Tuesday, November 14, 2017

टोल को लेकर दुष्यंत का सरकार पर हल्ला बोल
नियमों को दरकिनार कर लगाए गए हैं हिसार के चारों ओर टोल
15 दिन का सरकार को अल्टीमेटम, हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे
प्रदेश में लगे टोलों के खिलाफ भी करेंगे आवाज बूलंद
40 किलोमीटर के भीतर ही चार टोल बैरियर लगा दिए हिसार में 



आदमपुर : 13 नवंबर, हिसार के चारों ओर लगे टोल बैरियर के कारण वाहन चालकों की जेब पर पडऩे वाले आर्थिक बोझ को लेकर इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला ने सरकार पर हल्ला बोल दिया है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने इन टोल बैरियर को नियमों के विरूद्ध करार देते हुए प्रदेश सरकार को इन्हें हटाने के लिए 15 दिन का अल्टेमेटम दिया है। सांसद ने कहा कि चिकनवास, बाडो पट्टी, मय्यड़ व चौधरीवास पर टोल लगाने में पूरी तरह से नियमों की अनदेखी की गर्इं है जिसके कारण बिना किसी वजह के हिसार, हांसी बरवाला व आसपास के लोगों का भारी भरकम राशि चुकानी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले को वह केंद्रीय सरकार के समक्ष भी रखेंगे। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने टोल नहीं हटाए तो वह स्वयं हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। उन्होंने कहा कि हिसार के ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में लगे टोलों को लेकर वह अपनी आवाज बूलंद करेंगे। सांसद दुष्यंत चौटाला आज आदमपुर के रेस्ट हाउस में पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। सांसद दुष्यंत चौटाला टोल बैरियल हटाने को लेकर चार बजे जिला उपायुक्त से मिलेंगे और उनके माध्यम से ज्ञापन सौंपेंगे। 
इनेलो सांसद ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के नियमों के अनुसार दो टोल बैरियल के बीच कम से कम 60 किालोमीटर का फासला होना चाहिए जबकि सिरसा रोड पर चिकनवास टोल, हांसी रोड़ पर  मय्यड़, व राजगढ़ रोड़ चौधरीवास टोल निर्धारित नियमों पर खरे नहीं उतरते और  इनके बीच दूरी 30 से 38 किलोमीटर ही है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार ने 40 किलोमीटर के दायरे में चार टोल लगा कर जनता की कमर तोड़ दी है। इतना ही नहीं एनएसएआई के नियमों के अनुसार किसी भी नगर निगम या नगरपालिका की सीमा से 10 किलोमीटर के दायरे में कोई भी टोल टेक्स नहीं लग सकता जबकि हिसार में लगे टोल हिसार नगर निमग की सीमा से मात्र तीन से चार किलोमीटर की दूरी पर लगे हैं। उन्होंने कहा कि हिसार के लोगों को हांसी, बरवाला अग्रोहा जाने के लिए भी एकतरफा 60 से 80 रूपये का भुगतान करना पड़ता है जबकि वाहन स्वामी अपने वाहन के पंजीकरण के समय ही रोड टेक्स के रूप में बड़ी रकम सरकार को अदा करते हैं। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पहले से बने रोड पर कारपटेटिंग कर सरकार ने हिसार में 40 किलोमीटर में चार टोल लगा दिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने यह कदम टोल कंपनियों को सीधा फायदा पहुंचाने और लोगों की जेब पर डाका डालने के लिए उठाया है। उन्होंने कहा कि एनएसएआई ने भी नियमों की प्रवाह नहीं की और जहां से अधिक वाहन गुजरते हैं वहां पर टोल बैरियर लगा दिए। सांसद दुष्यंत ने कहा कि वह जनता को न्याय दिलवा कर रहेंगे और इसके लिए जंग जारी रखेंगे। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने मद्रास हाईकोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए कहा कि  नियमों का उल्लंघन कर लगाए गए टोल को हटाना पड़ा है। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, हलका प्रधान भागीरथ नंबरदार, राजेश गोदारा, रमेश गोदारा, राजकुमार जांगड़ा, पार्षद रामप्रसाद गढ़वाल सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment