राज कुमार राडा, शंकर गहलोत, सतीश सोनी, ऋषि खटक?, अमित सावंत, सतीश पेंटर, सुशील दुग्गल, राकेश सरोलिया, खुशी राम, अमर सिंह व राधेश्याम  सहित कई पार्टी पदाधिकारी उपस्थित थे। इस अवसर पर सजन लावट ने स्थानीय निवासियों से चर्चा करते हुये बताया कि आज की भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल हो चुकी है सत्ता में बैठे जनप्रतिनिधि केवल सत्ता सुख भोगने में व्यस्त है। कांग्रेसी स्वयं को ही एक दूसरे को नीचा दिखाने में लगे हुए है। ऐसे में केवल इनेलो ही सही विकल्प है। उन्होंने आने वाले समय मे इनेलो का सहयोग करने को लेकर लोगो को प्रेरित किया।
लावट ने स्थानीय भाजपा विधायक को आ?े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा विधायक ने शहर को आवारा पशुओं से मुक्ति दिलाने का वायदा प्रमुखता से किया था परंतु आज भी शहर के हालात इस दिशा में पहले से बदतर हो चुके है परंतु स्थानीय विधायक केवल अपने मुंह मियां मिठू बनते घूम रहे है।
अमित शाह ने यदि इनेलो के सवालों का जवाब नहीं दिया तो शाह का किया जाएगा काले झंडे दिखाकर विरोध - अभय सिंह चौटाला 



कुरुक्षेत्र : नेता प्रतिपक्ष हरियाणा अभय चौटाला ने कहा है कि प्रदेश में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे से पहले इनेलो उनसे प्रदेश की स्थिति को लेकर पत्र लिख कर सवाल करेगी। यदि अमित शाह ने सवालों का संतोष जनक उत्तर नहीं दिया तो इनेलो 15 फ रवरी  को अमित शाह के हरियाणा दौरे का काले झंडे दिखाकर विरोध करेगी। अभय चौटाला सैक्टर 5 बड़शामी हाउस में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण आत्रेय, अशोक कवात्रा, धर्मी कड़ामी, प्रवीण शर्मा पिपली, सुबेह सिंह त्यौड़ी, तून खान, रोशन अली, राजेंद्र कश्यप दुधला,जसपाल सहित अनेकों पार्टी कार्यकर्ता मौजूद थे। 
उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस और भाजपा पार्टी यात्राओं के नाम पर अपना राजनैतिक स्वार्थ सिद्ध करने में लगी हुई है। इन दोनों पार्टियों को प्रदेश की जनता के हितों से कोई वास्ता नहीं है। अभय ने भाजपा पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को तार तार कर रख दिया है। प्रदेश में किसी की भी जान-माल सुरक्षित नहीं है। बेटी बचाने का नारा देने वाली भाजपा के शासनकाल में प्रतिदिन बेटियों से दुष्कर्म किए जा रहे हैं और प्रदेश के मुख्यमंत्री महोत्सव मनाने में लगे हुए हैं। 
एस.वाई.एल. के विषय में बोलते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आए हुए 13 महीने से ज्यादा का वक्त हो चुका है, लेकिन प्रदेश सरकार ने अभी तक एस.वाई.एल. नहर बनाने की दिशा में कोई शुरुआत नहीं की है। उन्होंने बताया कि यदि 23 फरवरी तक एसएवाईएल के निर्माण का कार्य शुरू नहीं किया गया तो इनेेलो 7 मार्च को दिल्ली में विशाल रैली आयोजित करके आंदोलन का शंखनाद करेगी। उन्होंने कहा कि एसवाईएल हरियाणा के लोगों के लिए जीवनरेखा है, लेकिन भाजपा एसवाईएल को बनाने की ओर कोई ध्यान नहीं दे रही। भाजपा के नेता केवल यात्राओं व जयंती मनाने में लगे हुए हैं। भाजपा ने प्रदेश में कानून व्यवस्था बनाने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। जिसके लिए मुख्यमंत्री स्वयं दोषी हैं । उन्होंने कहा कि  प्रदेश के इतिहास में मुख्यमंत्री मनोहर लाल सबसे कमजोर सी.एम.साबित हुए हैं। क्योंकि मुख्यमंत्री की सरकार पर पकड़ मजबूत नहीं है। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव के नाम पर भाजपा ने अपने चहेतों को फ ायदा पहुंचाने का काम किया है। अब सरस्वती महोत्सव के नाम पर जनता की गाढ़ी कमाई को भाजपा बर्बाद करने का काम कर रही है । उन्होंने कहा कि भाजपा हर मोर्चे पर फेल हो रही है। प्रदेश में जनता के हित के लिए ना तो कोई भी नीति लागू की जा रही है और ना ही कोई योजना बनाई जा रही है। जिससे प्रदेश विकास के मामले में 10 साल पीछे चला गया है । उन्होंने भाजपा सांसद राजकुमार सैनी पर हमला बोलते हुए कहा कि लगता है कि उनका मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। राजकुमार सैनी पर पलटवार करते हुए  चौटाला ने कहा कि वे प्रदेश का भाईचारा बिगाडऩे का काम कर रहे हैं और यह सब सरकार की मिलीभगत से हो रहा है। 

