Tuesday, November 28, 2017


हरियाणा में अब होगा युवा आगाज: दिग्विजय चौटाला


दुष्यंत-दिग्विजय पहली बार मंच सांझा करके सत्ता परिवर्तन का बजाऐंगे बिगुल


भिवानी, 28 नवंबर : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि जब से प्रदेश के अंदर भाजपा की सरकार बनी है। बेरोजगारी में दिन प्रतिदिन बढ़ोत्तरी हो रही है। आगामी विधानसभा चुनाव में प्रदेश के अंदर युवा आगाज होगा। जिसके लिए 17 दिसंबर से युवा संवाद सम्मेलन के द्वारा आगाज किया जाएगा। आगामी विधानसभा चुनाव में युवाओं के बिना प्रदेश के अंदर सरकार नहीं बनेगी। दिग्विजय चौटाला ने बताया कि 17 दिसंबर को कैथल के पाई में आयोजित युवा संवाद सम्मेलन में वे स्वयं और युवाओं के आईकॉन दुष्यंत चौटाला शिरकत करेंगे। वहीं 25 दिसंबर को हल्का डबवाली में युवा किसान महासम्मेलन के रूप में विशाल जनसभा का आयोजन किया जाएगा। रैली में जहां मुख्यवक्ता देश के सबसे युवा सांसद दुष्यंत चौटाला होंगे वहीं रैली का मुख्यआकर्षण बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव होंगे। दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में युवाओं की भागेदारी अहम होगी। क्योंकि आज युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा और न ही कोई स्पोर्टस नीति बनाई जा रही। किसानों के साथ लगातार अन्याय हो रहा है। किसानों को फसलों के उचित दाम नहीं मिल रहे। वहीं स्वामीनाथ आयोग रिपोर्ट लागू करने के वायदे की फूक निकल गई है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि डबवाली में आयोजित इस नौजवान-किसान जनसभा की हुकार के बाद प्रदेश के अंदर परिवर्तन की लहर चलेगी जो पूरे हरियाणा प्रदेश में भाजपा और कांग्रेस का सुपड़ा साफ कर देगी। उन्होंने कहा कि चण्डीगढ़ की चाबी के लिए आज के नौजवान और किसान को एक होना होगा।
ट्रैक्टर ट्राली पर टोल भाजपा का तानाशाही फैसला- कुणाल

किसान के ट्रैक्टर को कमर्शियल वाहन बनाकर सरकार ने किया धोखा


सोनीपत, 28 नवम्बर: किसान को मारने की सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है, यह बात युवा इनैलो के जिलाध्यक्ष कुणाल गहलावत ने मंगलवार को इनेलो पार्टी कार्यालय में युवा कार्यकर्ताओं से विचार विमर्श करते हुए कही। गहलावत ने कहा किसान पुरी तरह से आज कर्जे में दबा हुआ है, न किसान को फसल का पूरा भाव मिल रहा और न ही बिजली-पानी व खाद समय पर मिल रहा। इसके उपरान्त किसान के सबसे ज्यादा काम आने वाले एकमात्र साधन ट्रैक्टर पर पहले तो जीएसटी की मार और अब उसे कमर्शियल वाहन की श्रैणी में लाकर बीजेपी सरकार ने अपना किसान विरोधी चेहरा सामने लाकर किसान की कमर को तोडऩे का काम किया है। गहलावत ने बताया सरकार के इस फैसले के बाद अब ट्रैक्टर पर सभी प्रकार के टैक्स देने पड़ेगें जो अन्य कमर्शियल वाहनो पर दिए जाते हैं। किसान को जहां अब ट्रैक्टर ज्यादा किमत में खरीदना पडेगा वहीं अब सभी प्रकार के टौल-टैक्स व रोड़ टैक्स का भुगतान करने से किसान की खुन-पसीने की कमाई पर डाका पड़ेगा। हर साल ट्रैक्टर की अलग से पासिंग भी करवानी पड़ेगी। गहलावत ने बताया पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक चौधरी देवीलाल ने 1989 में सड़क एवं परिवहन विभाग, मोटर व्हीकल अधिनियम व  एनएचएआई की नियमावली में संशोधन करवाकर ट्रैक्टर ट्राली को गाढ़े का दर्जा दिलवाकर किसान को एक नया जीवनदान दिया था।
इस मौके पर युवा प्रदेश संगठन सचिव संदीप ठरू ने कहा किसान को एकजूट होकर सरकार से आर पार की लड़ाई के लिए तैयार रहना चाहिए। सरकार की नियत किसान वर्ग के लिए ठीक नहीं है। एक साजिश के तहत किसान को दबाने की कोशिस की जा रही है। सरकार इस बात को भी भूल गई है किसान देश की अर्थव्यस्था की रीढ़ की हड्डी है। इस मौके पर प्रदेश संगठन सचिव संदीप ठरू, युवा जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रो. बंसीलाल कुण्डु, इनसो प्रदेश संयुक्त सचिव आशीष सुहाग, हल्का उपाध्यक्ष संदीप गहलावत,  मोंटि मण्डल, जगबीर ठरू आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे। 
सेठ छाजूराम के जीवन से प्रेरणा लेकर मेहनत करें युवा-दुष्यंत चौटाला


हिसार, 28 नवंबर: सेठ छाजूराम का जन्म एक अत्यंत गरीब किसान परिवार में हुआ, परन्तु वे अपनी शिक्षा, कड़ी मेहनत, नेक-इमानदारी और कुशल व्यवहार की बदौलत व्यापार जगत की बुलदिंयों तक पहुंचे। उनकी सद्व्यवहार, दान देने की स्वभाव के चलते वे न केवल किसान परिवार में जन्म लेने के बावजूद सेठ कहलाए बल्कि अंग्रेजी हुकूमत ने भी उन्हें सर की उपाधि दी। यह बात इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहे। वे आज सीआरएम जाट कालेज में आयोजित सेठ छाजूराम जयंती समारोह में बतौर मुख्य वक्ता बोल रहे थे। सांसद दुष्यंत चौटाला ने जाट कालेज में अपने सांसद निधि कोष से 21 लाख रूपये देने की घोषणा की। जाट शिक्षण संस्थाओं के प्रधान सतपाल पालु ने सांसद दुष्यंत चौटाला, अरविंद चौधरी, जाट शिक्षण संस्था के पूर्व प्रधान पूर्ण सिंह डाबड़ा, पीके चौधरी, सुनील लांबा सहित अन्य अतिथियों का स्वागत किया। प्रिंसीपल आईएस लाखलान ने जाट शिक्षण संस्थाओं के बारे में विस्तार से रिपोर्ट प्रस्तुत की और अतिथियों का आभार व्यक्त किया। मंच संचालन डा. सुरेंद्र मलिक ने किया। समारोह में जाट शिक्षण संस्थाओं को दान देने वाले व्यक्तियों का सम्मानित किया। विद्यार्थियों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया और प्रो महेंद्र सिंह ने सेठ छाजूराम के जीवन पर प्रकाश डाला। 


सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सेठ छाजूराम ने शिक्षा के महत्व को समझा और अपनी शिक्षा और कार्यकुशलता के दम पर देश के टॉप बिजनेसमैन की श्रेणी में पहुंचे। उन्होंने कहा कि शिक्षित व्यक्ति ही सफलता की बुलदिंयो तक आसानी से पहुंचता है। उन्होंने आह्वान किया कि अभिभावक अपने बच्चों की शिक्षा में देने में तनिक भी पीछे नहीं हटे और शिक्षा को प्राथमिकता के साथ अपने बच्चों को बेहतर और उच्च श्रेणी के शिक्षण संस्थानों में भेजे। सांसद ने जाट शिक्षण संस्थाओं द्वारा चलाए जा रहे पाठ्यक्रमों की सराहना की। दुष्यंत चौटाला ने जाट प्रबधन समिति से अगले सत्र से इस परिसर में लड़कियों के लिए कालेज खोलने की अपील भी की। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक अनूप धानक, शीला भ्याण सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे। 

Thursday, November 23, 2017


इनेलो सरकार आने पर युवाओं को प्राइवेट नौकरियों में  देंगे 50 प्रतिशत आरक्षण  - दुष्यंत चौटाला 




फरीदाबाद, 23 नवम्बर : इण्डियन नेशनल लोकदल के प्रदेश प्रवक्ता एवं युवा अध्यक्ष अरविंद भारद्वाज द्वारा पृथला विधानसभा क्षेत्र स्थित गांव साहुपुरा में आयोजित युवा कार्यकर्ता सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए सांसद दुष्यंत चौटाला का जोरदार स्वागत किया। इस अवसर पर अरविंद भारद्वाज ने इनेलो पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ श्री चौटाला का पगड़ी पहनाकर स्वागत किया।
इस अवसर पर उपस्थित युवा इनेलो पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि फरीदाबाद शहर का युवा शिक्षित है परंतु वर्तमान सरकार के कारण यह युवा बेरोजगारी की मार झेल रहा है उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आयी तो हम प्राईवेट औद्योगिक संस्थानो में 50 प्रतिशत का आरक्षण युवाओ के लिए रखेेंंगे ताकि युवा जो कि देश व प्रदेश की ताकत है वह अपने आपको सुदृढ कर सके।  उन्होंने कहा कि आज भाजपा सरकार में टोल टैक्स विभिन्न राज्यों में वसूलो जा रहा है परंतु हम टोल टैक्स का सदैव विरोध करते रहे है और करते रहेेंगे। उन्होंने कहा कि गदपुरी पर लगने वाले टोल टैक्स का भी हम विरोध करते है और उसे हटाने की लड़ाई हम लडेंगे। उन्होंने कहा कि पेंशन हमारी ही सरकार की देन है ओर हमारी सरकार आयी तो हम पेंशन 2500 रूपये करेंगे साथ ही क गरीब कन्या की विवाह में 5 लाख की राशि दी जायेगी व किसानो के घरो के बिल हाफ और खेतो के बिल माफ करेंगे यह हमारा वादा है।ं
उन्होंने पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से अपील कि वह जनता की समस्याओ को हल करवायेंगे और संगठन को मजबूत बनाये क्योकि आगामी चुनावो में इनेलो भारी मतों से विजयी होकर सरकार बनाये और जनता को सभी सुख सुविधांए मुहैया कराये। 
कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए प्रदेश प्रवक्ता एवं युवा अध्यक्ष अरविंद भारद्वाज ने कहा कि आज पृथला विधानसभा क्षेत्र का शिक्षित युवा वर्ग बेरोजगारी की मार झेल रहा है उन्होंने कहा कि सरकारी संस्थानो में तो रोजगार है ही नहीं प्राईवेट में भी इस क्षेत्र के बेरोजगारो को नहीं रखा जाता है उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आयी तो हम सबसे पहले बेरोजगारी को दूर कर सबको रोजगार मुहैया करायेंगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान विधायक केवल सरकार की योजनाओं का लाभ उठाकर अपने राजस्व की बढौतरी कर रहा है उसे जनता से कोई लेना देना नहीं है। उनहोंने कहा कि कांग्रेस ने लूट और भाजपा ने झूठ की राजनीति कर रखी है जिसे इनेलो सहन नही करेगी और इसका जमकर विरोध करेगी। 
इस सम्मेलन में देवेन्द्र चौहान, अरविंद भारद्वाज, विधायक केहर सिंह रावत, राजेन्द्र बीसला, इन्द्रदेव महाशय, सचिन कौशिक, पवन रावत, ललित बंसल, रविन्द्र पाराशर, रूपचंद लाम्बा, जगजीत कौर, रामजीत भाटी, सचिन कौशिक, धारा सिंह, सुरेश मोर, सुरेश वर्मा, सुबोध सिंह, पवन रावत, देवेन्द्र तेवतिया, अजय भडाना, अमर दलाल, दृगपाल रावत, ठाकुर राजाराम, संजय तंवर, सुरेन्द्र हुड्डा, सुमित कौशिक, सुनील अत्री, जगमोहन तेवतिया, प्रताप सरपंच प्रेम सरपंच जाजरू,नरोत्तम सरपंच, मोहराम सरपंच, हेतलाल सरपंच, योगेश सरपंच, सूबे चेयरमैन सहित अन्य इनेलो पदाधिकारी व ग्रामीण उपस्थित थे।

