Saturday, September 23, 2017

दुष्यंत चौटाला 1004 ट्रैक्टरों के साथ पहुंचेगी रैली में 


भिवानी, 22 सिंतबर :  पूर्व उप-प्रधानमंत्री जननायक स्व. चौ. देवीलाल के 104 वें जन्म दिवस समरोह में इनेलो संसदीय दल के नेता दुष्यंत चौटाला अपने लोकसभा क्षेत्र हिसार से 1004 ट्रैक्टर-ट्राली के साथ के काफिले के साथ रैली में पहुंगे और लोगों की ताऊ के जमाने की याद ताजा करेंगे। इसके लिए सांसद दुष्यंत चौटाला ने स्वयं ने रूचि लेकर कार्यकर्ताओं को भिवानी में आयोजित होने वाले सम्मान समरोह में ट्रैक्टर-ट्राली के साथ पहुंचने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि वह स्वयं ट्रैक्टर चला कर काफिले का नेतृत्व करेंगे। बेशक यह रैली ताऊ देवीलाल के जन्म दिवस पर आयोजित की जा रही हो परन्तु इसके राजनैतिक मायने भी हैं जो प्रदेश की राजनीति में हलचल पैदा कर सकते हैं। 
ताऊ के प्रति श्रद्धा और लगाव का आलम यह है कि एक ओर जहां देश भर के अनेक राजनीति दलों के बड़े नेता इस रैली में शिरकत कर पूर्व उपप्रधानमंत्री के प्रति श्रद्धाजंलि अर्पित करते हैं वहीं हरियाणा के साथ राजस्थान, पंजाब, दिल्ली व यूपी से भी लोग इस रैली में आते हैं। 
 सांसद दुष्यंत चौटाला का कहना है कि एक जमाना था कि स्व. ताऊ देवीलाल की रैलियों में लोग ट्रैक्टर-ट्रालियों में सवार होकर जाते थे। यहां तक दिल्ली व अन्य प्रदेशों में होने वाली ताऊ की बड़ी राजैनतिक  रैलियों में भी हरियाणा के लोग भारी संख्या ट्रैक्टरों पर सवार होकर पहुंचते थे। दुष्यंत ट्रैक्टर के काफिले को 80-90 के दशक के साथ जोड़ते हुए कहते हैं...ताऊ का जमाना, वापस है लाना। हालांकि ट्रैक्टर-टाली की रैलियों में इस परम्परा की शुरूआत दुष्यंत चौटाला ने पिछले वर्ष करनाल में आयोजित स्व. चौ. देवीलाल के 103 वें जन्म दिवस पर कर दी थी और वे 103 ट्रैक्टरों के साथ रैली में गए थे। इस बार ट्रैक्टर-टा्रलियों के काफिले के आकार दस गुना बढ़ा कर 1004 तक कर दिया है। ट्राली की सवारी कर महिलाएं भी गीत गाती हुई रैली में पहुंचेगी। 

Friday, September 22, 2017

दलित एवं पिछडे वर्ग के लोगों में रैली को लेकर दिखा गजब का उत्साह- हरिप्रकाश मण्डल


सोनीपत, 22 सितम्बर: 25 सितम्बर को भिवानी में  होने वाली जननायक चौ. देवीलाल की जयन्ती सम्मान दिवस के रूप में शामिल होने के लिए हरिजन के दलित एंव पिछड़ा वर्ग के लोगों में गजब का उत्साह है। क्योंकि जननायक देवीलाल ने विशेष रूप से दोनों समुदायों के लोगों के लिए जन कल्याणकरी योजनाओं का शुभारम्भ किया जो देश के सभी हिस्सों में लागू है। रैली के प्रचार के लिए सोनीपत जिले के प्रभारी पूर्व विधायक रामफल कुण्डू ने सुन्दर सावरी वार्ड में लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सम्मान दिवस रैली में पहुंचकर श्रद्धा सुमन श्रध्दांजलि अर्पित करे। इस मौके पर जिलाध्यक्ष चौ. पद्म दहिया ने कहा कि चौ. देवीलाल ने अनेक जनकल्याण योजनाओं का शुभारम्भ किया ओैर गरीब लोगों का उद्धार किया उनके द्वारा किये गए लोकहित कार्यों को लोग आज भी याद करते हैं ।गावों व शहरों में हरिजन चौपालों का बनवाना, गरीब लड़की की शादी पर 5100 रूपए कन्यादान के रूप में देना, साईकिल व रेडियो का टोकन माफ करना, गरीब समाज से नम्बरदार बनाना, बुजुर्गों की पेंशन बनवाना, गरीब किसानों के कर्जों को माफ करना, राजनीति को गांव की गलियों तक पहुँचाना चौ. देवीलाल की देन है। हल्काध्यक्ष सुरेन्द्र छिक्कारा ने भी इनेलो सरकार की नीतियों का उल्लेख किया। इस मौके पर  जयपाल मलिक, सन्दीप गहलावत, ओमप्रकाश फौजी, कुणाल गहलावत, सन्दीप राणा, रेखा बाल्याण, भीम सिंह मेहरा, मोन्टी मण्डल, विकास मण्डल, सोनू कूण्डू, आशीष सुहाग आदि मौजूद थे। 
चौ. देवीलाल जयंती को लेकर युवाओं में भारी उत्साह- राजदीप 


