Monday, May 29, 2017

एक माह में 5 लाख युवाओं की फौज तैयार करेगा युवा इनेलो 


सोनीपत, 29 मई: इनेलो पार्टी ने संगठन की मजबुती एवं ज्यादा से ज्यादा युवाओं को पार्टी से जोडऩे के लिए जिलास्तर पर युवा सम्मैलन का आयोजन करके युवाओं को इनेलो पार्टी की नीतियों से अवगत करवाने के लिए जिलास्तर पर अभियान चलाया गया है। युवा इनेलो जिला सोनीपत की टीम ने नवनियूक्त युवा प्रदेशाध्यक्ष सुमित राणा का स्वागत किया। जिलाध्यक्ष पदम सिंह दहिया ने भी युवाओं का होशला बढ़ाया और शुभकामनाएं दी।  कार्यक्रम की अध्यक्षता युवा जिलाध्यक्ष कुणाल गहलावत ने की। छोटूराम चौक सोनीपत पर सैकड़ो युवाओं को संबोधित करते हुए युवा इनेलो के प्रभारी प्रदीप गिल ने कहा बीजेपी सरकार में प्रदेश में पुरी तरह से जंगलराज स्थापित हो गया है। सरकार ने युवाओं के लिए जितने भी वायदे किए, एक भी वायदे को पुरा नहीं किया गया है। गिल ने कहा जात-पात, धर्म-मजहब का बीज डालकर बीजेपी राजनीति करना चाहती है। गिल ने कहा 2019 के चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस का पुरी तरह से सुपड़ा साफ हो जाएगा। जो युवा इनेलो पार्टी के लिए ईमानदारी व मेहनत से काम करेगा उसे उंचे-उंचे पदों पर बैठाने का काम किया जाएगा। लोकसभा और विधानसभा का चुनाव भी पार्टी कार्यकर्ता को लड़वाया जाएगा। बीजेपी और कांग्रेस की तरह इनैलो में टिकट बेची नहीं जाती।


युवा प्रदेशाध्यक्ष सुमित राणा ने कहा बीजेपी सरकार में भ्रष्टाचार चरम सिमा पर है। अपहरण, डकैती, बलात्कार की घटनाएं रोज देखने को मिलती है। सोनीपत नगर निगम में करोड़ो का घोटाला किया जा रहा है, जिससे जनता के सामने लाया जाएगा। बीजेपी के अच्छे दिन का नारा बीजेपी के विधायक, मंत्रियो के अच्छे दिन लाया है। राणा ने कहा सरेआम दलित छात्रा का रैप किया जाता है, सरकार लड़कियों की सुरक्षा के लिए थोड़ी सी भी गम्भीर नहीं है और नहीं सबक लेकर कोई ठोस कदम उठा रही है। राणा ने कहा एक माह में 5 लाख नए युवाओं को पार्टी का सदस्य बनाया जाएगा। राणा ने कहा अगर सरकार एसवाईएल के प्रति कोई ठोस कदम नहीं उठाएगी तो 10 जुलाई को हरियाणा में पंजाब का एक भी वाहन नहीं प्रवेश करने दिया जाएगा। 
मचं का संचालन प्रदेश संगठन सचिव संदीप ठरू ने किया।
इस मौके पर अशोक राणा, प्रोमिला मलिक, अरूण बडौक, संदीप ठरू, विकास नरवाल, अमित मोर, प्रदीप बड़वासनी, सुधीर धनखड़, रविन्द्र सफियाबाद, मोनू शर्मा, जितेन्द्र वर्मा, विकास मलिक, राकेश चहल, रविन्द्र मंंडौरा, आशीष सुहाग, अंजू बाला खटक, विशाल सरोहा, कुणाल सरोहा, शुभम नैन, दीपक सरोहा, मुकेश सरोहा, आशीष सेरसा, जयबीर आंतिल, गुरजीत राणा, मनोज मलिक, अशोक जाहरी, रविन्द्र सांगवान, नान्हा, महेश, रामदास, जगत कुराड़, विक्की रामपूर आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Sunday, May 28, 2017