ट्रैक्टर ट्राली पर टोल भाजपा सरकार का तानाशाही फैसला - दिग्विजय चौटाला

भिवानी, 23 नवम्बर : आम आदमी को सांस लेने के लिए भी अब टैक्स देना पड़ेगा। क्योंकि यह भाजपा का डिजिटल इंडिया है। धरती पुत्र किसान का एकमात्र साधन टै्रक्टर ट्राली पर टोल टैक्स लगाना और उसे कमर्शियल वाहनों की श्रेणी में डालना भाजपा सरकार का तानाशाही रवैये को दर्शाता है। किसान को मारने पर तुली इस सरकार ने तानाशाही फैसलों से आम आदमी का जीना दुर्भर कर रखा है। यह आरोप इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने यहां जारी बयान में लगाए। इनसो अध्यक्ष ने कहा कि पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक चौधरी देवीलाल ने सन 1989 में सड़क एवं परिवहन विभाग, मोटर व्हीकल अधिनियम तथा एनएचएआई की नियमावली में संशोधन करवाकर टै्रक्टर ट्राली को गढ्ढे का दर्जा दिलवाकर किसानों के चेहरों पर मुस्कराहट ला दी थी। मौजूदा भाजपा सरकार के केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी के द्वारा टै्रक्टर पर ट्रक के समान टोल लगाना निंदनीय है। इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने जहां आम आदमी को टोल प्लाजा से हो रही परेशानियों को देखते हुए टोल हटाओ आंदोलन छेड़ा वहीं दूसरी तरफ भाजपा सरकार ने अधिसूचना जारी करके कृषि का साधन ट्रैक्टर पर टोल लगा दिया। भाजपा के इस फैसले से हरियाणा ही नहीं देश के किसानों में भारी रोष है। भाजपा के द्वारा इस तरह के तानाशाही फैसले लागू करना भाजपा के दिन लद चुके दर्शाता है। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल ने ट्रैक्टर, रेडियो व साईकिल समेत 22 टैक्सों से देश की जनता व धरती पुत्र किसान को मुक्त कर इंदिरा गांधी के फैसलों से मुक्ति दिलाई थी। यही नहीं उन्होंने किसानों के समर्थन में जन आंदोलन छेड़कर तत्कालीन कांग्रेस सरकार से  किसानों के हितों को बचाने का काम किया था। यदि सरकार ने इस फैसले को वापिस नहीं लिया तो इनसो और युवा पीढ़ी दुष्यंत चौटाला के नेतृत्व में किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए बड़ा आंदोलन करने पर मजबूर हो जाएगी। 
नौकरियों में ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थियों को भी मिले लाभ - अशोक अरोड़ा 

चंडीगढ़ : हरियाणा सरकार द्वारा श्रेणी सी और डी की नौकरियों के लिए साक्षात्कार के लिए निर्धारित अंकों में लाए गए नियमों के बदलाव पर प्रतिक्रिया जताते हुए इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने मांग की कि बदली नीति का लाभ ग्रामीण स्कूलों में पढ़े विद्यार्थियों को भी दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह वर्ग ग्रामीण परिवेश और साधनों के अभाव में शिक्षित होता है और वहां के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई का स्तर शहरी स्कूलों के मुकाबले में कम विकसित होने के साथ-साथ वैसा अनुभव भी नहीं देता जैसा शहरी स्कूलों के विद्यार्थियों को प्राप्त होता है।
अशोक अरोड़ा ने यह भी कहा कि समाज में सबसे अधिक प्रोत्साहन और मदद की आवश्यकता ग्रामीण परिवेश में पढ़े-लिखे युवाओं को होती है क्योंकि शहरों की तुलना में उन्हें उचित योग्यता प्राप्त करने के लिए अधिक बाधाएं पार करनी पड़ती हंै। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह सरकार के उस निर्णय का तो स्वागत करते हैं जिसके अनुसार श्रेणी सी और डी के लिए उन उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जाएगी जिनके परिवार में एक भी सदस्य को सरकारी नौकरी प्राप्त नहीं हुई है, या जो विधवा है अथवा ऐसा उम्मीदवार है जिसके पिता का स्वर्गवास तब हुआ था जब उसी आयु15 वर्ष से कम थी। परंतु बदले हुए इन अंकों के नियमों का समूचित लाभ समाज को तभी प्राप्त हो सकता है जब इसका लाभ ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थियों को भी दिया जाए। इस तथ्य को नहीं भुलाया जा सकता कि ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थी विपरीत परिस्थितियों में पढ़ते हुए अपने परिवार की कृषि कार्यों में भी निरंतर सहायता देते हैं जिस कारण उनका पढऩा-लिखना और भी अधिक सराहनीय प्रयास बन जाता है।
इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष ने मांग की कि तुरंत प्रभाव से सरकार अपनी इस बदली हुई नीति का लाभ ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थियों को भी दे ताकि समाज में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ती खाई को रोका जा सके। यदि ऐसा नहीं किया जाता तो हरियाणवी समाजके ऐसी ‘संकीर्ण घरेलू दीवारों से टुकड़ों में बंटने’ की सम्भावना बढ़ जाती है जिस कारण समूचा समाज आपसी टकराव की स्थिति में खड़ा हो जाएगा।

Wednesday, November 22, 2017

नैना चौटाला ने महिलाओं के बीच चलाया टोल हटाओ पर हस्ताक्षर अभियान


हिसार, 22 नवंबर : दिल्ली-सिरसा हाईवे पर लगे रामायण टोल प्लाजा और चिकनवास टोल प्लाजा को हटाने इनेलो द्वारा चलाए जा रहे हस्ताक्षर अभियान के दूसरे चरण में आज महिलाओं के लिए हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत की गई। डबवाली से विधायक नैना चौटाला ने आज चौ. देवीलाल सदन में आयोजित महिलाओं की बैठक में नैना चौटाला ने स्वयं हस्ताक्षर कर इस अभियान की शुरूआत की। नैना सिंह चौटाला ने कहा कि टोल प्लाजा पर अवैध रूप से हो रही टोल वसूली का असर महिलाओं के पर सीधे रूप से पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अवैध वसूली का असर महिलाओं की रसोई पर भी पड़ता है और उनका मासिक बजट बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि महिलाएं किसी भी क्षेत्र में कमतर नहीं है और इनेलो द्वारा चलाए जा रहे टोल उखाड़ो अभियान में महिलाएं भी बढ़चढ़ कर भाग लें और अधिक से अधिक हस्ताक्षर इस मुहिम का समर्थन करें। एक सवाल के जवाब में विधायक नैना सिंह ने कहा कि टोल को उखाडऩे में यदि महिलाओं की जरूरत पड़ी तो सरकार को दिए अल्टीमेटम के बाद स्वयं टोल उखाडऩे के लिए महिलाओं सहित वह स्वयं टोल प्लाजा पर पहुंचेगी। इस अवसर पर महिला विंग की प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण, छन्नो देवी,, कमला खरक पूनिया, मूति लितानी, राधिक गोदारा, डा. कमलेश दिनोदिया, कीर्ति गोयल, प्रीति गोयल, सारिका सिंगल, सावित्री राठी, इंदिरावती, चंद्रकांता वर्मा, बीरमति डाबड़ा, बाला मलिक, सुमन डाबड़ा, गीता सोनी सहित भारी संख्या में अन्य महिलाएं उपस्थित थे। 

अवैध टोल बैरियर को बंद करवाने की मुहिम चलाएगी इनेलो - दुष्यंत चौटाला 



चंडीगढ़, 22 नवम्बर: हिसार से इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने सरकार पर आरोप लगाया कि भाजपा की दोषपूर्ण राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल स्थापित करने की नीति द्वारा साधारण जनता को लूटा जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश में तो राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अपने दिशा-निर्देशों को ताक पर रखकर टोल बैरियर स्थापित किए जा रहे हैं और मांग की कि ऐसे सभी टोल बैरियर को हटाया जाए। उन्होंने यह भी चेतावनी दी कि मय्यड़-रमैणा टोल बैरियर जिसे बंद करने की मांग इनेलो उठा चुकी है उसे यदि 1 दिसम्बर तक नहीं हटाया गया तो उन्हें बंद करवाने की मुहिम चलाई जाएगी। 
उन्होंने याद दिलाया कि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के दिशानिर्देश अनुसार एक टोल से दूसरे टोल की कम से कम दूरी 60 कि.मी. होनी चाहिए। लेकिन सरकार ने सीमांत स्थित सैनिक महत्व के अमृतसर को सिरसा और रोहतक से होते हुए दिल्ली से जोडऩे वाले राजमार्ग की लगभग 250 किलोमीटर की दूरी में डबवाली, मोरीवाला, चिकणवास, मय्यड़, सांपला और मदीना पर 6 टोल टैक्स बैरियर लगाए गए हैं। इसी प्रकार दिल्ली-चण्डीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर करनाल से मुरथल तक तीन टोल नाके लगाए है जो स्पष्ट तौर पर एनएचएआई के नियमों का उल्लंघन है। 
इसके अतिरिक्त उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अपने निर्देशों के अनुसार पालिका या परिषद से दस किलोमीटर की सीमा के भीतर टोल बैरियर नहीं स्थापित किया जा सकता। किन्तु अपने ही निर्देश की उल्लंघना करते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने नरवाना नगर परिषद से 1.5 किलोमीटर की सीमा टोल बैरियर लगाया है और अपनी नोटिफिकेशन में कमेटी को नरवाना गांव दर्शाया है। इस निर्देश की उल्लंघना पंचकूला जिला में चंडीगढ़ के निकट और गुरुग्राम में मानेसर में टोल बैरियर स्थापित कर भी की गई है।
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य में 22 टोल बैरियर स्थापित किए जा चुके हैं और यह हर जिले में एक है जिस कारण दिन-प्रति-दिन आंतरिक यात्रा करने वाले आम आदमी को भी बस का किराया भी अधिक देना पड़ता है। उन्होंने खेद व्यक्त किया कि भाजपा के तीन वर्ष के शासनकाल में आठ नए टोल बैरियर स्थापित हुए हैं और अनुमान है कि अगले कुछ समय में बारह और ऐसे बैरियर स्थापित होंगे। इतना ही नहीं  राज्य में ऐसे उदाहरण भी हैं जहां राजमार्ग अभी निर्माणाधीन हैं परंतु फिर भी उन पर टोल वसूला जा रहा है।
हिसार के सांसद ने भारत सरकार द्वारा केंद्रीय मोटर यान नियम, 1989 में ट्रैक्टरों को लेकर किए गए संशोधन की भी कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि उसमें भी सरकार की किसान विरोधी मानसिकता साफ दिखाई देती है। नए संशोधित नियम-2 के उपनियम (ख) में ‘कृषि ट्रैक्टर एक परिवहनेत्तर वाहन है’ के अनुसार अब ट्रैक्टर भी कमर्शियल वाहनों की श्रेणी में आएंगे जिससे उनका पंजीकरण भी होगा और उन पर वह सभी नियम लागू होंगे जो ऐसे अन्य वाहनों पर लागू होते हैं। फलस्वरूप जब भी किसान कुछ किलोमीटर की दूरी तय कर अपने ट्रैक्टर पर फसल लेकर शहर की मंडी में आता है या किसी भी अन्य खेती संबंधी कार्य से वहां आते हुए किसी टोल बैरियर को पार करता है तो उसे वही टोल देना होगा जो अन्य कमर्शियल वाहन देते हैं। उन्होंने कहा कि जाहिर है इससे पहले से आर्थिक बोझ में दबा किसान और अधिक शोषित अनुभव करेगा।