खेत-खलिहान पहुंच दुष्यंत ने दी किसानों को बंसत पंचमी की शुभकामनाएं


हिसार : हिसार-बालसंमद रोड़ पर किसान कुलदीप अपने खेतों में गेहूं की फसल में पानी देने की तैयारी कर रहा था कि रोड पर अचानक गाडिय़ों के काफिले को रूकते हुए देखा। कुछ ही क्षण बाद एक गाड़ी से दुष्यंत चौटाला को उतरता देख कुलदीप अंचभित रह गया। दूसरी ओर से खेत में काम कर रहा जुगलाल भाग कर पास गया और मुंह से एक ही शब्द निकले, सांसद साहब, अचानक खेतों मे कैसे। सांसद बोले, आप लोगों को खेतों में काम करत देख मेरा मन कर गया कि फसलों का हाल-चाल जान लूं और आपको बसंत पंचमी की बधाई दे दूं। इसी दौरान आसपास खेतों में काम रहे रहे मदललाल श्योराण, महेंद्र सिंह, धर्म सिंह, धीरज भी पहुंच गए। जुललाल ने आवाज दी, अरै बालको देखो थारै खेत में कौण आया है, सांसद साब आए हैं, इन खात्तर चा-पाणी ल्याओ, जाडै का टैम स। इतना कहते ही खेत से किसान ने सरसों के फूलों से लदी टहनियां तोड़ी और उनके स्वागत में पेश करते हुए बोला, साब थम्हनै भी बसंत पंचमी की बहोत-बहोत बधाई। दुष्यंत ने कहा चाय नहीं लस्सी पीने का मन है। दरअसल दुष्यंत चौटाला राजस्थान जा रहे थे कि वे खेती-बाड़ी हाल-चाल जानने और बसंत पंचमी की बधाई देने के लिए किसानों के पास खेतों में पहुंचे थे। 
दुष्यंत ने उपस्थित किसानों से पूछा कि इस बार सरसों की फसल कैसी है। गेहूं के लिए पानी मिल रहा है या नहीं। किसान धर्मसिंह, महेंद्र ने बताया कि नहरों में पानी तो न के बराबर है बस, टयूबवैल के पानी से काम चला रहे हैं, इस बार धुंध तो बहुत कम आई। बारिश की जरूरत है। दिन में तापमान ज्यादा और रात को कम हो जाता है, यह गेहूं के नुकसानदायक है। अब बरसात हो जाए तो सोने पर सुहागा हो जाए। पास ही खेतों में काम कर रही लाली, सुमन और सुनीता लस्सी ले आई। दुष्यंत चौटाला ने लस्सी पी और कहा, चलता हूं राम-राम। इतना कहा दुष्यंत अपनी गाड़ी में सवार हो अपनी मंजिल की ओर बढ़ गए। 

हरियाणा के खिलाड़ियों की है पूरे विश्व मे धाक - दुष्यंत चौटाला




हरियाणा प्रदेश के खिलाड़ी खेल के हर क्षेत्र में अपनी धाक जमाये हुए है और उनसे पूरे देश के खिलाड़ियों  को प्रेरणा लेनी चाहिए। यह बात इनेलो संसदीय दल के नेता व देश के सबसे कम उम्र के सांसद दुष्यंत चौटाला ने महाराष्ट्र के पुणे में आयोजित एक स्पोर्ट्स मीट में खिलाड़ियों  को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने इस मौके पर दो टीमों के मध्य फुटबॉल के खेल की शुरुआत स्वंय कीक मारकर की। इस कार्यक्रम में हिसार से युवा सांसद दुष्यंत चौटाला मुख्य अतिथि , वंही हिसार के प्रतिष्टित बिजनेस मेन प्रमोद जैन विशिष्ट अतिथि के तौर उपस्थित थे। इससे पहले सांसद चौटाला का कार्यक्रम में पधारने पर एम आई टी ऐ डी टी यूनिवर्सिटी पुणे के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ मंगेश कराड और डब्ल्यू पी यू यूनिवर्सिटी के कार्यकारी अध्यक्ष राहुल कराड ने अभूतपूर्व स्वागत किया।



सांसद के साथ इस अवसर पर कॉमन वेल्थ गेम्स के स्वर्ण पदक विजेता नरसिंह यादव,  महेंद्र चौहान सहित अन्य खिलाड़ी  उपस्थित थे। इस मौके पर सांसद चौटाला ने खिलाड़ियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि खेल न केवल शारीरिक बल्कि जीवन मे कैरियर को बनाने में बड़े  सहायक होते है। उन्होंने इसके किये हरियाणा प्रदेश के खिलाड़ियों का उदाहरण देते हुए बताया कि हरियाणा प्रदेश में युवाओ की खेलों की तरफ काफी रुचि है और उन्हें इस दिशा में काफी कामयाबी भी मिली है। 



उन्होंने कहा कि जब हरियाणा प्रदेश में इनेलो सत्ता में थी तो एक ऐसी खेल नीति अमल में लाई गई जिसकी बदौलत युवाओ का खेलो की तरफ रुझान बढा। आज खेल के हर क्षेत्र में हरियाणा के युवाओ का नाम है यंहा तक कि खेलो में अब लड़कियां भी कम नही है। आज महिला कुश्ती में हरियाणा की लडकियों का कोई सानी नही है। यूवा सांसद ने कहा कि  अगर महाराष्ट्र के खिलाड़ी चाहेंगे तो वे उनके लिये हरियाणा के प्रसिद्ध व प्रतिभावान खिलाड़ियों  से खेल की बेहतर तकनीक उपलब्ध करवाने में अपना सहयोग दे सकते है।

दिल्ली की तर्ज पर हरियाणा के विधायकों के खिलाफ भी कार्रवााई करे चुनाव आयोग - दुष्यंत