पुलिस प्रशासन की निष्क्रियता से बढ़ रहा अपराधियों का हौंसला - लितानी

हिसार, 28 मई : इनेलो जिला अध्यक्ष राजेंद्र लितानी ने गत दिवस हांसी में रविंद्र सैनी के शोरूम पर की गई तोड़ फोड़ की कड़े शब्दों में निंदा की है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन की निष्क्रियता की वजह से अपराधियों के हौंसले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। तभी दिन ब दिन अपराधी इस प्रकार की घटनाओं को सरे आम बिना किसी भय के अंजाम दे रहे है। इनेलो नेता लितानी ने कहा कि आज शहर का व्यापारी बुरी तरह खौफज़दा है। अगर कोई अपराधी किस्म का व्यक्ति उनकी दुकान पर आकर धमकी दे जाता है तो उसके सामने या तो अपनी दुकान बंद करने या उस अपराधी की मनमानी को पूरा करने के अलावा कोई चारा नहीं बचता।  इसके लिए उन्होंने पुलिस प्रशासन की कमजोरी बताते हुए कहा कि पुलिस की इस लापरवाही व कमजोर मानसिकता के चलते व्यापारियों के मन में असुरक्षा की भावना घर कर गयी है। देश व प्रदेश की अर्थ व्यवस्था में व्यापारी वर्ग का बड़ा योगदान है  इसलिए उन्हें उनकी सुरक्षा को लेकर पूर्णतया आश्वस्त करना चाहिए। आज व्यापारी के साथ साथ आम नागरिक व महिलाओ की सुरक्षा को लेकर विशेष प्रबन्ध किये जाने की जरूरत पर बल देते हुए इनेलो नेता ने पुलिस के आला अधिकारियों से आम नागरिक की सुरक्षा सुनिश्चित किये जाने की मांग की है।

इनेलो का लघु सचिवालय पर धरना 2 जून को, धरने का नेतृत्व करेंगे इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा


कुरुक्षेत्र, 28 मई : थानेसर हलके के इनेलो कार्यकर्ताओं द्वारा एसवाईएल में पानी लाने, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने तथा थानेसर शहर की स्थानीय समस्याओं को लेकर दो जून को प्रात 10 बजे पार्टी प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा के नेतृत्व मेें लघु सचिवालय पर धरना दिया जाएगा। इस धरने की तैयारियों को लेकर पंजाबी धर्मशाला में आयोजित थानेसर हलके के कार्यकर्ताओं की बैठक को अशोक अरोड़ा ने संबोधित किया। इस अवसर पर हलका प्रधान रणबीर सिंह किरमिच, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मायाराम चंद्रभानपुरा,पार्षद नितिन भारद्वाज लाली, पूर्व पार्षद मनु जैन, युवा इनेलो के जिला प्रचार सचिव मोहित सैनी, जिला उपाध्यक्ष सतबीर शर्मा, जिला उप प्रधान सुभाष मिर्जापुर, नरेंद्र घराड़सी, नरेश मित्तल, इनेलो पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ की प्रदेश महासचिव कलावती सहित अनेक इनेलो कार्यकर्ता उपस्थित थे।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि एसवाईएल के मुद्दे पर प्रदेश व केंद्र सरकार गंभीर नहीं है। आज हरियाणा पानी के लिए तरस रहा है, लेकिन एसवाईएल में पानी लाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया जा रहा। इसी प्रकार स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू न करके भाजपा ने किसानों के साथ धोखा किया है। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में सभी 90 हलकों में इनेलो द्वारा उपरोक्त मांगों को लेकर धरने आयोजित किए जा रहे हैं। अरोड़ा ने कहा कि दो जून को उपरोक्त मांगों के साथ साथ थानेसर शहर की समस्याओं को लेकर भी जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा जाएगा। अरोड़ा ने कहा कि आज अधिकतर जनता बिजली और पानी के संकट से त्रस्त है। शहर के कई इलाकों में पीने के लिए पानी भी नहीं पहुंच रहा। इन सारी समस्याओं से भी प्रशासन को अवगत कराया जाएगा। उन्होंने प्रदेश सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताते हुए कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था का दिवाला पिट चुका है, सरकार से हर वर्ग नाराज है और आने वाले चुनाव में भाजपा का सफाया होना निश्चित है।
अशोक अरोड़ा ने कहा कि आज शहर में बनी बनाई सड़कें कभी पेयजल सप्लाई के नाम पर तो कभी सीवरेज लाइन डालने के नाम पर उखाड़ दी गई हैं। लंबे समय से आधे शहर की सड़कें और गलियां उखड़ी हुई पड़ी हैं। सारा थानेसर शहर मिट्टी  और धूल से अंटा पड़ा है। इस मिट््टी और धूल के कारण शहर की अधिकतर जनसं या के श्वांस और दमा रोग से पीडि़त होने की संभावना बनी हुई है। उन्होंने कहा कि पहले तो गली और सड़कें बनाई जाती हैं, फिर नई बनी हुई इन सड़कों को पानी की पाइप लाइन डालने के नाम पर उखाड़ दिया जाता है। फिर बना दिया जाता है और उसके बाद फिर सीवरेज पाइप लाइन डालने के नाम पर उखाड़ा जा रहा है। सड़कों को बार बार उखाड़ तो दिया गया है ,लेकिन इनको बनाने में काफी विलंब हो रहा है, जिस कारण शहर की जनता काफी परेशान है।
पूर्व मंत्री और थानेसर हलके से चार बार विधायक रह चुके अशोक अरोड़ा ने कहा कि ठेकेदारों और सरकारी अधिकारियों की मिलीभगत से नई बनी हुई सड़कें बार बार उखाड़ कर जनता के पैसे को बर्बाद किया जा रहा है। यह एक बहुत बड़ स्कैंडल है और इस स्कैंडल में सत्तारूढ़ दल के नेताओं की मिलीभगत है। उन्होंने कहा कि दो जून को जिला प्रशासन को ज्ञापन देकर मांग की जाएगी कि ऐसे अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए, जो जनता के पैसे को लूटने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ दल के कई नेताओं ने इंटरलॉकिंग टाइलों की फैक्टरी लगा रखी हैं। उनकी टाइलें लगाने के लिए ही बार बार नई बनाई गई सड़क और गलियां उखाड़ी जा रही हैं। 


कांग्रेस व भाजपा नेता कर रहे नकारात्मक राजनीति, हमारी सोच सकारात्मक - दिग्विजय 


डबवाली, 27 मई : इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कहा है कि भाजपा की सरकार में विकास कार्य के नाम पर कोई काम नहीं हो रहा है और आए दिन झूठे वायदे किए जा रहे है। उन्होंने डबवाली हलका का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा की सरकार के कार्यकाल को 3 साल होने वाले हैं लेकिन डबवाली में विकास के मामले में लगातार पिछड़ता जा रहा है। यहां तक कि मुख्यमंत्री स्वयं भी डबवाली आए और बिना कोई बड़ी घोषणाएं किए चले गए जिससे लोगों में निराशा का माहौल है। उन्होंने कहा कि पहले 10 साल हुड्डा की कांग्रेस सरकार ने इस क्षेत्र के साथ सौतेला व्यवहार करते हुए कोई काम नहीं करवाया अब उसी रास्ते पर भाजपा की सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि डा. अजय सिंह चौटाला व विधायक नैना सिंह चौटाला डबवाली को विकास के मामले में अग्रणी बनाने की सोच रखते हंै। उनका लगातार प्रयास रहता है कि यहां कि समस्याएं हल हों। लेकिन डबवाली में ओर सुविधाएं व काम तो क्या करवाने हैं यहां पहले से मिल रही सुविधाओं को कम किया जा रहा है।
इनेलो नेता ने चौटाला-चंडीगढ व डबवाली-हरिद्वार बस सेवा का मुद्दा उठाते हुए कहा कि चंडीगढ़ के लिए सीधी बस सेवा तो कांग्रेस ने बंद की थी अब भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष डबवाली-हरिद्वार बस सेवा के परमिट को यहां से अपने हलके में ले गए जिसकी विधायक नैना चौटाला ने विधानसभा में आवाज भी उठाई गई है। जबकि भाजपा के नेता मूकदर्शक बने देख रहे हंै। उन्होंने कहा कि भाजपा व कांगेस नताओं का चौटाला परिवार पर झूठे आरोप लगाना ही काम रह गया है विकास की उनकी सोच ही नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस व भाजपा नेता नकारात्मक राजनीति कर रहे हैं और झूठा प्रचार कर ड्रामे कर रहे है जबकि इनेलो ने सकारात्मक और विकास की राजनीति की है। इसलिए सभी संगठित होकर इनेलो को मजबूत बनाएं। दिग्विजय चौटाला आज डबवाली शहर के सभी 21 वार्डो में कार्यकत्र्ता संवाद बैठक कार्यक्रम के दौरान जोन वाइज कार्यकत्र्ताओं से मिल रहे थे। 
डबवाली शहर में 4 जगहों पर हुई कार्यकत्र्ता बैठकों में शहर की अनेक समस्याएं कार्यकत्र्ताओं ने दिग्विजय चौटाला के सामने रखी जिस पर दिग्विजय चौटाला ने कहा कि शहर की सभी समस्याओं को  जल्द ही उच्चाधिकारियों से मिलकर उनके सामने रखा जाएगा व उनका समाधान करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि डबवाली नगरपालिका व अन्य प्रशासन व सरकार के लोगों ने भ्रष्टाचार फैला रखा है। जिस दिन नगर पालिका इनेलो की बनेगी सारी कमीशनखोरी को बंद करके पारदर्शिता से सारे काम करवाए जाएंगे। 
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि वर्तमान समय में नशा एक बहुत बड़ी समस्या बन गया है। उन्होंने कहा कि डबवाली शहर में सरेआम नशा बिक रहा है जिस कारण आपराधिक घटनाएं दिन प्रतिदिन बढ़ रही हंै। युवा वर्ग नशे की गर्त में डूब चुका है। डबवाली शहर व इसके आस पास गांवों में फायरिंग जैसी घटनाएं घटित हो चुकी हैं और आरोपी खुलेआम घूम रहे हंै जिससे लोगों में भय का माहौल है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन को चाहिए कि आपराधिक तत्वों व नशा बेचने वालों पर सख्ती से लगाम लगाए ताकि शहर के लोग अमन व शांति के वातावरण में रह सकें। इस मौके पर इनेलो नेता जगरूप सिंह सकताखेड़ा, हलका प्रधान सर्वजीत मसीतां, पूर्व नपा चेयरमैन टेकचंद छाबड़ा, रणवीर राणा, एसजीपीसी मैम्बर जगसीर मांगेआना सहित पार्टी के अनेकनेता मौजूद थे।