नैना चौटाला गांवों में करेंगी हरी चुनरी की चौपाल की शुरूआत


हिसार, 22 नवंबर : महिलाओं को अपनी बात रखने और सरकार तक उनके मन की बात पहुंचाने के लिए डबवाली से विधायक नैना चौटाला हरी चुनरी की चौपाल के एक गैर राजनैतिक प्लेटफार्म प्रदान करने जा रही है। हरी चुनरी की चौपाल की शुरूआत हिसार लोकसभा क्षेत्र से शुरू होगी और हर माह आयोजित होगी जिसमें विधायक नैना चौटाला स्वयं महिलाओं के साथ विचार साझा करेंगी। यह घोषणा आज डबवाली से विधायक नैना चौटाला ने चौ. देवीलाल सदन में आयोजित महिलाओं की बैठक को संबोधित करते हुए की। बैठक में टोल हटाने को लेकर चलाए जा रहे हस्ताक्षर अभियान के तहत महिलाओं के हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत की। नैना चौटाला ने स्वयं इस अभियान की शुरूआत की। यहां पहुंचने पर महिला विंग की प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण ने नैना चौटाला का स्वागत किया। बैठक में महिलाओं ने भी अपने विचार रखे। 
इनेलो विधायक नैना चौटाला ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि आपकी ताकत की वजह से ही मैं विधानसभा तक पहुंची है। उन्होंने कहा कि वह चाहती हैं कि महिलाओं को अपनी मन की बात कहने का एक प्लेटफार्म मिलना चाहिए। इसके लिए वह हर माह महिलाओं से हरी चुनरी की चौपाल के माध्यम से रूबरू होंगी। यह चौपाल गांव में ही आयोजित की जाएगी। नैना चौटाला ने बेटी-पढ़ाओ-बेटी बचाओ अभियान को लेकर सरकार पर तीखे प्रहार करते हुए कहा कि सरकार की मंशा ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि बेटी को पढ़ाना और बेटी बचाना निसंदेह अच्छा अभियान है परन्तु सरकार को बेटियों को पढ़ाने के लिए सुरक्षित वातारण उपलब्ध करवाना चाहिए और पर्याप्त सख्ंया में स्कूल, कालेज, परिहवन व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवानी चाहिए। नैना चौटाला ने कहा कि यह बेहद शर्मनाक बात है कि सरकार की पार्टी के अध्यक्ष का बेटा महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और अपहरण जैसी घिनौनी हरकत करने का अरोपी है। ऐसे में सरकार से कैसे बेटियों की सुरक्षा उम्मीद की जा सकती है। 
इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण ने कहा कि इनेलो पार्टी मेंं महिलाओं को पूरा मान-सम्मान दिया जाता है और इनेलो सरकार के समय इनेलो को विभिन्न पदों से नवाजा गया। उन्होंने कहा कि कन्यादान सहित अनेक महिलाओं के लिए अनेक योजनाओं की शुरूआत भी इनेलो के राज में की गई। महिला प्रदेशाध्यक्ष ने हरी चुनरी की चौपाल कार्यक्रम की शुरूआत हिसार से करते हुए पूरे प्रदेश में चलाने की अपील की। 
इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक वेद नारंग, विधायक अनूप धानक, महिला जिला अध्यक्ष छन्नो दैवी, कृष्णा खर्ब, वीना झांब, निर्मला कुंडू, निर्मला रेढू, दर्शना लाठर, कृष्णा भाटी, ज्योति सरपंच, बालादेवी, निर्मला दहिया, संतोष पानू,  राजकली जुगलान, वीना सपरा,  सुनीता कनोह, ललिता टांक, वीना झांब, मैडम राज हसीना, निर्मला, सुनीता सहित भारी संख्या में महिलाएं उपस्थित थी। 

Tuesday, November 21, 2017


शिक्षा प्रेरकों का रोजगार छीन भाजपा का युवा विरोधी चेहरा उजागर - दिग्विजय सिंह चौटाला

भिवानी, 21 नवंबर : इनेलो शासनकाल में लाखों युवाओं को रोजगार देकर उनके भविष्य को सुरक्षित किया गया था। रोजगार देकर इनेलो नेताओं ने बड़ी कुर्बानियां भी दी लेकिन उसके उलटे कांग्रेस व मौजूदा भाजपा सरकार ने रोजगार छिनने का काम किया। शिक्षा प्रेरकों के साथ सरकार ने सोची समझी राजनीति के तहत धोखा किया है। इनसो शिक्षा प्रेरकों की दोबारा नियुक्ति एवं उनके बकाया वेतनमान को देने की मांग करती है। यह मांग इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने यहां जारी बयान में कहे। दिग्विजय ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं की साक्षरता दर बढ़ाने के लिए 5100 शिक्षा प्रेरकों को 2954 लोक शिक्षा केंद्रों पर शिक्षा की अलख जगाने का लॉलीपोप दिया गया था। अगस्त 2012 में साक्षरता प्राधिकरण मिशन अथॉरिटी हरियाणा के द्वारा 10 जिलों में शिक्षा प्रेरकों की नियुक्ति की गई थी। जहां युवाओं ने ईमानदारी से 2954 गावों में साक्षरता केंद्रों पर जाकर शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने में भरपूर भूमिका निभाई। उस समय शिक्षा प्रेरकों का मानदेय 2 हजार रूपये रखा भी गया था लेकिन सरकार की ओच्छी मानसिकता और लूटखसोट की नीति ने शिक्षा प्रेरकों के 8 माह का वेतन एवं 55 माह का लोक शिक्षा केंद्रों का खर्चा अभी तक नहीं दिया। उन्होंने कहा कि पिछले दो दिन पहले इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने शिक्षा प्रेरकों की मांग को भिवानी में आयोजित जिला विकास समन्वय एवं निगरानी कमेटी की बैठक में भी पूरा जोर शोर से उठाया था। उन्होंने कहा कि शिक्षा प्रेरकों के द्वारा गर्मी और सर्दी में बिना झिझक के कड़ी महेनत करके शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने का प्रयास भी किया गया। चौटाला ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि रोजगार छिनने के नाम से प्रसिद्ध प्रदेश सरकार ने शिक्षा प्रेरकों को बिना अल्टीमेटम दिए 3 जून को घर जाने के लिए कह दिया जो सरासर गलत है। एक तरफ इनेलो ने अकेले भिवानी से डा. अजय सिंह चौटाला के मार्गदर्शन में 17 हजार नौकरियां दी थी, वहीं दुसरी तरफ 5500 शिक्षा प्रेरक के घर के चुल्हे को बुझाने का काम भाजपा ने किया। शिक्षा प्रेरक काफी समय से भिवानी में धरने पर बैठे हैं लेकिन सरकार उनकी कोई सुध नहीं ले रही। अनुभवहीन सरकार के द्वारा साक्षरता मिशन अभियान तो चला दिया लेकिन आज वह साक्षरता प्राधिकरण मिशन अभियान अपने ऊपर ही आसु बहाने को विवश है। दिग्विजय ने कहा कि हालात इस कदर खराब हो चुके हैं अब लोक शिक्षा केंद्रों पर ताले जड़े नजर आते हैं। इनसो शिक्षा प्रेरकों की मांगों को जल्द से जल्द लागू करने की मांग करती है नहीं तो प्रदेश के अंदर बड़ा आंदोलन करने से इनसो पीछे नहीं हटेगी।

Monday, November 20, 2017


इनसो ने दिया पैक्स कर्मचारी संघ को समर्थन- सेठी धनाना


भिवानी, 20 नवंबर: इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला के दिशा निर्देशानुसार इनसो ने जिला अध्यक्ष सेठी धनाना के नेतृत्व में पैक्स कर्मचारी संघ को द्वारा विभिन्न मांगों को दिए जा रहे धरने को अपना समर्थन दिया। जिला अध्यक्ष सेठी धनाना ने कहा कि अगर सरकार द्वारा पैक्स कर्मचारियों के वेतन मान में वृद्धि तथा प्रमोशन नहीं किया गया तो भिवानी इनसो आंदोलन करने पर मजबूर होगी। सेठी धनाना ने कहा कि भाजपा सरकार से पूरे प्रदेश का कर्मचारी वर्ग परेशान है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने तीन वर्ष के शासनकाल में कर्मचारी, मजदूर, किसान, छात्र अपने घरों को छोड़ कर सड़क पर उतरने को मजबूर हो गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के इस तनाशाह सरकार से परेशान हो कर अब आम आदमी इनेलो में अपना भविष्य उज्जवल मान चुके है तथा आने वाला समय इनेलो का होगा। इनेलो की सरकार आने पर हर कर्मचारी को पूरा मान-सम्मान दिया जाएगा तथा प्रत्येक बेरोजगार युवक को रोजगार दिया जाएगा। इस अवसर पर इनसो प्रदेश उपाध्यक्ष सचिन जताई, सोनू बामला, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, राजकीय महाविद्यालय प्रधान नीतिज ग्रेवाल, सीनू बामला, विक्रम घणघस, जयभगवान धनाना, संदीप बजाड़, रोहित भारद्वाज, संजय श्योराण, रविंद्र जाटू लोहारी, अंकित सिवाड़ा, टोना चहल, जीवा आईटीआई, काला नंबरदार, मनजीत ढांण्डा, मनजीत बामला, मनदीप घणघस, सोमबीर, जितेंद्र कुंगड़, राहूल बाबा, आशीष बामला, अमन भिवानी समेत अनेक इनसो कार्यकर्ता मौजूद थे।
चौधरी अभय चौटाला ने मानुषी छिल्लर को मिस वर्ल्ड बनने पर दी बधाई 


चंडीगढ़, 20 नवम्बर: नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला नें मानुषी छिल्लर को मिस वर्ल्ड बनने पर बधाई देते हुए कहा कि मानुषी ने देश-दुनिया में अपने परिवार के साथ-साथ प्रदेश का भी मान व गौरव बढ़ाया है जिसके लिए उनकी जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है। उन्होंने कहा की मानुषी की उपलब्धि प्रदेश की बेटियों के लिए प्ररेणा बनेगी साथ ही जो लोग बेटियों को बोझ समझते हैं उनके लिए नसीहत का काम करेगी।
इनेलो नेता ने यह भी कहा कि उनकी कामयाबी से यह स्पष्ट हो गया है कि हरियाणा की असली पहचान मानुषी छिल्लर, कल्पना चावला, साक्षी मलिक और गीता फोगाट जैसी बेटियां हैं जिन्होंने अपनी पहचान बनाने का सपना देखा और उसको सच भी कर के दिखाया। 
नेता विपक्ष ने शशि थरूर के ट्वीट की भी कड़ी आलोचना की और कहा कि उनका कोई हक नहीं बनता कि वो अपने राजनैतिक स्वार्थ के चलते देश की किसी भी बेटी और पारिवारिक पहचान को सस्ते परिहास का विषय बनाए। उन्होंने आगे यह भी कहा कि थरूर ने देश का मान बढ़ाने वाली बेटी के सम्मान को ठेस पहुंचाई है। उन्होंने उस बयान को कांग्रेस की सोच बताते हुए कहा कि थरूर जैसे लोग ही कांग्रेसी सोच के झंडाबरदार हैं ऐसी विकृत मानसिकता के लोगों को सार्वजनिक जीवन में रहने का अधिकार नहीं है।
फिल्म पद्मावती विवाद पर चौधरी अभय चौटाला ने की टिप्पणी 


चंडीगढ़, 20 नवम्बर: नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने संजयलीला भंसाली की फिल्म पद्मावती विवाद पर टिप्पणी करते हुए कहा कि हर समुदाय की भावनाओं का सम्मान होना चाहिए और अभिव्यक्ति की आजादी का कतई यह अर्थ नहीं होना चाहिए कि किसी को भी दूसरों के सम्मान को ठेस पहुंचाने का अधिकार है। भंसाली को लोगों की प्रतिक्रिया आते ही इस फिल्म के प्रमोशन को रोक देना चाहिए था और पहले केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के पास भेजना चाहिए था ताकि फिल्म में कोई भी विषयवस्तु ऐसी है जो किसी जाति विशेष की मर्यादाओं और भावनाओं को क्षति पहुंचाती हो तो सेंसर बोर्ड उन आपत्तिजनक हिस्सों को संपादित कर क्लिन चिट दे सके।
इनेलो नेता ने आगे कहा कि सामाजिक सरोकार हमेशा आर्थिक हितों से बड़े होते हैं। भंसाली ने जानबूझ कर यह विवाद खड़ा किया है ताकि ज्यादा लोग उनकी फिल्म को देखें। लेकिन किसी भी फिल्म निर्माता को इस बात की अनुमति नहीं दी जा सकती की वह अपने आर्थिक लाभ के लिए लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ करे। जिस तरीके से  फिल्म निर्माता ने सेंसर बोर्ड का प्रमाण-पत्र मिलने से पहले ही इसके प्रोमो यानी प्रचार सामग्री को टेलीविजन चैनलों पर प्रसारित कर दिया और फिर निजी तौर पर कुछ पत्रकारों को मुंबई बुला कर फिल्म दिखाई है। उससे एक समुदाय आहत हुआ है।
खेत में टयूबवैल चलाने पर किसानों से वसूला जा रहा है रोड टैक्स- दुष्यंत चौटाला 