हिसार : जिस प्रकार से भारतीय निर्वाचन आयोग ने दिल्ली के आप पार्टी के 20 विधायकों के खिलाफ कड़ी कारवाई करते हुए उनकी सदस्यता रद्द की है, उसी तर्ज पर चुनाव आयोग को हरियाणा में लाभ का पद का दुरूपयोग के मामले में भाजपा के चार विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। यह मांग इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने की है। 
दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भाजपा के चार विधायकों भी सीपीएस के पद नियुक्त किया था और उन्होंने सभी सरकारी सुविधाओं का लाभ उठाया। बाद में उन्हें इन विधायकों को  माननीय न्यायालय ने सीपीएस को अवैध करार दे दिया गया था। युवा सांसद ने कहा कि चुनाव आयोग अब हरियाणा के मामले में भी कठोर कदम से भारतीय संविधान की न केवल रक्षा होगी वरन, लोगों का विश्वास भारतीय चुनाव आयोग पर और बढ़ेगा। 
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि शुक्रवार को चुनाव आयोग का जो फैसला आप विधायकों को लेकर आया है, उसमें चुनाव आयोग ने आप पार्टी के उन 20 विधायकों की सदस्यता समाप्त कर दी है जिन्होंने सीपीएस जैसे लाभ के पद पर काम किया था। चुनाव आयोग ने सीपीएस के पदों को गैरसंवैधानिक बताया है। इनेलो सांसद ने कहा है कि हरियाणा की भाजपा सरकार ने अपने चार विधायकों डा. कमल गुप्ता, बख्शीस सिंह विर्क, श्याम सिंह राणा व सीमा त्रिखा को सीपीएस नियुक्ति किया था और उच्च न्यायालय ने इन नियुक्तियों को अवैध मानते रद्द कर दिया था। दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि हरियाणा सरकार ने भी इन विधायकों को वेतन, भत्ते, कार, आवास, स्टाफ के लाभ दिए थे। उन्होंने कहा है कि आफिस आफ पराफिट के मामले में भारतीय चुनाव आयोग को स्वत: समान दृष्टिकोण अपनाते हुए हरियाणा के उपरोक्त चार विधायक के खिलाफ भी कार्रवाई करते हुए विधायकों की सदस्यता भी रद्द करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि भारतीय चुनाव आयोग हरियाणा के भाजपा विधायकों खिलाफ कदम नहीं उठाता है तो चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर उंगली उठना स्वाभाविक है। 

इनेलो सरकार में हरियाणा के युवाओं को प्राइवेट नौकरी में 50 प्रतिशत आरक्षण देंगे - दुष्यंत चौटाला
 

गुरुग्राम : इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने हल्का पटौदी के गांव बासलाम्बी में युवा किसान सभा को सम्बोधित किया | उन्होंने प्रदेश में किसानों और युवाओं की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए प्रदेश की सरकार को जिम्मेदार ठहराया | सांसद चौटाला ने प्रदेश सरकार पर महिला सुरक्षा मामलों में ढिलाई बरतने का आरोप लगाते हुए सरकार को आइना दिखाया I 
उन्होंने कहा की गंगा जमना व् सरस्वती नदी के संगम त्रिवेणी में गुप्त रूप से बहती है यह वैदिक सच्चाई है| भौगौलिक परिवर्तन आने के कारण सरस्वती नदी इतिहास हो गई| सरस्वती के इतिहास को हम स्वीकार कर सकते है लेकिन वर्तमान सरकार के द्वारा ट्यूबवेल के पानी से नहर चलाना हास्यास्पद है| सरकार किसानों को ट्यूबवेल लगाने नहीं दे रही और खुद एक फैंसी प्रोजेक्ट में ट्यूबवेल चला रही है|
 उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले समय में जब इनेलो सरकार बनेगी तो युवाओं को नौकरी के बेहतर अवसर देने के लिए हम प्राइवेट कंपनीओं के साथ समझौता करेंगे जिससे 50% रोजगार हरियाणा के युवाओं के लिए आरक्षित हो सके| केंद्र की सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा की स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट पहली कलम से लागू करने के लिए देश के किसानों के साथ वायदा किया| केंद्र की सरकार को आज साढ़े तीन साल से ज्यादा का समय हो चूका है परन्तु किसानों को अपनी फसल का दाम लागत का डेढ़ गुना देना तो दूर की बात किसानों की सही लागत भी ये सरकार अभी तक नहीं दे पाई| हरियाणा में जब इनेलो की सरकार थी किसानों को 24 घंटे बिजली दी जाती थी किसान जब चाहे खेत में पानी दे सकते थे आज की स्थिति बहुत ही दहनीय है गांव में दिन में बिजली कभी भी नहीं आती| पटौदी इलाके के किसानों से बात करते हुए किसानों ने सांसद दुष्यंत चौटाला को बताया कि बिजली रात को चार घंटे आती है उसका कोई समय निश्चित नहीं है 
सांसद चौटाला ने किसानों को आश्वासन दिया की इनेलो की सरकार आने पर ठीक पहले की तरह आपको 24 घंटे बिजली दी जाएगी| बुढ़ापा पेंशन जो चौधरी देवी लाल जी ने शुरू की थी आज की सरकार ने हरियाणा के गांव में बहुत अधिक मात्रा में कटौती कर दी है वो दोबारा से बहाल करके 2500 रुपए सम्मान के साथ उनके घर पहुंचाई जाएगी| शिक्षा का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा इनेलो की सरकार आने पर पढाई मुफ्त, दवाई मुफ्त व् सिंचाई मुफ्त की जाएगी| 
कानून व्यवस्था पर सरकार को घेरते हुए सांसद चौटाला जी ने कहा आज हरियाणा की सरकार बहन बेटी की इज्जत बचाने में नाकाम है आए दिन रेप और गैंगरेप की घटनाएं बढ़ रही है जिससे हरियाणा बदनाम हो रहा है हरियाणा में बेटी बचाओ बेटी पढाओ का नारा देकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कुम्भकर्णी नींद सोए हुए है|
बासलाम्बी के बुजुर्गो ने सांसद दुष्यंत चौटाला को सम्मान की पगड़ी पहनाकर आशीर्वाद दिया तथा सांसद चौटाला ने वायदा किया की मैं हमेशा इस पगड़ी का सम्मान करूंगा| सभी युवाओं दवारा सांसद को फूलों की माला पहनाकर स्वागत किया गया यह कार्यक्रम अनिल राव के द्वारा आयोजित किया इस अवसर पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तंवर, पूर्व विधायक गंगा राम जी, जिलाध्यक्ष किशोर यादव, प्रधान महासचिव रमेश दहिया, हरियाणा युवा के प्रभारी प्रदीप गिल, हल्का अध्यक्ष पटौदी महेश चौहान, हल्का अध्यक्ष बादशाहपुर ऋषिराज राणा, हल्का अध्यक्ष सोहना शैलेश खटाना, प्रदेश प्रवक्ता दिनेश अग्रवाल, प्रदेश प्रवक्ता दलबीर धनखड़, राव मानसिंह, राजेंद्र धनखड़, युवा जिला अध्यक्ष मनोज बंधवाडी, संत ज्योत्रिवाल, हल्का पटौदी के प्रवक्ता सुनील दत्त शर्मा, सुखबीर तंवर आदि हजारों की संख्या में कार्यकर्ता और पदाधिकारी मौजूद थे|
शिक्षा बोर्ड में हो रहे घोटालों की हो उच्च स्तरीय जांच - दिग्विजय चौटाला 