हैपनिंग हरियाणा ग्लोबल समिट का नहीं दिखा कोई असर - अभय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़, 27 मई: नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर के राज्य में विदेशी पूंजीनिवेश बारे दावों को खोखला बताया है। उन्होंने याद दिलाया कि गत वर्ष गुडग़ांव में राज्य सरकार द्वारा हैपनिंग हरियाणा ग्लोबल समिट का आयोजन किया गया था। उसके बाद राज्य सरकार ने दावा किया था कि 359 कम्पनियों ने यहां पूंजीनिवेश बारे ममोरंडम ऑफ अंडरस्टेंडिंग (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए थे जिनसे राज्य में 5,86,862 करोड़ रुपयों का पूंजीनिवेश और  पांच लाख युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। अभी तक न तो उस पूंजीनिवेश के आने के कोई आसार दिखाई दे रहे हैं और न ही रोजगार के अवसर बनते दिखाई दे रहे हैं। 
सरकारी सूत्रों से प्राप्त समाचारों के अनुसार भले ही 359 कम्पनियों ने एमओयू  पर हस्ताक्षर किए थे परंतु एक वर्ष बीत जाने के बाद भी अभी तक उनमें से एक भी साकार रूप लेता दिखाई नहीं दे रहा। इस प्रकार वास्तविकता यह है कि राज्य में एक धेले का भी पूंजीनिवेश अभी तक नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को पहले तो उन्हीं एमओयू को लागू करने बारे कार्य करना चाहिए था परंतु वह सिंगापुर और हांगकांग के एक और दौरे पर ऐसे निकल पड़े मानो  5,86,862 करोड़ रुपए का निवेश काफी नहीं था।
इनेलो नेता ने कहा कि इससे आम आदमी को यह शक है कि गत वर्ष गुडग़ांव में जिन एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए थे वह केवल एक छलावा थे। आम आदमी द्वारा सरकार बारे इस प्रकार की राय होने के कारण लागों में आशंका  है कि अभी भी मुख्यमंत्री सिंगापुर और हांगकांग दौरे के दौरान जिन एमओयू के बारे में दावा कर रहे हैं वह भी एक भ्रामक प्रचार है। 
इनेलो नेता ने आगे कहा कि विशेषज्ञों द्वारा सिंगापुर और हांगकांग को हरियाणा जैसे राज्य के विकास के लिए मॉडल मानना अनुचित है। सिंगापुर और हांगकांग दोनों ही अपनी विशेष भौगोलिक स्थिति और परिस्थितियों का लाभ उठाते हुए अपने क्षेत्र में एक विशिष्ट प्रकार के समाज का गठन करने में सफल रहे हैं। परंतु हरियाणा मुख्यत: एक कृषि प्रधान राज्य है जहां पर इस प्रकार के विकास मॉडल को लागू नहीं किया जा सकता। यदि ऐसा किया भी जाता है तो उससे हरियाणा के किसान तो विकास के नाम पर अपनी भूमि से वंचित हो सकते हैं परंतु रोजगार के नाम पर ग्रामीण क्षेत्रों से पढ़े-लिखे युवाओं को नौकरियां प्राप्त नहीं होंगी।
श्री अभय सिंह चौटाला ने कहा कि यदि गत वर्ष जाट आरक्षण आंदोलन के तुरंत बाद आयोजित हैपनिंग हरियाणा पूरी तरह से असफल प्रयास था तो मुख्यमंत्री का अभी हाल का दौरा केवलमात्र राज्य के खजाने से सैरसपाटा करने का साधन मात्र था।
दलित समाज के हित केवल इनेलो में सुरक्षित - शेरवाल