किसी कीमत पर नहीं चलने देंगे अवैध टोल

टोल पंचायत को समर्थन देने पहुंचे दर्जनों संगठन


हिसार : चारों तरफ से घिरे हिसार शहर को टोल मुक्त करने के लिए इनेलो को जो भी कुर्बानी देनी पड़ेगी, उसके लिए इनेलो के साथ साथ हिसार जिले का आम आदमी तैयार है। गाड़ी खरीदते समय रोड टैक्स, तेल डलवाते समय रोड टैक्स के बाद अवैध रूप से लिए जा रहे टोल टैक्स को अब किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जिला प्रशासन को एक दिसंबर तक का समय दिया हुआ है और अगर प्रशासन के साथ साथ शासन नहीं चेता तो सरकार की र्इंट से ईंट बजा देंगे। यह बात इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने कही। वे रविवार को रामायण स्थित टोल प्लाजा पर आयोजित जनपंचायत में उमड़े समूह को संबोधित कर रहे थे। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसान जब अपनी फसल के लिए पेट्रोल-डीजल खरीदता है तो भी उसे एक रूपया प्रति लीटर की दर से रोड टैक्स के रूप में देना पड़ रहा है। डीजल-पेट्रौल पर यह वसूली केंद्र सरकार पिछले एक दशक से भी अधिक समय से कर रही है कि जनता के लिए रोड बनाए जाएंगे। अब रोड बनाए जा रहे हैं तो निजी कंपनियों को ठेका देकर और उसकी वसूली जनता की जेब से की जा रही है। सांसद चौटाला ने केंद्र एवं राज्य सरकार को चेताया कि अब टोल के नाम हो रही अवैध वसूली नहीं चलने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि यह भी एक प्रकार से सुनियोजित ढंग से किया जा रहा भ्रष्टाचार का एक रूप है क्यों कि हिसार के चारों ओर लगे टोल राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के नियमों के खिलाफ हैं। युवा सांसद ने हैरानी जताते हुए कहा कि हिसार से बरवाला अगर खुद की गाड़ी में कोई सफर करे तो अप-डाउन में तेल तो 100 रूपये का खर्च होता है और टोल के 170 रूपये अदा करने पड़ रहे हैं। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यदि सरकार ने उनकी मांग नहीं मानी तो वह जिला प्रशासन, सरकार के मुख्य सचिव और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को पार्टी बना कर हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर करेंगे। 


हर तबके के लोग मिलकर सामाजिक समिति का गठन करें-दुष्यंत
सांसद दुष्यंत ने सुझाव किया टोल हटाने को लेकर आंदोलन चलाने के लिए समाज का हर तबका मिलकर एक सामाजिक संगठन का गठन करे। उन्होंने कहा कि वह इस सामाजिक संगठन में शामिल नहीं होंगे।
उन्होंने कहा कि पंचायत सामाजिक तौर पर टोल हटाने को लेकर जो भी फैसला ले, इसके लिए वह स्वतंत्र है और जो निर्णय वह देगी, वह उन्हें मंजूर होगा। 
यह आंदोलन किसी एक पार्टी का नहीं जनहित का आंदोलन है-
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि टोल का मुद्दा किसी एक पार्टी का मुद्दा नहीं है बल्कि जनहित से जुड़ा मसला है। उन्होंंने आह्वान किया कि राजनीति से उपर उठकर अन्य दलों के लोग भी आगे आएं और हिसार जिले के लोगों  को लूटने के काम को रोकने के लिए अपना योगदान दें। उन्होंने कहा कि हिसार में नियमों के खिलाफ लगे इस टोल को हटवाने के बाद प्रदेश के अन्य स्थानों पर लगे अवैध टोल को बैरियर के लिए आंदोलन चलाएंगे। 
सामाजिक संगठनों ने दिया समर्थन-
सांसद के आह्वान पर बुलाई गई जनपंचायत में हजारों लोगों ने पहुंच कर टोल हटाने की मुहिम को समर्थन दिया। सातबास के प्रधान ने कहा कि इस टोल का विरोध पहले भी कई गांवों के लोगों ने किया था। अब उनकी तरफ से टोल हटाने की इस मुहिम में पूरा समर्थन है। काजला खाप के प्रधान राजमल काजल ने केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए इन टोलों को भ्रष्टाचार का अड्डा कहा। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन का बात करने वाली भाजपा सरकार स्वयं संगठित ढंग से भ्रष्टाचार कर लोगों को लूटने में लगी हुई है। आज हुई इस जनपंचायत में टोल बैरियर को लेकर खासा सरकार के प्रति खासा गुस्सा था और ट्रैक्टर ट्रालियों के साथ जनपंचायत में हिस्सा लेेने पहुंचे थे। उन्होंने जनपंचायत में सरकार विरोधी नारे जमकर लगाए।  आज इस जनपंचायत में महिलाएं भी खासी संख्या में पहुंची।


जनपंचायत में इस मुहिम का समर्थन करने वालों में प्रमुख रूप से झोरड़ खाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद कुमार, सिंहमार खाप के प्रदेशाध्यक्ष धर्मवीर सिसाय, काजला खाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजमल काजल, भ्याण खाप से राजकुमार रेढू, सातबास खाप से चौ. धारा सिंह व मास्टर महेंद्र सिंह, पंचग्रामी से रामनिवास खेदड़, पूनिया खाप से जोगेंद्र पूनिया, बार एसोसिएशन हिसार के पूर्व प्रधान कलम सिंह एडवोकेट, जाट समाज संगठन मिलगेट से जयमहेंद्रपाल पूनिया, थ्री व्हीलर एसोसिएशन के उपप्रधान सतबीर मुंगेरिया, मेला ग्रांउड कार्मशिलय मार्केट के उपप्रधान मोहित अरोड़ा, मानव इंस्टिट्यूट के चेयरमैन डा. सीपी गुप्ता, बूरा खाप से शिवलाल राजली व अजीत बूरा, जिला पार्षद सरोज बामल, पार्षद जस्सी पेटवाड़, सब्जीमंडी एसोसिएशन हांसी के प्रधान रमेश भुटानी, कपड़ा एसोसिएशन के संरक्षक रमेश मेहता, सहकारी परिवहन समिति के जिला प्रधान श्रीपाल खेड़ी, भिवानी बार से मनमोहर बुर्टाना, अखिल भारतीय स्वणकार संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सजन लावट, हांसी बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान राजकुमार खर्ब, आदमपुर बार एसोएिसशन से एडवोकेट मदन लाडवी, हिसार स्वर्णकार संघ के जिला प्रधान गुरदीप चड्ढा, अखिल भारतीय सैन समाज के अध्यक्ष डा. राजकुमार दिनोदिया, कृष्णा भाटी, हिंदू महासभा के प्रदेशाध्यक्ष धर्मपाल सिवाच, उकलाना अंबेडकर सभा के महासचिव जोगेंद्र सेलवाल ने अपना समर्थन दिया। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक अनूप धानक, विधायक वेद नारंग, शीला भ्याण, वरिष्ठ नेता चतर सिंह, युद्धवीर आर्य, पूर्ण सिंह डाबड़ा, राजेश गोदारा, राजसिंह मोर, युवा प्रदेशाध्यक्ष सुमित राणा, अमित बूरा, अमित ग्रोवर, सिल्क पूनिया, परविंद्र मलिक, दिनेश कुमार, मुनीश गोयल, मनदीप बिश् नोई, रमेश चुघ, राजीव शर्मा, विनोद मेहता, बहादुर सिंह नायक, ललिता टाक, रमेश गोदारा, सतपाल सरपंच, सत्यवान बिचपड़ी, इंद्र फौजी सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। 
विधायक नैना चौटाला ने श्री रामकथा के समापन पर की शिरकत

मंदिर निर्माण में 21 हजार रूपए का सहयोग व हाल बनाने की घोषणा


डबवाली: डबवाली की विधायक नैना सिंह चौटाला ने गांव बिज्जूवाली में निर्माणाधीन श्री रघुनाथ मंदिर के उपलक्ष्य पर करवाई जा रही श्रीराम कथा में भाग लिया। इस मौके पर विधायक नैना चौटाला ने अपनी ओर से मंदिर निर्माण के लिए 21 हजार रूपए का सहयोग देने की घोषणा की। इसके अलावा मंदिर के पास एक बड़ा हाल सांसद निधि से बनवाकर देने की भी घोषणा की।



इस मौके पर विधायक नैना चौटाला ने कहा कि श्रीराम कथा श्रवण करने से मन को शांति मिलती है व सभी प्रकार की बाधाएं दूर होती है। उन्होंने ऐसे कार्यक्रम करवाते रहने को कहा ताकि क्षेत्र में सुख शांति रहे। इससे पहले ग्रामीणों, मंदिर कमेटी व भारी संख्या में महिलाओं ने विधायक नैना चौटाला का गांव पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया। कार्यक्रम में सबसे पहले विधायक ने दीप प्रवज्लित करके रामकथा शुरू करवाई। इस मौके पर पूर्व विधायक डा. सीता राम ने भी 5100 रूपए का सहयोग करते हुए कहा कि मंदिर के निर्माण कार्य में पूरा सहयोग किया जाएगा। इसके बाद विधायक नैना चौटाला ने हवन यज्ञ में भी आहुति डाली। इस मौके पर मंदिर कमेटी की ओर से स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर पूर्व सरपंच गिरधारी बिस्सू, मोहन सहू, एस.जी.पी.सी. मैम्बर जगसीर मांगेआना, संदीप मेहता, दलीप भाटी, संजय सोनी, धेला राम सुथार, ओम बिश्नोई गंगा, मंदर सरां, सुखदेव सिंह, जनकराज पूर्व सरपंच, गुलशन सुखीजा, देवीलाल बिरट, महेन्द्र बिरट आदि मौजूद रहे।
समाज सेवा के कार्यो में ज्यादा से ज्यादा भाग लेकर जरूरतमंदों की करे मदद-  नैना चौटाला

  • 22 जरूरतमंदों को बांटे आर्थिक सहायता के चैक
  • आमजन की समस्याएं सुनकर किया निपटारा




डबवाली :डबवाली हलका की विधायक नैना सिंह चौटाला ने हलका के गरीब, जरूरतमंद व पिछड़े लोगों को आर्थिक सहायता के लिए सहयोग करते हुए चैक वितरित किए। शहर की अनाज मंडी में स्थित इनैलो कार्यालय में सभी जरूरतमंदों को विधायक नैना चौटाला ने चैक वितरित किए। इस मौके पर विधायक नैना चौटाला ने कहा कि सभी को समाजसेवा के कामों में ज्यादा से ज्यादा भाग लेते हुए जरूरतमंदों की सहायता करनी चाहिए ताकि उन्हें कोई अभाव महसूस न हो सके। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास रहता है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच कर मदद की जा सके। इस मौके पर विधायक ने लोगों की समस्याएं भी सुनी व मौके पर ही उनका निपटारा किया। लोगों की ओर से बिजली व पानी संबंधी अनेक समस्याएं मुख्य रही। इस मौके पर भारी संख्या में इनैलो कार्यकर्ताओं ने विधायक का स्वागत किया। 
आए दिन बढ रहे है अपराध 
इसके बाद विधायक नैना चौटाला शहर के व्यापारी व उसके परिजनों से मिली जिसको कुछ दिन पहले फिरौती की मांग करने व जान से मारने की धमकी दी गई है। विधायक ने डबवाली में कानून व्यवस्था पर चिंता प्रकट करते हुए कहा कि आए दिन अपराध की घटनाएं बढ रही है, जोकि प्रदेश सरकार की नाकामी को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि पुलिस को मामले की तह मे जाकर जल्दी से जल्दी कार्रवाई करनी चाहिए ताकि शहर के व्यापारी वर्ग में भय का माहौल न बने। 
इनको दी आर्थिक सहायता 
इस मौके पर विधायक नैना चौटाला ने वार्ड न. 7 की गांव चौटाला की लीलावती पत्नी दारा सिंह, गांव तिगड़ी से वरिन्द्र कौर पत्नी गुरनाम सिंह, गांव तेजाखेड़ा से दीपक रानी पुत्री महेन्द्र कुमार, हरमेश रानी पत्नी केवल शर्मा को 11000-11000 रूपए के चैक दिए। डबवाली शहर के वार्ड न. 15 से राज रानी पत्नी बलविन्द्र सिंह, दीपक कुमार पुत्र हरबंश लाल, वार्ड न. 5 की पिंकी पत्नी कृष्ण कुमार, गांव खोखर के धमेन्द्र पुत्र करनैल सिंह, कालूआना की ममता रानी पुत्री केवल प्रकाश को 5100, गांव झुटटीखेड़ा के भीमसैन पुत्र रामकुमार, गांव गोदिकां के गोमदा राम पुत्र फुला राम व बिंदर पुत्र राजा राम, गांव लखुआना के चुन्नी लाल पुत्र जगदीश, गांव रामपुरा बिश्नोईयां के गुरलाल पुत्र मुखत्यार सिंह, गांव अलीकां के बखतावर सिंह पुत्र जीत सिंह, गांव रिसालियाखेड़ा के जोराराम गोस्वामी पुत्र जगदीश, गांव गंगा के बिंदर सिंह पुत्र बारा सिंह, शहर के वार्ड न. 9 के कश्मीरी लाल पुत्र मकखन लाल को 5100-5100 रूपए के चैक दिए। गांव घुकांवाली के हजुर सिंह पुत्र राज सिंह व दुर्गा देवी पत्नी गोपीराम को 7100-7100 के चैक दिए।
इस मौके पर पूर्व विधायक डा. सीता राम, पूर्व चेयरमैन रणवीर राणा, पूर्व नपा चेयरमैन टेकचंद छाबड़ा, पूर्व सरपंच गिरधारी बिस्सू, एस.जी.पी.सी. मैम्बर जगसीर मांगेआना, शहरी प्रधान हरबंश भीटीवाला, पार्षद राकेश शर्मा, शहरी युवा प्रभारी विपिन मोंगा, राजकुमार सोनी, विजय पटवारी, सुरेश सोनी, अंकुश मोंगा, अमरनाथ बागड़ी, ओम प्रकाश बागड़ी, ममता मिढा, आशा वाल्मिकी, अमृतपाल शर्मा, विक्की वर्मा, मनजीत पन्नीवाला रूलदू, मनोज ढांगी, जिला पार्षद गुरजंट तिगड़ी, प्रदीप लौहगढ, धेला राम सुथार, दलीप भाटी सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे।
किसानों से बीमे के नाम पर राशी का गलत प्रयोग करने वाले बैंक प्रबंधक और कंपनी पर एफआईआर दर्ज हो- दुष्यंत चौटाला 