चरखी दादरी : 25 सितम्बर को भिवानी के निनाण गांव में आयोजित होने वाले चौ. देवीलाल जयंती समारोह को लेकर युवा वर्ग में खासा उत्साह है। इस मौके पर संघर्ष संकल्प दिवस रैली में दादरी हलके से सैकड़ों युवाओं का जत्था ढोल-नगाड़ों के साथ पहुंचेगा। यह बात विधायक राजदीप फौगाट ने बृहस्पतिवार को गांव रानीला में कही। वे यहां युवाओं से मुलाकात कर रैली का न्योता देने पहुंचे थे। विधायक ने कहा कि इनेलो ने युवाओं को सबसे ज्यादा रोजगार देने का काम किया है। इस बार रैली डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि भिवानी में है, डा. अजय ने इस लोकसभा क्षेत्र के युवाओं को ज्यादा से ज्यादा रोजगार दिया, इसलिए युवा वर्ग इस बार रैली को लेकर बड़ा उत्साहित है और भारी संख्या में पहुंच कर चौ. देवीलाल को श्रद्धांजलि देगा। राजदीप ने कहा कि कांग्रेस व भाजपा ने युवाओं के हितों से खिलवाड़ किया है। चुनाव के समय भाजपा ने युवा वर्ग से अनेक लोक लुभावने वायदे किए। सत्ता में आते ही रोजगार देने नहीं छीनने का काम जरूर किया है। जिससे कर्मचारी, युवा वर्ग में इस सरकार के खिलाफ भारी रोष है। प्रदेश के हर वर्ग का भला इनेलो ही कर सकती है। चौ. देवीलाल ने सभी वर्गों का ध्यान रखा और राहत दी। उन्हीं के पदचिह्नों पर आज इनेलो चल रही है। इनेलो में युवाओं की सशक्त फौज है। युवाओं को इनेलो में पूरा मान-सम्मान दिया जाता है। आने वाले समय में इनेलो की सरकार होगी तो हर वर्ग के हित में कार्य किया जाएगा। रैली की तैयारियों को लेकर युवा वर्ग पूरी लगन से जुटा हुआ है। इस अवसर पर करतार साहू, सेट्ठी, चांद, ख्याल चन्द, सुरेन्द्र प्रधान,  भवानी रानीला, देवेन्द्र, मंजीत साहू, दीपक साहू, मोहित इत्यादि सहित अनेक युवा उनके साथ थे 