भिवानी : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड में हो रहे घोटालों की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। यहां जारी बयान में दिग्विजय चौटाला ने घोटालों का आरोप लगा जांच की मांग कर रहे शिक्षा बोर्ड कर्मचारियों का समर्थन करते हुए सरकार पर जांच की बजाय आंख व कान बंद करने का आरोप लगाया है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि देश व प्रदेश में बेरोजगारी निरंतर बढ रही है। चतुर्थ श्रेणी की एक-एक नौकरी के लिए एम.ए, बीए पास ही नहीं बीटेक पास भी लाइनों में लगे हैं। ऐसे में शिक्षा बोर्ड द्वारा बेरोजगार भावी अध्यापकों से एचटेट परीक्षा के नाम पर तीन गुणा तक फीस वसुली धीरे-धीरे लोगों के समझ में आने लगी है कि ये फीस बढोतरी परीक्षार्थियों की बजाय बोर्ड प्रशासन ने अपनी जेब भरने के लिए की है। 
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि जिस प्रकार शिक्षा बोर्ड कर्मचारी जेमर, सीसीटीवी, मैटल डिटेक्टर लगवाने तथा प्रश्न पत्र व ओ.एम.आर सीट रखने व उनके तालों में खरीद व भूगतान में करोङों रुपये के घोटाले के आरोप लगा रहे हैं, वो अपने आप में सरकार की जीरो टोलरेंस नीति पर बङे सवाल उठाते हैं। दिग्विजय चौटाला ने कहा है कि एचटेट, डी.एड व 10वीं तथा 12वीं की परीक्षा देने वाले छात्र सरकारी स्कूलों से आते हैं जो गरीब परिवारों से होते हैं। ऐसे बच्चों से हर परीक्षा के नाम पर शिक्षा बोर्ड प्रति छात्र सैंकङों से हजारों रुपये वसूलता है। ये पैसे छात्रों या शिक्षा के स्तर को सुधारने की बजाय प्रशासनिक अधिकारी अपनी जेबें भर रहे हैं। उन्होने हैरानी जताते हुए कहा कि शिक्षा बोर्ड कर्मचारी यूनियन द्वारा बार-बार सवाल उठाने और आंदोलन कर जांच की मांग पर सरकार चुप बैठी है।
दिग्विजय चौटाला ने बोर्ड कर्मचारियों की जांच की मांग का समर्थन करते हुए घोटालों के आरोपों की उच्च स्तरीय जांच की मांग की। साथ ही सरकार को चेतावनी दी कि सरकार ने जल्द जांच का भरोसा नहीं दिया तो इनसो व इनेलो इन घोटालों के आरोपों को लेकर सङक से लेकर संसद तक लङाई लङेंगें। 

प्रदेश में रेप की बढ़ती घटनाओं के विरोध में इनेलो ने कविता जैन के घर तक निकाला मौन कैंडल मार्च 