भिवानी: दिन रात खेतों में मेहनत करके देश की आर्थिक स्थिति में योगदान करने वाले और जनता का पेट भरने वाले अन्नदाता किसान के साथ ज्यादाती बर्दास्त नहीं होगी। बीमे के नाम पर निजी कंपनी को और बैंक प्रबंधक ने एक सोची समझी रणनीति के तहत किसान के खाते से काटे गए तथा काटी गई राशी का गलत तरह से प्रयोग किया गया। इनेलो तुरंत प्रभाव से संबंधित कंपनी और बैंक प्रबंधक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश करती है। यह बात इनेलो के हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने देर रात भिवानी में मदन व ईश्वर पुनिया के निवास स्थान पर आयोजित शादी समारोह में शिरकत करते हुए पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहे। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उन्हें किसानों की गाढे खून पसीने की कमाई को गलत तरीके से प्रयोग करने वाली कंपनी और बैंक प्रबंधक के खिलाफ उपायुक्त अंशज कुमार को तुरंत प्रभाव के कार्यवाही करते हुए एफआईआर दर्ज करने की बात कही है। यदि उक्त कंपनी और बैंक प्रबंधक के खिलाफ प्रशासन ने कोई कदम नहीं उठाया तो वे इसकी शिकायत लोकसभा में सवाल करके केंद्र सरकार के संज्ञान में लाऐंगे। दुष्यंत चौटाला ने जहां शनिवार को दिन में डीआरडी हॉल में आयोजित बैठक में शिरकत की वहीं देर रात को भिवानी व बवानीखेड़ा के कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। टोल टैक्स को बड़ी समस्या बताते हुए सांसद दुष्यंत ने गरीब आदमी की जेब पर सरकार के आंखों के सामने डाका डालना बताया। उन्होंने कहा कि रविवार से टोल टैक्सों के खिलाफ मयैड़ से जन पंचायत कर आंदोलन किया जाएगा। 


इनेलो सांसद ने हरियाणा के अंदर पिछली कांग्रेस और भाजपा सरकार के कार्यकाल में अवैध रूप से टौल टैक्सों में इजाफे का आरोप लगाया। अपने सांसद कोटे से विकास के लिए हिसार लोकसभा के अंतगर्त बवानीखेड़ा क्षेत्र में मुलभूत सुविधाऐं उपलब्ध कार्यों का दुष्यंत ने ग्रामीणों से फीड बैक भी लिया और कहा कि वे स्वयं विकास करवाने की भरपूर कोशिश भी करते हैं। पूरे बवानीखेड़ा क्षेत्र में विभिन्न प्रयोजनाओं के तहत अनेक ग्रांटे देकर आम जनता की सुख सुविधाए उपलब्ध करवाने की कोशिश की है और आगे भी वे निरंतर प्रयासरत रहेंगे। बवानीखेड़ा की टूटी सड़के, बिजली के तारों के साथ-साथ अन्य सुविधाओं के लिए वे समय-समय पर क्षेत्र के लोगों से जानकारी प्राप्त करते रहते हैं। इनेलो सांसद ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को पार्टी संगठन को और अधिक मजबूत करने की बात कही। इससे पहले जगह-जगह पर दुष्यंत चौटाला का फूलमालाओं के साथ जोरदार स्वागत किया गया। जहां बुजुर्ग सिर पर हाथ रखकर दुष्यंत को आशीर्वाद दे रहे थे वहीं सैकड़ों की तादाद में युवा दुष्यंत चौटाला ने मिलने के लिए आतुर नजर आए। उनके साथ मुख्यरूप से जिला प्रधान सुनील लांबा, अशोक ढ़ाणी माहू, जगदीश धनाना, कुलवंत कोटिया, वजीरमान, ईश्वर पूनिया, जितेंद्र शर्मा, पार्षद मनोज यादव, पार्षद संजय तिगड़ाना, जिला प्रवक्ता राजू मैहरा, नरेंद्र राज गागड़वास, दिलबाग चेयरमैन, मनमोहन भूरटाना, मदन जूसवाला, डा. अंचल, होशियार सिंह थानेदार, सुरेंद्र राठी, पा यशवीर घणघस, दीपक सिवाड़ा, आशिष नीमड़ी, सेठी धनाना, मनदीप सुई, रवि आर्य तोशाम, अशोक सिहाग, ईश्वर फतेहगढ़, सुखबीर संडवा, एडवोकेट पवन पूनिया, रामकला सिहाग, विरेंद्र बापौड़ा, संजय कारखल, मनदीप तालू, बलवंत औरंगनगर, मोहन चाहर, बलराज चौहान, दिनेश नंबरदार, शिवकुमार खरक, बिट्टू शर्मा, देवेंद्र परमार सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे। 

Thursday, November 16, 2017


छात्र संघ चुनाव को लेकर सरकार का उदासीन रवैया -  दिग्विजय चौटाला


भिवानी, 16 नवम्बर : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने छात्र संघ चुनाव को लेकर बुधवार को पंचकूला में शिक्षा मंत्री प्रो.रामबिलास शर्मा और सरकार के द्वारा कमेटी के सदस्यों के साथ हुई बैठक को बेनतीजा बताते हुए छात्र संघ चुनाव को लेकर सरकार को घेरा। दिग्विजय ने कहा कि डा.भीमराव अंबेडकर ने संविधान के अन्दर राईट टू स्पीच एवं वोट डालने का अधिकार दिया था लेकिन भाजपा सरकार के तानाशाही रवैये के कारण आज का युवा छात्र नेता वोट डालने के लिए मायूस है। क्योंकि सरकार के द्वारा जो पालिसी छात्र संघ चुनाव के लिए लाई जा रही है वह किसी भी तरह से वाजिब नहीं है। रामबिलास शर्मा के द्वारा मोबाइल से वोट करवाने की बात सरकार के अनुभवहीन शासन को दर्शाती है। इनसो अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने उम्मीद के साथ रामबिलास शर्मा को तालाबंदी के दौरान 15 नवम्बर तक का समय दिया था लेकिन दोबारा से सरकार के द्वारा और समय मांगा गया है। जोकि सरकार की आधीअधूरी तैयारियों को दर्शाता है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि छात्र संघ चुनाव को लेकर इनसो का आंदोलन जारी रहेगा और छात्रों की परीक्षा के बाद जनवरी में अनिश्चितकालीन प्रदेशस्तरीय आंदोलन चलाया जाएगा। दिग्विजय ने सरकार को कड़े शब्दों में चेताते हुए कहा कि यदि अबकी बार सरकार ने कोई बहाना बनाया तो अनिश्चितकालीन आंदोलन के द्वारा सरकार को घुटने के बल चलाने में गुरेज नहीं करेंगे। जहां अन्य राजनीतिक दलों के छात्र नेता भी मौजूद थे लेकिन एबीवीपी के प्रतिनिधिमंडल का बैठक के अन्दर न पहुंचना इस बात को दर्शाता है कि सरकार छात्र संघ चुनाव को लेकर गंभीर नहीं है और एबीवीपी के लोग जो दिल्ली और चंडीगढ़ में गला फाड़कर वोट
मांगने का ढोंग रचते हैं, उनकी मंशा हरियाणा के अन्दर छात्र संघ चुनाव करवाने की नहीं है। इनसो की तरफ से दिग्विजय चौटाला व प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप देशवाल की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने एक घंटे से ज्यादा के समय शिक्षा मंत्री प्रो.रामबिलास शर्मा से बातचीत कर अपनी मांगों को रखा लेकिन रामबिलास शर्मा ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल के द्वारा पहले की तरह दिए गए उदासीन रवैये को दर्शा दिया। इनसो अध्यक्ष ने सर्वप्रथम चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री मनोहरलाल से मुलाकात करके छात्र संघ चुनाव के बारे में बातचीत की थी। वहीं उन्होंने शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा से प्रत्यक्ष रूप से मिलकर और आंदोलन के समय रामबिलास शर्मा द्वारा महर्षी दयानंद विश्वविद्यालय कैम्पस में फोन पर चुनाव करवाने का आश्वासन दिया था लेकिन अब सरकार का असली चेहरा सामने आ गया है।

Wednesday, November 15, 2017

सांसद दुष्यंत चौटाला ने ताऊ देवीलाल पार्क में किया ओपन शंतरज कोर्ट का उद्घाटन


अब हिसार के लोग भी विदेशी मोहरों से सजी बिसात पर देसी चाल चल कर शह और मात के खेल का आनंद ले सकेंगे। इसके लिए ताऊ देवीलाल पार्क में शतरंज के ओपन कोर्ट का निर्माण किया गया है। इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने इस शतंरज कोर्ट का उदघाटन किया। इसका निर्माण दुष्यंत चौटाला ने निजी स्तर पर करवाया है। प्रदेश में पहली सार्वजनिक स्थान पर बनी यह हरियाणा की यह पहली शतरंज कोर्ट है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने हिसार में करीब दो वर्ष पहले ताऊ देवीलाल पार्क में ओपन शतरंज कोर्ट का बनाने की पहल की थी। इसके लिए बाकायदा प्रशासनिक स्तर पर सभी औपचारिकताएं पूरी करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई परन्तु संबंधित विभागों ने नियमों का हवाला देकर इसके निर्माण में अंडगा डाल दिया। इसके लिए सांसद दुष्यंत चौटाला ने स्वयं ने रूचि लेते हुए मामले को संबंधित विभाग के मुख्यालय भेज कर इसकी अनुमति दिलवाई और कुछ ही दिन पूर्व इसका निर्माण कार्य पूरा हुआ है। 


शतरंज कोर्ट 12 गुना 12 फीट के आकार का बनाया गया है। इसके लिए मोहरे अमेरिका से मंगवाए गए। ओपन शतरंज कोर्ट का कान्सेप्ट मेट्रो सिटी का है और बड़े शहरों में अधिकांश स्थानों पर किसी सोसायटी अथवा निजी होटल व संस्थानों के स्वामीत्व में चल रहे हैं। हिसार में बना शतरंज का यह कोर्ट प्रदेश का पहला ऐसा कोर्ट है जो इतने बड़े आकार में सार्वजनिक स्थान पर बनाया गया है।इसके उदघाटन अवसर पर सांसद दुष्यंत चौटाला ने स्वयं शतरंज के एक नन्हें खिलाड़ी देव प्रताप बुडानिया के साथ शतरंज खेली। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक रणबीर गंगवा, विधायक अनूप धानक, हलका प्रधान सजन लावट, एडवोकेट मनदीप बिश्नोई, अमित बूरा, मास्टर गुलाब सिंह खेदड़, अमित ग्रोवर, मोहित अरोड़ा, सिल्क पूनिया, आशीष कुंडू, शगुन भारद्वाज आदि उपस्थित थे। 