Thursday, September 21, 2017

भाजपा के भ्रष्टाचारमुक्त शासन के दावे खोखला - अभय सिंह चौटाला 


चंडीगढ़, 21 सितंबर: इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और विपक्ष के नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला ने आरोप लगाया है कि खनन के जिस मामले में राज्य में सबसे बड़ा घोटाला हुआ है उसमें मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर की निजी तौर पर जिम्मेवारी है।
इस संदर्भ में उन्होंने भारत के सर्वोच्च न्यायालय के उस फैसले का हवाला दिया जो ‘स्पेशल लीव टू अपील (सी) नम्बर-19166 वर्ष 2017’ में दिया गया। उक्त मामले का संबंध भिवानी जिले की दादम खानों से है। इसमें खनन का अधिकार मैसर्ज सुुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स और कर्मजीत सिंह एंड कंपनी लिमिटेड (केजेएसएल) को दिया गया था जिसमें मुख्य भागीदारी केजेएसएल की थी। मैसर्ज सुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स, खनन विभाग के नियमों के अनुसार अपने आपमें स्वतंत्र रूप से खनन की नीलामी में भी हिस्सा लेने की योग्यता नहीं रखते थे। परंतु जब केजेएसएल ने उक्त  साझेदारी से हटने का निर्णय लिया तो सुुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स ने सीधे मुख्यमंत्री को 14 मई, 2015 को एक पत्र लिखकर अनुरोध किया कि केजेएसएल की 51 प्रतिशत साझेदारी का अधिकार भी उसी को दे दिया जाए। आश्चर्य की बात यह थी कि जो अनुरोध विभाग को किया जाना चाहिए था वह सुुंदर मार्केटिंग एसोसिएट्स ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री से किया। 
श्री अभय सिंह चौटाला ने कहा कि यह मामला कितना हैरानी वाला था, इसकी कल्पना इसी बात से की जा सकती है कि अपने निर्णय में सर्वोच्च न्यायालय ने भी यह टिप्पणी की, ‘यह स्पष्ट नहीं है कि याचिकाकर्ता ने सीधे मुख्यमंत्री को पत्र लिखा लेकिन सच्चाई यह है कि उसने ऐसा किया।’ इस प्रकार के अनुरोध पर विभाग केवल अपने नियमों के अनुसार ही कोई सिफारिश कर सकता था। परंतु इस बार मुख्यमंत्री से अनुरोध करने के कारण जब इस अनुरोध की फाइल विभाग तक पहुंची तो उसने राज्य के एडवोकेट जनरल से राय ली जिसके उपरांत ‘मुख्यमंत्री सहित उच्च पदासीन अधिकारियों ने अनुमति प्रदान कर दी।’ सर्वोच्च न्यायालय ने भी इस बात पर आश्चर्य व्यक्त किया कि सभी कायदे कानूनों को ताक पर रखकर उक्त कंपनी, जो कि नीलामी में भागीदारी की योग्यता भी नहीं रखती थी, उसे खनन के अधिकार किस प्रकार दे दिए गए?
विपक्ष के नेता ने भाजपा सरकार के उस दावे को भी खोखला बताया जिसके तहत यह दावा किया जाता है कि राज्य का प्रशासन भ्रष्टाचारमुक्त है। उन्होंने आरोप लगाया कि स्कूलों, चौपालों, श्मशानघाट, पार्कों एवं बस स्टॉप के निकट यात्रियों के विश्राम के लिए जो बैंच खरीदे जा रहे हैं और गलियों को पक्का करने के लिए जो इंटरलॉकिंग टाइल्स खरीदी जा रही हैं उनकी खरीद में भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार और बैंचों एवं इंटरलॉकिंग टाइल्स के निर्माताओं के बीच साठगांठ के कारण राज्य के खजाने से उनकी भारी कीमत दी जा रही है। उन्होंने दावा किया कि जिन टाइल्स की कीमत लगभग सात रुपए होती है उन्हें 13 से लेकर 14 रुपए प्रति टाइल के हिसाब से खरीदा गया है। जिन बैंचों की कीमत 1900 से लेकर 2200 रुपए तक की है उनकी खरीद 4800 रुपए से लेकर 5300 रुपए तक की गई है। इस प्रकार कुछ लोगों की मिलीभगत से ऐसे लोगों को तो मुनाफा दिलवाया जा रहा है परंतु राज्य सरकार को घाटा हो रहा है।
श्री अभय सिंह चौटाला ने राज्य विजिलेंस ब्यूरो की इस रिपोर्ट की ओर भी ध्यान दिलाया जो पंचकूला के दूसरे चरण के विकास में हुए घोटाले से संबंधित है। ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार इस परियोजना के लिए 672 एकड़ भूमि के अधिग्रहण की प्रक्रिया प्रारंभ की गई थी। परंतु इसमें से 372 एकड़ भूमि को अधिग्रहण प्रक्रिया से बाहर कर दिया गया था क्योंकि उसकी खरीद दो प्रमुख बिल्डर कंपनियों द्वारा अपनी व्यावसायिक परियोजनाओं के लिए की जा चुकी थी। इस क्षेत्र के पास कौशल्या बांध के बनने की परियोजना भी थी जिसकी अनुमानित लागत राशि 51 करोड़ रुपए थी। परंतु इन दोनों कंपनियों को लाभ पहुंचाने के लिए कांग्रेस की हुड्डा सरकार द्वारा बांध की दीवार की चौड़ाई को बढ़ाने का फैसला किया ताकि उस पर से नेशनल हाईवे से सीधा रास्ता इनकी परियोजनाओं को पहुंच सके। इस बदलाव के कारण कौशल्या बांध की कीमत 51 करोड़ रुपए से बढक़र 118 करोड़ रुपए हो गई हालांकि इसका विरोध सिंचाई विभाग द्वारा भी किया गया था। 
विपक्ष के नेता ने आरोप लगाया कि खट्टर सरकार कांग्रेस के भ्रष्टाचार के प्रति नरम रवैया अपनाए हुए है क्योंकि विजिलेंस ब्यूरो की व्यापक जांच के बाद जब यह पता चल गया कि कौशल्या डैम के निर्माण में बदलाव के कारण दो निजी कंपनियों को लाभ पहुंचाने का मामला स्पष्ट तौर पर भ्रष्टाचार का है परंतु फिर भी अभी तक पूर्व मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के विरुध कोई एफआईआर नहीं कटवाई गई।
नेता विपक्ष ने सरकार पर कानून और व्यवस्था के मामले में दिशाहीनता और वोट बैंक की राजनीति करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार 25 अगस्त को डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों को पंचकूला में आमंत्रित कर उनकी आवाभगत की गई और फिर हालात बिगडऩे पर गोलीबारी में लोगों की जानें गई, उन्हें आपराधिक चालें ही कहा जाना चाहिए। इस प्रकार की वोट बैंक राजनीति के कारण समय-समय पर राज्य में कोई न कोई बड़ी घटना घटती है जिसमें जान और माल दोनों की हानि होती है। इसके अतिरिक्त राज्य में कानून व्यवस्था इतनी लचर है कि हर जिले में बलात्कार, हत्याएं, अपहरण और दलितों के विरुद्ध अपराध की घटनाएं बढ़ रही हैं। बेखौफ घूमते अपराधी दिनदहाड़े महिलाओं एवं पुरुषों की हत्या करते हैं जिससे जनता की आस्था भी सरकार से उठ गई है।
श्री अभय सिंह चौटाला ने नवरात्रों एवं त्यौहारों के मौसम के प्रारंभ होने की शुभकामनाएं देते हुए यह आवाहन किया कि सभी लोग 25 सितम्बर को भिवानी में जननायक चौधरी देवीलाल के जन्मदिन के आयोजन में सम्मिलित होने के लिए पधारें।

