Tuesday, June 28, 2016


भाजपा के राज में महंगाई का दर्द कांग्रेस के राज से कम नही-प्रदीप चौधरी

पंचकूला, 28 जून : इंडियन नैशनल लोकदल के पूर्व विधायक एवं जिलाध्यक्ष प्रदीप चौधरी ने राज्य सरकार द्धारा बसों के किराए में की गई 12 फीसदी की वृद्धि की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए बढ़ी हुई कीमतें वापिस लेने की मांग की। पूर्व विधायक ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा सरकार तो चुनावों में कांग्रेस द्धारा बढ़ाई गई महंगाई खत्म करके आम जनता को राहत देने की बातें करती थी। आज पता नही भाजपा को क्या हो गया है, वो भी कांग्रेस के रास्तें पर चलकर महंगाई को बेलगाम को जमकर बढ़ा रही है। आम लोगों से सब्जियां, खाद्य सामग्री और दैनिक जीवन के प्रयोग में आने वाली हर चीज महंगी होती जा रही है, लेकिन सरकार लोगों को महंगाई से राहत देने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है, बल्कि आम जनता पर आर्थिक बोझ लादती जा रही है, जो सरासर गलत है। चौधरी ने कहा कि भाजपा के राज से हर वर्ग दुखी है। जेबीटी टीचरों को ज्वाइनिंग लैटर नही मिल रहे है और 2600 कम्पयूटर टीचरों का अनुबंध खत्म होने के बाद अब सरकारी स्कूलों में कम्पयूटर की शिक्षा प्रभावित होगी। सरकार सरकारी स्कूलों का रिजल्ट सुधारने के लिए कोई ठोस नीति नही ला रही है, हर बार रिजल्ट खराब होने के बाद अपनी कमियों के साथ-साथ शिक्षा विभाग की कमियों को दबाने का काम कर रही है। चौधरी ने कहा कि बिजली विभाग की 23 सब डिविजनों का निजीकरण करके तानाशाही रवैया अपनाए हुए है और जब कर्मचारियों ने अपने हकों के लिए आवाज उठाई तो एस्मा लागू कर दिया। प्रदीप चौधरी ने मांग करते हुए कहा कि सरकार लोगों को महंगाई से राहत दिलाने का काम करें, ताकि लोगों का जीवन प्रभावित न हो। 

No comments:

Post a Comment