हिसार लोकसभा के 10 गांवों की हर ढाणी होगी जगमग



हिसार, 15 नवंबर : हिसार लोकसभा की सैंकड़ों ढाणियों तक लाईट पहुंचाने के बाद सांसद दुष्यंत चौटाला ने हर गांव के खेतों में रहने वाले परिवारों तक बिजली पहुंचाने का निर्णय लिया है। इसके लिए बाकायदा एक पायलट प्रोजेक्ट तैयार किया गया है जिसके प्रथम चरण में हिसार लोकसभा के दस गांवों का चयन किया गया है। इस योजना के तहत इन गांवों में एक भी ऐसी ढाणी नहीं बचेगी जहां बिजली का बल्ब न जले। यह निर्णय कल सांसद दुष्यंत चौटाला ने दक्षिण हरियाणा विद्युत निगम के अधिकारियों के साथ राजगढ़ रोड स्थित निगम के कार्यालय में आयोजित बैठक में लिया गया। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने निगम के अधिकारियों को इस पायलट प्रोजेक्ट को अतिशीघ्र सिरे तक पहुंचाने के लिए आगामी दिस दिनों में रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिए हैं ताकि इसके बाद अन्य ढाणियों को भी रोशन किया जा सके। इस बैठक में दुष्यंत चौटाला ने पहले से भेजे गए अस्टीमेट को नए नियमों के अनुसार संशोधित अस्टीमेट की भी स्टेटस रिपोर्ट भी जानी। 
जिन गांवों को प्रथम चरण में चुना गया है उनमें गांव लाडवा, धांसू, चूली बागडिय़ान,चूली कलां, चूली खुर्द, दड़ौली, कालीरावण, सिवानी बोलान, उमरा व सुल्तानपुर हैं। दुष्यंत चौटाला ने निगम के अधिकारियों को उपरोक्त गांवों में ऐसे सभी परिवारों और ढाणियों की पहचान करने को कहा है जहां अभी तक बिजली का कनेक्शन नहीं है और इन पर कितना खर्च आएगा। दुष्यंत चौटाला का सपना इन गांवों को बिजली की दृष्टि से मॉडल विजेज बनाना है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस ढाणियों में कनेक्शन देने की रूपरेखा इस प्रकार से तैयार की जाए जिससे कि कम से कम लागत में अधिक से अधिक लोगों की ढाणियां रोशन हो सके। सांसद दुष्यंत चौटाला अब तक सांसद निधि कोष से चार करोड़ रूपये से अधिक की राशि ढाणियों को बिजली कनेक्शन देने के लिए आवंटित कर चुके हैं। 
 शिक्षा मंत्री व छात्र संघ बहाली के लिए बनाई गई कमेटी की बैठक बेनतीजा


चरखी दादरी: चंडीगढ़ में आज शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा एवं छात्र संघ बहाली के लिए बनाई गई कमेटी की बैठक हुई जिसमें इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला एवं इनसो प्रतिनिधि मंडल शामिल हुआ। वहीं एबीवीपी बैठक से नदारद रही। दो घंटे चलने के बाद भी बैठक किसी सार्थक नतीजे पर नहीं पहुंच पाई। दिग्विजय चौटाला ने पुरूजोर रूप से प्रत्यक्ष तरीके से चुनाव करवाने की मांग शिक्षा मंत्री एवं कमेटी के समक्ष रखकर जल्द से जल्द चुनाव बहाली की मांग की।
 इनसो राष्ट्रीय महासचिव सूरज बेनीवाल, इनसो राष्ट्रीय प्रवक्ता धु्रव सांगवान, प्रदेश महासचिव रविंद्र फौगाट एवं जिला इनसो चेयरमैन संजीत धवन ने आज प्रेस को जारी बयान में यह जानकारी सांझा की। इनसो नेताओं ने एबीवीपी की आलोचना करते हुए कहा कि सत्ताधारी दल के छात्र संगठन का बैठक में न आना सीधे तौर पर एबीवीपी के शून्य आधार का प्रमाण है। इनसो नेताओं ने आगे बताया कि परीक्षा के बाद इनसो छात्रसंघ बहाली के लिए छात्रों को जागरूक करके आरपार का संघर्ष जारी रखेंगी एवं सरकार को बाध्य कर प्रदेश के छात्रों को उनका हक दिलाने का काम करेगी। काग्रेसी छात्र संगठन एनएसयुआईप्रतिनिधि मंडल भी मूकदर्शक बनकर इनसो अध्यक्ष की बातों पर सहमति जताते नजर आया। साथ ही साथ इनसो छात्र नेताओं ने दिग्विजय सिंह चौटाला के संघर्ष को प्रदेश के छात्रों के लिए संजीवनी करार दिया क्योंकि छात्र राजनीति से ही आम परिवार के देश एवं प्रदेश की राजनीति में सीधी भागीदारी मिलेगी। इसलिए प्रदेश में छात्र संघ चुनाव बहाली तक इनसो संगठन अपना संघर्ष जारी रखेगा।

Tuesday, November 14, 2017

 टेबल टेनिस में हिसार के खिलाड़ी भारत का प्रतिनिधित्व करने का है सपना - दुष्यंत


हिसार, 14 नवंबर, खेलों की तरह में वर्ष 2020 ओलम्पिक खेलों में भारत के खेल दल भी हिसार के खिलाड़ी भी होना चाहिए। यह मेरा सपना है और इसी सपने को पूरा करने के लिए हिसार के खिलाडिय़ों को टेबल टेनिस की किट उपलब्ध करवाई जा रही है। ये शब्द भारतीय ओलम्पिक संघ के अध्यक्ष व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कही। उन्होंने मंगलवार को यहां बाल भवन में आयोजित टेबल टेनिस किट वितरण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि अपने विचार सांझा किए। आज समारोह में दुष्यंत चौटाला ने हिसार जिले के कुल 68 शिक्षण संस्थाओं में 77 टेबल टेनिस किट वितरित की। हिसार जिले के सभी 26 गर्वनमेंट गल्र्स सीनियर सेकंडरी स्कूल, कालेज व विश्वविद्यालय शामिल किए गए हैं। 
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि खिलाडिय़ों के लिए टेबल टेनिस सबसे सस्ता खेल है लेकिन अफसोस यह है कि इस खेल की ओर खिलाडिय़ों की रूचि कम है। उन्होंने खेल जगत से जुड़े लोगों और डीपीई से आह्वान किया वे विद्यार्थियों में टेबल टेनिस खेल के प्रति रूचि जगाएं और प्रयास करें कि जिन स्कूलों में टेबल टेनिस की किट दी गई है उनमें कम से कम से 8से 10 खिलाडियों से इस खेल की शुरूआत करें। उन्होंने कहा कि एक बार जब इस खेल में टेबल टेनिस का रैकेट चलाना सीख गए तो उनकी रूचि स्वत: इस खेल में जाग जाएगी। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने खुलासा किया कि टेबल टेनिस की कीमत मार्केट में करीब 18 हजार रूपये है और उन्होंने खिलाडिय़ों को यह किट अपने सांसद निधि कोष से मात्र 8 हजार रूपये में उपलब्ध करवाई है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने खुलासा किया कि टेबल टेनिस किट बनाने वाली कंपनी के मालिक ने उनसे संपर्क किया था और उन्होंने इस खेल को बढ़ावा देने के लिए काफी कम कीमत पर यह किट उपलब्ध करवाने का आफर दिया था।


इन स्कूलों में दी गई किट-- राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय आदमपुर गांव, मंडी आदमपुर, अग्रोहा, बरवाला, ढाणा कलां, गढ़ी, हांसी, सिसाय बोलान, घिराय, उमरा, बास, खरबला, मदनहेड़ी, बाड्या ब्राह्माणान, गंगवा, कैमरी, मंगाली, सातरोड़ खास, आर्यनगर, बालसंमद, हिसार, खेड़ी जालब, मिर्चपुर, नारनौंद, पेटवाड़, पाबड़ा।
इसके अलावा गांव चुली बागडिय़ान, मोडाखेड़ा, मोहब्बतपुर, तेलनवाली, कालीरावण, कुलेरी, खेदड़, राजली, ढंढेरी, गुराना, हांसी, सुल्तानपुर, उगालन, चिड़ौद, डाबड़ा, हिसार, लाडवा, भिवानी रोहिल्ला, बालसमंद, कापड़ो, मिर्चपुर, नारनौंद, पेटवाड़, लितानी, उकलाना मंडी के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय व भिवानी रोहिल्ला का आरोही माडल स्कूल शामिल हैं। एफसी कालेज, राजकीय महिला महाविद्यालय हिसार, जाट कालेज, राजगढ़ रोड स्थित राजकीय महाविद्यालय, एफजीएम कालेज आदमपुर, गुजवि, डीएन कालेज, राजकीय महाविद्यालय बरवाला व नलवा, हकृवि, लुवास, आईटीआई हांसी व हिसार, बहुतकनीकी कालेज हिसार व हांसी तथा महवीर स्टेडियम हिसार में भी टेबल टेनिस किट दी गई। 
जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, विधायक रणबीर गंगवा, अनूप धानक, विधायक वेद नारंग, एचएस भादू, राजेश गोदारा, डिप्टी डीईओ देवेंद्र कुंडू, सजन लावट, एडवोकेट मनदीप बिश्नोई, सतपाल सरपंच, सतबीर सिसाय, अमित बूरा, सिल्क पूनिया, आशीष कुंडू आदि उपस्थित थे। 

टोल को लेकर दुष्यंत का सरकार पर हल्ला बोल
नियमों को दरकिनार कर लगाए गए हैं हिसार के चारों ओर टोल
15 दिन का सरकार को अल्टीमेटम, हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे
प्रदेश में लगे टोलों के खिलाफ भी करेंगे आवाज बूलंद
40 किलोमीटर के भीतर ही चार टोल बैरियर लगा दिए हिसार में 



आदमपुर : 13 नवंबर, हिसार के चारों ओर लगे टोल बैरियर के कारण वाहन चालकों की जेब पर पडऩे वाले आर्थिक बोझ को लेकर इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला ने सरकार पर हल्ला बोल दिया है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने इन टोल बैरियर को नियमों के विरूद्ध करार देते हुए प्रदेश सरकार को इन्हें हटाने के लिए 15 दिन का अल्टेमेटम दिया है। सांसद ने कहा कि चिकनवास, बाडो पट्टी, मय्यड़ व चौधरीवास पर टोल लगाने में पूरी तरह से नियमों की अनदेखी की गर्इं है जिसके कारण बिना किसी वजह के हिसार, हांसी बरवाला व आसपास के लोगों का भारी भरकम राशि चुकानी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले को वह केंद्रीय सरकार के समक्ष भी रखेंगे। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने टोल नहीं हटाए तो वह स्वयं हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। उन्होंने कहा कि हिसार के ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में लगे टोलों को लेकर वह अपनी आवाज बूलंद करेंगे। सांसद दुष्यंत चौटाला आज आदमपुर के रेस्ट हाउस में पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। सांसद दुष्यंत चौटाला टोल बैरियल हटाने को लेकर चार बजे जिला उपायुक्त से मिलेंगे और उनके माध्यम से ज्ञापन सौंपेंगे। 
इनेलो सांसद ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के नियमों के अनुसार दो टोल बैरियल के बीच कम से कम 60 किालोमीटर का फासला होना चाहिए जबकि सिरसा रोड पर चिकनवास टोल, हांसी रोड़ पर  मय्यड़, व राजगढ़ रोड़ चौधरीवास टोल निर्धारित नियमों पर खरे नहीं उतरते और  इनके बीच दूरी 30 से 38 किलोमीटर ही है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार ने 40 किलोमीटर के दायरे में चार टोल लगा कर जनता की कमर तोड़ दी है। इतना ही नहीं एनएसएआई के नियमों के अनुसार किसी भी नगर निगम या नगरपालिका की सीमा से 10 किलोमीटर के दायरे में कोई भी टोल टेक्स नहीं लग सकता जबकि हिसार में लगे टोल हिसार नगर निमग की सीमा से मात्र तीन से चार किलोमीटर की दूरी पर लगे हैं। उन्होंने कहा कि हिसार के लोगों को हांसी, बरवाला अग्रोहा जाने के लिए भी एकतरफा 60 से 80 रूपये का भुगतान करना पड़ता है जबकि वाहन स्वामी अपने वाहन के पंजीकरण के समय ही रोड टेक्स के रूप में बड़ी रकम सरकार को अदा करते हैं। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पहले से बने रोड पर कारपटेटिंग कर सरकार ने हिसार में 40 किलोमीटर में चार टोल लगा दिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने यह कदम टोल कंपनियों को सीधा फायदा पहुंचाने और लोगों की जेब पर डाका डालने के लिए उठाया है। उन्होंने कहा कि एनएसएआई ने भी नियमों की प्रवाह नहीं की और जहां से अधिक वाहन गुजरते हैं वहां पर टोल बैरियर लगा दिए। सांसद दुष्यंत ने कहा कि वह जनता को न्याय दिलवा कर रहेंगे और इसके लिए जंग जारी रखेंगे। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने मद्रास हाईकोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए कहा कि  नियमों का उल्लंघन कर लगाए गए टोल को हटाना पड़ा है। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, हलका प्रधान भागीरथ नंबरदार, राजेश गोदारा, रमेश गोदारा, राजकुमार जांगड़ा, पार्षद रामप्रसाद गढ़वाल सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