हलका भिवानी की रैली होगी रिकार्ड तोड़ - इनेलो

भिवानी, 21 सितंबर: पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक ताऊ देवीलाल के 104 वें जन्मोत्सव पर भिवानी हलके से लोगों की रिकार्ड तोड़ भागीदारी होगी। निनाण के पास होने वाला सम्मान समारोह सभी रिकार्डों को तोड़कर नया परचम लहराएगी। यह बात आज इनेलो नेता हल्का अध्यक्ष कुलवंत कोटिया, युवा जिला अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा, सुधीर सरपंच, विशाल ग्रेवाल, पार्षद मनोज यादव, सुबेदार राजेंद्र ढाणा, उमेद श्योराण, पूर्व हल्का अध्यक्ष उमेद गौरिपूर, सुखबीर जैन, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, प्रदीप खरकिया, पूर्व हल्का अध्यक्ष सुनील सहरावत, पूर्व हल्का अध्यक्ष सतप्रकाश नंबरदार ने आज हल्का भिवानी के विभिन्न गावों का दौरा करते हुए कहे। इनेलो नेताओं ने कहा कि 25 सितंबर के बाद प्रदेश के अंदर सत्ता परिवर्तन की जाग्रति होगी। आने वाला समय में इनेलो रिकार्ड जीत के साथ प्रदेश के अंदर सरकार बनाएगी और एक बार फिर से प्रदेश की बागडोर चौ. ओमप्रकाश चौटाला के हाथों में होगी। भिवानी डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि होने के नाते समस्त बुजुर्ग, महिलाऐं, युवा व छात्र रिकार्ड भागीदारी के साथ रैली में पहुंचेंगे। इस अवसर पर सुबेदार पृथ्वी सिंह, रामबीर झरवाई, रिसाला सरपंच, कमलजीत यादव, अत्तर फौजी, बलकेश नंदगांव, अत्तर झरवाई, शेरसिंह यादव, बलबीर ग्रेवाल, सदाराम यादव, विकास यादव, सतपाल सरपंच, मोहनलाल झरवाई, विकास नंदगांव, लीला सरपंच, मुकेश फुलपूरा व चंद्र नंबरदार समेत अनेक लोग मौजूद थे।