सोनीपत : इनेलो पार्टी के महिला और युवा कार्यकर्ता ने शुक्रवार शाम को रेप और बेटियों के साथ हो रही दरिंदगी के विरोध में  ताऊ देवीलाल चौक से कैबिनेट मंत्री कविता जैन के घर तक मौन कैंडल मार्च निकाला और मंत्री के निवास स्थान तक पैदल मार्च करते हुए सरकार को जगाने के लिए हाथ में मोमबती लेकर पंहुचे । उन्होने वहां पर मौजूद बीजेपी मीडिया प्रभारी राजीव जैन से कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कागजो तक सीमित रह गया है। बीजेपी की नालायकि के कारण आज छोटी बच्चीयों को कहानी और कविताओं को सिखाने की बजाए गुड टच बैड टच सिखाना पढ़ रहा है। सरकार अपराधियों पर कोई ठोस कारवाई करने की बजाए उल्टे सिधी ब्यानबाजी देने पर लगी हुई है।धरातल पर हरियाणा के हालात बदतर हो गए हैं।
इनेलो पार्टी के युवा जिलाध्यक्ष कुणाल गहलावत  ने  कहा कि हरियाणा के पिछले पांच दिन में सात गैंग रेप और हत्या की शमनार्क घटनाओं ने पुरे प्रदेश शर्मशार कर दिया है और सरकार के सुरक्षा के दावों की पोल खोल दी है।  एनसीआरबी के आंकड़े भी यही कह रहे हैं, जिसके मुताबिक गैंगरेप का राष्ट्रीय औसत 0.3 है जबकि हरियाणा में यह 1.5 है यानि पांच गुना। यानि हरियाणा अपराधियों के लिये सुरक्षित हब बन चुका है
कुणाल गहलावत ने कहा कि चौटाला सरकार के कार्यकाल में जो राज्य रोजगार देने में, महिला सुरक्षा में प्रशासन व सुशासन में नम्बर वन राज्य था वो आज अपराध में नम्बर वन राज्य बन गया है।  हाल ही में जारी हुए राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ो के अनुसार हरियाणा में 1187 बलात्कार और 191 गैंग रेप की घटनायें हुई हैं जो देश में सबसे आगे रहा है। इससे भी ज्यादा शर्मनाक और चिंता की बात यह है कि लगभग आधे से ज्यादा वारदातों की शिकार नाबालिग बच्चियां हो रही हैं। बड़ते अपराध को लोग किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे,सरकार को जवाब देना ही पड़ेगा।


इस मौके पर महिला जिलाध्यक्ष प्रोमिला मलिक ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार की कमजोरी और निकम्मेपन के कारण ही अपराधी बेखौफ होकर एक के बाद एक घिनौनी वारदात को अंजाम दिये जा रहे हैं। छह दिनों में प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में खुलेआम घूम रहे अपराधी हरियाणा की मासूम बहन बेटियों के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या जैसी जघन्य घटनाओं का तांडव मचाये हुए हैं। लेकिन ये सरकार अभी भी आंख मूंदे हुए चुपचाप सो रही है। 
इतना ही नहीं, पिछले साल हरियाणा में दुष्कर्म के कुल 1189 केस दर्ज किए गए थे। जिनमें से करीब 44 फीसदी अथवा करीब 518 घटनाओं में पीड़ितों की उम्र 18 साल से कम रही है। साल 2017 में भी महिला उत्पीडऩ की 9523 घटनाएं हुईं। साल 2016 के मुकाबले गैंगरेप की घटनाएं वर्ष 2017 में बढकर 204 तक पहुंच गई। पिछले साल प्रदेश में दहेज हत्या की 229, बलात्कार की 1238, बलात्कार के प्रयास की 141, महिलाओं एवं युवतियों के साथ छेड़छाड़ के 2039 मामले दर्ज किए गए। इसी तरह महिलाओं अथवा युवतियों के अपहरण की 2432 घटनाएं हुई । कुणाल  का कहना था कि आज जब प्रदेश में ये माहौल है कि एक लडकी कहीं पर भी अपने आप को सुरक्षित महसूस नहीं करती व जब सरकार को चाहिए की विज्ञापनों से हटकर जमीनी स्तर पर काम करें व प्रदेश की गिरती साख को बचाएँ । अगर सरकार कानून व्यवस्था भी नहीं बना सकती उस सरकार को तुरंत प्रभाव स नैतिका के आधार पर इस्तीफा देना चाहिए । 
इस मौके पर मुकेश बागडी, प्रदीप बड़वासनी, संदीप ठरू, बंसीलाल कुंड,आशीष सुहाग, विकास मलिक, सुरेश दहिया,अंजु अंतिल, अंजुबाला खटक, संतरा देवी, जितेंद्र वर्मा, सोनू पवार,मोनु पवार,कृष्ण सरोहा,फुलकुवार चौहान, कुणाल सरोहा, मोंटी मंडल, सतपाल प्रजापत, बिजेंद्र मोई, मनजीत, जसमेर मोहाना, सियाराम आदि मौजूद रहे।

Thursday, January 18, 2018

16 फरवरी को अनिश्चितकाल के लिये जीजेयू हिसार पर तालाबंदी करेगी इनसो - दिग्विजय सिंह चौटाला 


वीरवार को इण्डियन नैशनल स्टूडैंट संगठन (इनसो) के तत्वावधान में राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय कार्यकारी बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री दिग्विजय सिंह चौटाला ने बतौर मुख्य वक्ता अपने विचार प्रकट किए। 
इस अवसर पर श्री दिग्विजय सिंह चौटाला ने इस मौके पर उपस्थित सभी सदस्यों को इनसो संगठन को मजबूत करने के लिए निर्देश देते हुए कहा कि इनसो ही मजबूत छात्र संगठन है जो छात्र हितों की लड़ाई सदैव लड़ता है। उन्होंने कहा कि सात-आठ महीने बचे हैं इसलिए काम ज्यादा करना होगा तथा जो काम करेगा वहीं सफलता की ओर अग्रसर हो सकेगा। श्री दिग्विजय चौटाला ने कहा कि इनसो के संस्थापक डॉ. अजय सिंह चौटाला द्वारा लगाए गए इस पौधे को ओर मजबूती प्रदान करने की जिम्मेवारी हमारी है, जिसे हम अपनी मेहनत से सींचकर मजबूती प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि छात्र हितों के लिए छात्र संघ चुनाव बहुत जरूरी है। इनसो हमेशा छात्रों के संग है तथा उनके हितों से खिलवाड़ नहीं होने देंगे। वहीं उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से इनसो की सदस्यता अभियान को ओर अधिक तेजी प्रदान करके नए सदस्यों को जोडऩे पर भी जोर दिया। उन्होंने वर्तमान में केवल प्रदेश ही नहीं अपितु सम्पूर्ण देश में हालत खराब हो रहे हैं, जिसके चलते सुप्रीम कोर्ट के जज प्रैस कांफ्रेंस करने को मजबूर हो रहे हैं। उन्होंने जस्टिस लोया की हत्या की भी बात कही तथा पीडि़त परिवार को न्याय अभी तक न मिलने पर भी सरकार को घेरा। श्री चौटाला ने कहा कि हुड्डा सरकार के राज में रोज बलात्कार होते थे, लेकिन भाजपा राज ने तो रिकॉर्ड तोड़ दिया, जिससे हरियाणा का नाम शर्म से झुक गया है। उन्होंने कहा कि इनसो आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार है, इसलिए इनसो प्रत्येक जगह मुख्यमंत्री जी का विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार देश-प्रदेश में बेटियों को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रही है तथा केवल ढिंढोरा पीटने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि देश-प्रदेश की प्रत्येक बेटी हमारा मान-सम्मान है इसलिए इनसो प्रत्येक कॉलेज में जाकर बेटियों को जागरूक करने का काम करेगी। वहीं 1200 शिक्षण संस्थानों में कॉलेज यात्रा करने इनसो फिर जाएगी जिसका श्रीगणेश 28 जनवरी से किया जाएगा। 


उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार गूंगी-बहरी हो चुकी है इसलिए तालाबंदी आज के समय की मांग है, जिससे सरकार के कान खुल जाते है तभी इनसो 16 फरवरी को अनिश्चित काल के लिये गुरू जम्भेश्वर विश्वविद्यालय हिसार पर तालाबंदी करेगी, जिसमें बड़ी संख्या में छात्र हिस्सा लेंगे। श्री दिग्विजय सिंह चौटाला ने अपने संबोधन में सभी पदाधिकारियों एवं सदस्यों को हिसार के सांसद दुष्यंत सिंह चौटाला द्वारा किसान के ट्रैक्टर रूपी लड़ाई जीतने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि संगठित होने से जहां किसानों की लड़ाई जीत हासिल हुई है वैसे ही इनसो छात्रों के हितों की लड़ाई हेतु सदैव संघर्ष करती रहेगी। उन्होंने कहा कि चौ. ओउम प्रकाश चौटाला जी इनेलो पार्टी के सर्वेसर्वा हैं तथा उन्हीं के नेतृत्व में चुनाव लड़ा जाएगा तथा युवा पीढ़ी भी उनके निर्देशन में ही कार्य करेगी। इस मौके पर जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि 27 जनवरी को सायं 5 बजे केवल चंडीगढ़ इनसो इकाई की बैठक होगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं को सोशल मीडिया पर केवल काम की बात तथा ज्यादा से ज्यादा धरातल पर काम करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि इनसो का मिशन इनेलो पार्टी को अधिक से अधिक मजबूती प्रदान करना है तथा इनसो की इस भीड़ में से ही विधानसभा एवं लोकसभा में जाने का काम करेंगे। वहीं कार्यकर्ताओं एवं सदस्यों को जोर डालते हुए कहा कि 27 जनवरी से लेकर 13 फरवरी तक इनसो जिला स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करे तथा विद्यार्थियों को जागरूक करें। 
इस राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय कार्यकारिणी बैठक में जसविन्द्र खैरा, मंजू जाखड़, गौतम नैन, जयदेव नोल्था, अनिल घणघस, सम्पूर्ण कोयल, मुकेश सिहाग, स्वाति टिवाणा, नीरजा, सिलक पूनियां, सूरज बैनीवाल, सोमबीर सिंह, धुर्व सांगवान, संदीप नैन, जयबीर ढाण्डा, विक्रम मोली, राजू कड़वासरा व राजू मेहरा के साथ-साथ इनसो के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, प्रदेश कार्यकारिणी, जिला चेयरमैन व जिलाध्यक्ष के अलावा इनसो पदाधिकारी एवं अन्य सदस्य भी मौजूद रहे। 
41 गांवों को दुष्यंत ने जारी की एक करोड़, 83 लाख रूपय की गांट