Sunday, November 12, 2017

फिल्म रानी पद्मावती का चरित्र चित्रण गलत ढंग से दर्शाया गया है - दिग्विजय चौटाला


भिवानी, 12 नवम्बर : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने यहां जारी बयान में कहा कि फिल्मी रानी पदमावती के चरित्र चित्रण को गलत ढंग से पेश करके संजय लीला भंसाली ने राजपूत समाज की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। इनसो सरकार से और फिल्म सेंसर बोर्ड से  इस फिल्म को प्रसारित न करने की मांग करती है और साथ ही  संजय लीला भंसाली के फिल्म निर्माता के कार्य पर तुरंत प्रभाव से रोक लगे। चौटाला ने कहा कि जिस प्रकार से फिल्म के अन्दर रानी पदमावती के चरित्र को पेश किया गया है, वह समाज के लिए घातक है। क्योंकि हमारा देश सभ्यता व संस्कृति का देश है। रानी पदमावती के समय से लेकर अब तक हमारे देश के अन्दर सभ्यता के अन्दर राजघराने में स्त्रियां रहती हैं लेकिन जिस प्रकार से सोची समझी रणनीति के तहत फिल्म के प्रचार के लिए संजय लीला भंसाली ने इतिहास के तथ्यों से छेड़छाड़ करके गलत ढंग से दर्शाया है। यह अशोभनीय है। इनसो इस तरह की ओच्छी मानसिकता का घोर विरोध करती है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि रानी पद्मिनी, चित्तौड़ की रानी थी। पद्मिनी को पद्मावती के नाम से भी जाना जाता है। वह 13 वीं -14 वीं सदी की महान भारतीय रानी थी। जब अलाउद्दीन ने चित्तौड़ पर हमला किया तो रानी पद्मिनी ने सेना के साथ मुकाबला किया। बाद में हजारों रानियों के साथ आग में कूदकर जान दे दी, लेकिन अपनी आन-बान पर आंच नहीं आने दी। जबकि फिल्म में कुछ और ही दर्शाया गया है। चौटाला ने कहा कि हम सामाजिक ताने बाने के लोग हैं और भाईचारे को तवज्जो देते हैं। इसलिए इनसो सरकार से तुरंत प्रभाव से मांग करती है कि इस फिल्म को सिनेमाघरों के अन्दर प्रदर्शित न किया जाए। क्योंकि इससे राजपूत समाज ही नहीं सर्वसमाज की नारी शक्ति को भारी आघात लगता है। जोकि हमारी संस्कृति के खिलाफ है। 

Friday, November 10, 2017

शिक्षामंत्री ने दिया आश्वासन15 नवम्बर को होगी छात्रसंघ चुनाव के मुद्दे पर बैठक - दिग्विजय चौटाला


चंडीगढ़, 10 नवंबर: हरियाणा में छात्र संघ चुनाव को लेकर इनसो नें राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला के नेतृत्व में  मदवि का घेराव कर मुख्य द्वार पर ताला जड़ दिया। विवि प्रशासन और इनसो छात्रों की कई घंटों की गहमा गहमी के बाद मदवि रजिस्ट्रार जितेन्द्र भारद्वाज व डीन एकेडमिक अफेयर प्रो अजय राजन ने लिखित में आश्वासन दिया की15 नवम्बर को छात्र संघ चुनाव पर सरकार द्वारा बुलाई गई। बैठक का पत्र भी दिग्विजय चौटाला को सौंपा।इस आश्वासन के बाद भी दिग्विजय चौटाला ने प्रदर्शन जारी रखा जिसके बाद विवि प्रशासन ने उनकी बात शिक्षामंत्री शिक्षामंत्री रामविलास शर्मा से फोन पर बात करवाई। 
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि शिक्षामंत्री ने उन्हें आश्वसन दिया कि 15 नवम्बर को छात्रसंघ चुनाव के मुद्दे पर बैठक बुलाई गई है। जिसमें छात्र संघ चुनाव के मुद्दे पर निर्णय ले लिया जाएगा साथ ही शिक्षामंत्री ने आग्रह किया कि इनसो15 नवम्बर को होने वाली बैठक तक विरोध प्रर्दशन रोक दे। 
दिग्विजय चौटाला ने यह भी कहा कि छात्र संघ चुनाव छात्रों का संवैधानिक अधिकार है। जिसके लिए मुख्यमन्त्री, राज्यपाल व शिक्षा मंत्री को इनसो की तरफ से दर्जनों बार ज्ञापन दिये जा चुके है। छात्रों को भी विश्वविद्यालयों व कॉलेजों में प्रत्यक्ष वोट डालकर अपने प्रतिनिधि चुनने का अधिकार मिलना चाहिए। देश के सभी बड़े नेता छात्र राजनीति के माध्यम से आए है। छात्र संघ चुनाव ही गरीब किसान, कमेरा वर्ग के युवाओं का राजनीति में आने का रास्ता है। इसीलिए छात्र संघ चुनाव के लिए इनसो छात्र संघ हर कुर्बानी के लिए तैयार है।  
एसवाइएल और दादूपुर नलवी नहर को लेकर इनेलो 25 फरवरी को दिल्ली में किसान रैली - अभय चौटाला


हिसार 11 नवंबर। एसवाईएल नहर के निर्माण व दादूपूर नलवी नहर सहित किसानों के अन्य मुद्दोंको इनेलो 25 फरवरी को दिल्ली में किसान रैली आयोजित करेगा। यह घोषणा नेता प्रतिपक्ष व इनेलो नेता अभय चौटाला ने आज हिसार में की। वे चौ. देवीलाल सदन में आयोजित छह जिलों के पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस बैठक में हिसार, सिरसा, भिवानी, फतेहाबाद,्र दादरी, जींद के जिला प्रधान, विधायक, सांसद, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक हलका प्रधान व प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्यों ने भाग लिया। 
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि एसवाईएल के लिए इनेलो ने चार चरणों में आंदोलन किया है और आगे भी इनेलो दिल्ली के किसान सम्मेलन में रणनीति बनाकर संघर्ष करने से पीछे  नहीं हटेगी। दादूपुर नलवी नहर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस नहर को रद्द करके सरकार ने किसान विरोधी निर्णय लिया है। इनेलो की सरकार बनने पर दादूपुर नलवी नहर का निर्माण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा से प्रदेश का हर वर्ग  दुखी है। जनता मौके की तलाश में है, कांग्रेस कई गुटों में बंटी हुई है। ऐसे हालात प्रदेश की जनता इनेलो को विकल्प के रूप में देख रही है। इनेलो की सरकार बनने पर चौधरी देवीलाल की जयंती पर किए गए वायदे पूरे किए जाएंगे। इन वायदों को लेकर पूरे प्रदेश में आगामी 10 दिनों मे वाल राईटिंग करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि इनेलो के सत्ता में आने पर वृद्धावस्था पेंशन 2500 रुपये की जाएगी, किसानों छोटे व्यापारियों और मजदूरों का कर्ज माफ किया जाएगा। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में बिजली के आधे बिल माफ किए जाएंगे। हर बेरोजगार को रोजगार दिया जाएगा और जिसे रोजगार नहीं मिलेगा उसे 15 हजार रुपये बेराजगार भत्ता दिया जाएगा। 


गरीब कन्या की शादी में पांच लाख रुपये कन्यादान दिया जाएगा और कन्या के पैदा होने पर 51 हजार रुपये शगुन दिया जाएगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे इन वायदों को जन-जन तक पंहुचाएं और पार्टी के प्रवक्ता बनकर प्रचार करें। प्रदेश की कानून व्यवस्था पर बोलते हुए अभय चौटाला ने कहा कि सरकार ने पुलिस को नंपुसक बना दिया है। जिसका उदाहरण गुरुग्राम में मासूम प्रद्युम्न की हत्या के मामले में गरीब बस कंडक्टर को आरोपी बनाकर जेल में डाल दिया। जबकि सीबीआई ने इसके विपरीत एक छात्र को प्रद्युम्न की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। बड़े शर्म की बात तो यह है कि मुख्यमंत्री हरियाणा पुलिस को क्लीन चिट दे रहे हैं और कह रहे हैं कि पुलिस ने जांच शुरू ही की थी और केस सीबीआई को दे दिया गया था। अभय चौटाला ने कहा कि अगर पुलिस ने जांच शुरू ही नहीं की थी तो बस कंडक्टर को आरोपी क्यों बनाया गया था। अभय चौटाला ने कहा कि अगले दस दिनों में पूरे प्रदेश में वाल राइटिंग करवाई जाएगी और पार्टी की नीतियों व कार्यक्रम का प्रचार किया जाएगा। इस अवसर पर जिला प्रधान राजेंद्र लितानी, सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी, विधायक  अनूप धानक, वेद नारंग,रणबीर सिंह गंगवा, विधायक बलवान दोलतपुरिया, डा. रविंद्र बलियाला, मक्खन लाल सिंगला, रामचंद्र कंबोज, बलकौर सिंह, राजदीप फोगाट, पिरथी नंबरदार, ओमप्रकाश गोरा, पूर्व सिंह डाबड़ा, चतर सिंह, शीला भ्याण,धारासिंह, सतबीर वर्मा,सजन लावट, राजसिंह मोर, सतबीर सिसाय, सतपाल सरपंच, भागीरथ नंबरदार, राव इंद्रफौजी, राजीव शर्मा, रणधीर पूनिया, एडवोकेट मनदीप बिश्नोई, डा. राजकुमार दिनोदिया, डा. अनंतराम बरवाला, गुलाब सिंह खेदड़, अमित बूरा, रमेश चुघ, शन्नोदेवी, कैप्टन छाजूराम, राजबीर खान,प्रताप बूरा,बहादुर सिंह सिंह नायक सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। 

Thursday, November 9, 2017

 13 नवंबर से प्रदेश की प्रत्येक अनाज मंडी में किए जाएंगे व्यापारी सम्मेलन आयोजित- अभय चौटाला 