इनेलो नेताओं ने रैली का दिया न्योता 


भिवानी, 21 सितंबर: 25 सितंबर को भिवानी में होने वाले सम्मान दिवस समारोह के लिए आज शहर के अनेक वार्डों का दौरा कर लोगों को रैली का न्योता दिया। प्रदेश सचिव बलदेव घणघस, उमेद पूनिया, अनिल काठपालिया, डा. अंचल, पूर्व चेयरमैन विजय पंचगावा, पार्षद सुशीला पूनिया, इंदु परमार, एडवोकेट रजेश पूनिया, बृजलाल जोगी, पप्पल ठाकुर, अध्यक्ष प्रदीप गोयल, अत्तर फौजी, प्रो. जगबींद्र सांगवान, प्रदीप खरकिया, पूर्व हल्का अध्यक्ष सुनील सहरावत, शंकर आहुजा, मनदीप सुई, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, दर्शन अरोड़ा, आशु बाल्मीकि ने संयुक्त रूप से दौरा कर रैली का न्योता दिया। इनेलो नेताओं ने कहा कि भीड़ के लिहाज से यह रैली इतिहास लिखने जा रही है। आने वाला समय इनेलो का होगा। युवाओं को लाखों रोजगार देकर उनके भविष्य को फिर से अंधकार से उजाले की ओर ले जाया जाएगा। इस अवसर पर मुख्यरूप से महेंद्र यादव, विवेक ख्यालिया, अशोक शर्मा, बबलू कोंट, सुशील बामल, सुरेश झरवाई सहित अनेक लोग उपस्थित थे।
लाखों युवा जननायक को करेंगे नमन- प्रदीप गिल


भिवानी, 21 सितंबर: इनेलो युवा प्रदेश प्रभारी प्रदीप गिल ने आज रैली स्थल पर युवाओं की बैठक को संबोधित किया तथा रैली स्थल का जायजा लिया। प्रदीप गिल ने कहा कि इनेलो शासन काल में  हरियाणा प्रदेश के युवाओं को लाखों रोजगार दिए गए थे । वहीं भिवानी के युवाओं को हजारों नौकरियां देकर डा. अजय सिंह चौटाला ने उनके भविष्य को सुरक्षित किया था। भिवानी डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि है और यहां के युवाओं का अजय सिंह के प्रति आदर और सम्मान देखने लायक है। समस्त हरियाणा प्रदेश से लाखों युवा डा. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि में जननायक ताऊ देवीलाल को श्रद्धासुमन अर्पित करने भिवानी पहुंचेगे। 25 सितंबर का दिन इतिहास के पन्नों में युवाओं की रिकोर्ड भागीदारी से इतिहास लिखने जा रहा है। भीड़ के लिहाज से युवाओं की भागीदारी देखने लायक होगी। प्रदेश प्रभारी ने युवा जिला अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा के साथ विचार विमर्श कर युवाओं को उनके जिम्मेदारियां सौंपी। इस अवसर पर मुख्यरूप से जिला अध्यक्ष सुनील लांबा, हल्का अध्यक्ष कुलवंत कोटीया, विशाल ग्रेवाल, राजेश भारद्वाज, देवेंद्र नक्किपूर, यशवीर घणघस, शशि चरखी, आशिष निमड़ी, राकेश कलकल, शंकर आहुजा, आनंद बढराई, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, अनिल काटपालिया, राजेश पूनिया, मनदीप सुई, सचिन जताई, कृष्ण सरपंच धनाना, पवन पान्नू, नरेश रांपडिय़ा, दीपक सिवाड़ा, मोनू सांगवान, विक्की धनाना, नवीन धनाना, विवेक ख्यालिया, रमेश कादमा, कुलदीप मनसरवास, महेंद्र यादव व अनिल सहित अनेक लोग उपस्थित थे।