फरीदाबाद, 27 मई : अगर प्रदेश में दलित समाज की सुध अगर किसी ने सबसे पहले ली तो वे देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवी लाल थे। जब वे उप प्रधानमंत्री थे उन्होंने सबसे पहले 1990 में डा. भीमराव अंबेडकर को भारत रत्न दिलवाया था और  डा. भीमराव अंबेडकर की मूर्ति संसद भवन में लगवाने का कार्य भी उन्होंने ही किया था। जब वे इस प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने गाँवों में हरिजन चौपालें बनवाई। आज भी  दलित समाज के हित इनेलो में ही सुरक्षित है। यह बात इनेलो के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अशोक शेरवाल ने कही। वे शनिवार को इनैलो कार्यालय सैक्टर 11 फरीदाबाद में अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ की  जिला कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व प्रकोष्ठ के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अशोक शेरवाल का इनैलो कार्यालय सैक्टर 11 में पहुंचने पर जिला अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह चौहान, राजेन्द्र सिंह बीसला, हनुमान सिंह खींची (जिला संयोजक - अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ), पवन रावत, प्रेम सिंह धनखड़ ने स्वागत किया और आशा व्यक्त कि उनके नेतृत्व में दलित समाज के ज्यादा से ज्यादा लोग इनेलो से जुड़ेंगे। इस मौके पर अशोक शेरवाल ने कार्यकारिणी सदस्यो को संबोधित करते हुए कहा कि जिस प्रकार जननायक चौ. देवीलाल दलित समाज का पूरा ख्याल रखते थे उसी प्रकार पूर्व मुख्यमंत्री चौ. औम प्रकाश चौटाला भी इस समाज को पूरा मान सम्मान देते आ रहे है। कांग्रेस के दस सालों में दलितों का बेहद उत्पीड़न हुआ और अब भाजपा सरकार में भी बदस्तूर जारी है।
सरकार की गलत नीतियों की वजह से दलित समाज अपने हको से वंचित रह रहा है। शेरवाल ने कहा कि आज हमें संगठित होकर अपने हको के लिए संघर्ष करना होगा और अपने हितैषी पार्टी को पहचानना होगा। हमारे समाज ने कांग्रेस और भाजपा को देख लिया है इसलिए अब दलित समाज को आशा की किरण इनेलो में नजर आ रही है। उन्होंने पदाधिकारियों से आह्वान किया कि वे गाँव व शहर के प्रत्येक वार्ड में जाकर दलित भाइयो को इस बारे में जागरूक करे और पार्टी के साथ जोड़े ताकि आने वाले समय में हम प्रदेश में अपने हितों की रक्षक पार्टी इनेलो की पूर्ण बहुमत की सरकार बना सके।
इस मौके पर सुरेश मोर, रामशरण रौतेला, अमर सिंह दलाल, देवेन्द्र सिंह मान, सतीश टिकानिया, धर्मेन्द्र सिंह, लाला, लालचंद, मनीष तंवर, तेजपाल, ईश्वर, राकेश, सतीश, सन्नी, टीकाराम, दलीप कुमार, किशन चंद, इतवारी लाल, रामदत्त, टिंकू, जयराम नम्बरदार सहित पार्टी के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के बहुत से सदस्य मौजूद थे।⁠⁠⁠⁠