हिसार, 18 जनवरी। इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने अपने संसदीय निधि कोष से लोकसभा के 41 गांवों के लिए एक करोड़ 83 लाख से अधिक की गांट जारी कर दी है। दुष्यंत चौटाला ने ये घोषणाएं पिछले दिनों विभिन्न गांवों के दौंरों और गांव वासियों की सामूहिक मांग मानते हुए की थी। दुष्यंत चौटाला ने जहां संसदीय कोष से जहां लाखों रूपये की गांट गऊशालाओं में दी है वहीं गांवों की चौपालों, श्मशान भूमि की चारदीवारी, शेड, स्कूलों में कमरे-निर्माण कार्य, जिम के सामान के लिए प्रमुख हैं। दुष्यंत चौटाला का कहना है कि संसदीय निधि कोष लोगों के हितों और विकास के लिए है और उनका प्रयास है कि जैसे ही उपर से ग्रांट जारी हो, तुरंत यह राशि विकास कार्यों के लिए खर्च हों जिससे कि लोगों की समस्याएं कुछ कम हों। उनका प्रयास रहता है कि जिन कार्यों के लिए ग्रांट जारी हो चुकी है, वह निर्माण कार्य जल्द पूरा हो, उसका यूसी मिले ताकि ग्रांट की अगली किश्त जल्द से जल्द जार हो। 
जिनके लिए संसदीय कोष से राशि जारी की है उनमें,
1. चूली बागडिय़ान में श्रीकृष्ण गोपाल गौशाला में शैड का निर्माण -9 लाख 97 हज़ार
2. सिवानी बोलान के ग्राम सचिवालय में हाल कमरे का निर्माण 9 लाख 72 हज़ार
3.सरहेड़ा गांव के राजकीय स्कूल की चारदीवारी का निर्माण 4 लाख  42 हज़ार
4. बयाना खेड़ा गांव की हरिजन चौपाल में निर्माण कार्य दो लाख रुपए
5.पंघाल गांव की सामान्य चौपाल में  निर्माण 5 लाख रुपये
6. बहबलपुर गांव की ओड चौपाल में दो कमरों का निर्माण 5 लाख 59 हजार रुपए
7.डाटा गांव में जिम का सामान दो लाख रुपये
8.महैन्दा गांव की श्मशान भूमि की चारदीवारी एवं शेड का निर्माण 5 लाख रुपये
9.हरिता गांव के जोहड़ की चारदीवारी का निर्माण चार लाख रुपये
10.किरतान गांव में जिम का सामान एक लाख 27 हज़ार रुपए 11.सरसाना गांव में एससी श्मशान घाट में बरामदे का निर्माण एक लाख 84 हज़ार रुपये
12.ढाणी मोहब्बतपुर गांव के शमशान घाट में शैड का निर्माण दो लाख रुपये
13.श्री गुरु जंभेश्वर सेवा समिति सदलपुर में निर्माण कार्य 5 लाख रुपए
14.ढाणी मोहब्बतपुर गांव की रविदास चौपाल की चारदीवारी का निर्माण एक लाख रुपए
15.करसिन्धु गांव की हरिजन चौपाल में निर्माण कार्य दो लाख रुपये
16.गैंडा खेड़ा गांव के मुख्य चौपाल में निर्माण कार्य 6 लाख रुपये
17.उचाना मंडी के लाला लाजपत राय पार्क में जिम का सामान ढाई लाख रुपए
18.ढाणी मोहब्बतपुर गांव के पशु अस्पताल की चारदीवारी का निर्माण एक लाख रुपए
19. बासड़ा गांव में एससी चौपाल का निर्माण कार्य 2 लाख 35 हज़ार
20.खैरी गांव में हाईस्कूल स्थित खेल के मैदान की चारदीवारी दो लाख रुपये
21.फरीदपुर गांव के शमशान घाट में निर्माण कार्य दो लाख रुपये
22.किनाला गांव के चबूतरे का निर्माण 5 लाख रुपये
23.चारणोद गांव के सरकारी स्कूल के मुख्य द्वार का निर्माण दो लाख 11 हज़ार
24.लुदास गांव के शमशान घाट का मुख्य द्वार एवं शेड का निर्माण  6 लाख 81हज़ार
25. हसनपुर गांव में गौघाट का निर्माण 3 लाख 22 हज़ार
26.झील गांव में गौ घाट का निर्माण 3लाख 22 हज़ार
27. कुचराना कलां में श्मशान घाट की चारदीवारी 6 लाख 2 हज़ार
28.अलेवा गांव में लड़कियों के स्कूल का ग्राउंड पक्का करना 6 लाख 61 हज़ार
29.खांडा गांव की श्मशान भूमि में कमरे का निर्माण एवं चारदीवारी का निर्माण 6 लाख 60 हज़ार
30. जेवरा गांव में गेट का निर्माण दो लाख 50 हज़ार रुपये
31.कंवारी गांव की नई चौपाल में दो कमरों का निर्माण 5 लाख 83 हज़ार रुपये
32.मुजादपुर गांव के पहल पाना की चौपाल में निर्माण कार्य 2 लाख 50 हज़ार रुपये
33. लाडवा गांव के राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल में आरओ लगाना 3 लाख रुपये
34.मंगलपुर गांव में जोहड़ की चारदीवारी का निर्माण 10 लाख रुपए
35.सिसाय कालीरावण गांव के चबूतरे का निर्माण 22 लाख 17 हजार रुपये
36.डिफेंस कॉलोनी स्थित पार्क में ओपन जिम का निर्माण एक लाख 81 हज़ार रुपये
37.सेक्टर 15 स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में पार्क में निर्माण कार्य 5 लाख रुपये
38.हांसी स्थित हरियाणा गौशाला में शैड का निर्माण 11 लाख रुपए
39.बरवाला में कब्रिस्तान के निर्माण के तीन लाख रुपए
40. गढ़ी गांव में जिम का सामान एक लाख 50 हज़ार रुपये
41.मिंगनीखेड़ा गांव में खेल के मैदान में कमरे का निर्माण 2 लाख 35 हज़ार रुपये
जिन गांवों में गांट दी गई वे हैं-चूली बागडिय़ान,सिवानी बोलान, सरहेड़ा, बयाना खेड़ा, पंघाल , बहबलपुर, डाटा,महैन्दा ,हरिता किरतान, ढाणी मोहब्बतपुर, सदलपुर, ढाणी मोहब्बतपुर, करसिन्धु, गैंडा खेड़ा, उचाना मंडी, ढाणी मोहब्बतपुर , बासड़ा ,खैरी ,फरीदपुर ,किनाला, चारणोद, लुदास, झील, कुचराना कलां, अलेवा , खांडा ,जेवरा,कंवारी, मुजादपुर,लाडवा, मंगलपुर , सिसाय कालीरावण , डिफेंस कॉलोनी, सेक्टर 15 स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, हांसी, बरवाला, गढ़ी, मिंगनीखेड़ा गांव हैं। 

   