कुरुक्षेत्र: एसवाइएल, दादूपूर नलवी नहर तथा किसानों को उनकी फसल का समर्थन मूल्य न मिलने को लेकर 25 फरवरी को इनेलो दिल्ली के रामलीला मैदान में किसान सम्मेलन आयोजित करेगी। यह जानकारी हरियाणा विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष व इनेलो नेता अभय चौटाला ने इनेलो प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी। उन्होंने कहा कि इसी के साथ-साथ इनेलो नेता यह भी बताया कि पार्टी ने 13 नवंबर से प्रदेश की प्रत्येक अनाज मंडी में व्यापारी सम्मेलन आयोजित करने का फैसला लिया है। इन व्यापारी सम्मेलनों को पार्टी प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा तथा इनेलो व्यापार प्रकोष्ठ के प्रदेश स्तरीय नेता संबोधित करेंगे। 
अभय चौटाला ने कहा कि गुजरात से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार वहां भाजपा का सूपड़ा साफ होगा। उन्होंने कहा कि यदि गुजरात में भाजपा का सूपड़ा साफ हो गया तो देश में लोकसभा व हरियाणा में विधानसभा के चुनाव समय पर होंगे। अगर किसी कारणवश बेईमानी करके भाजपा ने गुजरात विधानसभा चुनाव जीत लिया तो लोकसभा व हरियाणा विधानसभा के चुनाव एक साथ नवंबर 2018 में होने की संभावना है। उन्होंने बताया कि आज हुई प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में पंचकुला, अंबाला, यमुनानगर, कैथल, कुरुक्षेत्र और करनाल के पार्टी पदाधिकारियों, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्यों, पूर्व विधायकों और पार्टी के विभिन्न प्रकोष्ठों के जिला संयोजकों, हल्का प्रधानों ने भाग लिया। इस बैठक को पूर्व मुख्य संसदीय सचिव रामपाल माजरा, पूर्व कृषि मंत्री एवं पिहोवा के विधायक जसविंद्र सिंह संधू ने भी संबोधित किया। बैठक में मुख्य रूप से पूर्व विधायक नरेंद्र सांगवान, मामूराम गोंदर, ईश्वर पलाका, पार्टी के राष्ट्रीय सचिव बृज शर्मा, अश्वीनी दत्ता, जिला प्रधान कुलदीप मुल्तानी उपस्थित थे। 
इनेलो नेता  ने कहा कि एसवाइएल के लिए इनेलो ने चार चरणों में आंदोलन किया है और आगे भी इनेलो दिल्ली के किसान सम्मेलन में रणनीति बनाकर संघर्ष करने से पीछे  नहीं हटेगी। दादूपुर नलवी नहर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस नहर को रद्द करके सरकार ने किसान विरोधी निर्णय लिया है। इनेलो की सरकार बनने पर दादूपुर नलवी नहर का निर्माण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा से प्रदेश का हर वर्ग  दुखी है। जनता मौके की तलाश में है, कांग्रेस कई गुटों में बंटी हुई है। ऐसे हालात प्रदेश की जनता इनेलो को विकल्प के रूप में देख रही है। इनेलो की सरकार बनने पर चौधरी देवीलाल की जयंती पर किए गए वायदे पूरे किए जाएंगे। जिसमें वृद्धावस्था पेंशन 2500 रुपये की जाएगी, किसानों छोटे व्यापारियों और मजदूरों का कर्ज माफ किया जाएगा। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में बिजली के आधे बिल माफ किए जाएंगे। हर बेरोजगार को रोजगार दिया जाएगा और जिसे रोजगार नहीं मिलेगा उसे 15 हजार रुपये बेराजगार भत्ता दिया जाएगा। 
गरीब कन्या की शादी में पांच लाख रुपये कन्यादान दिया जाएगा और कन्या के पैदा होने पर 51 हजार रुपये शगुन दिया जाएगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे इन वायदों को जन-जन तक पंहुचाएं और पार्टी के प्रवक्ता बनकर प्रचार करें। प्रदेश की कानून व्यवस्था पर बोलते हुए अभय चौटाला ने कहा कि सरकार ने पुलिस को नंपूसक बना दिया है। जिसका उदाहरण गुरुग्राम में मासूम प्रद्युम्न की हत्या के मामले में गरीब बस कंडक्टर को आरोपी बनाकर जेल में डाल दिया। जबकि सीबीआई ने इसके विपरीत एक छात्र को प्रद्युम्न की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। बड़े शर्म की बात तो यह है कि मुख्यमंत्री हरियाणा पुलिस को क्लीन चिट दे रहे हैं और कह रहे हैं कि पुलिस ने जांच शुरू ही की थी और केस सीबीआई को दे दिया गया था। अभय चौटाला ने कहा कि अगर पुलिस ने जांच शुरू ही नहीं की थी तो बस कंडक्टर को आरोपी क्यों बनाया गया था। 
अभय चौटाला ने कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा निश्चित रूप से अलग पार्टी बनाएंगे। इसलिए पिता-पुत्र कांग्रेस के नाम पर नहीं बल्कि पंचायतों के नाम पर सम्मेलन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिता- पुत्र इन सम्मेलनों में यह देख रहे हैं कि उनके साथ पार्टी बनाने पर कौन-कौन लोग आएंगे। अभय ने तंज कसते हुए कि जब बंसी और भजन ने अलग पार्टी बनाई थी तो लोग उनके साथ भी नहीं गए थे। फिर बेचारे हुड्डा की तो हेसियत ही क्या है।
भूपेन्द्र हुड्डा की तर्ज पर किसान को मारने पर तुली सरकार - निशान सिंह


सोनीपत : इण्डियन नैशनल लोकदल पार्टी की जिलास्तरीय बैठक को सम्बोधित करते हुए किसान सैल के प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने बीजेपी व कांग्रेस पार्टी को घेरते हुए कहा किसान की दयनिय हालात के लिए दोनों पार्टी जिम्मैवार हैं। बैठक की अध्यक्षता किसान सैल के जिला संयोजक बैयराज दहिया ने की। निशान सिंह ने कहा पहले दस साल कांग्रेस पार्टी ने किसान को लूटने का काम किया। किसान की बेसकिमती जमिन को कोडिय़ों के भाव बेचा गया। अगर सरकार निष्पक्ष जांच करें तो भूपेन्द्र ङ्क्षसह हुड्डा का असली चेहरा जनता के सामने आ जाएगा। बीजेपी और कांग्रेस बारी-बारी प्रदेश को लुटना चाहती है। कांग्रेस के नक्श्ेाकदम पर चलते हुए बीजेपी सरकार भी किसानों के साथ जमकर शोषण कर रही है। किसान को कपास की खरीद के नाम पर लूटा जा रहा है। ट्रैक्टर को कमर्शियल वाहन की श्रैणी में डालकर किसान को मारने का काम सरकार कर रही है। ट्रैक्टर के कुलपूर्जो पर जीएसटी लगाकर सरकार ने अपना चेहरा दिखा दिया है। निशान सिंह ने कहा 25 फरवरी को दिल्ली में किसान रैली करके इनेलो सरकार की आंख खोलने का काम करेगी। 
इस मौके पर इनैलो जिलाध्यक्ष पदम सिंह दहिया ने कहा इनेलो सरकान बनते ही सबसे पहले किसानों के हित में योजना बनार्ई जाएगी। जिस प्रदेश का किसान खुशहाल नहीं होता वो प्रदेश व देश कभी तरक्की नहीं कर सकता।
इस मौक पर पदम सिंह दहिया, तेलूराम जोगी, कुणाल गहलावत, संदीप ठरू, फुलकुवार चौहान, बलजीत नैन, श्रीपाल चौहान, महेन्द्र सिंह मोर, ओमप्रकाश गोपालपुर, पी. डी.. शर्मा, हवासिंह खासा, होशियार सिंह किडौली, चरण ङ्क्षसह दहिया, सुरत सिंह, समुन्द्र सिंह आंतिल, बलराज तौमर, मोंटि मंडल आदि कार्यकर्ता मौजुद रहे। 
अब छात्र संघ चुनाव के लिए आर-पार की लड़ाई - दिग्विजय चौटाला



भिवानी : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने छात्र संघ चुनाव को लेकर सरकार के खिलाफ बिगुल बजाते हुए कहा कि अब इनसो छात्र संघ चुनाव के लिए आर-पार की लड़ाई की तैयारी में है। जिसकी पहल  10 नवम्बर शुक्रवार को रोहतक स्थित महर्षी दयानंद विश्वविद्यालय पर ताला जड़कर की जाएगी। इनसो अध्यक्ष ने सरकार को घेरते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने चुनाव से पहले छात्र संघ चुनाव को पहली कलम से बहाल करने का वादा किया था। लेकिन तीन साल बीत जाने के बाद भी शिक्षा मंत्री व मुख्यमंत्री द्वारा छात्र संघ चुनाव पर गंभीर नहीं हैं और छात्रों को झूठे आश्वासन दिए जा रहे हैं। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि एमडी यूनिवर्सिटी पर 10 नवम्बर को सुबह नौ बजे ताला जडऩे प्रदेश के कोने-कोने से हजारों छात्र विरोध प्रदर्शन में भाग लेंगे। इनसो अध्यक्ष ने कहा कि 13 नवम्बर को सोनीपत स्थित यूनिवर्सिटी पर ताला जड़ा जाएगा। 15 नवम्बर को कुरूक्षेत्र यूनिवर्सिटी पर ताला लगाया जाएगा और 17 नवम्बर को गुरू जंभेश्वर
यूनिवर्सिटी पर ताला जड़ा जाएगा। दिग्विजय चौटाला ने सरकार को फिर से अल्टीमेटम देते हुए कहा कि यदि सरकार ने अब भी छात्र संघ चुनाव पर संज्ञान नहीं लिया तो आंदोलन को और बढ़ा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री के रवैये से आज हर छात्र गुस्से में है। छात्रों और युवाओं के भविष्य के प्रति जितने गंभीर दुष्यंत चौटाला और वे स्वयं हैं वहीं भाजपा सरकार न के बराबर है। दुष्यंत चौटाला ने जहां देश
की संसद में छात्रों और युवाओं के गंभीर मुद्दों को उठाकर उनके प्रति न्याय किया वहीं प्रदेश सरकार छात्रों की मांगों व मुद्दों पर उनके साथ मजाक कर रही है।

Wednesday, November 8, 2017


बीजेपी सरकार ने किसानों से किए वादे अभी तक पूरे नहीं किए - निशान सिंह  




गुड़गांव : इंडियन नैशनल लोकदल जिला कार्यालय गुड़गांव पर जिला किसान सैल के पदाधिकारियों की बैठक हुई। बैठक को इनेलो किसान सैल के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक निशान सिंह, पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत, जिला प्रधानमहासचिव रमेश दहिया व किसान सैल जिला संयोजक राजेन्द्र धनखड़ ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर पूर्व विधायक निशान सिंह ने कहा कि सत्ता में आने से पहले बीजेपी ने प्रदेश के किसानों से जो वायदे किये थे उनमें से किसी एक को भी अमलीजाता आज तक इस सरकार ने नहीं पहनाया। ये सरकार सिर्फ घोषणाओं व जुमलो की सरकार है। इस सरकार की गलत नीतियों के कारण आज प्रदेश का किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हो रहा है किसान को अपनी फसल को ओने पौने दामों में बेचने पर मजबूर किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इंडियन नैशनल लोकदल पार्टी किसानों, मजदूरों व कमेरे वर्ग की पार्टी है। आने वाले विधानसभा चुनाव में इनेलो पार्टी ज्यादा बहुमत प्राप्त कर सत्ता पर काबीज होगी तब पिछले 13 वर्षों से किसानो के साथ हुए भेदभाव व छल कपट का बदला लिया जायेगा तथा पहले की भांति किसानों के कर्जे माफ किये जायेंगे व किसानों को बिजली मुफत दी जायेगी व किसानों के घरों के बिजली के बिल आधे कर किसान, मजदूर व कमेरे वर्ग को लाभ पंहुचाने का काम किया जायेगा। किसान सैल अपनी पार्टी की रीढ की हडडी है अतः किसान सैल को मजबूत बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ताओं को जोड़ने का काम करें।



वहीं पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत ने गुड़गांव में किसानों के साथ हुए भूमि घोटालों पर चर्चा करते हुए कहा कि गांव मानेसर, शिकोहपुर तथा बादशाहपुर के आसपास के 8 गांवों के किसानों की जमीन पिछली कांग्रेस की सरकार में किसानों को भूमि अधिग्रहण का भय दिखाकर अपने चहेते बिल्डरों को औने पौने दामों में बेचने पर मजबूर किया जिससे तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुडडा व उनके चहेतों ने अपनी तिजोरियां भरने का काम किया। श्री गहलोत ने कहा कि वहीं इस भाजपा सरकार ने भी कांग्रेस सरकार में हुए भूमि घोटालों पर कार्यवाही करने की बजाय लीपापोती कर भूपेन्द्र सिंह हुडडा के किये गये घोटालों पर पर्दा डालने का काम किया है। श्री गहलोत ने इनेलो के किसान, मजदूर व कमेरे वर्ग को ओर अधिक मजबूत बनाने पर जोर देते हुए कहा कि गुड़गांव के किसानों के साथ हुई लूट व अन्याय का बदला लेने के लिए इनेलो किसान प्रकोष्ठ को ओर मजबूत करना अति आवश्यक है। इस अवसर पर किसान सैल के प्रदेश महासचिव राजेन्द्र बिल्ला, हल्काध्यक्ष भूपेन्द्र सुखराली, रामअवतार उर्फ बल्ले चेयरमैन, मोहन बिलासपुर, अख्तर सरपंच, दलबीर धनखड़, पपली सरपंच, राव श्योनारायण, सतपाल हंस, मास्टर नत्थूराम, सुखबीर सिंह, महाबीर, बबली मउ, कुलदीप, रामसिंह, पवन धनकोट आदि उपस्थित थे।