तपती गर्मी में सरकार नहीं खोज पा रही बिजली-पानी संकट का हल - बलवान दौलतपुरिया


फतेहाबाद : इनेलो विधायक बलवान दौलतपुरिया ने लगातार बढ़ती गर्मी के साथ क्षेत्र में गहराते बिजली-पानी संकट के लिए प्रदेश की भाजपा सरकार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगाया है। अनाज मंडी स्थित अपने कार्यालय में लोगों की शिकायतें सुनने के दौरान इनेलो विधायक ने कहा कि इस भीष्ण गर्मी में जिस प्रकार से सरकार आमजन को राहत पहुंचाने के लिए बिजली-पानी संकट का हल नहीं खोज पा रही है, वह इस बात को प्रमाणित करता है कि सरकार जनता की मूल जरूरतें पूरी करने तक को लेकर गंभीर नहीं है।
बलवान दौलतपुरिया ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पूर्व क्षेत्र की ग्रामीण जनता से उन्होंने वायदा किया था कि यदि वे जनसमर्थन से विधानसभा पहुंचे तो हर ढाणी को बिजली-पानी सुविधा मुहैया करवाने का काम करेंगे। जननायक स्व. ताऊ देवीलाल के आदर्शों की पार्टी इनेलो का सजग सिपाही होने के नाते वे अपने इस वायदे पर खरा भी उतरे और क्षेत्र की ऐसी ढाणियों तक को भी बिजली-पानी से जोडऩे का काम किया, जो बीते दो दशकों से इस सुविधा से महरूम थी। इसके विपरित अच्छे दिनों के सब्जबाग दिखलाकर सत्तासीन हुई भाजपा सरकार ने अपने अब तक के कार्यकाल में जनता को बिजली-पानी जैसी मूलभूत जरूरतों के लिए भी सड़कों पर उतर आंदोलन करने को मजबूर कर दिया। उन्होंने कहा कि भूना के ऊंचाई वाले पिछड़ा क्षेत्र, फतेहाबाद के अशोक नगर, भाटिया कालोनी, शक्ति नगर जैसे इलाकों में जल संकट गंभीर हुआ है, उसने सरकार के तमाम दावों की पोल खोल कर रख दी है। कुछ इसी तरह के हालात बिजली सुविधा के मामले में दिखाई दे रहे हैं। जनता को भाजपा सरकार के अच्छे दिनों में पीने को पानी नहीं मिल पा रहा तो गर्मी से निजात पाने के लिए बिजली व्यवस्था सुचारु न होने की समस्या उनके लिए सिरदर्द बनी हुई है। उन्होंने भाजपा पर कटाक्ष किया कि अपने अब तक के कार्यकाल में जन सुविधाओं का हल करवाने की बजाय केवल मात्र कागजी अभियानों से जनता को बरगलाने का काम ही किया है। उन्होंने दावा किया कि सरकार की इस तरह की गलत नीतियां ही अब उसके पतन का कारण बनेंगी और आगामी चुनावों में उसे देश-प्रदेश में करारी हार का सामना करना पड़ेगा।