Wednesday, January 17, 2018

इनेलो के 18 जनवरी से 3 फरवरी तक जनसम्पर्क अभियान का ब्यौरा
चंडीगढ़ : नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों को जनता के सामने लाने के लिए प्रदेशव्यापी जनसम्पर्क अभियान के दूसरे चरण में 10 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे। इसके अंतर्गत वे 18 जनवरी को हलका महम, 19 को पिरथला, 21 को लाडवा, 22 इंद्री, 23 को गुहला-चीका, 26 को बादशाहपुर हलकों का दौरा करेंगे। वहीं अगले महीने पहली फरवरी को अभय सिंह चौटाला कैथल हलका में हलकावासियों से जनसम्पर्क करेंगे। फरवरी 2 को इसी अभियान के अंतर्गत हलका रादौर और 3 फरवरी को कालका हलकों के गांवों में जाकर ग्रामीणों और शहर के व्यापारियों एवं कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगे। 
नेता विपक्ष ने कहा कि इस अभियान द्वारा वो प्रदेश की जनता के बीच अपने काम लेकर जाएंगे और साथ में लोगों को उन मुद्दों से भी अवगत करवाएंगे जो विपक्ष में रहकर उन्होंने सरकार के सामने उठाए हैं। उन्होंने कहा कि इनेलो पार्टी सरकार की किसान व गरीब विरोधी मानसिकता को भी जनता के सामने लाने का काम करेंगे। साथ ही एसवाईएल के मुद्दे को लेकर जनता को किसान रैली में आने का न्यौता भी देंगे।

Tuesday, January 16, 2018

बेटियों की सुरक्षा के लिए मुख्यमंत्री नहीं है गम्भीर


भिवानी, 16 जनवरी  : एक तरफ तो सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं का नारा देती है वहीं दूसरी तरफ प्रदेश के अंदर हर चार घंटे के भीतर कोई ना कोई बेटी बलात्कार का शिकार बन निर्भया की श्रेणी में आ जाती है। कुरूक्षेत्र  की दलित बेटी, पानीपत की एक और बेटी के साथ जघन्य अपराध करने वालों को फांसी की सजा हो। यह बात आज युवा इनेलो के जिला प्रधान मनोज यादव ने देश की बेटी निर्भया के समर्थन में विरोध प्रदर्शन की अगुवाई करते हुए मुख्यमंत्री की शव यात्रा निकालते हुए कहे। आज युवा इनेलो एवं इनसो ने संयुक्त रूप से विरोध प्रदर्शन किया और राज्यपाल के नाम ज्ञापन भी सौंपा। इनसो जिला चेयरमैन मन्दीप सुई एवं जिला प्रधान सेठी धनाना ने कहा कि प्रदेश सरकार हर मोर्चे पर फैल है। गृह मंत्रालय स्वयं मुख्यमंत्री के पास है लेकिन मुख्यमंत्री फीता कटाई में व्यवस्थ रहते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार एक तरफ संत रविदास जयंती के लिए ढकोसला रच रही है वहीं दूसरी तरफ दलित बेटी की निर्मम तरीके से हत्या कर बलात्कार किया जाता है लेकिन सरकार के बेशर्म मंत्री किस्तों में रूपयों का चैक लेकर देश की बेटी का मजाक उड़ाते हैं। मनोज यादव एवं जिला पार्षद नरेंद्र राज गागड़वास ने कहा कि आज का प्रदर्शन सांसद दुष्यंत चौटाला एवं इनसो के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष दिज्विजय चौटाला के दिशा निर्देश पर करते हुए राज्यपाल के नाम ज्ञापन भेजते हुए सरकार को बर्खास्त करने की मांग करते हैं वहीं पीडि़त बेटियों को 50 लाख रूपए मुआवजा व परिवार से एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग करती है। उन्होंने कहा कि 40 घंटों में चार जिलों में चार बेटियों के साथ हैवानियत और दरिंदगी की घटनाओं ने प्रदेश सरकार की पोल खोल कर रख दी है। विरोध प्रदर्शन हांसी गेट से शुरू होकर महम गेट, चिडियाघर से रोड़ से होते हुए लघु सचिवालय में सम्पन्न हुआ और उपायुक्त की अनुपस्थिति में सीटीएम महेश कुमार  को ज्ञापन देकर सरकार को बर्खास्त करने की मांग की।  
 इस अवसर पर मुख्यरूप से राहुल शर्मा, दीपक सिवाड़ा, दिनेश नम्बरदार, नीतिज बामला, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, ओमी तंवर, आशु वाल्मीकि, अंकित ढूल, अंमित सिधनवा, रवि आर्य, गोलू मलिक, सुखबीर संडवा, डा. मनबीर सिवाड़ा, अमन मलिक, सुनील सिधनवा, दीपक राठौर, सोमबीर सिवाड़ा, मनोज खानक, अनूज भिवानी, रोहित सुई,  अंकित ग्रेवाल,विकास परमार, प्रवीण, कपिल जांगड़ा, योगेश पंघाल,  जीवा, हिमांशु, दिनेश, साहिल शर्मा, अक्षय बामला,  विकास सुई, अंकित प्रहलादगढ़, मोहित शर्मा, विनित भानगढ़, अमित यादव, राहुल कलिंगा, सुमित धतरवाल, योगेश पंडित, सन्नी जताई, मोनू बामला, कनिष्क, टोना चहल, अमन भिवानी, रविंद्र जाटू लुहारी, गुलशन कागडा, छोटू पिवाल, सुनील, अमन रॉय, विशाल बागड़ी, सचिन घोघलिया, धीरज पंडित, रॉकी सिरसवाल, गुलशन घोघलिया, रीतिक घोघलिया, तोसीन घोघलिया, प्रीतम धानक, सुनील सिधंवा, गोलू राजपूत, रोहित बापोड़ा, सन्नी राजपूत, प्रवीण बापोड़ा सन्नी राजपूत, नवीन बापोड़ा सहित अनेक युवा साथी मौजूद थे।